इस इंसान को गुस्सा आ रहा है और उसके गुस्से को शांत करने के लिए आप क्या बोलें?...


user

Umesh Upaadyay

Life Coach | Motivational Speaker

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए किसी को गुस्सा आता है तो वही चाहता है सबसे पहले कि उसकी बात सुनी जाए आप धैर्य पूर्वक उसको बोलिए की रक्षा बोलो क्या दिक्कत है क्या तकलीफ है क्या बोलना चाहते हो क्या तुम्हारा नजरिया है क्या हुआ है आप उसको टाइम देखे आप सुनिए उसकी पूरी बढ़ा से निकल जाएगी उसके बाद आप अपनी प्रतिक्रिया रख सकते हैं या कुछ और समझ आता है या अगर आप को नहीं समझ आ रहा तो और सवाल करके और क्लेरिफिकेशन ले सकते हैं और आप उसको बता सकते हैं क्या करना चाहिए क्या नहीं करना चाहिए अगर आप भी उस परिस्थिति में उस संदर्भ में देखिए क्या होगा क्या आपको कुछ करना है क्या उसको कुछ करना है क्या दोनों को कुछ करना है या किसी को कुछ नहीं करना तो कुछ भी हो सकता है तब तक किसी नतीजे पर नहीं पहुंच पाएंगे कि क्या हो जाइए कहानी क्या है मतलब क्या है चाहता है क्या गलत हुआ है इंसान में तो तुम ही अच्छे से नहीं बोलेंगे उसको बताने की कोशिश कीजिए और उसके तरीके से इस चक्र को क्लोज करना चाहिए मानना है कि जब आप किसी को मौका देते हैं कि हां कोई बात नहीं मैं आपकी आपके प्रेस को एक नॉलेज करता हूं कि आप है यहां पर मैं आपकी बात सुनना चाहता हूं क्योंकि फिलहाल तो गुस्से में होता है तो इंसान ही देता है क्या मेरी कोई सुन नहीं रहा मेरे कोई बात नहीं मानता कि यहां पर ऐसा नहीं होना चाहिए वह वापस आ जाए

dekhiye kisi ko gussa aata hai toh wahi chahta hai sabse pehle ki uski baat suni jaaye aap dhairya purvak usko bolie ki raksha bolo kya dikkat hai kya takleef hai kya bolna chahte ho kya tumhara najariya hai kya hua hai aap usko time dekhe aap suniye uski puri badha se nikal jayegi uske baad aap apni pratikriya rakh sakte hain ya kuch aur samajh aata hai ya agar aap ko nahi samajh aa raha toh aur sawaal karke aur klerifikeshan le sakte hain aur aap usko bata sakte kya karna chahiye kya nahi karna chahiye agar aap bhi us paristithi mein us sandarbh mein dekhiye kya hoga kya aapko kuch karna hai kya usko kuch karna hai kya dono ko kuch karna hai ya kisi ko kuch nahi karna toh kuch bhi ho sakta hai tab tak kisi natije par nahi pohch payenge ki kya ho jaiye kahani kya hai matlab kya hai chahta hai kya galat hua hai insaan mein toh tum hi acche se nahi bolenge usko batane ki koshish kijiye aur uske tarike se is chakra ko close karna chahiye manana hai ki jab aap kisi ko mauka dete hain ki haan koi baat nahi main aapki aapke press ko ek knowledge karta hoon ki aap hai yahan par main aapki baat sunana chahta hoon kyonki filhal toh gusse mein hota hai toh insaan hi deta hai kya meri koi sun nahi raha mere koi baat nahi manata ki yahan par aisa nahi hona chahiye vaah wapas aa jaaye

देखिए किसी को गुस्सा आता है तो वही चाहता है सबसे पहले कि उसकी बात सुनी जाए आप धैर्य पूर्वक

Romanized Version
Likes  545  Dislikes    views  8562
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!