एक औरत की क्या पहचान है?...


user
0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

की पहचान उसका पति और वह भी शादीशुदा महिला की पहचान करना है तो उसकी मांग बिंदी लगी होगी पैर में पायल हाथों में चूड़ी होता है

ki pehchaan uska pati aur vaah bhi shaadishuda mahila ki pehchaan karna hai toh uski maang bindi lagi hogi pair mein payal hathon mein chudi hota hai

की पहचान उसका पति और वह भी शादीशुदा महिला की पहचान करना है तो उसकी मांग बिंदी लगी होगी पैर

Romanized Version
Likes  56  Dislikes    views  1679
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक औरत की क्या पहचान है औरत की पहचान यह है कि इसके अंदर अंदर विनम्रता होती है सुंदरता होती है लाभ होता है फंक्शन होता है और वह घरेलू काम में पूरी तरह से सक्षम होती हैं अपने बच्चों अपने पति को बहुत प्यार करती हैं यही भारत और भारतीयों और तू भी तो यही पहचान है

ek aurat ki kya pehchaan hai aurat ki pehchaan yah hai ki iske andar andar vinamrata hoti hai sundarta hoti hai labh hota hai function hota hai aur vaah gharelu kaam me puri tarah se saksham hoti hain apne baccho apne pati ko bahut pyar karti hain yahi bharat aur bharatiyon aur tu bhi toh yahi pehchaan hai

एक औरत की क्या पहचान है औरत की पहचान यह है कि इसके अंदर अंदर विनम्रता होती है सुंदरता होती

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  272
WhatsApp_icon
user

Ahana Bhardwaz

Life Coach | Author

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वैसे तो हर इंसान से होती होती होती हिंदी में लिखित सुरक्षा यही है एक औरत की औरत औरत औरत के लायक भी नहीं हूं तो मेरा मानना है कि की पहचान

waise toh har insaan se hoti hoti hoti hindi mein likhit suraksha yahi hai ek aurat ki aurat aurat aurat ke layak bhi nahi hoon toh mera manana hai ki ki pehchaan

वैसे तो हर इंसान से होती होती होती हिंदी में लिखित सुरक्षा यही है एक औरत की औरत औरत औरत के

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  250
WhatsApp_icon
user
0:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

औरत की क्या पहचान है अभी के माना भी होती है औरत की और जैसे पुरुष महीना में वैश्या औरत मानव एकता और नॉर्मल ही है वैसे कोई पहचान तो नहीं करती

aurat ki kya pehchaan hai abhi ke mana bhi hoti hai aurat ki aur jaise purush mahina mein vaishya aurat manav ekta aur normal hi hai waise koi pehchaan toh nahi karti

औरत की क्या पहचान है अभी के माना भी होती है औरत की और जैसे पुरुष महीना में वैश्या औरत मानव

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  9
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!