सुदर्शन न्यूज़ चैनल को बैन करना चाहिए कि नहीं?...


user
2:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है कि सुदर्शन चैनल को बैन करना चाहिए या नहीं दिखी यहां पर हर तरह के लोग आपको मिलेंगे बहुत सारे लोग पत्रकारिता करते हैं बहुत सारे लोग अपनी-अपनी दुकानों को चलाने का कार्य कर रहे हैं बात बैन करने की या बैंड करने की नहीं है सवाल यह है यहां पर कि आप किसको सुन रहे हैं और किसको देख रहे हैं अगर आपको लगता है कि कोई भी चैनल या कोई भी पत्रकार आपको नहीं लगता कि उसको सही विश्लेषण करना नहीं आता वह सही खबरें नहीं दे रहा है वह सही तरीके से आपको खबरें दिखाने का कार्य नहीं कर रहा है या वह पक्षपात की तरीके से खबरों को दिखाने का कार्य कर रहा है वैसे में जनता की जो दायित्व बनता है पूरी आवाम की जो जिम्मेदारी बनती है यह बनती है ऐसे में चैनल को या किसी भी चैनल को हम बिना नाम बताएं आपको इस बात को कह देते हैं क्यों चैनल को देखना बंद कर दें किसी भी चैनल के बारे में यह तो कहना ठीक नहीं होगा कि वह बैन कर दिया जाए क्योंकि जब तक ऐसी दुकान चलती रहेंगी जब तक इनके लाला मोटे होते हैं और वह मोटे लाला होने के साथ-साथ एक अच्छा काम मोटे बनिया की तरह करते रहते हैं ऐसे में इन चैनलों को बैन तो नहीं किया जा सकता क्योंकि यह चैनल जो है अपने आप में उनके बहुत करीब होते हैं और वह अपनी पत्रकारिता को बहुत ही सुंदर आधा अंदाज में पेश करने का प्रयास करते हैं चने को बैन तो मुश्किल ही किया जाता है क्योंकि वह मोटी मोटी जो एडवर्टाइजमेंट के साथ-साथ मोटी मोटी चमचागिरी जो करते हैं वह दे खेत में नहीं बल्कि मौजूदा परिस्थितियों में जरूर सक्रिय रूप से कार्य कर रही होती हैं तो ऐसे में मुझे लगता नहीं है कि ऐसे चरण को कोई भी सरकार वहन करेगी बल्कि जनता को खुद निर्णय करना होगा और वह उस चैनल को छोड़कर या उसको अनसब्सक्राइब भी कर सकती है यह हम नहीं कहते यह देश की जनता को तय करना होगा कि उनके लिए क्या अच्छा है और क्या बुरा है इसीलिए वह अपने विवेक से अपनी बुद्धि से इस तरह के कई निर्णय ले सकते हैं दलाल बहुत-बहुत शुक्रिया धन्यवाद

aapka sawaal hai ki sudarshan channel ko ban karna chahiye ya nahi dikhi yahan par har tarah ke log aapko milenge bahut saare log patrakarita karte hain bahut saare log apni apni dukaano ko chalane ka karya kar rahe hain baat ban karne ki ya band karne ki nahi hai sawaal yah hai yahan par ki aap kisko sun rahe hain aur kisko dekh rahe hain agar aapko lagta hai ki koi bhi channel ya koi bhi patrakar aapko nahi lagta ki usko sahi vishleshan karna nahi aata vaah sahi khabren nahi de raha hai vaah sahi tarike se aapko khabren dikhane ka karya nahi kar raha hai ya vaah pakshapat ki tarike se khabaro ko dikhane ka karya kar raha hai waise me janta ki jo dayitva banta hai puri avam ki jo jimmedari banti hai yah banti hai aise me channel ko ya kisi bhi channel ko hum bina naam bataye aapko is baat ko keh dete hain kyon channel ko dekhna band kar de kisi bhi channel ke bare me yah toh kehna theek nahi hoga ki vaah ban kar diya jaaye kyonki jab tak aisi dukaan chalti rahegi jab tak inke lala mote hote hain aur vaah mote lala hone ke saath saath ek accha kaam mote baniya ki tarah karte rehte hain aise me in channelon ko ban toh nahi kiya ja sakta kyonki yah channel jo hai apne aap me unke bahut kareeb hote hain aur vaah apni patrakarita ko bahut hi sundar aadha andaaz me pesh karne ka prayas karte hain chane ko ban toh mushkil hi kiya jata hai kyonki vaah moti moti jo advertisement ke saath saath moti moti chamchagiri jo karte hain vaah de khet me nahi balki maujuda paristhitiyon me zaroor sakriy roop se karya kar rahi hoti hain toh aise me mujhe lagta nahi hai ki aise charan ko koi bhi sarkar wahan karegi balki janta ko khud nirnay karna hoga aur vaah us channel ko chhodkar ya usko anasabsakraib bhi kar sakti hai yah hum nahi kehte yah desh ki janta ko tay karna hoga ki unke liye kya accha hai aur kya bura hai isliye vaah apne vivek se apni buddhi se is tarah ke kai nirnay le sakte hain dalaal bahut bahut shukriya dhanyavad

आपका सवाल है कि सुदर्शन चैनल को बैन करना चाहिए या नहीं दिखी यहां पर हर तरह के लोग आपको मिल

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  52
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!