बुद्ध के जीवन पर आधारित किस कार्य के लिए संस्कृत के महान कवि अश्व घोष चर्चित है?...


user
1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल महात्मा बुध से संबंधित है आप ने जानना चाहा है कि महाकवि अश्वघोष संस्कृत के ऐसे किस कार्य के लिए प्रसिद्ध है चर्चित है जो बुद्ध के जीवन पर है जी हां महाकवि अश्वघोष ने महात्मा गौतम बुद्ध के जीवन आधारित कार्य को दर्शाने के लिए बुध चरितम नामक ग्रंथ की रचना संस्कृत में की है जो कि बुद्ध के जीवन को सही तरीके से समाज के सामने रखता है और बुध के घर त्यागने के उद्देश्य को उसके बाद के घटनाक्रम को व्यवस्थित रूप से सामने रखता है बुध चरितम कवि अश्वघोष के द्वारा रचित महाकाव्य संस्कृत साहित्य के महत्वपूर्ण ग्रंथों में गिना जाता है धन्यवाद

aapka sawaal mahatma buddha se sambandhit hai aap ne janana chaha hai ki mahakavi ashwaghosh sanskrit ke aise kis karya ke liye prasiddh hai charchit hai jo buddha ke jeevan par hai ji haan mahakavi ashwaghosh ne mahatma gautam buddha ke jeevan aadharit karya ko darshane ke liye buddha charitam namak granth ki rachna sanskrit mein ki hai jo ki buddha ke jeevan ko sahi tarike se samaj ke saamne rakhta hai aur buddha ke ghar tyaagane ke uddeshya ko uske baad ke ghatanaakram ko vyavasthit roop se saamne rakhta hai buddha charitam kavi ashwaghosh ke dwara rachit mahakavya sanskrit sahitya ke mahatvapurna granthon mein gina jata hai dhanyavad

आपका सवाल महात्मा बुध से संबंधित है आप ने जानना चाहा है कि महाकवि अश्वघोष संस्कृत के ऐसे क

Romanized Version
Likes  69  Dislikes    views  697
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Rubina Khan

Teacher - Health and Physical Education

0:38

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बुध चरितम संस्कृत का महाकाव्य है यह रचिता अश्वघोष है उसकी रचनाकार दूसरी शताब्दी में हुई थी मैं कल तुम बुध का जीवन चरित्र परिणित है इस महाकाव्य का आरंभ बुद्ध के गर्भाधान से तथा इसकी परिणति भूतत्व प्राप्ति में होती है यह महाकाव्य भगवान बुद्ध के संघर्ष में सफल जीवन का उज्जवल तथा पूर्व चित्रपट है

buddha charitam sanskrit ka mahakavya hai yah rachita ashwaghosh hai uski rachnakar dusri shatabdi mein hui thi main kal tum buddha ka jeevan charitra parinit hai is mahakavya ka aarambh buddha ke garbhadhan se tatha iski parinati bhutatwa prapti mein hoti hai yah mahakavya bhagwan buddha ke sangharsh mein safal jeevan ka ujjawal tatha purv chitrapat hai

बुध चरितम संस्कृत का महाकाव्य है यह रचिता अश्वघोष है उसकी रचनाकार दूसरी शताब्दी में हुई थी

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  164
WhatsApp_icon
user

Manish Singh

VOLUNTEER

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ताबीज है वह संस्कृत का महाकाव्य है अश्वघोष ने इसकी रचना की है इसमें जो है वह उसके बारे में बताएं गया है वह धर्म के संस्थापक के बारे में बताया गया है इसमें भगवान बुध का जो है घर से लेकर उनका जो अमृत को प्राप्त करने तक की जो कहानी है और उनके जो जीवन में उन्होंने जो भी संघर्ष खेलें जो परम ज्ञान है उसको प्राप्त करने के लिए इन सारी चीजों के बारे में बुध काव्य में बताया गया

tabij hai vaah sanskrit ka mahakavya hai ashwaghosh ne iski rachna ki hai isme jo hai vaah uske bare mein bataye gaya hai vaah dharm ke sansthapak ke bare mein bataya gaya hai isme bhagwan buddha ka jo hai ghar se lekar unka jo amrit ko prapt karne tak ki jo kahani hai aur unke jo jeevan mein unhone jo bhi sangharsh khele jo param gyaan hai usko prapt karne ke liye in saree chijon ke bare mein buddha kavya mein bataya gaya

ताबीज है वह संस्कृत का महाकाव्य है अश्वघोष ने इसकी रचना की है इसमें जो है वह उसके बारे में

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  3
WhatsApp_icon
user
0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बुद्ध चरित्र संस्कृत में गुड्डू के गर्भाधान से तथा इसकी परिणति बुद्धत्व प्राप्ति में होती है यहां महाकाव्य भगवान बुद्ध के संघर्षों में सफलता जीवन का वर्णन उज्जवल तथा मूर्ति चित्रपट है थैंक यू

buddha charitra sanskrit mein guddu ke garbhadhan se tatha iski parinati buddhatwa prapti mein hoti hai yahan mahakavya bhagwan buddha ke sangharshon mein safalta jeevan ka varnan ujjawal tatha murti chitrapat hai thank you

बुद्ध चरित्र संस्कृत में गुड्डू के गर्भाधान से तथा इसकी परिणति बुद्धत्व प्राप्ति में होती

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  143
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बुद्ध चरित्र संस्कृत में गौतम बुद्ध के गर्भाधान से तथा इसकी परिणीति बुद्धत्व प्राप्ति में होती है यह महाकाव्य भगवान बुध के संघर्ष में सफल जीवन का वर्णन उज्जवल तथा मूर्ति चित्रपट है

buddha charitra sanskrit mein gautam buddha ke garbhadhan se tatha iski parineeti buddhatwa prapti mein hoti hai yah mahakavya bhagwan buddha ke sangharsh mein safal jeevan ka varnan ujjawal tatha murti chitrapat hai

बुद्ध चरित्र संस्कृत में गौतम बुद्ध के गर्भाधान से तथा इसकी परिणीति बुद्धत्व प्राप्ति में

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  179
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!