भारतीय सशस्त्र बलों के बारे में कुछ अविश्वसनीय तथ्य क्या हैं?...


user
0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारतीय सशस्त्र बल का स्वाभिमान है जो 1965 1971 और कारगिल में साबित हो गया कि सशस्त्र सेना का युद्धाभ्यास अविश्वसनीय है कारगिल के युद्ध में कोई हवाई जहाजों का ज्यादा उपयोग नहीं किया गया था सिर्फ सशस्त्र सेनाओं का योगदान था

bharatiya sashastra bal ka swabhiman hai jo 1965 1971 aur kargil me saabit ho gaya ki sashastra sena ka yuddhabhyas avishwasaniya hai kargil ke yudh me koi hawai jahajon ka zyada upyog nahi kiya gaya tha sirf sashastra senaoon ka yogdan tha

भारतीय सशस्त्र बल का स्वाभिमान है जो 1965 1971 और कारगिल में साबित हो गया कि सशस्त्र सेना

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  107
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Major Gen Ashim Kohli

Major General (Retd) of Indian Army with 36 years of experience

1:37

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इंडियन आर्म्ड फोर्सेस सबसे बड़ी के बाद में बोलता हूं कि प्राइमरी बोल रहे हम हमेशा बोलते हैं हम अपनी लाइफ को चलाते हैं नाम नमक और निशान के लिए अगर आप अभिषेक में बातें बोले कि सबसे पहली बात तो मुझे पहले बोल रहा था हम वर्ल्ड की हाईएस्ट बैटलफील्ड सियाचिन में क्यों पसंद करते हैं किसी और कंट्री के लिए आवश्यक नहीं है कितनी हाइट क्यों करना तू सेकंड वर्ल्ड की तीसरी दुनिया के देश में इतनी बड़ी वॉलिंटियर आर्मी बड़ी चीज है कि अगर आपको देखे हमारी कंट्री की कि मैं यह बोलना चाहूंगा आर्मी इतनी याद आ मिक्सर डीजे मिक्सिंग आरबी पर मिलना और उसे मेंटेन करना उसे पॉलिटिक्स से दूर रखना अपने आप एक बहुत बड़ा अजूबा है अभी कुछ भी है आपको इतनी ज्यादा हमारे जो अपने आप में एक मिसाल है

indian armed forces sabse badi ke baad mein bolta hoon ki primary bol rahe hum hamesha bolte hain hum apni life ko chalte hain naam namak aur nishaan ke liye agar aap abhishek mein batein bole ki sabse pehli baat toh mujhe pehle bol raha tha hum world ki highest baitalafild siachen mein kyon pasand karte hain kisi aur country ke liye aavashyak nahi hai kitni height kyon karna tu second world ki teesri duniya ke desh mein itni badi valintiyar army badi cheez hai ki agar aapko dekhe hamari country ki ki main yah bolna chahunga army itni yaad aa mixer DJ mixing RB par milna aur use maintain karna use politics se dur rakhna apne aap ek bahut bada ajoobaa hai abhi kuch bhi hai aapko itni zyada hamare jo apne aap mein ek misal hai

इंडियन आर्म्ड फोर्सेस सबसे बड़ी के बाद में बोलता हूं कि प्राइमरी बोल रहे हम हमेशा बोलते है

Romanized Version
Likes  56  Dislikes    views  721
WhatsApp_icon
user

Dinesh Mishra

Theosophists | Accountant

9:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारतीय सशस्त्र बलों के बालों के बारे में कुछ अश्वनी तथ्य क्या है देखिए जो भारतीय सशस्त्र बल है इसमें कोई दो राय नहीं है भारतीय सशस्त्र बलों ने विश्व में शांति स्थापित करने के लिए बहुत बड़ा योगदान दिया है संयुक्त राष्ट्र में शांति सेना के रूप में भारतीय सशस्त्र बलों ने बहुत बड़ी सेवा का कार्य किया है और इतना बड़ा कार किया है जो अवश्य शनि भी है और पहनती भी है यदि आंकड़ों की दृष्टि से देखा जाए सबसे ज्यादा साधते भारतीय सशस्त्र बलों ने विश्व में शांति स्थापित करने के लिए दी है इसके साथ ही भारतीय सशस्त्र बलों ने विपरीत परिस्थितियों में भी वह लड़ना जानते हैं और जहां जून - जून डिग्री तापमान मन हो वहां पर भी कैसे जीवन को जिया जाए और कैसे दुश्मन से लड़ा जाए यह कला कौशल भारतीय सशस्त्र बलों में विद्यमान है आपदा के आपदा प्रबंधन में भी भारतीय सशस्त्र बलों की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका है उन्होंने आपदा की परिस्थितियों में जनमानस को मैं अपनी पेट को पहुंचाया है और जनमानस में उसकी छवि सराहनीय है और कई जानू को भी बचाया है आपदा में उलझे हुए लोग निराश लोग जीवन से आकाश लोग जीने की कोई उम्मीद नहीं बची थी ऐसे लोगों को आपदा के क्षेत्रों से निकालकर के सुरक्षित स्थानों में पहुंचाने का जो कार भारतीय सशस्त्र बलों ने किया है वह अपने आप में अनुशासन अनुशासन पूजा को दर्शित करता है उनकी ताकत को प्रदर्शित करता है यद्यपि विभिन्न धर्म बिरयानी झांकी और विभिन्न क्षेत्र और विभिन्न भाषा भाषी होने के बावजूद भी भारतीय सशस्त्र बल अनुशासन प्रिय है और आज तक एक भी ऐसा उदाहरण नहीं है कि कभी भारतीय सशस्त्र बलों ने कोई अनुशासनहीनता का कार्य किया हो सभी लोग विभिन्न न होते हुए भी धर्म जाति क्षेत्र भाषा से मिलकर के भाईचारे के साथ में विभिन्न प्रतिकूल परिस्थितियों में भी वह अनुशासन फ्री रह कर के अपने कार्यों का भली वहां संपादन करते हैं और विकट परिस्थितियों में भी उनके अंदर लड़ने की क्षमता है और कला कौशल भी है बुद्धि कौशल भी है जम्मू कश्मीर में विभिन्न परिस्थितियों में जब वहां पर पत्थरबाजी हो रही थी सशस्त्र बलों पर हमले हो रहे थे घरों से पत्थर भी फेंके जा रहे थे और आतंकवादी अपनी गतिविधियों में संलग्न थे है और वहां का जो स्थान है जनता थी उसका भी उन्हें सहयोग नहीं था ऐसी विषम परिस्थितियों में भी पत्थरों का उन्होंने सामना किया जनमानस को जो असंतोष था उसको भी उन्होंने संतोष में परिवर्तित किया और आतंकवादी गतिविधियों को नेस्तनाबूद किया और अभी भी उनके प्रयास आतंकवादियों को नेस्तनाबूद करने के लिए जारी है कितनी उनके साथ में विपरीत परिस्थितियां थी स्थानीय क्षेत्रीय लोग थे उनका सहयोग भी नहीं और आतंकवादी की अलग गतिविधियां चल रही थी और पत्थरबाजी अलग हो रही थी ऐसी भी परिस्थितियों में उन्होंने वहां पर शांति बहाली में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की यह उनका अविश्वसनीय कहां रहे कहने का आशय है जो भारती से सवाल है वह विश्व में उनकी पहचान है और उनके पहचान का मूल कारण है कि अनुशासन प्रियता युद्ध कौशल को लड़ने की उनकी क्षमता और विपरीत परिस्थितियों में भी अपनी कार को अंजाम देने की कार्यकुशलता इस कारण भारतीय सशस्त्र बलों को विश्व में सारे देश मानते हैं वह अपने पड़ोसी देश पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया करता है और पड़ोसी देश की जो सीमा पर हरकतें किया करता है उसे कैसे निपटा जाए वह भी कार किया करता है सन 62 के युद्ध के बाद में यह भारतीय सशस्त्र बलों की कार्यकुशलता ही है कि चीन के साथ में सीमा विवाद को लेकर के आज तक कोई भी एक भी गोलियां नहीं चली यह उनकी कार्यकुशलता को प्रदर्शित करता है यद्यपि हमारी सीमाओं में कुछ करके हमको स्वामी की कार्यवाही झांकियां करता है लेकिन भारतीय सशस्त्र बल उनको बदलने का काम करके अपनी जो सीमा है उसको सुरक्षा प्रदान करता है यह कितना बड़ा हरियाणा गौशाला है उनका और कितना बड़ी कुशलता है इसीलिए भारतीय सशस्त्र बलों की पूरे विश्व में जाती है और सारे विशेष का लोहा भी मानते हैं यह उसकी अविश्वसनीय टक्ट हैं धन्यवाद

bharatiya sashastra balon ke balon ke bare mein kuch ashwani tathya kya hai dekhiye jo bharatiya sashastra bal hai isme koi do rai nahi hai bharatiya sashastra balon ne vishwa mein shanti sthapit karne ke liye bahut bada yogdan diya hai sanyukt rashtra mein shanti sena ke roop mein bharatiya sashastra balon ne bahut badi seva ka karya kiya hai aur itna bada car kiya hai jo avashya shani bhi hai aur pahanti bhi hai yadi aankado ki drishti se dekha jaaye sabse zyada sadhte bharatiya sashastra balon ne vishwa mein shanti sthapit karne ke liye di hai iske saath hi bharatiya sashastra balon ne viprit paristhitiyon mein bhi vaah ladna jante hain aur jaha june june degree taapman man ho wahan par bhi kaise jeevan ko jiya jaaye aur kaise dushman se lada jaaye yah kala kaushal bharatiya sashastra balon mein vidyaman hai aapda ke aapda prabandhan mein bhi bharatiya sashastra balon ki bahut mahatvapurna bhumika hai unhone aapda ki paristhitiyon mein janmanas ko main apni pet ko pahunchaya hai aur janmanas mein uski chhavi sarahniya hai aur kai janu ko bhi bachaya hai aapda mein ulajhe hue log nirash log jeevan se akash log jeene ki koi ummid nahi bachi thi aise logo ko aapda ke kshetro se nikalakar ke surakshit sthano mein pahunchane ka jo car bharatiya sashastra balon ne kiya hai vaah apne aap mein anushasan anushasan puja ko darshit karta hai unki takat ko pradarshit karta hai yadyapi vibhinn dharm biryani jhanki aur vibhinn kshetra aur vibhinn bhasha bhashi hone ke bawajud bhi bharatiya sashastra bal anushasan priya hai aur aaj tak ek bhi aisa udaharan nahi hai ki kabhi bharatiya sashastra balon ne koi anushasanahinta ka karya kiya ho sabhi log vibhinn na hote hue bhi dharm jati kshetra bhasha se milkar ke bhaichare ke saath mein vibhinn pratikul paristhitiyon mein bhi vaah anushasan free reh kar ke apne karyo ka bhali wahan sampadan karte hain aur vikat paristhitiyon mein bhi unke andar ladane ki kshamta hai aur kala kaushal bhi hai buddhi kaushal bhi hai jammu kashmir mein vibhinn paristhitiyon mein jab wahan par patharbaji ho rahi thi sashastra balon par hamle ho rahe the gharon se patthar bhi faike ja rahe the aur aatankwadi apni gatividhiyon mein sanlagn the hai aur wahan ka jo sthan hai janta thi uska bhi unhe sahyog nahi tha aisi visham paristhitiyon mein bhi pattharon ka unhone samana kiya janmanas ko jo asantosh tha usko bhi unhone santosh mein parivartit kiya aur aatankwadi gatividhiyon ko nestanabud kiya aur abhi bhi unke prayas aatankwadion ko nestanabud karne ke liye jaari hai kitni unke saath mein viprit paristhiyaann thi sthaniye kshetriya log the unka sahyog bhi nahi aur aatankwadi ki alag gatividhiyan chal rahi thi aur patharbaji alag ho rahi thi aisi bhi paristhitiyon mein unhone wahan par shanti bahali mein mahatvapurna bhumika ada ki yah unka avishwasaniya kaha rahe kehne ka aashay hai jo bharati se sawaal hai vaah vishwa mein unki pehchaan hai aur unke pehchaan ka mul karan hai ki anushasan priyata yudh kaushal ko ladane ki unki kshamta aur viprit paristhitiyon mein bhi apni car ko anjaam dene ki karyakushlata is karan bharatiya sashastra balon ko vishwa mein saare desh maante hain vaah apne padosi desh pakistan ko muhtod jawab diya karta hai aur padosi desh ki jo seema par harakatein kiya karta hai use kaise nipta jaaye vaah bhi car kiya karta hai san 62 ke yudh ke baad mein yah bharatiya sashastra balon ki karyakushlata hi hai ki china ke saath mein seema vivaad ko lekar ke aaj tak koi bhi ek bhi goliya nahi chali yah unki karyakushlata ko pradarshit karta hai yadyapi hamari seemaon mein kuch karke hamko swami ki karyavahi jhankiyan karta hai lekin bharatiya sashastra bal unko badalne ka kaam karke apni jo seema hai usko suraksha pradan karta hai yah kitna bada haryana gaushala hai unka aur kitna badi kushalata hai isliye bharatiya sashastra balon ki poore vishwa mein jaati hai aur saare vishesh ka loha bhi maante hain yah uski avishwasaniya takt hain dhanyavad

भारतीय सशस्त्र बलों के बालों के बारे में कुछ अश्वनी तथ्य क्या है देखिए जो भारतीय सशस्त्र ब

Romanized Version
Likes  128  Dislikes    views  1284
WhatsApp_icon
user

656 Mangal Singh Thakur

Teacher/Operator

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने बहुत अच्छा क्वेश्चन किया है भारतीय सशस्त्र बल के लिए समर्पित है और परंतु हमारा जो भारत देश है यह हमारे अधिकारों को बांटते हैं क्योंकि प्रांतीय स्वायत्तता को केंद्रीय सहायता इन दोनों को पिकअप करना है मेरी नींद आ रही है ओके

aapne bahut accha question kiya hai bharatiya sashastra bal ke liye samarpit hai aur parantu hamara jo bharat desh hai yah hamare adhikaaro ko bantate hain kyonki prantiya swayattata ko kendriya sahayta in dono ko pickup karna hai meri neend aa rahi hai ok

आपने बहुत अच्छा क्वेश्चन किया है भारतीय सशस्त्र बल के लिए समर्पित है और परंतु हमारा जो भार

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  285
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!