भारतीय ध्वज के आचार संहिता का कारण आपके दिल के बहुत करीब है। क्या आप इसके बारे में हमें कुछ बता सकते हैं?...


play
user

Major Gen Ashim Kohli

Major General (Retd) of Indian Army with 36 years of experience

1:52

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

असर की किसी देश का राष्ट्रीय ध्वज उस देश की लोगों की आशाओं और आकांक्षाओं का एक्शन होता है और वह होता है और आप देखें कि कुछ भी आप हमारे लोग पहुंचते हैं तो राष्ट्रीय झंडे को लगाते हैं ओलंपिक मेडल जीते हैं तो हमारा जिंदा होता है हमारे गणपति के देश में कई ऑपरेशन स्वतंत्रता दिवस करते हैं तो उसके बाद में आपको लेकिन वह रोड पर पड़ा हुआ या 10 मिनट पड़ा मिलता है तो एक तरफ तुषार सलूट करते हैं जब आप का राष्ट्रीय गान गाया जाता है और उससे अगले दिन को सुकून मिलता है या पटेल हालत मिलता है तो इसके बारे में भारतीय सरकार के निर्देश भी हैं एक फ्लैट फ्लैट कोड आफ कंडक्ट यीशु किया लेकिन उसने दिया गया कि आप संडे को किधर कैसे दे ओ चक कार्ड खाद्य भंडार इस्तेमाल लायक नहीं रहता को कैसे डिस्क्राइब करें उसको कैसे उसके बाद में उसको क्या करना चाहिए वह पियावा लेकिन यह बात लोगों को मालूम नहीं है तो जब मैंने अभी लास्ट चीज देखी आर्मी सेना भारा गेहूं में मुझे लगा कि कुछ ऐसी शुरू करनी चाहिए और अब सोशल मीडिया के साथ में इस चीज को हर किसी के पास पहुंचाना आसान हो गया है कि सोशल मीडिया से आप हिंदुस्तान के किसी कोने में अक्षम लोगों के पास पहुंचते हैं इसलिए मैंने उसे एक बार कॉल लांच करने का विचार कर रहा हूं

asar ki kisi desh ka rashtriya dhwaj us desh ki logo ki ashaon aur akankshaon ka action hota hai aur vaah hota hai aur aap dekhen ki kuch bhi aap hamare log pahunchate hain toh rashtriya jhande ko lagate hain olympic medal jeete hain toh hamara zinda hota hai hamare ganapati ke desh mein kai operation swatantrata divas karte hain toh uske baad mein aapko lekin vaah road par pada hua ya 10 minute pada milta hai toh ek taraf tushaar Salute karte hain jab aap ka rashtriya gaan gaaya jata hai aur usse agle din ko sukoon milta hai ya patel halat milta hai toh iske bare mein bharatiya sarkar ke nirdesh bhi hain ek flat flat code of conduct yeshu kiya lekin usne diya gaya ki aap sunday ko kidhar kaise de o chak card khadya bhandar istemal layak nahi rehta ko kaise describe kare usko kaise uske baad mein usko kya karna chahiye vaah piyava lekin yah baat logo ko maloom nahi hai toh jab maine abhi last cheez dekhi army sena bhara gehun mein mujhe laga ki kuch aisi shuru karni chahiye aur ab social media ke saath mein is cheez ko har kisi ke paas pahunchana aasaan ho gaya hai ki social media se aap Hindustan ke kisi kone mein aksham logo ke paas pahunchate hain isliye maine use ek baar call launch karne ka vichar kar raha hoon

असर की किसी देश का राष्ट्रीय ध्वज उस देश की लोगों की आशाओं और आकांक्षाओं का एक्शन होता है

Romanized Version
Likes  50  Dislikes    views  724
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

656 Mangal Singh Thakur

Teacher/Operator

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने बहुत अच्छा क्वेश्चन किया है कि आचार संहिता में लगने वाला झंडा और प्रशासन में झंडा लगने वाला क्या होना चाहिए हम कहने के लिए कह देते राष्ट्रपति का झंडा वही है जो जनवरी को पढ़ाया जाता है एपिसोड 30 जनवरी को पहना जाता है आजादी का जंगल है वही है 15 अगस्त को बुलाया जाता है लेकिन राष्ट्रपति शासन लागू होता है इस धंधे में उसका अंत में जहां पर लगा है वहां पर एक और तिल होना चाहिए तो सीधा खेल को परिभाषित करें धन्यवाद

aapne bahut accha question kiya hai ki aachar sanhita mein lagne vala jhanda aur prashasan mein jhanda lagne vala kya hona chahiye hum kehne ke liye keh dete rashtrapati ka jhanda wahi hai jo january ko padhaya jata hai episode 30 january ko pehna jata hai azadi ka jungle hai wahi hai 15 august ko bulaya jata hai lekin rashtrapati shasan laagu hota hai is dhande mein uska ant mein jaha par laga hai wahan par ek aur til hona chahiye toh seedha khel ko paribhashit kare dhanyavad

आपने बहुत अच्छा क्वेश्चन किया है कि आचार संहिता में लगने वाला झंडा और प्रशासन में झंडा लगन

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  252
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!