कब ख़त्म होगा महिलाओं की एंट्री को लेकर चल रहा सबरीमला मंदिर विवाद?...


play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

1:54

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कब खत्म होगा महिलाओं की छुट्टी को लेकर चल रहा सबरीमाला मंदिर विवाद 2 दिन पहले भी सुप्रीम कोर्ट ने फैसला दिया कि सबरीमाला मंदिर के पास जो दाखिल की गई कि यदि उसे बड़ी भैंस को मुंह में ट्रांसफर किया जाए कि अभी जो 5 जजों की बेंच होती थी वह फैसला उन्होंने 7 जजों की बेंच को बड़ी बेंच को में ट्रांसफर किया है अब उसमें साथ मिलकर वह आखिर से सुनवाई करेंगे और अपना फैसला सुनाइए फिलहाल जब सबरीमाला मंदिर खुलने वाला है तो पिछले जो प्रेग्नेंट था उसके साथ वहां पर महिलाओं को प्रवेश दिया जाएगा लेकिन सबरीमाला मंदिर ट्रस्ट में निकले यह पुलिस वाले जो प्रोटेक्शन महिलाओं को नहीं देंगे यानी कि वहां पर कुछ ना कुछ अयोग्य होने की गुंजाइश रहती है इसलिए पुलिस को देना चाहिए महिलाओं को मत देना चाहिए क्योंकि डिमांड इस तरह की है कि सभी उम्र की सब इस ग्रुप की महिलाएं मंदिर में प्रवेश कर दर्शन का हक रखती है और उन्हें दर्शन करना चाहिए लेकिन जिस तरह से सबरीमाला मंदिर ट्रस्ट ने लिख दिया है कि वह किसी भी महिला को रक्षा करने का जो है वह वादा नहीं करते हैं और वहां की पुलिस प्रशासन ने उसकी जिम्मेदारी अब बढ़ जाएगी इसलिए जजमेंट को आगे ले जाया गया है सुप्रीम कोर्ट के द्वारा और दर्शन सेवा

kab khatam hoga mahilaon ki chhutti ko lekar chal raha sabarimala mandir vivaad 2 din pehle bhi supreme court ne faisla diya ki sabarimala mandir ke paas jo dakhil ki gayi ki yadi use badi bhains ko mooh mein transfer kiya jaaye ki abhi jo 5 judgon ki bench hoti thi vaah faisla unhone 7 judgon ki bench ko badi bench ko mein transfer kiya hai ab usme saath milkar vaah aakhir se sunvai karenge aur apna faisla sunaiye filhal jab sabarimala mandir khulne vala hai toh pichle jo pregnant tha uske saath wahan par mahilaon ko pravesh diya jaega lekin sabarimala mandir trust mein nikle yah police waale jo protection mahilaon ko nahi denge yani ki wahan par kuch na kuch ayogya hone ki gunjaiesh rehti hai isliye police ko dena chahiye mahilaon ko mat dena chahiye kyonki demand is tarah ki hai ki sabhi umr ki sab is group ki mahilaye mandir mein pravesh kar darshan ka haq rakhti hai aur unhe darshan karna chahiye lekin jis tarah se sabarimala mandir trust ne likh diya hai ki vaah kisi bhi mahila ko raksha karne ka jo hai vaah vada nahi karte hain aur wahan ki police prashasan ne uski jimmedari ab badh jayegi isliye judgement ko aage le jaya gaya hai supreme court ke dwara aur darshan seva

कब खत्म होगा महिलाओं की छुट्टी को लेकर चल रहा सबरीमाला मंदिर विवाद 2 दिन पहले भी सुप्रीम

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  1041
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

महेश सेठ

रेकी ग्रैंडमास्टर,लाइफ कोच

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह विवाद एक्चुअल में है नहीं यह क्रिएट किया गया है और यह जब तक इसमें जो संस्थाएं हैं जो इसको क्रिएट कर रही है उनका उद्देश्य पूरा नहीं होगा जो कि वह भ्रष्ट देश है उनका तब तक यह चलाते रहेंगे क्योंकि मंदिर में न किसी हिंदू को तो कोई दिक्कत नहीं है जो हिंदुओं के विरोधियों को दिक्कत है और यह पॉलिटिकल चीज है तो कोई बहुत बड़ा अंतर नहीं पड़ता धीरे-धीरे सब चाहिए ठीक हो जाएगी तो यह सब नौटंकी चलती रहती है ठीक है धन्यवाद नमस्कार

yah vivaad actual mein hai nahi yah create kiya gaya hai aur yah jab tak isme jo sansthayen hain jo isko create kar rahi hai unka uddeshya pura nahi hoga jo ki vaah bhrasht desh hai unka tab tak yah chalte rahenge kyonki mandir mein na kisi hindu ko toh koi dikkat nahi hai jo hinduon ke virodhiyon ko dikkat hai aur yah political cheez hai toh koi bahut bada antar nahi padta dhire dhire sab chahiye theek ho jayegi toh yah sab nautanki chalti rehti hai theek hai dhanyavad namaskar

यह विवाद एक्चुअल में है नहीं यह क्रिएट किया गया है और यह जब तक इसमें जो संस्थाएं हैं जो इस

Romanized Version
Likes  164  Dislikes    views  2919
WhatsApp_icon
user
0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबरीमाला मंदिर का विवाद सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है और वर्तमान में 5 बेटी दीजिए तो ऐसे 7 बच्ची जजों की संविधान पीठ को सौंपा गया है इसका फैसला अयोध्या मामला

sabarimala mandir ka vivaad supreme court mein chal raha hai aur vartaman mein 5 beti dijiye toh aise 7 bachi judgon ki samvidhan peeth ko saupaan gaya hai iska faisla ayodhya maamla

सबरीमाला मंदिर का विवाद सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है और वर्तमान में 5 बेटी दीजिए तो ऐसे 7 ब

Romanized Version
Likes  48  Dislikes    views  1866
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों तो सबरीमाला को ले करके बता देता हूं सितंबर 2018 सबरीमाला मंदिर की महिला मध्य प्रदेश कर सकते 3453 तो सर्वोच्च न्यायालय ने केरल उच्च न्यायालय की खंडपीठ ने किया गया था कि महिलाओं को विवाह जोया देख पा रहे होंगे क्योंकि 1991 से ही चल रहा है उससे पहले से ही चला काफी सारा पुराना है बहुत ज्यादा पुराना है इस फैसले से जुड़े और जो बातें मुंह में तमाम बातें वह मैं आपको बता देता हूं और क्या-क्या बातें करके सबरीमाला मंदिर में जो बातें हैं लेकिन बताएं तो परंपरा के अनुसार जो 10 से 50 साल की महिला उनके प्रवेश पर प्रतिबंध है कि मंदिर का टेस्ट 2000 सालों से चल रहा है और कुछ धार्मिक कारण फ्री वाला मंदिर जो होता है उसमें हड़ताल उसके अलावा जो मंदिर है वह पूरे साल बंद रहता है और दूसरी जो आता है वह मैं आपको बता देता हूं देखिए इसमें विवाद क्या क्या है विवाद को लेकर के संविधान जो कहता है संविधान के अनुच्छेद 14 अनुच्छेद अनुच्छेद 39a और अनुच्छेद 51 के सिद्धांतों का उल्लंघन होगा यदि उसने महिलाओं का प्रवेश नहीं किया जाता है तो यह सारी बातें है अनुच्छेद 25 कहते हैं कि वह रीति रिवाज का अभिन्न अनुच्छेद 25 के अंतर्गत अभी इसी पर क्या चल रहा है विवाद चल रहा है कि ले तो यह सारी चीजें है और यह भी है कि भाई यह मंदिर का जो प्रबंधन है ठीक है वह केरला तमिलनाडु सरकार के बजट से होता है यह भी दूसरी समस्या है क्योंकि फिर राज्य की परिभाषा रस की परिभाषा के दायरे में आ रहा है तो फिर तो उसकी जो है वह मनमानी नहीं कर सकता जाती है बच्चे 17 का उल्लंघन हो जाता है यहां पर तो कई सारी बातें इसमें

namaskar doston toh sabarimala ko le karke bata deta hoon september 2018 sabarimala mandir ki mahila madhya pradesh kar sakte 3453 toh sarvoch nyayalaya ne kerala ucch nyayalaya ki khandapith ne kiya gaya tha ki mahilaon ko vivah joya dekh paa rahe honge kyonki 1991 se hi chal raha hai usse pehle se hi chala kaafi saara purana hai bahut zyada purana hai is faisle se jude aur jo batein mooh mein tamaam batein vaah main aapko bata deta hoon aur kya kya batein karke sabarimala mandir mein jo batein hain lekin bataye toh parampara ke anusaar jo 10 se 50 saal ki mahila unke pravesh par pratibandh hai ki mandir ka test 2000 salon se chal raha hai aur kuch dharmik karan free vala mandir jo hota hai usme hartal uske alava jo mandir hai vaah poore saal band rehta hai aur dusri jo aata hai vaah main aapko bata deta hoon dekhiye isme vivaad kya kya hai vivaad ko lekar ke samvidhan jo kahata hai samvidhan ke anuched 14 anuched anuched 39a aur anuched 51 ke siddhanto ka ullanghan hoga yadi usne mahilaon ka pravesh nahi kiya jata hai toh yah saree batein hai anuched 25 kehte hain ki vaah riti rivaaj ka abhinn anuched 25 ke antargat abhi isi par kya chal raha hai vivaad chal raha hai ki le toh yah saree cheezen hai aur yah bhi hai ki bhai yah mandir ka jo prabandhan hai theek hai vaah kerala tamil nadu sarkar ke budget se hota hai yah bhi dusri samasya hai kyonki phir rajya ki paribhasha ras ki paribhasha ke daayre mein aa raha hai toh phir toh uski jo hai vaah manmani nahi kar sakta jaati hai bacche 17 ka ullanghan ho jata hai yahan par toh kai saree batein isme

नमस्कार दोस्तों तो सबरीमाला को ले करके बता देता हूं सितंबर 2018 सबरीमाला मंदिर की महिला मध

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  140
WhatsApp_icon
user

Sunil Yadav

Teacher - Chemistry

1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबरीमाला मंदिर विवाद कब खत्म होगा जब सरकार मंदिर को अपने कब्जे में ले ले और से सरकारी घोषित कर दी और उस पर संविधान के अनुसार मूल अधिकार के अनुसार महिला पुरुष के बराबर बराबरी का हक देने के अनुसार सभी को मंदिर में प्रवेश करने का हक दे तभी यह विवाद खत्म होगा यहां पर विवाद इस तरह से कह रहा है कि जितना महिलाएं मंदिर में प्रवेश करने की इच्छा रखने पर पूजा करने के लिए उतना ही मंदिर के पुजारी यार मंदिर के पुरुष वर्ग यह सोच रहे हैं कि महिलाओं को अंदर आने से कैसे रोका जाए उनका सारा ध्यान पूजा पाठ और धार्मिक आस्था से हटकर अब एक प्रतिरोध करने में लग गया है जो कि एक कह सकते हैं कि साधना से हट गया है मां पर अपने मार्ग से विचलित हो गए हैं और असली लक्ष्य जो है सर के पास ना करके मन को शांति पहुंचाना दूसरों को शांति पहुंचाना और सुख शांति से रहना वह सदस्य हट गए हैं अतः महिलाओं को एंट्री देनी चाहिए ऐसा मेरा सुझाव है और इसे सरकार ही विवाद को खत्म कर सकती है अपने कब्जे में लेकर धन्यवाद

sabarimala mandir vivaad kab khatam hoga jab sarkar mandir ko apne kabje mein le le aur se sarkari ghoshit kar di aur us par samvidhan ke anusaar mul adhikaar ke anusaar mahila purush ke barabar barabari ka haq dene ke anusaar sabhi ko mandir mein pravesh karne ka haq de tabhi yah vivaad khatam hoga yahan par vivaad is tarah se keh raha hai ki jitna mahilaye mandir mein pravesh karne ki iccha rakhne par puja karne ke liye utana hi mandir ke pujari yaar mandir ke purush varg yah soch rahe hain ki mahilaon ko andar aane se kaise roka jaaye unka saara dhyan puja path aur dharmik astha se hatakar ab ek pratirodh karne mein lag gaya hai jo ki ek keh sakte hain ki sadhna se hut gaya hai maa par apne marg se vichalit ho gaye hain aur asli lakshya jo hai sir ke paas na karke man ko shanti pahunchana dusro ko shanti pahunchana aur sukh shanti se rehna vaah sadasya hut gaye hain atah mahilaon ko entry deni chahiye aisa mera sujhaav hai aur ise sarkar hi vivaad ko khatam kar sakti hai apne kabje mein lekar dhanyavad

सबरीमाला मंदिर विवाद कब खत्म होगा जब सरकार मंदिर को अपने कब्जे में ले ले और से सरकारी घोषि

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  260
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबरीमाला विवाद एक राजनीति से प्रेरित है हमारे प्राचीन मंदिरों को उनकी परंपराओं को ध्वस्त किया जा रहा है जो कि ऐसा नहीं होना चाहिए किसी भी धर्म में हो और इसमें कुछ पढ़ी-लिखी महिलाएं भी जो राजनेता के रूप में वह भी जिम्मेदार हैं क्योंकि पहले बहुत सारी चीजें बहुत सोच समझकर तो हमारे ऋषि-मुनियों ने उसे लागू किया है और उस परंपरा को हम तोड़कर सुखी नहीं है क्योंकि आज हमारा समाज पतन की ओर जा रहा है पहले हमारे भारत के यश कीर्ति पूरे संसार में थी इसलिए इसे सोने की चिड़िया कहा जाता सोने की चिड़िया का मतलब किया बहुत अमीर था लेकिन ऐसी ही मानसिकता के कारण लोलिता के कारण हमारे देश का पतन हो रहा है और यह विवाद अगर सरकार चाहे तो 1 दिन में खत्म हो सकता है लेकिन सरकार क्यों चाहेगी नेता क्यों चाहेंगे इस विवाद को लटकाए उनको तो वोट चाहिए

sabarimala vivaad ek raajneeti se prerit hai hamare prachin mandiro ko unki paramparaon ko dhwast kiya ja raha hai jo ki aisa nahi hona chahiye kisi bhi dharm me ho aur isme kuch padhi likhi mahilaye bhi jo raajneta ke roop me vaah bhi zimmedar hain kyonki pehle bahut saari cheezen bahut soch samajhkar toh hamare rishi muniyon ne use laagu kiya hai aur us parampara ko hum todkar sukhi nahi hai kyonki aaj hamara samaj patan ki aur ja raha hai pehle hamare bharat ke yash kirti poore sansar me thi isliye ise sone ki chidiya kaha jata sone ki chidiya ka matlab kiya bahut amir tha lekin aisi hi mansikta ke karan lolita ke karan hamare desh ka patan ho raha hai aur yah vivaad agar sarkar chahen toh 1 din me khatam ho sakta hai lekin sarkar kyon chahegi neta kyon chahenge is vivaad ko latkaye unko toh vote chahiye

सबरीमाला विवाद एक राजनीति से प्रेरित है हमारे प्राचीन मंदिरों को उनकी परंपराओं को ध्वस्त

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  76
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!