महिला सशक्तिकरण क्या है?...


user

Raghuveer Singh

👤Teacher & Advisor🙏

1:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महिला सशक्तिकरण का मतलब क्या है तो देखिए महिला सशक्तिकरण का मतलब महिला को शक्ति प्रदान करना था तो उनको है एक विशिष्ट स्थान प्रदान करना समाज में देश में जो खासतौर से अब तक पुरुषों को ही प्राप्त था महिलाएं हैं खासतौर से हैं इस दुनिया के संसार के बारे में बिल्कुल से अनभिज्ञ थी कि उनको परदे में रखा जा रहा था जैसे मुस्लिम धर्म में बुर्के में हिंदुओं में पर्दा प्रथा थी और इस प्रकार की घर की भीतर तक ही सीमित थी उनकी जोशी माहिती वह व्यापक नहीं थी वह सिर्फ घर तक सीमित थी तो फिर महिलाओं के सशक्तिकरण का यह है कि पुरुषों का जो दबदबा है उसको कम करना और महिलाओं को बराबर अधिकार देना कि और उनके भीतर की जो आकांक्षाएं हैं उनको मरने नहीं देना वह जीवित रखना और समाज में एक ऐसा ही उनको हक दिलाना कि वाकई में से पुरुष ही सृष्टि का कर्ता धरता नहीं है रचना करता नहीं है महीना का भी पूरा सहयोग होता है तो उसको नीचा नहीं समझा जाना चाहिए तो हर क्षेत्र में महिला को सशक्तिकरण किया गया और इसके लिए सबसे बड़ी व्यवस्था की गई को आरक्षण व्यवस्था की गई कि महिलाओं के लिए 33% यानी 33 परसेंट पद है वह किसी भी सेक्टर में हो चाहे वह राजनीति में हो चाहे किसी भी चक्कर में हम के लिए आरक्षित रहेंगे क्योंकि यह वाकई में है पुरुष और महिला एक ही एक ही गाड़ी के दो पहिए हैं अगर इस देश रूपी गाड़ी चलाना है वाकई में विकसित बनाना है बनाना है तो महिलाओं को भी वही सम्मान वही उनके भीतर होना चाहिए सब कुछ जो एक पुरुष के पास में होता है तो यही महिला सशक्तिकरण है

mahila shshaktikaran ka matlab kya hai toh dekhiye mahila shshaktikaran ka matlab mahila ko shakti pradan karna tha toh unko hai ek vishisht sthan pradan karna samaj mein desh mein jo khaasataur se ab tak purushon ko hi prapt tha mahilaye hain khaasataur se hain is duniya ke sansar ke bare mein bilkul se anbhigya thi ki unko parde mein rakha ja raha tha jaise muslim dharm mein Burke mein hinduon mein parda pratha thi aur is prakar ki ghar ki bheetar tak hi simit thi unki joshi mahiti vaah vyapak nahi thi vaah sirf ghar tak simit thi toh phir mahilaon ke shshaktikaran ka yah hai ki purushon ka jo dabdaba hai usko kam karna aur mahilaon ko barabar adhikaar dena ki aur unke bheetar ki jo akanchaye hain unko marne nahi dena vaah jeevit rakhna aur samaj mein ek aisa hi unko haq dilana ki vaakai mein se purush hi shrishti ka karta dharata nahi hai rachna karta nahi hai mahina ka bhi pura sahyog hota hai toh usko nicha nahi samjha jana chahiye toh har kshetra mein mahila ko shshaktikaran kiya gaya aur iske liye sabse badi vyavastha ki gayi ko aarakshan vyavastha ki gayi ki mahilaon ke liye 33 yani 33 percent pad hai vaah kisi bhi sector mein ho chahen vaah raajneeti mein ho chahen kisi bhi chakkar mein hum ke liye arakshit rahenge kyonki yah vaakai mein hai purush aur mahila ek hi ek hi gaadi ke do pahiye hain agar is desh rupee gaadi chalana hai vaakai mein viksit banana hai banana hai toh mahilaon ko bhi wahi sammaan wahi unke bheetar hona chahiye sab kuch jo ek purush ke paas mein hota hai toh yahi mahila shshaktikaran hai

महिला सशक्तिकरण का मतलब क्या है तो देखिए महिला सशक्तिकरण का मतलब महिला को शक्ति प्रदान करन

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  35
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

साधारण शब्दों में महिलाओं को शक्ति करण का मतलब है कि महिलाओं को अपनी जिंदगी का फैसला करने की क्षमता देना या उसमें ऐसी क्षमता पैदा करना ताकि समाज में अपना सही स्थान स्थापित कर सके प्राचीन से लेकर आधुनिक काल तक महिलाओं की स्थिति सामाजिक राजनीतिक और आर्थिक रूप से समान नहीं रही है

sadhaaran shabdon mein mahilaon ko shakti karan ka matlab hai ki mahilaon ko apni zindagi ka faisla karne ki kshamta dena ya usme aisi kshamta paida karna taki samaj mein apna sahi sthan sthapit kar sake prachin se lekar aadhunik kaal tak mahilaon ki sthiti samajik raajnitik aur aarthik roop se saman nahi rahi hai

साधारण शब्दों में महिलाओं को शक्ति करण का मतलब है कि महिलाओं को अपनी जिंदगी का फैसला करने

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  125
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!