अगर IFS अधिकारी होने के बजाय प्रमोद कुमार IAS अधिकारी होते तो क्या होता?...


play
user

PRAMOD KUMAR

Retired IFS Officer | Advisor to TRIFED

4:49

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपके प्रश्नों की आग और आईएफएस अधिकारी होने की बजाय प्रमोद कुमार आईएएस अधिकारी बनते तो क्या होता प्यार नहीं होता एक प्रकार का पोस्ट ना कोई औचित्य नहीं रह जाता है आई एफ एस इंडियन फॉरेस्ट सर्विस बहुत ही अच्छे सर्विस है और मेरा जो रुचिता आया कि बंद हो पर्यावरण और हमारी लाइफ इसके लिए मुझे कुछ काम करने का मौका मिला पिछले तीन दशक में आती 32 इयर्स बॉय जैसे कि बायोडाटा चेयरमैन के रूप में के रूप में 15 साल तक कंजरवेटर के रूप में बोलो का मैनेजमेंट करना उनका प्रोटेक्ट करना उनको बोलो का विकास करना वाइल्डलाइफ हैबिटेट को मैनेज करना उनको विकास करना वाइल्डलाइफ चुप रहना और उनके साथ साथ जंगल के आसपास है जो ग्रामीण जनता है जो आदिवासियों जो ग्रामीण जनता है जो फर्स्ट वाले उनका क्या से विकास किया जाए चाहे संध्या बंधु उनकी तो तो हेलो गूगल उपस्थित हो तो बंद नहीं होता तो यह सब काम करने का मौका मिला पर्यावरण के बारे में जो जो यहां ड्यूटी मारे होता है और ड्यूटी स्पोर्ट्स इज अ वेरी इंपोर्टेंट स्पोर्ट्स कविता टूरिस्ट का इंटरेस्ट का सबसे इंपॉर्टेंट डिस्टेंस होता है वह हमारी ड्यूटी सपोर्ट होता है बड़े अच्छे को अच्छा चालू अब्राहम अरशद ने रोमांचक अनुभव के साथ मिलाकर सुपरमैन टाइगर प्रोजेक्ट में चाय रणथंभौर व सरिस्का में हो संसद की टाइम में जाकर बैठना मचान के ऊपर टाइगर कहां पर नजर रखना उनके पगमार्क्स को टर्न ऑफ करना और उसकी इमेज बनाना और उसके साथ-साथ तुमको प्रोटेक्ट करना पुत्र के साथ लड़ाई करना मन मोहा केसर का लड़ाई करना इंग्लिश सीट पहले इंग्लिश सीख माइनिंग इसी जंगल को बचाना और जंगल में और भी लाजो जंगल खराब हो चुकी है उसमें द्वारा प्रश्न और उतर आती मुझे गोइंग प्लांट उसको ग्रो करना उसको इसका जो प्लेयर मिलता है कि दूसरे सर्विस में मिलता तो जिस सर्विस में को मिला है तो इसी सर्विस में आपका मैक्सिमम आपको देना है ताकि वह लोगों के ज्योति फुले उनका काम में आए यह सब संत रन चीज होनी चाहिए जिस प्यार में आप काम करते हो तीनो मंत्र होते दूध जोड़ी कैसी चीज करनी चाहिए बाकी आप आइए सोया आईपीएस व्यापारियों पर सोया यह बनते क्या करते हैं यह बनते क्या करते हैं उसके बारे में मैं कभी सोचा भी नहीं मुझे जो मौका मिला है मेरे काबिल के अनुसार मेरे का पावर टीका अनुसार उसको मैं नहीं है पूरी और सही ढंग में उसको निर्वाह करने में कोई कसर नहीं छोड़ा एम फुली सेटिस्फाइड रिटायरमेंट के बाद में बंद पर्यावरण के लिए काम कर रहा हूं आदिवासियों का विकास के लिए काम कर रहा हूं क्योंकि उन्होंने हमारे दर और हमारे बड़ों का आदर और उनसे हम सकते उनके जो ट्रेडिशनल प्रेक्टिस है उसको इंप्लीमेंट कैसे किया जाए सुनियोजित रूप में उनको उसे अपना भी लेते हैं और उनको खाते ताकि बनो पर्यावरण का बच्चा भी उनके विकास हो और इस शब्द सही ढंग से उसका मैनेजमेंट सर्विस का अलग अलग पहचान अलग अलग चैलेंज ऐसे और फॉरेस्ट का चल गया सीटें ज्यादा है मैं नहीं महसूस करता हूं कोई दूसरा सर्विस के बारे में सोचने का मौका भी मिलता है और मैं खुद कॉल कर फिर भूल सकता हूं बस सर्विस वालों की मौत सेटिस्फेक्शन मोस्ट चैलेंजिंग स्टार का मौका होगा दूसरा सुरेश में मिलता है या नहीं मिलता है मैं नहीं जानता हूं तो मेरा मानना है सबसे बेहतर सर्विस से धन्यवाद

aapke prashnon ki aag aur IFS adhikari hone ki bajay pramod kumar IAS adhikari bante toh kya hota pyar nahi hota ek prakar ka post na koi auchitya nahi reh jata hai I f s indian forest service bahut hi acche service hai aur mera jo ruchita aaya ki band ho paryavaran aur hamari life iske liye mujhe kuch kaam karne ka mauka mila pichle teen dashak mein aati 32 years boy jaise ki biodata chairman ke roop mein ke roop mein 15 saal tak kanjaravetar ke roop mein bolo ka management karna unka protect karna unko bolo ka vikas karna wildlife haibitet ko manage karna unko vikas karna wildlife chup rehna aur unke saath saath jungle ke aaspass hai jo gramin janta hai jo adivasiyon jo gramin janta hai jo first waale unka kya se vikas kiya jaaye chahen sandhya bandhu unki toh toh hello google upasthit ho toh band nahi hota toh yah sab kaam karne ka mauka mila paryavaran ke bare mein jo jo yahan duty maare hota hai aur duty sports is a very important sports kavita tourist ka interest ka sabse important distance hota hai vaah hamari duty support hota hai bade acche ko accha chaalu abraham arshad ne romanchak anubhav ke saath milakar superman tiger project mein chai ranathambhaur va sariska mein ho sansad ki time mein jaakar baithana machan ke upar tiger kahaan par nazar rakhna unke pagmarks ko turn of karna aur uski image banana aur uske saath saath tumko protect karna putra ke saath ladai karna man moha kesar ka ladai karna english seat pehle english seekh Mining isi jungle ko bachaana aur jungle mein aur bhi lajo jungle kharab ho chuki hai usme dwara prashna aur utar aati mujhe going plant usko grow karna usko iska jo player milta hai ki dusre service mein milta toh jis service mein ko mila hai toh isi service mein aapka maximum aapko dena hai taki vaah logo ke jyoti phule unka kaam mein aaye yah sab sant run cheez honi chahiye jis pyar mein aap kaam karte ho teeno mantra hote doodh jodi kaisi cheez karni chahiye baki aap aaiye soya ips vyapariyon par soya yah bante kya karte hain yah bante kya karte hain uske bare mein main kabhi socha bhi nahi mujhe jo mauka mila hai mere kaabil ke anusaar mere ka power tika anusaar usko main nahi hai puri aur sahi dhang mein usko nirvah karne mein koi kesar nahi choda M fully setisfaid retirement ke baad mein band paryavaran ke liye kaam kar raha hoon adivasiyon ka vikas ke liye kaam kar raha hoon kyonki unhone hamare dar aur hamare badon ka aadar aur unse hum sakte unke jo traditional practice hai usko implement kaise kiya jaaye suniyojit roop mein unko use apna bhi lete hain aur unko khate taki bano paryavaran ka baccha bhi unke vikas ho aur is shabd sahi dhang se uska management service ka alag alag pehchaan alag alag challenge aise aur forest ka chal gaya seaten zyada hai nahi mehsus karta hoon koi doosra service ke bare mein sochne ka mauka bhi milta hai aur main khud call kar phir bhool sakta hoon bus service walon ki maut setisfekshan most chailenjing star ka mauka hoga doosra suresh mein milta hai ya nahi milta hai nahi jaanta hoon toh mera manana hai sabse behtar service se dhanyavad

आपके प्रश्नों की आग और आईएफएस अधिकारी होने की बजाय प्रमोद कुमार आईएएस अधिकारी बनते तो क्या

Romanized Version
Likes  263  Dislikes    views  4553
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

3:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आई एफएमएस और आई आईएस एक एड्रेस ऑफ सेमी है इनमें से कुछ ज्यादा बड़ा नहीं आईएस जरूरी नहीं कि कलेक्ट्री बनाया जाए आईएस कलेक्टर तुकून क्रीम आईएस की की टीमों को बनाया जाता है क्योंकि बहुत परीक्षा लेने के बाद यह महसूस कर लिया जाता है कि डिस्टिक की जिम्मेदारियां संभाल सकते हैं उन व्यक्तियों को आई है क्या कलेक्टर के लिए मनाया जाता है आईएस हाईएस्ट क्रीम होता है और आई एस आई ए एस ए बल्कि आई एफ एस पर ज्यादा जिम्मेदारी होती है बहुत कम मिलता कमजोर व्यक्ति को बहुत वाली साइट पर सबको बहुत चंद्र प्रसन्न हुई आई है सच बनाया जाता है तो इसलिए आज के जो लड़के हैं उनको इस बात को जिम्मेदारी का अहसास होना चाहिए कि जो दीपक मिल रहा है उसको देश की सेवा करें समाज की सेवा करें देश के नागरिकों के तारी बने देश भ्रष्टाचार बंदा बन रहा है कौन बोल रहे हैं जिस पथ टो रीवा ट्रेन कर्मचारियों की हरामखोरी होटल इन पदों पर रहकर के उद्देश्य खेत में काम करते हुए ऐसे भ्रष्ट कर्मचारियों को ऐसे जो गवन घोटाले करने वाली रिश्वतखोर कर्मचारी है उन पर लगाम कसें यह भी एक देश से होगी यदि वह भ्रष्टाचार को सुधारते हैं यदि भवन घोटालेबाज रिश्वतखोर लोगों को सुधारते कर्मचारियों को सुधारते कामचोरी जो कर्मचारी कर रहे हैं उनको सुधार पर हैं तो मैं चित्रों इससे बड़ी विदेश सेवा और कोई नहीं होगी उनको देख सकता हूं ध्यान रखना चाहिए देश सेवा का ध्यान रखना चाहिए देश के विकास को गति मिली क्योंकि इन आईएसआईएफ एस्प्रीमो पर ही हमारा देश फ्रेंड है जनता दिन पर ज्यादा बिलीव करती है बजाएं नेताओं के हमारे देश के नेता तो महा पृष्ठ है यह तो सारी कंगी कीचड़ पवन घटा रे रिश्वतखोरी यह सारी ट्रेन ही हमारी भारतीय राजनीति की है इसलिए मेरे मित्रों यदि कुछ कर सको तो दे देश सेवा करो कलेक्टर महोदया जैसे बनो जो किसी मृतक अभी तक लाने की क्षमता रखता था मिस्टर को भी दिया कि परिश्रम ने जब उससे गलत काम करने के लिए कहा तो कल दिया सामने तुरंत फटकार के कह दिया करो आई डोंट टू और जब उसने कहा कि मैं आपको बाद में लिखा हुआ पहला सा में बहुत अच्छा तो दिया उन्होंने कब बाद में रहोगे या जैसलमेर भेजोगे मैं बाहर भी कलेक्टर नहीं रहूंगा लेकिन तुम याद रखो तो वह 5 साल के हो मैडम को जो से 5 साल तक चल कर सकते हो क्योंकि सारी गंदगी हमारी राजनीति से है तो मेरे मित्रों एवं बच्चों के लिए कुछ कर सकते हो तो देश सेवा करो देश जो बर्बाद हो रहा है उसको संभालो देश का विकास को बनाओ देश की देश के हितकारी बनो दिक्षित कीर्ति स्तंभ अनुदेश कहां दर्शन

I FMS aur I ias ek address of semi hai inme se kuch zyada bada nahi ias zaroori nahi ki kalektri banaya jaaye ias collector tukun cream ias ki ki teamo ko banaya jata hai kyonki bahut pariksha lene ke baad yah mehsus kar liya jata hai ki district ki zimmedariyan sambhaal sakte hain un vyaktiyon ko I hai kya collector ke liye manaya jata hai ias highest cream hota hai aur I s I a s a balki I f s par zyada jimmedari hoti hai bahut kam milta kamjor vyakti ko bahut wali site par sabko bahut chandra prasann hui I hai sach banaya jata hai toh isliye aaj ke jo ladke hain unko is baat ko jimmedari ka ehsaas hona chahiye ki jo deepak mil raha hai usko desh ki seva kare samaj ki seva kare desh ke nagriko ke tari bane desh bhrashtachar banda ban raha hai kaun bol rahe hain jis path toe reeva train karmachariyon ki haramkhori hotel in padon par rahkar ke uddeshya khet mein kaam karte hue aise bhrasht karmachariyon ko aise jo gavan ghotale karne wali rishwatkhor karmchari hai un par lagaam kasen yah bhi ek desh se hogi yadi vaah bhrashtachar ko sudharte hain yadi bhawan ghotalebaaj rishwatkhor logo ko sudharte karmachariyon ko sudharte kamchori jo karmchari kar rahe hain unko sudhaar par hain toh main chitron isse badi videsh seva aur koi nahi hogi unko dekh sakta hoon dhyan rakhna chahiye desh seva ka dhyan rakhna chahiye desh ke vikas ko gati mili kyonki in ISIF esprimo par hi hamara desh friend hai janta din par zyada believe karti hai bajaye netaon ke hamare desh ke neta toh maha prishth hai yah toh saree Kangi kichad pawan ghata ray rishwat khori yah saree train hi hamari bharatiya raajneeti ki hai isliye mere mitron yadi kuch kar Sako toh de desh seva karo collector mahodaya jaise bano jo kisi mritak abhi tak lane ki kshamta rakhta tha mister ko bhi diya ki parishram ne jab usse galat kaam karne ke liye kaha toh kal diya saamne turant fatkar ke keh diya karo I dont to aur jab usne kaha ki main aapko baad mein likha hua pehla sa mein bahut accha toh diya unhone kab baad mein rahoge ya jaisalmer bhejoge main bahar bhi collector nahi rahunga lekin tum yaad rakho toh vaah 5 saal ke ho madam ko jo se 5 saal tak chal kar sakte ho kyonki saree gandagi hamari raajneeti se hai toh mere mitron evam baccho ke liye kuch kar sakte ho toh desh seva karo desh jo barbad ho raha hai usko sambhalo desh ka vikas ko banao desh ki desh ke hitkari bano dixit kirti stambh anudesh kahaan darshan

आई एफएमएस और आई आईएस एक एड्रेस ऑफ सेमी है इनमें से कुछ ज्यादा बड़ा नहीं आईएस जरूरी नहीं कि

Romanized Version
Likes  66  Dislikes    views  1325
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

2:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अंगड़ाई f68 काली होने की वजह प्रमोद कुमार आईएएस अधिकारी होते तो क्या होता उन्होंने अपने क्षेत्र में जो कार्य किया और उस क्षेत्र के लिए उन्होंने उनका निर्वाचन हुआ यह उनकी कुशलता पर उनकी योग्यता परीक्षा योग्यता के आधार पर उनको आईएएस आईएफएस अधिकारी का कार्यभार मिला और उन्होंने उसे पाप को भी प्रकार की ऑल स्टेट मनाने सुंदर और उचित प्रणाम दिया क्योंकि इंसान योगिता उसके कार्य से जानिया चीज की चिंता से जानी जाती है उसकी पद से नहीं चाहिए जरूर पता लगता है कि अगर उन्हें प्रशासनिक पद मिलता तो नहीं सुनते जब वाईएफएच अधिकारी के रूप में उच्च श्रेणी के अधिकारी साबित हुए टॉयज की चटनी संभाग से भी अच्छे साबित होते हैं क्योंकि प्रशासनिक क्षेत्र जो है वह फॉरेस्ट फाइनेंस इन दोनों ही तरह के शब्दों से डिफरेंट एक कैलकुलेटिंग हैं और एक इंस्टिट्यु है आईएएस एडमिनिस्ट्रेटिव है जहां अमीषा के साथ मिलकर काम करना लोगों से काम लेना है तक के साथ इनके काम करना और काम लेना अपने आप में बहुत बहुत महत्वपूर्ण और आश्चर्यजनक तथ्य होता है जो कपड़ों की कोई गुंजाइश नहीं क्यों एक अच्छे परिणाम देने पर एक अच्छे अधिकारी साबित होते हैं

angdai f68 kali hone ki wajah pramod kumar IAS adhikari hote toh kya hota unhone apne kshetra me jo karya kiya aur us kshetra ke liye unhone unka nirvachan hua yah unki kushalata par unki yogyata pariksha yogyata ke aadhar par unko IAS IFS adhikari ka karyabhar mila aur unhone use paap ko bhi prakar ki all state manane sundar aur uchit pranam diya kyonki insaan yogita uske karya se janiya cheez ki chinta se jani jaati hai uski pad se nahi chahiye zaroor pata lagta hai ki agar unhe prashaasnik pad milta toh nahi sunte jab YFH adhikari ke roop me ucch shreni ke adhikari saabit hue toys ki chatni sambhag se bhi acche saabit hote hain kyonki prashaasnik kshetra jo hai vaah forest finance in dono hi tarah ke shabdon se different ek kailkuleting hain aur ek instityu hai IAS administrative hai jaha amisha ke saath milkar kaam karna logo se kaam lena hai tak ke saath inke kaam karna aur kaam lena apne aap me bahut bahut mahatvapurna aur aashcharyajanak tathya hota hai jo kapdo ki koi gunjaiesh nahi kyon ek acche parinam dene par ek acche adhikari saabit hote hain

अंगड़ाई f68 काली होने की वजह प्रमोद कुमार आईएएस अधिकारी होते तो क्या होता उन्होंने अपने क्

Romanized Version
Likes  344  Dislikes    views  3102
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं प्रमोद कुमार सर को जानता नहीं क्यों आईएफएस अधिकारी हैं उन सब को मैं नहीं जानता हूं पर ऐसा लग रहा है उनका जब यह उनका नाम बता रहा है अच्छा अधिकारी है लग रहा है मेरे को जब उतर गया अब बता रहा है तू आईएस के पद पर ग्रहण लगता है अच्छा कार्य कर सकते हैं इसीलिए उनका नाम है तो अच्छा कार्य कर सकता है

main pramod kumar sir ko jaanta nahi kyon IFS adhikari hain un sab ko main nahi jaanta hoon par aisa lag raha hai unka jab yah unka naam bata raha hai accha adhikari hai lag raha hai mere ko jab utar gaya ab bata raha hai tu ias ke pad par grahan lagta hai accha karya kar sakte hain isliye unka naam hai toh accha karya kar sakta hai

मैं प्रमोद कुमार सर को जानता नहीं क्यों आईएफएस अधिकारी हैं उन सब को मैं नहीं जानता हूं पर

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  108
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!