एक महिला होकर आप ख़ुद को एक मेन्स राइट्स ऐक्टिविस्ट क्यों कहती हैं?...


user

Diksha Roy

School Teacher Primary

0:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप जानते हैं कि पुराने समय से ही औरतें भी मर के साथ बहुत सारी लड़ाइयां लड़ी हुई है रानी लक्ष्मीबाई ने भी तो खुद के लिए तो लड़ सकती ऐसा बिल्कुल भी नाचेगी जेंडर के चलते आदमी को जाने के लिए लड़की को कम काम या फिर ज्यादा काम ऐसा कुछ कहना चाहते कि आज कंधे से कंधा मिलाकर चल रही है लड़कियां हवाई जहाज चला रही है बैंक में है कहीं पर भी आप देकर जहां जितने लड़की उतने तो नहीं होंगे लेकिन फिर भी लड़कियां हैं जो आज के समाज के लिए बहुत अच्छी बात है और ऐसे डर के आगे बढ़ते रहेंगे और ऐसा कुछ भी नहीं है कि लड़कियां महिला ने तो उनके काम कम है या वह ज्यादा कुछ काम करती हैं ऐसा बिल्कुल भी नहीं है लड़कियां भी काम कर सकती हैं और कर रही हैं

aap jante hain ki purane samay se hi auraten bhi mar ke saath bahut saari ladaiyan ladi hui hai rani lakshmibai ne bhi toh khud ke liye toh lad sakti aisa bilkul bhi nachegi gender ke chalte aadmi ko jaane ke liye ladki ko kam kaam ya phir zyada kaam aisa kuch kehna chahte ki aaj kandhe se kandha milakar chal rahi hai ladkiya hawai jahaj chala rahi hai bank me hai kahin par bhi aap dekar jaha jitne ladki utne toh nahi honge lekin phir bhi ladkiya hain jo aaj ke samaj ke liye bahut achi baat hai aur aise dar ke aage badhte rahenge aur aisa kuch bhi nahi hai ki ladkiya mahila ne toh unke kaam kam hai ya vaah zyada kuch kaam karti hain aisa bilkul bhi nahi hai ladkiya bhi kaam kar sakti hain aur kar rahi hain

आप जानते हैं कि पुराने समय से ही औरतें भी मर के साथ बहुत सारी लड़ाइयां लड़ी हुई है रानी लक

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  121
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Maya Singh

teacher

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक महिला होकर खुद को एक मेंट बाय एक्टिविस्ट इसलिए कहा जाता है क्योंकि आज से जो डॉक्टर होते हैं डॉक्टर भी कहा जाता है तो उसी पर एक्टिविटी को सेंड हो तो उनको एक ही चीज से संबोधित किया जाता है इसलिए क्योंकि जो एक रूढ़िवादी चुकी है हमारी सोसाइटी की उसको हटाने के लिए क्योंकि वह एक ही होता है क्योंकि उसमें कोई मेल फीमेल कुछ नहीं होता जो है वह वही रहता है

ek mahila hokar khud ko ek ment bye activist isliye kaha jata hai kyonki aaj se jo doctor hote hain doctor bhi kaha jata hai toh usi par activity ko send ho toh unko ek hi cheez se sambodhit kiya jata hai isliye kyonki jo ek rudhivadi chuki hai hamari society ki usko hatane ke liye kyonki vaah ek hi hota hai kyonki usme koi male female kuch nahi hota jo hai vaah wahi rehta hai

एक महिला होकर खुद को एक मेंट बाय एक्टिविस्ट इसलिए कहा जाता है क्योंकि आज से जो डॉक्टर होते

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  129
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वैसे तो यूं है कि स्त्रियां भी अपने आप पर निर्भर रहती है और भी अपने अपने कार्य से तरीके ढंग से करते हैं क्योंकि हमारे पीएम साहब नरेंद्र मोदी जी कहते हैं कि सब बड़े सभा के बड़े हैं स्त्रियों को भी आगे बढ़ने के लिए मौका दें क्योंकि अब जो ऐसे बेशर्म इंदा लोग होते हैं जो बिना फालतू की बातें करते हैं उनमें ऐसा होना चाहिए क्योंकि अपने सभी के घर में जीवन अच्छी तरीके से जीना चाहिए क्योंकि हर घर में बहन बेटी होती है इसलिए अपना अपना कार्य करने के लिए आगे बढ़ते रहें

waise toh yun hai ki striyan bhi apne aap par nirbhar rehti hai aur bhi apne apne karya se tarike dhang se karte hain kyonki hamare pm saheb narendra modi ji kehte hain ki sab bade sabha ke bade hain sthreeyon ko bhi aage badhne ke liye mauka de kyonki ab jo aise besharm inda log hote hain jo bina faltu ki batein karte hain unmen aisa hona chahiye kyonki apne sabhi ke ghar me jeevan achi tarike se jeena chahiye kyonki har ghar me behen beti hoti hai isliye apna apna karya karne ke liye aage badhte rahein

वैसे तो यूं है कि स्त्रियां भी अपने आप पर निर्भर रहती है और भी अपने अपने कार्य से तरीके ढं

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  117
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक्टिविस्ट यदि महिलाएं करती हैं तो क्या उसमें हमें बता सकते हैं कि दोनों में किस तरह के पास का विजय होता है यदि पहला महिला अगर जाते हैं

activist yadi mahilaye karti hain toh kya usme hamein bata sakte hain ki dono me kis tarah ke paas ka vijay hota hai yadi pehla mahila agar jaate hain

एक्टिविस्ट यदि महिलाएं करती हैं तो क्या उसमें हमें बता सकते हैं कि दोनों में किस तरह के पा

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  108
WhatsApp_icon
user

Mojhibkraft

Writer,Film Maker,Publisher

4:10
Play

Likes  9  Dislikes    views  102
WhatsApp_icon
user

Deepika Bhardwaj

Independent journalist, Documentary filmmaker and Human Rights activist

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे नहीं लगता कि तेरी करो कराटे को खोने के लिए कुछ कह लाने की जरूरत है या जेंडर की देश से आपकी लड़ाई आधारित होती है बहुत सारे के पुरुष ने दो महिलाओं के साथ कंधे से कंधा पड़ा कि उनके अधिकारों की लड़ाई लड़ाई करती हमको समझती हूं क्योंकि मेरा काम आदमियों के बारे में है उनके पास होते हुए गलत के बारे में है तो इसलिए मैंने कितने लोग मुझे आज इंतजार करते हैं बाकी आप मुझे नहीं लगता कि मेरा काम मेरे फ्रेंड की वजह से मतलब होना चाहिए ऐसी कोई बात तो मैंने बोला के लिए लड़ते हैं तो महिलाओं के लिए

mujhe nahi lagta ki teri karo karate ko khone ke liye kuch keh lane ki zarurat hai ya gender ki desh se aapki ladai aadharit hoti hai bahut saare ke purush ne do mahilaon ke saath kandhe se kandha pada ki unke adhikaaro ki ladai ladai karti hamko samajhti hoon kyonki mera kaam adamiyo ke bare mein hai unke paas hote hue galat ke bare mein hai toh isliye maine kitne log mujhe aaj intejar karte hai baki aap mujhe nahi lagta ki mera kaam mere friend ki wajah se matlab hona chahiye aisi koi baat toh maine bola ke liye ladte hai toh mahilaon ke liye

मुझे नहीं लगता कि तेरी करो कराटे को खोने के लिए कुछ कह लाने की जरूरत है या जेंडर की देश से

Romanized Version
Likes  165  Dislikes    views  7402
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!