क्या नियम लागू करने वाली है सरकार ऑनलाइन शॉपिंग पर?...


play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

2:15

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या नियम लागू करने वाली सरकार ऑनलाइन शॉपिंग पर वर्तमान में जो मोदी सरकार ने अपनी ई-कॉमर्स पॉलिसी डिक्लेअर की है उसने उससे लिमिट रखे हैं कि कोई भी पोर्टल पर दो अलग-अलग है कि जो थर्ड पार्टी की जो सेल होती थी उस पर उन्होंने थोड़ा कंट्रोल किया है उसके अलावा दो ब्रांडिंग ब्रांड लॉन्चिंग 230 इसको पर भी उन्होंने थोड़ा कंट्रोल करने कोशिश की है अधिकतर इसको अमेजॉन और फ्लिपकार्ट ऐसी कंपनी है जो बहुत सारा डीप डिस्काउंट देते थे उसके ऊपर भी कंट्रोल लगाया गया है ताकि ऑनलाइन मार्केटिंग जो ऑनलाइन परचेज होती थी और यहां की जो शॉप में जाकर से खरीदी होती है उसमें जो रेट डिफरेंस था उसको सुसंगत करने की कोशिश इकॉमर्स के प्लेटफार्म पर जो इस पॉलिसी के तहत को मैनेज करने की कोशिश मोदी गवर्नमेंट की है नितिन उसने इसका स्वागत किया है एसबीआई पॉलिसी का शॉपक्लू इसमें भी वेलकम किया है एफडीआई पॉलिसी का इस दो हीटर की कॉमर्स कॉलेज से का इससे एमएसएमई जो इंडस्ट्रीज है हमारे देश में उसको और भी ज्यादा मौके मिलेंगे पार्टिसिपेंट करने के लिए और सिंबी डिजिटल इकोनामी जो है उससे ग्रो करेगी इसके अलावा रोड जेल जाने कब गवर्नमेंट मार्केटप्लेस है इसमें भी जो टेंडर्स निकलते हैं वह भी ई-कॉमर्स के साथ अच्छी प्रगति कर पाएगा धन्यवाद

kya niyam laagu karne waali sarkar online shopping par vartmaan mein jo modi sarkar ne apni ee commerce policy declare ki hai usne usse limit rakhe hain ki koi bhi portal par do alag alag hai ki jo third party ki jo cell hoti thi us par unhone thoda control kiya hai uske alava do Branding brand launching 230 isko par bhi unhone thoda control karne koshish ki hai adhiktar isko amazon aur flipkart aisi company hai jo bahut saara deep discount dete the uske upar bhi control lagaya gaya hai taki online marketing jo online purchase hoti thi aur yahan ki jo shop mein jaakar se kharidi hoti hai usmein jo rate difference tha usko susangat karne ki koshish ikamars ke platform par jo is policy ke tahat ko manage karne ki koshish modi government ki hai nitin usne iska swaagat kiya hai sbi policy ka shapaklu isme bhi welcome kiya hai IFDI policy ka is do heater ki commerce college se ka isse msme jo industries hai hamare desh mein usko aur bhi zyada mauke milenge participant karne ke liye aur simbi digital economy jo hai usse grow karegi iske alava road jail jaane kab government marketplace hai isme bhi jo tenders nikalte hain vaah bhi ee commerce ke saath achi pragati kar payega dhanyavad

क्या नियम लागू करने वाली सरकार ऑनलाइन शॉपिंग पर वर्तमान में जो मोदी सरकार ने अपनी ई-कॉमर्स

Romanized Version
Likes  64  Dislikes    views  1284
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

2:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने कहा क्या नियम लागू करने वाली सरकार ऑनलाइन शॉपिंग ऑनलाइन शॉपिंग पर प्रतिबंध लगाने वाली है और बहुत से ऑनलाइन एप पर भुगतान पर सरकार कर लगाने वाली है चार्ज लगाने वाली है अगर आप डेबिट कार्ड से करते हैं तो क्रेडिट कार्ड चेक करते हैं तो नेट बैंकिंग चेक करते हैं तो किसी ऐप से करते हैं तो मिनिमम चार्ज तब से लेकर ₹25 तक घर में लगाने वाली ऑनलाइन शॉपिंग नहीं हो जाएगी आज भी ऑनलाइन शॉपिंग असुरक्षित है आप आइटम मंगाइए कोई और आता है कोई और आइटम का सिम होता है कुछ और और आपको रिसीव होता है कुछ और तो इसमें शॉर्ट के चमचे भी बहुत है और ऑनलाइन में अगर ऐसी ऐसी वेबसाइटें ऐसे ऐसे एप्स बन गए हैं जिसमें इंसान को ले जाने के लिए बहुत अच्छे-अच्छे जुमले गेम बहुत अच्छे-अच्छे ऑफर दिए जाते हैं और उस ओपन में इंसान हंसकर रह जाता है कमाई के चक्कर में गवाही कर बैठता है क्योंकि घंटों नेट का यूज करता है समय की बर्बादी होती है काम छूटते हैं वीर का खर्चा ज्यादा आता है और परिणाम क्या होता है बच्चे क्या कहते हैं अरे सर अनलिमिटेड है तुम्हारी बुद्धि जो है काश इतनी समझदार होती अनलिमिटेड तो कोई चिंता की बात नहीं की बुद्धि तो लिमिटेड है क्योंकि जो वेस्टेज आफ टाइम में उस खत में ख्याल नहीं है इसलिए

aapne kaha kya niyam laagu karne waali sarkar online shopping online shopping par pratibandh lagane waali hai aur bahut se online app par bhugtan par sarkar kar lagane waali hai charge lagane waali hai agar aap debit card se karte hain toh credit card check karte hain toh net banking check karte hain toh kisi app se karte hain toh minimum charge tab se lekar Rs tak ghar mein lagane waali online shopping nahi ho jayegi aaj bhi online shopping asurakshit hai aap item mangaiye koi aur aata hai koi aur item ka sim hota hai kuch aur aur aapko receive hota hai kuch aur toh isme short ke chamchen bhi bahut hai aur online mein agar aisi aisi websiten aise aise apps ban gaye hain jisme insaan ko le jaane ke liye bahut acche acche jumle game bahut acche acche offer diye jaate hain aur us open mein insaan hansakar reh jata hai kamai ke chakkar mein gawaahi kar baithta hai kyonki ghanto net ka use karta hai samay ki barbadi hoti hai kaam chutte hain veer ka kharcha zyada aata hai aur parinam kya hota hai bacche kya kehte hain arre sir unlimited hai tumhari buddhi jo hai kash itni samajhdar hoti unlimited toh koi chinta ki baat nahi ki buddhi toh limited hai kyonki jo wastage of time mein us khat mein khayal nahi hai isliye

आपने कहा क्या नियम लागू करने वाली सरकार ऑनलाइन शॉपिंग ऑनलाइन शॉपिंग पर प्रतिबंध लगाने वाली

Romanized Version
Likes  253  Dislikes    views  2330
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!