संविधान में प्रस्तावना क्या है?...


user

Suresh Singh

Teacher and Engineer

0:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारतीय संविधान में संविधान की प्रस्तावना अमेरिका से ली गई है

bharatiya samvidhan mein samvidhan ki prastavna america se li gayi hai

भारतीय संविधान में संविधान की प्रस्तावना अमेरिका से ली गई है

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  220
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Roshan Prasad Jaiswal

Junior Volunteer

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

संविधान के प्रस्तावना क्या पीएम बलटी द कॉन्स्टिट्यूशन ऑफ़ इंडिया जी से कहा जाता है संविधान की प्रस्तावना के बारे में अगर यदि हम बात करें तो हम भारत के लोग भारत को एक संपूर्ण प्रभुत्व संपन्न समाजवादी पंथनिरपेक्षता लोकतांत्रिक और लोकतंत्रात्मक गणराज्य बनाने के लिए तथा उनके समस्त नागरिकों को प्रतिष्ठा रक्षा की आंसर की क्षमता प्राप्त करने के लिए तथा उन सब में व्यक्ति की गरिमा राष्ट्र की एकता और अखंडता सुनिश्चित करने वाली बंधुता बढ़ाने के लिए दृढ़ संकल्प लेते हैं तो यह होता है संविधान की प्रस्तावना प्रस्तावना के चार घटक हैं यह इस बात की ओर इशारा करता है कि संविधान के अधिकार का उपयोग भारत के लोगों के साथ नहीं थे इस बात की घोषणा करता कि भारत एक समाजवादी धर्मनिरपेक्ष लोकतंत्र और गणतंत्र राष्ट्र की सभी नागरिकों के लिए नया स्वतंत्रता समानता को सुरक्षित करता है तथा राष्ट्र की एकता और अखंडता को बनाए रखने के लिए मैच मेरे को बढ़ावा देता है और इसमें उससे का उल्लेख है जिस इन संविधान को अपनाया गया था

samvidhan ke prastavna kya pm balati the Constitution of india ji se kaha jata hai samvidhan ki prastavna ke bare mein agar yadi hum baat kare toh hum bharat ke log bharat ko ek sampurna parbhutwa sampann samajwadi panthanirpekshata loktantrik aur lokatantratmak ganrajya banane ke liye tatha unke samast nagriko ko prathishtha raksha ki answer ki kshamta prapt karne ke liye tatha un sab mein vyakti ki garima rashtra ki ekta aur akhandata sunishchit karne wali bandhuta badhane ke liye dridh sankalp lete hain toh yah hota hai samvidhan ki prastavna prastavna ke char ghatak hain yah is baat ki aur ishara karta hai ki samvidhan ke adhikaar ka upyog bharat ke logo ke saath nahi the is baat ki ghoshana karta ki bharat ek samajwadi dharmanirapeksh loktantra aur gantantra rashtra ki sabhi nagriko ke liye naya swatantrata samanata ko surakshit karta hai tatha rashtra ki ekta aur akhandata ko banaye rakhne ke liye match mere ko badhawa deta hai aur isme usse ka ullekh hai jis in samvidhan ko apnaya gaya tha

संविधान के प्रस्तावना क्या पीएम बलटी द कॉन्स्टिट्यूशन ऑफ़ इंडिया जी से कहा जाता है संविधान

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  9
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!