गरीबी किसे कहते हैं?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सारे लड़की कैसे बनती लोकनाथ खाने के लिए खाना हो रहने के लिए कहा पहने के लिए कपड़ा और पढ़ने के लिए पैसा नहीं रहता है संग्रह के कारण है अधिकतम सॉन्ग अधिक जनसंख्या बेरोजगारी जातिवाद का इन सब चीजों के साथ और हमारे देश में कुछ लोग बहुत कम है एक चर्बी के कारण है बेरोजगारी बहुत ही कम है

aapka saare ladki kaise BA nti loknath khane ke liye khana ho rehne ke liye kaha pehne ke liye kapda aur padhne ke liye paisa nahi rehta hai sangrah ke karan hai adhiktam song adhik jansankhya berojgari jaatiwad ka in sab chijon ke saath aur hamare desh mein kuch log BA hut kam hai ek charbi ke karan hai berojgari BA hut hi kam hai

आपका सारे लड़की कैसे बनती लोकनाथ खाने के लिए खाना हो रहने के लिए कहा पहने के लिए कपड़ा और

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  235
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Ridhima

Mass Communications Student

0:33

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी भी व्यक्ति का इंसान के लिए कभी भी अत्यधिक निर्धन होने की स्थिति है यह पराकाष्ठा की स्थिति होती है जब छत जरूरी भोजन कपड़े दवाइयां आदि जैसे जीवन की कमी एक और व्यक्ति को महसूस होती है निर्धारण और निर्धनता व्याप्त होने के सामान्य कारण है जैसे अत्यधिक जनसंख्या जानलेवा संक्रामक बीमारियां प्राकृतिक आपदा एवं कृषि पैदावर बेरोजगारी जातिवाद आदि

kisi bhi vyakti ka insaan ke liye kabhi bhi atyadhik nirdhan hone ki sthiti hai yah parakashtha ki sthiti hoti hai jab chhat zaroori bhojan kapde davaiyan aadi jaise jeevan ki kami ek aur vyakti ko mehsus hoti hai nirdharan aur nirdhanta vyapt hone ke samanya karan hai jaise atyadhik jansankhya janleva sankramak bimariyan prakirtik aapda evam krishi paidavar berojgari jaatiwad aadi

किसी भी व्यक्ति का इंसान के लिए कभी भी अत्यधिक निर्धन होने की स्थिति है यह पराकाष्ठा की स्

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  157
WhatsApp_icon
user

Rahul kumar

Junior Volunteer

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गरीबी किसे कहते हैं तो गरीबी बस सीकरी मतलब कि आपके पास पैसा नहीं है मैं तो एक नवमी के लिए आप वीक है जिसके पास आप अपने दैनिक कार्यों के लिए करने के लिए पैसा चाहिए होता है और सामान करने के लिए पैसा चाहिए होता है सरवाइव करने के लिए खाने के पैसे चाहिए बता कर आपस वह पैसा नहीं है एक कमी है उसमें पैसों की कमी को गरीबी कहा जाता

gareebi kise kehte hai toh garibi bus sikri matlab ki aapke paas paisa nahi hai toh ek navami ke liye aap weak hai jiske paas aap apne dainik karyo ke liye karne ke liye paisa chahiye hota hai aur saamaan karne ke liye paisa chahiye hota hai survive karne ke liye khane ke paise chahiye BA ta kar aapas vaah paisa nahi hai ek kami hai usme paison ki kami ko garibi kaha jata

गरीबी किसे कहते हैं तो गरीबी बस सीकरी मतलब कि आपके पास पैसा नहीं है मैं तो एक नवमी के लिए

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  485
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
site:getvokal.com ; garibi kya hai ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!