अयोध्या में जो फैसला हुआ है राम मंदिर का बाबरी मस्जिद का तो यह फैसला सही हुआ या गलत हुआ है?...


user

Raghuveer Singh

👤Teacher & Advisor🙏

2:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अयोध्या में जो फैसला हुआ है राम मंदिर का बाबरी मस्जिद का फैसला सही बाय गलत तो देखिए इसमें अलग-अलग लोगों की अलग-अलग राय है यह देखें तो सही भी है और गलत भी है सही इसलिए हैं क्योंकि यह 70 सालों से एक बहुत बड़ा विवाद था बहुत बड़ा मुद्दा था यह हर पार्टी के नेता है इसका फायदा उठाते थे जो हिंदुत्व का कार्ड खेलते थे राम मंदिर का मुद्दा उठाते थे और वोट हासिल करते थे इसे सांप्रदायिक होते हैं और देश का विकास में बाधक बना हुआ था यह मामला काफी और इसे हैं कटता बाद बढ़ रहा था इसलिए इसे फैसले का निर्णय हो जाना काफी खुशी की बात है अच्छी बात है लेकिन गलत इसलिए है क्योंकि इसमें है खासतौर से मुस्लिम पक्ष है मुस्लिम पक्ष को बिल्कुल से गनौर कर दिया गया उसको बिल्कुल से हटा दिया गया है उसका कोई अस्तित्व ही नहीं बचा है वहां पर लेकिन वहां पर उनका नाम था मुस्लिमों का है मस्जिद था बाबरी मस्जिद था वहां पर तो उनका अस्तित्व तो था कि वहां पर मस्जिद था अब इस बात को है बिल्कुल से नकार देना की पहली बार मंदिर था और उसके बाद में मस्जिद थी तो यह इतिहास की बातें हो जाती हैं ऐसे तो हैं अंग्रेज भी कह दे कि हम भारत हमारा था क्योंकि हमने राज किया था आपका हुआ है क्योंकि हमारे पुरखों ने डांस किया आपका अब हुआ है इसे हम इसको वापस लेंगे क्योंकि हमारा था तो ऐसा नहीं हो सकता है ऐसा करना गलत है मैं वहां पर हैं उसी के आसपास ही कहीं जमीन दी जानी चाहिए थी या उसके चलो यह बात जरूर है कि वहां है भगवान राम का जन्म हुआ था मोहम्मद का नहीं हुआ था तो ऐसे मसलों में हैं खास मुद्दा बन जाता है और हिंदुओं के यह जमीन सौंपने अच्छी बात थी इसमें राजनीतिक कार्ड भी खेला गए हैं क्योंकि आज है करतारपुर साहिब कॉरिडोर का उद्घाटन किया गया और पाकिस्तानी से बिजी था और बहुत सारे लोगों का ध्यान उस तरफ था तो उन्हें सरकार ने जल्दबाजी से इसको साथ में करवा दिया ताकि यह तूल न पकड़े तो यह एक हिंदू यह कार्ड भी चला गया ऐसे बहुत सारे मसले हैं तो एक के तरीके से अगर इसको देखें तो यह काफी गलत है क्योंकि इसको इस में मुस्लिमों को बिल्कुल दरकिनार कर दिया गए हैं और यह हिंदुओं के पक्ष में पूरा का पूरा मैटर है हिंदू के पक्ष में दे दिया है तो यह कि सही फैसला नहीं हो सकता है

ayodhya mein jo faisla hua hai ram mandir ka babri masjid ka faisla sahi bye galat toh dekhiye isme alag alag logo ki alag alag rai hai yah dekhen toh sahi bhi hai aur galat bhi hai sahi isliye hain kyonki yah 70 salon se ek bahut bada vivaad tha bahut bada mudda tha yah har party ke neta hai iska fayda uthate the jo hindutv ka card khelte the ram mandir ka mudda uthate the aur vote hasil karte the ise sampradayik hote hain aur desh ka vikas mein badhak bana hua tha yah maamla kaafi aur ise hain katata baad badh raha tha isliye ise faisle ka nirnay ho jana kaafi khushi ki baat hai achi baat hai lekin galat isliye hai kyonki isme hai khaasataur se muslim paksh hai muslim paksh ko bilkul se ganaur kar diya gaya usko bilkul se hata diya gaya hai uska koi astitva hi nahi bacha hai wahan par lekin wahan par unka naam tha muslimo ka hai masjid tha babri masjid tha wahan par toh unka astitva toh tha ki wahan par masjid tha ab is baat ko hai bilkul se nakar dena ki pehli baar mandir tha aur uske baad mein masjid thi toh yah itihas ki batein ho jaati hain aise toh hain angrej bhi keh de ki hum bharat hamara tha kyonki humne raj kiya tha aapka hua hai kyonki hamare purakhon ne dance kiya aapka ab hua hai ise hum isko wapas lenge kyonki hamara tha toh aisa nahi ho sakta hai aisa karna galat hai wahan par hain usi ke aaspass hi kahin jameen di jani chahiye thi ya uske chalo yah baat zaroor hai ki wahan hai bhagwan ram ka janam hua tha muhammad ka nahi hua tha toh aise maslon mein hain khaas mudda ban jata hai aur hinduon ke yah jameen saumpane achi baat thi isme raajnitik card bhi khela gaye hain kyonki aaj hai kartarpur sahib corridor ka udghatan kiya gaya aur pakistani se busy tha aur bahut saare logo ka dhyan us taraf tha toh unhe sarkar ne jaldabaji se isko saath mein karva diya taki yah tool na pakde toh yah ek hindu yah card bhi chala gaya aise bahut saare masle hain toh ek ke tarike se agar isko dekhen toh yah kaafi galat hai kyonki isko is mein muslimo ko bilkul darakinar kar diya gaye hain aur yah hinduon ke paksh mein pura ka pura matter hai hindu ke paksh mein de diya hai toh yah ki sahi faisla nahi ho sakta hai

अयोध्या में जो फैसला हुआ है राम मंदिर का बाबरी मस्जिद का फैसला सही बाय गलत तो देखिए इसमें

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  6
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
sahi hua ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!