सुप्रीम कोर्ट ने कहा विवादित ज़मीन पर मंदिर बनेगा, मुस्लिमों को मस्जिद के लिए मिलेगी अलग ज़मीन। क्या आपके अनुसार सुप्रीम कोर्ट ने सही फ़ैसला लिया है?...


user

ज्योतिषी झा मेरठ (Pt. K L Shashtri)

Astrologer Jhaमेरठ,झंझारपुर और मुम्बई

1:00
Play

Likes  65  Dislikes    views  2150
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सुप्रीम कोर्ट इस देश के सर्वोच्च न्यायालय और उसमें भी संविधान पीठ ने यह फैसला दिया है इस फैसले के खिलाफ जाने का किसी का कोई सवाल ही नहीं उठता है जो सुप्रीम कोर्ट का फैसला है वही सभी पक्षों को मान्य है इसमें कोई दो राय नहीं होना चाहिए सुप्रीम कोर्ट का फैसला सर्वमान्य फैसला अभी उसका स्वागत करना है

supreme court is desh ke sarvoch nyayalaya aur usme bhi samvidhan peeth ne yah faisla diya hai is faisle ke khilaf jaane ka kisi ka koi sawaal hi nahi uthata hai jo supreme court ka faisla hai wahi sabhi pakshon ko manya hai isme koi do rai nahi hona chahiye supreme court ka faisla sarvmanya faisla abhi uska swaagat karna hai

सुप्रीम कोर्ट इस देश के सर्वोच्च न्यायालय और उसमें भी संविधान पीठ ने यह फैसला दिया है इस फ

Romanized Version
Likes  101  Dislikes    views  2026
WhatsApp_icon
user

Anil Kumar Tiwari

Yoga, Meditation & Astrologer

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा विवादित जमीन पर मंदिर बनेगा मस्जिद के लिए मिलेगी अलग जगह क्या आप के अनुसार सुप्रीम कोर्ट ने सही फैसला किया देश काल परिस्थिति और सब में प्राण प्रेम और सद्भावना का व्यवहार बना रहे आपस में सौहार्द बना रहे अयोध्या जिस नाम से जानी जाती है उसका कोई प्रतीक आने वाली सदियों तक बना रहे इसलिए दूर दृष्टि को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने जो फैसला लिया सबके हित में देश हित में और प्रेम हित में लिया

supreme court ne kaha vivaadit jameen par mandir banega masjid ke liye milegi alag jagah kya aap ke anusaar supreme court ne sahi faisla kiya desh kaal paristithi aur sab mein praan prem aur sadbhavana ka vyavhar bana rahe aapas mein sauhaard bana rahe ayodhya jis naam se jani jaati hai uska koi prateek aane wali sadiyon tak bana rahe isliye dur drishti ko dekhte hue supreme court ne jo faisla liya sabke hit mein desh hit mein aur prem hit mein liya

सुप्रीम कोर्ट ने कहा विवादित जमीन पर मंदिर बनेगा मस्जिद के लिए मिलेगी अलग जगह क्या आप के अ

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  491
WhatsApp_icon
play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

2:26

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा विवादित जमीन पर मंदिर बनेगा जनों को मुकेश के लिए बिलकुल सही फैसला किया है क्योंकि जो तथ्यों के आधार पर यह फैसला लिया क्या और 1145 करने का है और उसमें जो रामजन्म जिसके ऊपर सब कुछ प्रूफ हो चुका है इसलिए यह फैसला होने की बात है तो दूसरी जगह की बनाई जा सकती रोमन मस्जिद की भव्य हो सकती है क्योंकि आराध्य देव मुस्लिम संप्रदाय के राम नहीं इसलिए राम का जन्म की जगह वह मुस्लिमों के लिए कोई इंपोर्टेंट नहीं रखता इसलिए जबकि एक दावेदार हैं तो वह दूसरी जगह और वहां पर अपनी नमाज अदा कर सकेंगे जब तक मुस्लिमों को भी उन्होंने सेटिस्फाई करने की पूरी नहीं लेकिन भरपूर पूरा प्रयास किया सुप्रीम कोर्ट फैसला लेती 70 सालों के और पता नहीं कितने सालों का इतिहास खंडालकर और साक्ष्यों के आधार पर यह फैसला लिया है हमको और हम को मानना चाहिए क्योंकि हम भाईचारे के साथ ही रहते हैं और रहना ही है और रहना चाहिए क्योंकि हम नवभारत हिंदू हैं

supreme court ne kaha vivaadit jameen par mandir banega jano ko mukesh ke liye bilkul sahi faisla kiya hai kyonki jo tathyon ke aadhaar par yah faisla liya kya aur 1145 karne ka hai aur usme jo ramajanm jiske upar sab kuch proof ho chuka hai isliye yah faisla hone ki baat hai toh dusri jagah ki banai ja sakti roman masjid ki bhavya ho sakti hai kyonki aradhya dev muslim sampraday ke ram nahi isliye ram ka janam ki jagah vaah muslimo ke liye koi important nahi rakhta isliye jabki ek davedaar hain toh vaah dusri jagah aur wahan par apni namaz ada kar sakenge jab tak muslimo ko bhi unhone satisfy karne ki puri nahi lekin bharpur pura prayas kiya supreme court faisla leti 70 salon ke aur pata nahi kitne salon ka itihas khandalakar aur sakshyon ke aadhaar par yah faisla liya hai hamko aur hum ko manana chahiye kyonki hum bhaichare ke saath hi rehte hain aur rehna hi hai aur rehna chahiye kyonki hum navbharat hindu hain

सुप्रीम कोर्ट ने कहा विवादित जमीन पर मंदिर बनेगा जनों को मुकेश के लिए बिलकुल सही फैसला किय

Romanized Version
Likes  65  Dislikes    views  1246
WhatsApp_icon
user

Ajay Pratap Singh

Agriculturist

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सुप्रीम कोर्ट कोर्ट के डिसीजन सबूतों के आधार पर लिया गया एएसआई द्वारा खुदाई की गई खुदाई के बाद नीचे मिले थे और जब कितने प्रकार के वकील ने कहा था खुली जमीन भी बनाया नहीं और भी दूं के आधार पर भी नदी के किनारे प्रस्तुत किया गया है मुझे 25 जून 4 तथा कृष्ण अवतार के रूप में एक है तो उसके मतलब बॉडी तत्वों के आधार पर किया गया

supreme court court ke decision sabuton ke aadhaar par liya gaya ASI dwara khudai ki gayi khudai ke baad niche mile the aur jab kitne prakar ke vakil ne kaha tha khuli jameen bhi banaya nahi aur bhi doon ke aadhaar par bhi nadi ke kinare prastut kiya gaya hai mujhe 25 june 4 tatha krishna avatar ke roop mein ek hai toh uske matlab body tatvon ke aadhaar par kiya gaya

सुप्रीम कोर्ट कोर्ट के डिसीजन सबूतों के आधार पर लिया गया एएसआई द्वारा खुदाई की गई खुदाई के

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  144
WhatsApp_icon
user
0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल यह मुद्दा बहुत ही प्राचीन बहुत ही पुराना है अगर सुप्रीम कोर्ट ने इसके ऊपर कोई निर्णय लिया तू बहुत ही सोच समझ कर लिया है सुप्रीम कोर्ट कोई फैसला नहीं ले सकती हमारी मेंटालिटी हो सकती गलत ही सोच समझ कर फैसला लेती है सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया वह बहुत ही तेजी से और बहुत अच्छे से इसके ऊपर किसी भी मुद्दे के ऊपर निर्णय लेते हैं और उन्होंने निर्णय लिया कि उस जमीन पर राम मंदिर बनेगा तू ठीक है मुस्लिम को इतना क्यों रखी हो मुस्लिम शायद दूसरी दूसरी जगह पर बना सकते हैं थोड़ी ना क्यों सुप्रीम कोर्ट ने फैसला लिया है तू ही लिया है इसमें कोई वह नहीं है कि यह सही फैसला नहीं है

bilkul yah mudda bahut hi prachin bahut hi purana hai agar supreme court ne iske upar koi nirnay liya tu bahut hi soch samajh kar liya hai supreme court koi faisla nahi le sakti hamari mentalaity ho sakti galat hi soch samajh kar faisla leti hai supreme court ke chief justice of india vaah bahut hi teji se aur bahut acche se iske upar kisi bhi mudde ke upar nirnay lete hain aur unhone nirnay liya ki us jameen par ram mandir banega tu theek hai muslim ko itna kyon rakhi ho muslim shayad dusri dusri jagah par bana sakte hain thodi na kyon supreme court ne faisla liya hai tu hi liya hai isme koi vaah nahi hai ki yah sahi faisla nahi hai

बिल्कुल यह मुद्दा बहुत ही प्राचीन बहुत ही पुराना है अगर सुप्रीम कोर्ट ने इसके ऊपर कोई निर्

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  155
WhatsApp_icon
user
0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए माय डियर फ्रेंड सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करना चाहिए उसने जो जमीन जिसको दे दी वह उनके माध्यम से उनके नजरिए ठीक है हम उनका सम्मान करते हैं बट मेरा क्वेश्चन यह भी है जब मुसलमानों को वहां कोई अधिकार नहीं था वह जमीन सुप्रीम कोर्ट के माध्यम से उनको नहीं लगा कि मुसलमानों की जमीन तो वहां अलग जमीन क्यों दी गई क्या रीज़न था जब जमीन थी नहीं तो वह वजह क्या थी जो सुप्रीम कोर्ट को जगह दें तो इसमें कोई संदेह है मैं क्लियर फैसला नहीं मानता एक्शन है इसमें

dekhiye my dear friend supreme court ke faisle ka sammaan karna chahiye usne jo jameen jisko de di vaah unke madhyam se unke nazariye theek hai hum unka sammaan karte hain but mera question yah bhi hai jab musalmanon ko wahan koi adhikaar nahi tha vaah jameen supreme court ke madhyam se unko nahi laga ki musalmanon ki jameen toh wahan alag jameen kyon di gayi kya region tha jab jameen thi nahi toh vaah wajah kya thi jo supreme court ko jagah de toh isme koi sandeh hai main clear faisla nahi maanta action hai isme

देखिए माय डियर फ्रेंड सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करना चाहिए उसने जो जमीन जिसको दे दी

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  73
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!