क्या आप कर्मा में विश्वास करते हैं?...


user

Vishal Gupta

Astrologer (मार्गदर्शक)

8:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है कि क्या आप कर्मा पर विश्वास करते हैं कि नहीं देखी है पहली चीज तो यह समझ लीजिए कि एक कर्मा नहीं है कम है लोगों पता नहीं क्या चाहते हैं समझ में नहीं आता है कि अच्छे खासे शब्द को बर्बाद क्यों कर देते हैं आप भारतीय हो कि कम से कम शब्द तो सही तरह से लिखो यार पढ़ो यह कर्मा पता नहीं क्या है कोई मतलब ही नहीं निकलता है शब्द का कर्म है अच्छा सा शब्द है कर उसको पता नहीं क्या लोग चाहते हैं वरना कर्मा कर दिया उसको इंग्लिश में करना ऐसे लिखा जाता है कि वह कर्म ही लिखा होता लेकिन यह लगाने की वजह से उनका इंग्लिश है तो उसका अपने करियर में चलने का लिंक अब तो आप तो करनी पड़े उसको कर मत पढ़ो मत करो बर्बाद मत करो बार-बार चीजों को यह अगर आपने बर्बाद कर दिया तो आप उसको जब शब्द को नहीं समझ पा रहे हो तो शब्द के अर्थ किस प्रकार समझा जा सकता है आप किसी को किसी उसके ही नाम से है किसी तरह से तो कितना बुरा लगता है तो अगर आप कर्म को ही मतलब शब्द को भी अगर बर्बाद कर दो कि तू शब्द का अर्थ कहां से निकल पाएगा कि आपने शब्द की बेज्जती कर दी आगे बढ़ते हैं कर्म में विश्वास करना पहले तो हम आपको यह बताना चाहते हैं कि किन-किन तरह के लोग होते हैं जो अपने-अपने विचार धाराओं के हिसाब से दुनिया को तय करते-करते जो व्यक्ति सफल हो जाता है वह व्यक्ति अपने कर्म पर विश्वास करते उसने युवती की भाग्य आगे कुछ नहीं तो सब कुछ ठीक है अलग-अलग लोगों की अलग-अलग आपको मानसिकता दिख जाएगी बात कही जाती है जो समझदार होते हैं वह इस बात को समझ जाते हैं कहा जाता है कि न तो इंसान बलवान होता है ना तो सकर्म बलवान होता है बलवान होता है उसका समय और जगत में समय बड़ा वालों यह जो गाना है एकदम सटीक गाना है व्यक्ति कभी बलवान होता ही नहीं है भक्ति कुछ जो यह चाल लेते ही समझता है कि नहीं हम जो कर रहे हैं मेरी वजह से ही हो रहा है लेकर भी सब कुछ है भाग्य कुछ नहीं होता भगवान भगवान कुछ नहीं होता है सब कुछ कर नहीं होता है तो पहले उसका अधूरा ज्ञान है और जिस व्यक्ति बार-बार करके भी असफल हो जाता है उसको लगता है कि नहीं मेरी किस्मत में कुछ नहीं है तो हम लोग पढ़ते हैं ज्योतिष में हमेशा एक देखने को मिलती है जो अच्छे दोस्त हैं उनको ही बात पता होगी कि ज्योतिष में एक शब्द उपयोग किया जाता है दशा दशा का अर्थ होता है कि इस समय हम लोग अगर उसको आम भाषा में बोलो दशा का अर्थ होता है समय आपका समय इसके बाद अच्छा हो जाएगा और अभी तक जितनी जितनी कोनले हमने पड़े उठाई हैं उसमें हमने आज तक ऐसा कोई इंसान नहीं देखा है जो अपने समय के विपरीत मतलब उसके उसके जीवन में बुरा समय चल रहा है और वह सफलता की ओर ऐसा दिखाई थी तो ज्योतिष का अपना एक नियम है ज्योतिष से कहता है कि व्यक्ति कुछ नहीं होता है उसके जो लिखा हुआ है वह होता है ज्योतिष ए कहता है कि जो लिखा हुआ है वही होगा उसके आगे इर्द-गिर्द नहीं कर सकते हो आप भी कितना भी प्रयास था डालो कितना भी प्रयास कडल अगर आपके लाइफ में चीज़ लिखी है होने तो वही होगी लेकिन यह एक अच्छा दोस्त ही निकाल सकता है सबके बस का नहीं है पहली बात तो यह जान लीजिए कि सबके बस का नहीं है कि इंसान के भविष्य को निकाल पाना बहुत से लोग कहते कि आपके जीवन में यह हो जाएगा तो जो अच्छे जोशी होते हैं वही निकाल पाते हैं वैसे निकाला तो बहुत खूब बहुत लोग निकालते लेकिन सब लोग नहीं निकाल पाते जो अच्छा दोस्त होता वह सेटिंग निकाल पाता है के बस का नहीं है तू उसके बाद जो है वह इंसान का तू लिखता है उस इंसान का भक्ति कर्म को सही से जान जाते हैं वही कर्म को वही कर्म और भाग्य के खेल को समझ पाते हैं जो लोग केवल भारतीय पर विश्वास रखते हैं या जो लोग केवल कर्म पर विश्वास रखते हैं वही जान ही नहीं पाते हैं कि जीवन जीवन जीवन जो है वह दोनों एक ही है मतलब कर्म और भाग्य एक ही अलग नहीं है बिलकुल डिफरेंट नहीं है जो व्यक्ति कर्म का सही विज्ञान जान लेता है वही कर्म को पकड़ पाते वहीं कर्म और भाग्य की सही मतलब को निकाल पाता है जो कर्म का विज्ञान जान जाता है वही भाग्य को पड़ सकता है क्योंकि जो व्यक्ति आज को पड़ सकता है वही व्यक्ति कल को पड़ सकता है जो व्यक्ति अपने कर्म को अच्छे से समझ पाते कि हम जो कर्म कर रहे हैं उसका क्या फल निकलेगा क्या परिणाम निकलेगा परीकर्म को जान पाते हैं लेकिन दुनिया में ऐसे लोग ज्यादा मिलेंगे जो भाग्य पर विश्वास नहीं रखते हैं या फिर कर्म पर विश्वास नहीं हमको लगता कि हमने अथक प्रयास कर दिया तो मेरे भाग्य में नहीं है और कुछ लोग कहते हैं कि हमने कर्म कर डाला भाग्य और कुछ नहीं होता है हमेशा करना चाहिए तो अगर आप उनकी कुंडली दिखा देखेंगे तो उनका समय अच्छा चल रहा होता है हम लोग यह बात अच्छा कहते हैं किन का समय चल रहा है बस और कोई दिक्कत नहीं यह सफल अपन को लग रहा है कि यह कर रहे हैं लेकिन ऐसा कुछ है नहीं सब समय का खेल है आज दिन का समय चल रहा है कल किसी और का चलेगा बस और कुछ अंतर नहीं है तो ज्योतिष इस बात को सिखाती है उनको हर व्यक्ति जो अच्छे जोशी होते हैं वह जानते हैं कि व्यक्ति भी बस का समय बलवान होता है और बहुत से लोगों को पैसे मिल जाएंगे कि उनको लगता है कि आज उनके हाथ में समय है तो उनके हाथ में हमेशा अच्छा ही समय चलेगा लेकिन समय की पहली चोट पड़ती है ना तो वह जब विचलित हो जाते हैं तब भगवान के पास पहुंचते हैं तब वह जोशी के पास पहुंचते हैं कभी भी ध्यान रखें एक परेशान होती जोशी के पास जाता है जो व्यक्ति का जीवन लक्ष्य बुक अब जोशी के पास जाता नहीं लगता है लोगों की ज्योतिष कुछ नहीं थी लेकिन जब समय की मार पड़ती तो उनको लगता है कि नहीं ज्योतिष बहुत कुछ ऐसे लोग भी हैं तो यह बात जान लीजिए कि इंसान का कर्म हां एक बात और कर्म को सही तरह से जानी है कभी-कभी सब कुछ है वास्तव में कर्म ही सब कुछ होता है जोशी के पास पहुंचने भी एक कर्म है आपका यह भी बात जान लीजिए आप अगर किसी अच्छे जोशी के पास भी हो तो भी आप एक कर्म करो और एक बात आपको बता दें जो व्यक्ति वाकई में कर्म करना जानता होगा वह कभी जोशी के पास जाएगा ही नहीं उसकी लाइफ भी पता चले कि यह बात ध्यान रखेगा और हमेशा यह नहीं कि शुरुआत में अच्छी चल रही है तो बीच में लाइफ खराब हो गई शादी के बाद वह तो चक्कर लगाए पड़ा हुआ है ऐसा नहीं है हमें यह समझना बहुत जरूरी है कि क्या वह व्यक्ति वाकई में श्रेष्ठ उत्तम है या नहीं तू कर्म पर विश्वास करना चाहिए लेकिन अगर आप कर्म को सही रूप से जानते हैं तब आप पर विश्वास कर पाएंगे हम आपको बताते हैं कर्म पर विश्वास किया कैसे जाता है जब अधिकारियों ने बुरा समय आता है ना तो उसको लगता है कि मेरा कर्म बेकार है हम जो कर रहे हैं वह हो नहीं पा रहा है सब कुछ भाई के ऊपर है लेकिन वही उसको ही समझना होता है कि जब जीवन में बुरा समय आता है तभी तो आप की परीक्षाएं होती है क्योंकि सामान्य स्थिति में तो हमारी चलती है हम तो सफल ही होते हैं लेकिन जब आपके लाइफ में बुरा समय आता है तब वास्तव में आपके कर्म की परीक्षा हो रही होती है इसीलिए जीवन में यह बात समझे कि कर्म ही सब कुछ है कर्म से ही सब कुछ है विभाग की बात कहीं नहीं गई हां करने की बात कही गई है लेकिन कर्म का सही विज्ञान जानना बहुत जरूरी कर्म के सत्य को जानना बहुत जरूरी है जो करना है वह करो जान जाता है बहुत सारे लोग ऐसे मिल जाते हैं जो सफल तो हो रहे होते लेकिन जब उनको असफलता मिलती तो फिर वह विचलित हो जाते हैं फिर भगवान माला मंत्र सब करना शुरू कर देते हैं लेकिन जब तक सफल नहीं हो सफल हो जाती दिखाई नहीं पड़ती तो सबको लगता है कि नहीं सब कुछ चक्कर में सही होता है सब भाग्य कुछ नहीं होता है लेकिन वह बस समय है और कुछ नहीं है जीवन में कर्म को सब कुछ समझे कर्म समय दोनों का एक रूप निकाले दोनों एक ही है जो कर्म और समय को सही जान लेता है वही व्यक्ति उत्तम बन जाता है और ज्योतिष के पास जाना भी जोशी के पास जाना भगवान के पास जाना भी कर्म ही है पहली बात तो यह भी मदद करना कि अगर आप एक ज्योतिषी के पास गए हैं आप भगवान के पास अगर जा रहे हैं तो वह भी आप एक काम कर रहे हैं और अपनी ऑडियो अच्छा लगा हो तो लाइक कमेंट करें धन्यवाद

aapka sawaal hai ki kya aap karma par vishwas karte hain ki nahi dekhi hai pehli cheez toh yah samajh lijiye ki ek karma nahi hai kam hai logo pata nahi kya chahte hain samajh me nahi aata hai ki acche khase shabd ko barbad kyon kar dete hain aap bharatiya ho ki kam se kam shabd toh sahi tarah se likho yaar padho yah karma pata nahi kya hai koi matlab hi nahi nikalta hai shabd ka karm hai accha sa shabd hai kar usko pata nahi kya log chahte hain varna karma kar diya usko english me karna aise likha jata hai ki vaah karm hi likha hota lekin yah lagane ki wajah se unka english hai toh uska apne career me chalne ka link ab toh aap toh karni pade usko kar mat padho mat karo barbad mat karo baar baar chijon ko yah agar aapne barbad kar diya toh aap usko jab shabd ko nahi samajh paa rahe ho toh shabd ke arth kis prakar samjha ja sakta hai aap kisi ko kisi uske hi naam se hai kisi tarah se toh kitna bura lagta hai toh agar aap karm ko hi matlab shabd ko bhi agar barbad kar do ki tu shabd ka arth kaha se nikal payega ki aapne shabd ki beijjati kar di aage badhte hain karm me vishwas karna pehle toh hum aapko yah batana chahte hain ki kin kin tarah ke log hote hain jo apne apne vichar dharaon ke hisab se duniya ko tay karte karte jo vyakti safal ho jata hai vaah vyakti apne karm par vishwas karte usne yuvati ki bhagya aage kuch nahi toh sab kuch theek hai alag alag logo ki alag alag aapko mansikta dikh jayegi baat kahi jaati hai jo samajhdar hote hain vaah is baat ko samajh jaate hain kaha jata hai ki na toh insaan balwan hota hai na toh sakarm balwan hota hai balwan hota hai uska samay aur jagat me samay bada walon yah jo gaana hai ekdam sateek gaana hai vyakti kabhi balwan hota hi nahi hai bhakti kuch jo yah chaal lete hi samajhata hai ki nahi hum jo kar rahe hain meri wajah se hi ho raha hai lekar bhi sab kuch hai bhagya kuch nahi hota bhagwan bhagwan kuch nahi hota hai sab kuch kar nahi hota hai toh pehle uska adhura gyaan hai aur jis vyakti baar baar karke bhi asafal ho jata hai usko lagta hai ki nahi meri kismat me kuch nahi hai toh hum log padhte hain jyotish me hamesha ek dekhne ko milti hai jo acche dost hain unko hi baat pata hogi ki jyotish me ek shabd upyog kiya jata hai dasha dasha ka arth hota hai ki is samay hum log agar usko aam bhasha me bolo dasha ka arth hota hai samay aapka samay iske baad accha ho jaega aur abhi tak jitni jitni konle humne pade uthayi hain usme humne aaj tak aisa koi insaan nahi dekha hai jo apne samay ke viprit matlab uske uske jeevan me bura samay chal raha hai aur vaah safalta ki aur aisa dikhai thi toh jyotish ka apna ek niyam hai jyotish se kahata hai ki vyakti kuch nahi hota hai uske jo likha hua hai vaah hota hai jyotish a kahata hai ki jo likha hua hai wahi hoga uske aage ird gird nahi kar sakte ho aap bhi kitna bhi prayas tha dalo kitna bhi prayas kadal agar aapke life me cheez likhi hai hone toh wahi hogi lekin yah ek accha dost hi nikaal sakta hai sabke bus ka nahi hai pehli baat toh yah jaan lijiye ki sabke bus ka nahi hai ki insaan ke bhavishya ko nikaal paana bahut se log kehte ki aapke jeevan me yah ho jaega toh jo acche joshi hote hain wahi nikaal paate hain waise nikaala toh bahut khoob bahut log nikalate lekin sab log nahi nikaal paate jo accha dost hota vaah setting nikaal pata hai ke bus ka nahi hai tu uske baad jo hai vaah insaan ka tu likhta hai us insaan ka bhakti karm ko sahi se jaan jaate hain wahi karm ko wahi karm aur bhagya ke khel ko samajh paate hain jo log keval bharatiya par vishwas rakhte hain ya jo log keval karm par vishwas rakhte hain wahi jaan hi nahi paate hain ki jeevan jeevan jeevan jo hai vaah dono ek hi hai matlab karm aur bhagya ek hi alag nahi hai bilkul different nahi hai jo vyakti karm ka sahi vigyan jaan leta hai wahi karm ko pakad paate wahi karm aur bhagya ki sahi matlab ko nikaal pata hai jo karm ka vigyan jaan jata hai wahi bhagya ko pad sakta hai kyonki jo vyakti aaj ko pad sakta hai wahi vyakti kal ko pad sakta hai jo vyakti apne karm ko acche se samajh paate ki hum jo karm kar rahe hain uska kya fal niklega kya parinam niklega parikarm ko jaan paate hain lekin duniya me aise log zyada milenge jo bhagya par vishwas nahi rakhte hain ya phir karm par vishwas nahi hamko lagta ki humne athak prayas kar diya toh mere bhagya me nahi hai aur kuch log kehte hain ki humne karm kar dala bhagya aur kuch nahi hota hai hamesha karna chahiye toh agar aap unki kundali dikha dekhenge toh unka samay accha chal raha hota hai hum log yah baat accha kehte hain kin ka samay chal raha hai bus aur koi dikkat nahi yah safal apan ko lag raha hai ki yah kar rahe hain lekin aisa kuch hai nahi sab samay ka khel hai aaj din ka samay chal raha hai kal kisi aur ka chalega bus aur kuch antar nahi hai toh jyotish is baat ko sikhati hai unko har vyakti jo acche joshi hote hain vaah jante hain ki vyakti bhi bus ka samay balwan hota hai aur bahut se logo ko paise mil jaenge ki unko lagta hai ki aaj unke hath me samay hai toh unke hath me hamesha accha hi samay chalega lekin samay ki pehli chot padti hai na toh vaah jab vichalit ho jaate hain tab bhagwan ke paas pahunchate hain tab vaah joshi ke paas pahunchate hain kabhi bhi dhyan rakhen ek pareshan hoti joshi ke paas jata hai jo vyakti ka jeevan lakshya book ab joshi ke paas jata nahi lagta hai logo ki jyotish kuch nahi thi lekin jab samay ki maar padti toh unko lagta hai ki nahi jyotish bahut kuch aise log bhi hain toh yah baat jaan lijiye ki insaan ka karm haan ek baat aur karm ko sahi tarah se jani hai kabhi kabhi sab kuch hai vaastav me karm hi sab kuch hota hai joshi ke paas pahuchne bhi ek karm hai aapka yah bhi baat jaan lijiye aap agar kisi acche joshi ke paas bhi ho toh bhi aap ek karm karo aur ek baat aapko bata de jo vyakti vaakai me karm karna jaanta hoga vaah kabhi joshi ke paas jaega hi nahi uski life bhi pata chale ki yah baat dhyan rakhega aur hamesha yah nahi ki shuruat me achi chal rahi hai toh beech me life kharab ho gayi shaadi ke baad vaah toh chakkar lagaye pada hua hai aisa nahi hai hamein yah samajhna bahut zaroori hai ki kya vaah vyakti vaakai me shreshtha uttam hai ya nahi tu karm par vishwas karna chahiye lekin agar aap karm ko sahi roop se jante hain tab aap par vishwas kar payenge hum aapko batatey hain karm par vishwas kiya kaise jata hai jab adhikaariyo ne bura samay aata hai na toh usko lagta hai ki mera karm bekar hai hum jo kar rahe hain vaah ho nahi paa raha hai sab kuch bhai ke upar hai lekin wahi usko hi samajhna hota hai ki jab jeevan me bura samay aata hai tabhi toh aap ki parikshaen hoti hai kyonki samanya sthiti me toh hamari chalti hai hum toh safal hi hote hain lekin jab aapke life me bura samay aata hai tab vaastav me aapke karm ki pariksha ho rahi hoti hai isliye jeevan me yah baat samjhe ki karm hi sab kuch hai karm se hi sab kuch hai vibhag ki baat kahin nahi gayi haan karne ki baat kahi gayi hai lekin karm ka sahi vigyan janana bahut zaroori karm ke satya ko janana bahut zaroori hai jo karna hai vaah karo jaan jata hai bahut saare log aise mil jaate hain jo safal toh ho rahe hote lekin jab unko asafaltaa milti toh phir vaah vichalit ho jaate hain phir bhagwan mala mantra sab karna shuru kar dete hain lekin jab tak safal nahi ho safal ho jaati dikhai nahi padti toh sabko lagta hai ki nahi sab kuch chakkar me sahi hota hai sab bhagya kuch nahi hota hai lekin vaah bus samay hai aur kuch nahi hai jeevan me karm ko sab kuch samjhe karm samay dono ka ek roop nikale dono ek hi hai jo karm aur samay ko sahi jaan leta hai wahi vyakti uttam ban jata hai aur jyotish ke paas jana bhi joshi ke paas jana bhagwan ke paas jana bhi karm hi hai pehli baat toh yah bhi madad karna ki agar aap ek jyotishi ke paas gaye hain aap bhagwan ke paas agar ja rahe hain toh vaah bhi aap ek kaam kar rahe hain aur apni audio accha laga ho toh like comment kare dhanyavad

आपका सवाल है कि क्या आप कर्मा पर विश्वास करते हैं कि नहीं देखी है पहली चीज तो यह समझ लीजिए

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  156
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Mahesh Mohan Jha

Asst. Professor,Astrologer,Author

0:27
Play

Likes  12  Dislikes    views  156
WhatsApp_icon
play
user

Avi

Content Writer

0:23

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं करने में विश्वास करती हूं और दूसरों को भी विश्वास करने के लिए कहूंगी सिर्फ इस कारण के लिए कि अगर हम इस बात में विश्वास रखें तो फिर अच्छे काम की अच्छे काम ही करेंगे जब हम काम करते हैं तो कर्मों के कारण वापस हम ही को कुछ बुरा होगा यह डर से हम सिर्फ दूसरों की भलाई के बारे में सोचेंगे

main karne mein vishwas karti hoon aur dusron ko bhi vishwas karne ke liye kahungi sirf is karan ke liye ki agar hum is baat mein vishwas rakhen toh phir acche kaam ki acche kaam hi karenge jab hum kaam karte hain toh karmon ke karan wapas hum hi ko kuch bura hoga yah dar se hum sirf dusron ki bhalai ke bare mein sochenge

मैं करने में विश्वास करती हूं और दूसरों को भी विश्वास करने के लिए कहूंगी सिर्फ इस कारण के

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  128
WhatsApp_icon
user

Anisha Saurabh

Engineer with dreams

1:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आदित्य यह बात आपने कभी ना कभी किसी ना किसी के मुंह से जरूर सुना होगा कि जैसा कर्म करोगे वैसा ही फल पाओगे तो मुझे ऐसा लगता है कि यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि अगर आप बुरा करेंगे तो कहीं ना कहीं आपके साथ कुछ ना कुछ बुरा होगा ही होगा आपने कभी ऐसा नहीं देखा होगा ना किसी कहानी में मूवी में नाम इतिहास में कि जिसने भी बुरा कर्म किया है या बुरे कार्य किए हैं उनके साथ अच्छा हुआ है बुरे के साथ हमेशा बुरा ही हुआ है और अच्छे के साथ हमेशा अच्छे से अच्छा ही हुआ है चाहे आप राम जी और रावण को ले लो चाहे आप यहां पर आम लोगों को ले लो अगर हम अच्छा करते हैं तो हो सकता है हमें कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है लेकिन अंततः हमें वापस में अच्छा ही मिलता है किसी ना किसी तरीके से इसीलिए हमें हमेशा अच्छे

aditya yah baat aapne kabhi na kabhi kisi na kisi ke mooh se zaroor suna hoga ki jaisa karm karoge waisa hi fal paoge toh mujhe aisa lagta hai ki yah kehna bilkul galat nahi hoga ki agar aap bura karenge toh kahin na kahin aapke saath kuch na kuch bura hoga hi hoga aapne kabhi aisa nahi dekha hoga na kisi kahani mein movie mein naam itihas mein ki jisne bhi bura karm kiya hai ya bure karya kiye hain unke saath accha hua hai bure ke saath hamesha bura hi hua hai aur acche ke saath hamesha acche se accha hi hua hai chahen aap ram ji aur ravan ko le lo chahen aap yahan par aam logon ko le lo agar hum accha karte hain toh ho sakta hai hamein kathinaiyon ka samana karna padta hai lekin antatah hamein wapas mein accha hi milta hai kisi na kisi tarike se isliye hamein hamesha acche

आदित्य यह बात आपने कभी ना कभी किसी ना किसी के मुंह से जरूर सुना होगा कि जैसा कर्म करोगे वै

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  122
WhatsApp_icon
user

Ridhima

Mass Communications Student

0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हम तो जरूर से विश्वास करते कर्मों में किसी देखी जो आप करोगे वही आप बोलोगे अगर आप अच्छा करोगे तो बाद में आपको भी अच्छा मिलेगा और अगर आप किसी के साथ बुरा करोगे तो आपको वह बुरा वापस आपको ही मिलेगा तो मेरे साथ से आपको करूंगा जरूर से ध्यान रखना चाहिए जिंदगी में

hum toh zaroor se vishwas karte karmon mein kisi dekhi jo aap karoge wahi aap bologe agar aap accha karoge toh baad mein aapko bhi accha milega aur agar aap kisi ke saath bura karoge toh aapko vaah bura wapas aapko hi milega toh mere saath se aapko karunga zaroor se dhyan rakhna chahiye zindagi mein

हम तो जरूर से विश्वास करते कर्मों में किसी देखी जो आप करोगे वही आप बोलोगे अगर आप अच्छा करो

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  122
WhatsApp_icon
user

Sefali

Media-Ad Sales

0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां आकर मा में तो बहुत ज्यादा विश्वास है हमने आज उन्हें स्वर्ग या फिर ना की बातें किताबों में सुनी होगी या फिर मूवीस में देखी होगी या फिर किसी से सुनी होंगी किसी ने स्वर्ग नर्क देखा नहीं है मेरे हिसाब से स्वर्ग और नर्क यही है जो आप जैसा कर्म करोगे वैसा आप दोगे तो आप अच्छा करते हो तो अच्छा ही मिलेगा बाद में जब आपकी डिफिकल्ट टाइम जाएंगे लेकिन आपके साथ अच्छा ही होगा या फिर कोई आपके साथ हमेशा खड़ा रहेगा आपके बुरे वक्त में उस चीज का स्वाद साथ देने के लिए अगर आप किसी के लिए बुरा कर रहे हो और आप आज खुश हो कोई गारंटी नहीं है आप कल खुश रहोगे और आपके साथ जो लोग खड़े हैं और जो बुरे कर्म करने में और आपका वह साथ देंगे बाद में ऐसी कोई गारंटी नहीं है तो करना हमेशा जो है जैसा बोओगे आपको वैसे ही वापस करेगा

ji haan aakar ma mein toh bahut zyada vishwas hai humne aaj unhe swarg ya phir na ki batein kitabon mein suni hogi ya phir Movies mein dekhi hogi ya phir kisi se suni hongi kisi ne swarg nark dekha nahi hai mere hisab se swarg aur nark yahi hai jo aap jaisa karm karoge waisa aap doge toh aap accha karte ho toh accha hi milega baad mein jab aapki difficult time jaenge lekin aapke saath accha hi hoga ya phir koi aapke saath hamesha khada rahega aapke bure waqt mein us cheez ka swaad saath dene ke liye agar aap kisi ke liye bura kar rahe ho aur aap aaj khush ho koi guarantee nahi hai aap kal khush rahoge aur aapke saath jo log khade hain aur jo bure karm karne mein aur aapka vaah saath denge baad mein aisi koi guarantee nahi hai toh karna hamesha jo hai jaisa booge aapko waise hi wapas karega

जी हां आकर मा में तो बहुत ज्यादा विश्वास है हमने आज उन्हें स्वर्ग या फिर ना की बातें किताब

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  232
WhatsApp_icon
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी मैं बिल्कुल Karma में विश्वास रखती हूं इन चीजों में विश्वास रखती हूं मुझे लगता है जो भी आप करते हैं अच्छा या बुरा वह आपको उसका जरूर मिलता है और कई बार तो आपको भी करना नहीं पड़ता जब कि जब इंस्टेंट रिजल्ट होते हैं हमेशा भगवान में या कोई देवी शक्ति में विश्वास नहीं रखती पर मैं Karma में जरूर विश्वास रखती हूं और मुझे यह भी लगता है कि हो सकता उस समय मैं आपको अच्छे रिजल्ट ना मिले आप नहीं कर पाएंगे उस समय मैं आपको ना लगे कि आपके साथ कुछ अच्छा हुआ लेकर अल्टीमेटली आपके साथ अच्छा होता है रिजल्ट अच्छे मिलते हैं आपको और इसलिए जो भी काम करो पॉजिटिव करो अच्छे से अच्छे मैसेज

ji main bilkul Karma mein vishwas rakhti hoon in chijon mein vishwas rakhti hoon mujhe lagta hai jo bhi aap karte hain accha ya bura vaah aapko uska zaroor milta hai aur kai baar toh aapko bhi karna nahi padta jab ki jab instant result hote hain hamesha bhagwan mein ya koi devi shakti mein vishwas nahi rakhti par main Karma mein zaroor vishwas rakhti hoon aur mujhe yah bhi lagta hai ki ho sakta us samay main aapko acche result na mile aap nahi kar payenge us samay main aapko na lage ki aapke saath kuch accha hua lekar altimetli aapke saath accha hota hai result acche milte hain aapko aur isliye jo bhi kaam karo positive karo acche se acche massage

जी मैं बिल्कुल Karma में विश्वास रखती हूं इन चीजों में विश्वास रखती हूं मुझे लगता है जो भी

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  158
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!