सम्राट अशोक का परिचय दें?...


user
2:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सम्राट अशोक मौर्य वंश का सबसे प्रसिद्ध और शक्तिशाली सम्राट था उसकी जगह सम्राट मौर्य वंश में आज तक कभी नहीं हुआ है उसने भारत के लिए नई ऊंचाइयों तक पहुंचाया है सम्राट अशोक ने आप सभी ने सुना होगा कि अशोक का हृदय परिवर्तित किस घटना ने किया था जी हां कलिंग युद्ध ने तो सम्राट अशोक ने कलिंग का युद्ध लड़ा तो उसका हृदय परिवर्तन हो गया उसका ह्रदय क्यों परिवर्तित हो गया उसने है ज्योति तो जीत लिया था लेकिन पूरी जनता का उसने देखा कि युद्ध में इतना भीषण आपात हुआ है कितनी जनहानि हुई है रक्त बात को देखकर उसका ह्रदय पसीज गया और उसने युद्ध को सब छोड़कर धर्म का मार्ग अपना लिया उसने जगह-जगह धर्म पताका लहराई और उसने कलिंग युद्ध के उपरांत बौद्ध धर्म का प्रण कर लिया और बौद्ध धर्म का अनुयाई हो गया कल के उपरांत उसने लगभग हर जगह बौद्ध धर्म का प्रचार प्रसार किया अपने बच्चों को भी श्रीलंका में बौद्ध धर्म का प्रचार करने के लिए भेज दिया उसने लाखों यज्ञ करवाए उसने अपने धर्म की कुछ विशेषताएं बताएं माता पिता की आज्ञा का पालन करना चाहिए अपने बड़ों की आज्ञा का पालन करना चाहिए गुरुओं का सम्मान करना चाहिए ऐसी बगैरा बगैरा कई बातें बताई अशोक ने इस कानपुर महा भारतीय इतिहास में सबसे प्रसिद्ध और सबसे शक्तिशाली सम्राट था इसमें कोई संदेह नहीं है थैंक यू

samrat ashok maurya vansh ka sabse prasiddh aur shaktishali samrat tha uski jagah samrat maurya vansh mein aaj tak kabhi nahi hua hai usne bharat ke liye nayi unchaiyon tak pahunchaya hai samrat ashok ne aap sabhi ne suna hoga ki ashok ka hriday parivartit kis ghatna ne kiya tha ji haan kalinga yudh ne toh samrat ashok ne kalinga ka yudh lada toh uska hriday parivartan ho gaya uska hriday kyon parivartit ho gaya usne hai jyoti toh jeet liya tha lekin puri janta ka usne dekha ki yudh mein itna bhishan aapaat hua hai kitni janhani hui hai rakt baat ko dekhkar uska hriday pasij gaya aur usne yudh ko sab chhodkar dharm ka marg apna liya usne jagah jagah dharm pataka lehrai aur usne kalinga yudh ke uprant Baudh dharm ka pran kar liya aur Baudh dharm ka anuyayi ho gaya kal ke uprant usne lagbhag har jagah Baudh dharm ka prachar prasaar kiya apne baccho ko bhi sri lanka mein Baudh dharm ka prachar karne ke liye bhej diya usne laakhon yagya karwaye usne apne dharm ki kuch visheshtayen bataye mata pita ki aagya ka palan karna chahiye apne badon ki aagya ka palan karna chahiye guruon ka sammaan karna chahiye aisi bagaira bagaira kai batein batai ashok ne is kanpur maha bharatiya itihas mein sabse prasiddh aur sabse shaktishali samrat tha isme koi sandeh nahi hai thank you

सम्राट अशोक मौर्य वंश का सबसे प्रसिद्ध और शक्तिशाली सम्राट था उसकी जगह सम्राट मौर्य वंश मे

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  115
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!