में खुश क्यों नहीं रह सकता?...


user

Vikas Singh Rajput

Political Analyst

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है कि आप खुश क्यों नहीं रह सकते भैया कौन सी विपत्ति आ गई आपके ऊपर क्या खुश नहीं रह सकते कौन सी आपत्ति आ गई है कि आप खुश नहीं रह सकते गर्लफ्रेंड ने धोखा दे दिया है परिवार की स्थिति अच्छी नहीं है परिवार में किसी का तबीयत खराब है उससे आप दुखी हो यार जो होना है वह होकर रहेगा हम लोगों को अपना कर्म करते रहना है क्या खुशी पाने के लिए जिंदगी दोबारा मिलेगी नहीं मिलेगी ना तो इसी जन्म में हमें कोशिश करना चाहिए कि हम हमेशा खुश रहें और हमेशा दूसरों को भी खुश रख तो आप खुश रहने का प्रयास करिए आपने पहले से ही दिमाग में सेट कर लिया कि मैं खुश नहीं रह सकता भैया आपको आप का दर्द देख कर बहुत महसूस हो रहा है लेकिन आप दुनिया वालों का दर्द देखोगे तो आपको लगेगा कि आपका दर्द बहुत कम है जरा सोचिए जिसके पास दो आप हाथ नहीं है दोपहर नहीं है तो आंख नहीं है वह कैसे अपना जीवन जीता तो आपको अपना जीवन जीना होगा और खुशी से जीना होगा और सबको आपको खुश रखना होगा रखना ही होगा नहीं तो आपका धरती पर रहना बेकार है खुद भी खुश रहिए दूसरों को भी खुश रखें इससे क्या होता है आपका स्वास्थ्य भी ठीक रहेगा और आप भी खुश रखोगे उसका भी स्वास्थ्य ठीक रहेगा धन्यवाद

aapka sawaal hai ki aap khush kyon nahi reh sakte bhaiya kaun si vipatti aa gayi aapke upar kya khush nahi reh sakte kaun si apatti aa gayi hai ki aap khush nahi reh sakte girlfriend ne dhokha de diya hai parivar ki sthiti achi nahi hai parivar me kisi ka tabiyat kharab hai usse aap dukhi ho yaar jo hona hai vaah hokar rahega hum logo ko apna karm karte rehna hai kya khushi paane ke liye zindagi dobara milegi nahi milegi na toh isi janam me hamein koshish karna chahiye ki hum hamesha khush rahein aur hamesha dusro ko bhi khush rakh toh aap khush rehne ka prayas kariye aapne pehle se hi dimag me set kar liya ki main khush nahi reh sakta bhaiya aapko aap ka dard dekh kar bahut mehsus ho raha hai lekin aap duniya walon ka dard dekhoge toh aapko lagega ki aapka dard bahut kam hai zara sochiye jiske paas do aap hath nahi hai dopahar nahi hai toh aankh nahi hai vaah kaise apna jeevan jita toh aapko apna jeevan jeena hoga aur khushi se jeena hoga aur sabko aapko khush rakhna hoga rakhna hi hoga nahi toh aapka dharti par rehna bekar hai khud bhi khush rahiye dusro ko bhi khush rakhen isse kya hota hai aapka swasthya bhi theek rahega aur aap bhi khush rakhoge uska bhi swasthya theek rahega dhanyavad

आपका सवाल है कि आप खुश क्यों नहीं रह सकते भैया कौन सी विपत्ति आ गई आपके ऊपर क्या खुश नहीं

Romanized Version
Likes  339  Dislikes    views  3207
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!