रविशंकर प्रसाद कहते है डेटा पर एकाधिकार स्वीकार नहीं, क्या आप इस बात से सहमत हैं?...


play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

1:44

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रवी शंकर प्रसाद कहते हैं डाटा पर एकाधिकार शिकार नहीं क्या आप इस बात से सहमत हैं देखे रविशंकर प्रसाद जी जो कह रहे हैं वह अपने ढंग से ही तो कह रहे हो सही लेकिन यदि कंपनियां हैं चाहे व्हाट्सएप हो या फेसबुक को जाग गूगल हो कोई भी हो यह लोग क्यों सेवाएं प्रदान करते हैं उनके पास जो डाटा आता है लोगों का उसके ऊपर वह एकाधिकार अपना मानती है और उसके लिए अगर यह रविशंकर प्रसाद जी कह रहे हैं तो कोई रास्ता को निकालना पड़ेगा उनको क्यों क्यों डाटा वह लोग कंपनियां लिख कर देती हैं लेकिन वह भारत सरकार के पास कैसे आ सकता है वह मिथक भी तो सुजानी जरूरी है सोचनी चाहिए इसलिए सही होते हुए भी रविशंकर प्रसाद जी लेकिन वह डाटा को जबरदस्ती हासिल नहीं कर सकते खाना कि उनकी सोच सही है दूसरी जितनी भी है सर्विस प्रोवाइडर कंपनियां को इस तरह से देखता कलेक्ट करती है ईमेल्स कलेक्टर सी है उसे आलेख भी करते हैं समय-समय पर व्यक्ति हैं कि रविशंकर प्रसाद जी की सोच कहां तक आगे बढ़ती है और इसमें कौन सा मोड़ लेती है धन्य

Ravi shankar prasad kehte hain data par ekadhikar shikaar nahi kya aap is baat se sahmat hain dekhe ravishankar prasad ji jo keh rahe hain vaah apne dhang se hi toh keh rahe ho sahi lekin yadi companiyan hain chahen whatsapp ho ya facebook ko jag google ho koi bhi ho yah log kyon sevayen pradan karte hain unke paas jo data aata hai logon ka uske upar vaah ekadhikar apna maanati hai aur uske liye agar yah ravishankar prasad ji keh rahe hain toh koi rasta ko nikalna padega unko kyon kyon data vaah log companiyan likh kar deti hain lekin vaah bharat sarkar ke paas kaise aa sakta hai vaah mithak bhi toh sujani zaroori hai sochani chahiye isliye sahi hote hue bhi ravishankar prasad ji lekin vaah data ko jabardasti hasil nahi kar sakte khana ki unki soch sahi hai dusri jitni bhi hai service provider companiyan ko is tarah se dekhta collect karti hai emails collector si hai use aalekh bhi karte hain samay samay par vyakti hain ki ravishankar prasad ji ki soch kahaan tak aage badhti hai aur isme kaun sa mod leti hai dhanya

रवी शंकर प्रसाद कहते हैं डाटा पर एकाधिकार शिकार नहीं क्या आप इस बात से सहमत हैं देखे रविश

Romanized Version
Likes  63  Dislikes    views  1255
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Vimal Kumar Gour

General Physician

3:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो रवि शंकर प्रसाद का कहता है कहते हैं डाटा पर एकाधिकार सरकार ने

hello ravi shankar prasad ka kahata hai kehte hain data par ekadhikar sarkar ne

हेलो रवि शंकर प्रसाद का कहता है कहते हैं डाटा पर एकाधिकार सरकार ने

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  163
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!