आप सबसे ज़्यादा अपने अतीत में हुए किस चीज़ के पछतावा करते हैं?...


play
user

Anisha Saurabh

Engineer with dreams

1:35

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे इस बात का हमेशा से पछतावा रहा है और आगे भी रहेगा कि जब मैं छोटी थी और मेरी खेलने की उम्र थी तब मेरे घर वालों ने मुझे कभी बाहर खेले जाने नहीं दिया उन्हीं हमेशा ऐसा लगता था कि जब भी मैं अगर बाहर जा रही हूं मोहल्ले के लड़के लड़कियों के साथ खेल रही हूं तो मैं कुछ गलत चीज सीख रही हूं जो कि यह बिल्कुल गलत धारणा थी उनकी तो इसके वजह से मैंने अपने बचपन में वह चीजें नहीं कर पाए जो मेरे और दोस्त ने किया या आस-पास के लोगों ने या बच्चों ने किया जब भी मैं अपने दोस्तों से उनके बचपन की बारे में बातें करती हूं वह लोग बहुत ही अजीबोगरीब कहानियां सुनाते हैं और हंसते हैं पर मेरे पास बोलने के लिए कुछ भी नहीं रहता तुम मुझसे मुझे यह मेरे बचपन से मिली है कि चाहे जो भी हो मैं अपने बच्चों के साथ या आस-पास के बच्चों के साथ ऐसा ना होने दो मैं उन लोगों को समझा सकूं

mujhe is baat ka hamesha se pachtava raha hai aur aage bhi rahega ki jab main choti thi aur meri khelne ki umr thi tab mere ghar walon ne mujhe kabhi bahar khele jaane nahi diya unhi hamesha aisa lagta tha ki jab bhi main agar bahar ja rahi hoon mohalle ke ladke ladkiyon ke saath khel rahi hoon toh main kuch galat cheez seekh rahi hoon jo ki yah bilkul galat dharana thi unki toh iske wajah se maine apne bachpan mein vaah cheezen nahi kar paye jo mere aur dost ne kiya ya aas paas ke logo ne ya baccho ne kiya jab bhi main apne doston se unke bachpan ki bare mein batein karti hoon vaah log bahut hi ajeebogarib kahaniya sunaate hain aur hansate hain par mere paas bolne ke liye kuch bhi nahi rehta tum mujhse mujhe yah mere bachpan se mili hai ki chahen jo bhi ho main apne baccho ke saath ya aas paas ke baccho ke saath aisa na hone do main un logo ko samjha sakun

मुझे इस बात का हमेशा से पछतावा रहा है और आगे भी रहेगा कि जब मैं छोटी थी और मेरी खेलने की उ

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  177
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

DJ वह चीज इससे ज्यादा मुझे डिपेंडेंस फील होता है जो मेरे पास में मैंने की है वह यह कि मैं मैं पास 12थ पास के लिए मेडिकल था 1112 में मैसेज करना चाहती थी पर शामली पर विश्वास शायरी प्रेशर रोटी जिसकी वजह से मैंने मेडिकल ले लिया अगर मेरे पास 8 होता और मैंने आज पढ़ा होता तो मैं एक अच्छे कॉलेज में होती मैं एक अच्छी जगह पर होती और मैं और बेटे चीजें कर रही होती तो वह चीज मुझे बोला था बुरी लगती है मेरे पास की हकीकत में ने ना सुनी उसने किसी चोर मैंने अगर 8 किया होता तो मेरा लाइव चैनल और मेरी लाइफ के अंदर और अलग और और बेहतर चीज होती

DJ vaah cheez isse zyada mujhe dipendens feel hota hai jo mere paas mein maine ki hai vaah yah ki main main paas th paas ke liye medical tha 1112 mein massage karna chahti thi par shamili par vishwas shaayari pressure roti jiski wajah se maine medical le liya agar mere paas 8 hota aur maine aaj padha hota toh main ek acche college mein hoti main ek achi jagah par hoti aur main aur bete cheezen kar rahi hoti toh vaah cheez mujhe bola tha buri lagti hai mere paas ki haqiqat mein ne na suni usne kisi chor maine agar 8 kiya hota toh mera live channel aur meri life ke andar aur alag aur aur behtar cheez hoti

DJ वह चीज इससे ज्यादा मुझे डिपेंडेंस फील होता है जो मेरे पास में मैंने की है वह यह कि मैं

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  307
WhatsApp_icon
user

Arif Rana

Self depend

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे सबसे ज्यादा पछतावा इस बात का है क्योंकि मैंने अतीत में जिन लोगों पर विश्वास किया था उन लोगों ने मेरा विश्वास तोड़ा है क्योंकि कुछ लोग ऐसे होते हैं जिन पर अपने से ज्यादा विश्वास करते हैं और फिर भी विश्वासघात करते हैं

mujhe sabse zyada pachtava is baat ka hai kyonki maine ateet mein jin logo par vishwas kiya tha un logo ne mera vishwas toda hai kyonki kuch log aise hote hain jin par apne se zyada vishwas karte hain aur phir bhi vishwasghat karte hain

मुझे सबसे ज्यादा पछतावा इस बात का है क्योंकि मैंने अतीत में जिन लोगों पर विश्वास किया था उ

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  119
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!