लोग कहते हैं कि दुनिया का अंत होगा! इस बारे में आप क्या सोचते हो?...


user

Liyakat Ali Gazi

Motivational Speaker, Life Coach & Soft Skills Trainer 📲 9956269300

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

के लोगों के कहने से क्या होता लोग तो बहुत कुछ कहते हैं लोगों के कहने से जो है दुनिया का अंत थोड़ी हो जाएगा लोग इंसान हैं और इंसान या मानव जो है वह ऊपर वाले के बनाया हुआ इंसान की जान भी जाता है बताएगा नहीं इस बकवास है

ke logo ke kehne se kya hota log toh bahut kuch kehte hain logo ke kehne se jo hai duniya ka ant thodi ho jaega log insaan hain aur insaan ya manav jo hai vaah upar waale ke banaya hua insaan ki jaan bhi jata hai batayega nahi is bakwas hai

के लोगों के कहने से क्या होता लोग तो बहुत कुछ कहते हैं लोगों के कहने से जो है दुनिया का अं

Romanized Version
Likes  535  Dislikes    views  7071
WhatsApp_icon
10 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल यह है कि लोग कहते हैं कि दुनिया का अंत होगा इस बारे में आप क्या सोचते हो देखिए इस बारे में मैं क्या सोचता हूं आप क्या सोचते हैं हमारे सोचने से तो कुछ होगा नहीं होगा वही जो होना होगा और यह सभी धर्मों में लिखा है कि एक न एक दिन दुनिया का अंत होगा और सभी मानते हैं कि दुनिया को पैदा करने वाला चलाने वाला और 1 दिन काम करने वाला कोई नहीं है जिसने पैदा किया है वह लोगों का इंतिहान ले रहा है आजमाइश ले रहा है उसे हिसाब से अच्छे बुरे का हिसाब किताब करेगा उनको उसका अच्छा बुरा बदला लेना है लेकिन कब होना है वह तो कोई नहीं कह सकता मैं कह सकता हूं ना आप कर सकते हैं ना कोई और कह सकता है किसी का अंतर क्या होगा इस बारे में मैं क्या सोचता हूं उसके मेरे सोचने का कोई मतलब ही नहीं है इस बारे में भी सोच के मायने नहीं रखती हो मैं कुछ कह नहीं सकता तू वह मैं सोच कर क्या करूं यह जरूरी है कि हम तो

aapka sawaal yah hai ki log kehte hain ki duniya ka ant hoga is bare me aap kya sochte ho dekhiye is bare me main kya sochta hoon aap kya sochte hain hamare sochne se toh kuch hoga nahi hoga wahi jo hona hoga aur yah sabhi dharmon me likha hai ki ek na ek din duniya ka ant hoga aur sabhi maante hain ki duniya ko paida karne vala chalane vala aur 1 din kaam karne vala koi nahi hai jisne paida kiya hai vaah logo ka intihan le raha hai ajamaish le raha hai use hisab se acche bure ka hisab kitab karega unko uska accha bura badla lena hai lekin kab hona hai vaah toh koi nahi keh sakta main keh sakta hoon na aap kar sakte hain na koi aur keh sakta hai kisi ka antar kya hoga is bare me main kya sochta hoon uske mere sochne ka koi matlab hi nahi hai is bare me bhi soch ke maayne nahi rakhti ho main kuch keh nahi sakta tu vaah main soch kar kya karu yah zaroori hai ki hum toh

आपका सवाल यह है कि लोग कहते हैं कि दुनिया का अंत होगा इस बारे में आप क्या सोचते हो देखिए

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  193
WhatsApp_icon
user

Anisha Saurabh

Engineer with dreams

1:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए मुझे ऐसा लगता है कि कोई भी चीज अगर शुरू होती है तो उसका अंत तो कभी न कभी होगा ही चाहे वह कोई भी चीज हो एक रेखा भी आप किस ते हैं तो वह रेखा कहीं ना कहीं जाकर भी रुकेगी तो जरूर ठीक उसी प्रकार अगर दुनिया शुरू हुई है तो शायद यकीन से तुम्हें नहीं कह सकती पर कभी ना कभी शायद इसका भी अंत होगा

dekhiye mujhe aisa lagta hai ki koi bhi cheez agar shuru hoti hai toh uska ant toh kabhi na kabhi hoga hi chahen vaah koi bhi cheez ho ek rekha bhi aap kis chalaate hain toh vaah rekha kahin na kahin jaakar bhi rukegi toh zaroor theek usi prakar agar duniya shuru hui hai toh shayad yakin se tumhe nahi keh sakti par kabhi na kabhi shayad iska bhi ant hoga

देखिए मुझे ऐसा लगता है कि कोई भी चीज अगर शुरू होती है तो उसका अंत तो कभी न कभी होगा ही चाह

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  173
WhatsApp_icon
user

Avi

Content Writer

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कुछ साल पहले लोग कह रहे थे कि दुनिया का अंत होगा क्या कुछ हुआ इसमें मुझे कोई विश्वास नहीं है ना तुलसीदास चीज है जो सुनामी वगैरा सिग्नेचर के हाथों में है कुछ कलाम इसका कारण हम भी होते हैं मेरा यह कहना है कि जब तक हम रहे तो दुनिया का अंत के बारे में मत सोचें लेकिन हमारी तरफ से जो भी छोटी काम कर सकते हैं प्रकृति को बचाने के लिए हम उसे करते ही रहे

kuch saal pehle log keh rahe the ki duniya ka ant hoga kya kuch hua isme mujhe koi vishwas nahi hai na tulsidas cheez hai jo tsunami vagaira signature ke hathon mein hai kuch kalam iska karan hum bhi hote hain mera yah kehna hai ki jab tak hum rahe toh duniya ka ant ke bare mein mat sochen lekin hamari taraf se jo bhi choti kaam kar sakte hain prakriti ko bachane ke liye hum use karte hi rahe

कुछ साल पहले लोग कह रहे थे कि दुनिया का अंत होगा क्या कुछ हुआ इसमें मुझे कोई विश्वास नहीं

Romanized Version
Likes  64  Dislikes    views  190
WhatsApp_icon
play
user

Tilak Singh

Sch.Topper,Parnassian & Author

0:51

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीसस का जन्म हुआ है उसका माना तो निश्चित है यह पहले से शास्त्रों में लिखा चला गया है कि जिसका जन्म हुआ है वह तो लगेगा लेकिन

jesus ka janam hua hai uska mana toh nishchit hai yah pehle se shastron mein likha chala gaya hai ki jiska janam hua hai vaah toh lagega lekin

जीसस का जन्म हुआ है उसका माना तो निश्चित है यह पहले से शास्त्रों में लिखा चला गया है कि जि

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  125
WhatsApp_icon
user

Ridhima

Mass Communications Student

1:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे कई लोग बोलते हैं कि वर्ल्ड एंड होएगा कोई बोलते नहीं होएगा किसी को लगता है कि यह सुपरस्टिशन है कि बस यह फेक न्यूज़ है किसी को असली में लगता है सब सी आई थिंक 1:00 बजे तक टिकी हुई होने लग गया है आजकल ताकि हम ही मन भी उसको हमारे हमारे हो सके कि एनवायरनमेंट में क्या पॉल्यूशन के कारण क्या डेंजरस हो रही है ताकि हम लोग अपने देश को सुधार सकें हम लोग एनवायरनमेंट फ्रेंडली बने ताकि यह जो ग्लोबल वार्मिंग बोलते हैं कि जिससे ग्लेशियर पिघल रहे हैं और जो बोलते हैं कि उसी से उसी का पानी से पिघलने के बाद पानी से जो फ्लैट होएगा दुनिया में उसी से अंत होगा सेटिंग्स उसको से उसको वैसे औरत को सेव करने के लिए लोग ऐसे ऐसे बोलने लग गए आजकल ताकि लोग हम लोग खुद सवेर हो सके हम लोग खुद अपने जो हम लोग नुकसान पहुंचा रहे हैं इन्वायरमेंट को उसको हम सुधार सकें

dekhe kai log bolte hain ki world and hoega koi bolte nahi hoega kisi ko lagta hai ki yah superstition hai ki bus yah fake news hai kisi ko asli mein lagta hai sab si I think 1 00 baje tak tiki hui hone lag gaya hai aajkal taki hum hi man bhi usko hamare hamare ho sake ki environment mein kya pollution ke karan kya dangerous ho rahi hai taki hum log apne desh ko sudhaar sakein hum log environment friendly bane taki yah jo global warming bolte hain ki jisse glacier pighal rahe hain aur jo bolte hain ki usi se usi ka paani se pighalane ke baad paani se jo flat hoega duniya mein usi se ant hoga settings usko se usko waise aurat ko save karne ke liye log aise aise bolne lag gaye aajkal taki log hum log khud saver ho sake hum log khud apne jo hum log nuksan pahuncha rahe hain environment ko usko hum sudhaar sakein

देखे कई लोग बोलते हैं कि वर्ल्ड एंड होएगा कोई बोलते नहीं होएगा किसी को लगता है कि यह सुपरस

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  194
WhatsApp_icon
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

BP में ज्यादा माइथोलॉजी में बिलीव नहीं करती हूं तो जो लोग बोलते हैं कि और पाप का घड़ा भर गया और वह फूट जाएगा तो मैं उस चीज में नहीं बिलीव करती हूं लेकिन मैं साइंस में जरूर बिलीव करती हूं और जिसे केपटाउन में हुआ कि वहां पर पानी खत्म हो गया पानी ही नहीं है और लोगों को नल बंद करने पड़े तो अगर ऐसा ही चलता रहा अगर ऐसी पानी कि वह रोती रही और जो सीरिया में चल रहा है जो आतंकवाद इतना ज्यादा बढ़ गया अगर वह ही चलता रहा तो मुझे जरूर बिल्ली और विश्वास है कि जल्दी ही दुनिया खत्म हो जाएगी और ज्यादा देर नहीं लगेगी इसके अंदर क्योंकि खेतों में पानी खत्म हो चुके हैं वह पानी है ही नहीं तो ऐसा बाकी देशों में भी तो हो सकता है और आज के टाइम का ग्राफ क्लाइमेट का हाल देखिए - 2 डिग्री टेंपरेचर उस जगह पर है जहां कभी नहीं रहता है अमेरिका में कितना बुरा हाल है ठंड की वजह से बर्फ कैसे जमी हुई है ठंड कम होनी शुरू हो गई है हमारे भारत में गर्मियां बढ़ गई

BP mein zyada mythologies mein believe nahi karti hoon toh jo log bolte hain ki aur paap ka ghada bhar gaya aur vaah foot jaega toh main us cheez mein nahi believe karti hoon lekin main science mein zaroor believe karti hoon aur jise capetown mein hua ki wahan par paani khatam ho gaya paani hi nahi hai aur logon ko nal band karne pade toh agar aisa hi chalta raha agar aisi paani ki vaah roti rahi aur jo syria mein chal raha hai jo aatankwad itna zyada badh gaya agar vaah hi chalta raha toh mujhe zaroor billi aur vishwas hai ki jaldi hi duniya khatam ho jayegi aur zyada der nahi lagegi iske andar kyonki kheton mein paani khatam ho chuke hain vaah paani hai hi nahi toh aisa baki deshon mein bhi toh ho sakta hai aur aaj ke time ka graph climate ka haal dekhiye 2 degree temperature us jagah par hai jahan kabhi nahi rehta hai america mein kitna bura haal hai thand ki wajah se barf kaise jami hui hai thand kam honi shuru ho gayi hai hamare bharat mein garmiyaan badh gayi

BP में ज्यादा माइथोलॉजी में बिलीव नहीं करती हूं तो जो लोग बोलते हैं कि और पाप का घड़ा भर ग

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  190
WhatsApp_icon
user

Amber Rai

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

0:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां जी हां देखें दुनिया का अंत एक दिन जरूर होगा लेकिन मैं जैसा लोग यह कहते मैसेज नहीं कि जैसे पहले 2012 मेरी उमर आया था कि दुनिया का अंत होने वाला दुनिया का अंत होने वाला है उसके बाद आकर 2016 में होगा या 10 मिनट बाद खुद ही नष्ट हो जाएगा क्योंकि उसमें इतनी एनर्जी नहीं बताइए कि वह और लाइव प्रोड्यूस कर पाए और उससे ठीक पहले जो है वह धरती और जो पूरा सोलर सिस्टम खुद-ब-खुद है जो है वह नष्ट हो जाएगा तो धरती का अंत होगा लेकिन आज नहीं इसमें बहुत चालक लगभग जो है इसमें 10 साल से भी ज्यादा कसम है तो इसलिए अभी आप को कोई चिंता करने का जरूरत नहीं है अभी जो आया आप अपने जीवन सुकून से जी सकते हैं

haan ji haan dekhen duniya ka ant ek din zaroor hoga lekin main jaisa log yah kehte massage nahi ki jaise pehle 2012 meri umar aaya tha ki duniya ka ant hone vala duniya ka ant hone vala hai uske baad aakar 2016 mein hoga ya 10 minute baad khud hi nasht ho jaega kyonki usmein itni energy nahi bataiye ki vaah aur live produce kar paye aur usse theek pehle jo hai vaah dharti aur jo pura solar system khud bsp khud hai jo hai vaah nasht ho jaega toh dharti ka ant hoga lekin aaj nahi isme bahut chaalak lagbhag jo hai isme 10 saal se bhi zyada kasam hai toh isliye abhi aap ko koi chinta karne ka zaroorat nahi hai abhi jo aaya aap apne jeevan sukoon se ji sakte hain

हां जी हां देखें दुनिया का अंत एक दिन जरूर होगा लेकिन मैं जैसा लोग यह कहते मैसेज नहीं कि ज

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  120
WhatsApp_icon
user

Sefali

Media-Ad Sales

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए जिस चीज की शुरुआत हुई है उसका अंत तो होगा ही पर किस तरह से होगा क्यों होगा और किस लिए होगा इसकी कोई गारंटी नहीं है सारे लोग अपनी-अपनी कांसेप्ट लगाने पर लगे हुए कांसेप्ट लगाएं और इसकी बात करें एक जैकेट क्यों अंत होगा लेकिन जिस तरह से हमारे प्लेनेट का टेंपरेचर बढ़ता जाए तो कौन है जिस तरह से गर्म होता जा रहा है उसकी वजह से आज ग्लेशियर पिघल रहे हैं वाटर इनक्रीस होता जा रहा है और आयरलैंड कम होती जा रही उसकी वजह से डिप्रेशन हो रही है वोल्केनो इलेक्शन सो रहे हैं एयर पोलूशन वाटर पोलूशन क्या नहीं हो रहा है इस पर सुंदर प्लानेट की डिस्ट्रक्शन केक के लिए तो यह सब को देखा जाए तो जो 2012 मूवी आया था यह सब खुशियों को जो उसका वही दृश्य दिखता है पर ऐसा कुछ नहीं है कांसेप्ट जो लोग सोचते हैं तो एक यह है और दूसरा कौन से प्रोग्राम सोचा कि क्यों दुनिया का अंत हो सकता है

dekhiye jis cheez ki shuruaat hui hai uska ant toh hoga hi par kis tarah se hoga kyon hoga aur kis liye hoga iski koi guarantee nahi hai saare log apni apni concept lagane par lage hue concept lagaen aur iski baat karen ek jacket kyon ant hoga lekin jis tarah se hamare planet ka temperature badhta jaaye toh kaun hai jis tarah se garam hota ja raha hai uski wajah se aaj glacier pighal rahe hain water increase hota ja raha hai aur ireland kam hoti ja rahi uski wajah se depression ho rahi hai volkeno election so rahe hain air pollution water pollution kya nahi ho raha hai is par sundar planet ki destruction cake ke liye toh yah sab ko dekha jaaye toh jo 2012 movie aaya tha yah sab khushiyon ko jo uska wahi drishya dikhta hai par aisa kuch nahi hai concept jo log sochte hain toh ek yah hai aur doosra kaun se program socha ki kyon duniya ka ant ho sakta hai

देखिए जिस चीज की शुरुआत हुई है उसका अंत तो होगा ही पर किस तरह से होगा क्यों होगा और किस लि

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  159
WhatsApp_icon
user

Bhaskar Sharma

B.E.,forester

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए कोई भी चीज या मुसीबत बताकर नहीं आती अगर धरती का अंत होना होगा तो हो सकता है कल भी हो जाए या फिर हो सकता है 100000 साल बाद हो या फिर सूरज के खत्म होने के साथ इन सब चीजों को सूचना कोई मतलब नहीं है और दूसरी बात यह है कि एक अच्छा राजा कभी भी युद्ध नहीं चाहता कभी भी इन सब चीजों में फर्क पड़ना नहीं चाहता यह धरती के अंत के बारे में सोचना नहीं चाहता लेकिन हमेशा इन सब चीजों के लिए मुसीबतों के लिए तैयार रहता है

dekhiye koi bhi cheez ya musibat batakar nahi aati agar dharti ka ant hona hoga toh ho sakta hai kal bhi ho jaaye ya phir ho sakta hai 100000 saal baad ho ya phir suraj ke khatam hone ke saath in sab chijon ko soochna koi matlab nahi hai aur dusri baat yah hai ki ek accha raja kabhi bhi yudh nahi chahta kabhi bhi in sab chijon mein fark padhna nahi chahta yah dharti ke ant ke bare mein sochna nahi chahta lekin hamesha in sab chijon ke liye musibaton ke liye taiyar rehta hai

देखिए कोई भी चीज या मुसीबत बताकर नहीं आती अगर धरती का अंत होना होगा तो हो सकता है कल भी हो

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  16
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!