सेक्स करने के लिए किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?...


play
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

1:57

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक दूसरे में डूब जाने का विशेष ध्यान रखें जब तक आप एक दूसरे में डूबने नहीं कब तक का पूरा आनंद ले सकेंगे ना पूरा आनंद ले सकेंगे नामक एक दूसरे को पूरी तरह समर्पित हो जाना उस समय भावनाएं वालों पर होती है इस समय सारा संसार कुमारी पुरोहित हो जाता है और पीपाड़ के लिए एक दूसरे में समाहित हो जाने की भावना होती है उनका समर्पित ना होता है दूसरे का एक दूसरे के प्रति एक दूसरे को आनंद लेना सब कुछ करना ही सबसे बड़ी पूंजी है जब तक दोनों को एक दूसरे को नहीं आए जब तक दोनों एक दूसरे से जी भर कर के भक्ति कर ले अब तक इसका पूरा नहीं आता है उसके कार्य को करने के लिए बस एक दूसरे में डूब जाना होता एक दूसरे को समर्पित एक दूसरे का प्रभाव है यह कोई एक अंकुर क्यों नहीं है यह क्रिया विशेषण और कटुता है आनंद की प्राप्ति करना और आनंद और आनंद की प्राप्ति हुई दोनों एक दूसरे को समर्पित किया का आनंद है प्रक्रिया का चरमोत्कर्ष और यही प्रक्रिया का लक्ष्य भी दूसरों को पकड़ कर सकते आनंदी में सेक्स करें तो यह प्रक्रिया नथिया

ek dusre mein doob jaane ka vishesh dhyan rakhen jab tak aap ek dusre mein dubne nahi kab tak ka pura anand le sakenge na pura anand le sakenge namak ek dusre ko puri tarah samarpit ho jana us samay bhaavnaye walon par hoti hai is samay saara sansar kumari purohit ho jata hai aur pipar ke liye ek dusre mein samahit ho jaane ki bhavna hoti hai unka samarpit na hota hai dusre ka ek dusre ke prati ek dusre ko anand lena sab kuch karna hi sabse BA di punji hai jab tak dono ko ek dusre ko nahi aaye jab tak dono ek dusre se ji bhar kar ke bhakti kar le ab tak iska pura nahi aata hai uske karya ko karne ke liye bus ek dusre mein doob jana hota ek dusre ko samarpit ek dusre ka prabhav hai yah koi ek ankur kyon nahi hai yah kriya visheshan aur katuta hai anand ki prapti karna aur anand aur anand ki prapti hui dono ek dusre ko samarpit kiya ka anand hai prakriya ka charamotkarsh aur yahi prakriya ka lakshya bhi dusro ko pakad kar sakte anandi mein sex kare toh yah prakriya nathiya

एक दूसरे में डूब जाने का विशेष ध्यान रखें जब तक आप एक दूसरे में डूबने नहीं कब तक का पूरा आ

Romanized Version
Likes  73  Dislikes    views  1485
KooApp_icon
WhatsApp_icon
7 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
sex karte samay kin baton ka dhyan rakhna chahie ; sex rakhna ; सेक्स करते समय किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!