क्या किसी तरह से IAS अफ़सर भी दिल्ली की भयंकर प्रदूषण के लिए ज़िम्मेदार हैं?...


user

Vedpal

Social Worker

3:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राजकीय प्रशासन में आईएस की सबसे बड़ी भूमिका होती है क्योंकि वह बीमा के टॉप के नौकरशाह होते हैं जितने भी नेता होते यह तो ज्यादातर अनपढ़ होते अंगूठा टेक होते हैं उनको कुछ भी पता होता तो जो भी प्रशासन होता है कानून भी जो बनाए जाते हैं कारण के जो ड्राफ्ट होते हैं वह भी आईएससी बनाते हैं नेता लोगों तो अंगूठा पिक्चर तो आईएस की भूमिका बहुत बड़ी है क्योंकि सुप्रीम कर सकते हैं और आपका के मूल पर से दिल्ली में प्रदूषण से संबंधित किसी भी सरकार का जो प्रदूषण है वही है क्या दिन भर है बिल्कुल जिम्मेदार हो सकते हो सकते क्या है वो इसलिए कि दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण कमेटी बनी हुई है उसमें भी आइए सोचते हैं डिस्ट्रिक्ट लेवल डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर एडीएम एसडीएम यह सारे होते हैं इनकी ड्यूटी होती है कि यह प्रदूषण के बारे में जितने भी हीरो से बालोतरा फैक्ट्री ज्योति है उनको उन पर बैन लगे उन को छीलकर लेकिन कुछ करती नहीं यह तो थोड़ी बहुत कुछ फॉर्मेलिटी करते हैं फिर लिस्ट वगैरह बनाते हैं तब यह थोड़ी बहुत कारगर रूप से योग इंटरनेट रेगुलर वर्क है यह जो भी ड्यूटी है वह कभी जरूरत ही नहीं पड़ेगी सुप्रीम कोर्ट के इसी होटल तो और चौड़ाई को शिकायत करने जाएगा सुप्रीम कोर्ट को डिपार्टमेंट डिपार्टमेंट क्या उसका दिल का सिसा टूटा भी एक काम है जो हुआ जो ट्रैफिक है जो कल से उन से रिलेटेड जो भी पोलूशन ने उस को कंट्रोल करना तब होता क्या है कि पर प्रदूषण का सपोर्ट करो फॉर एग्जांपल ₹2000 का फाइन है किसी को पकड़ लिया है माल मुझे कमर्शियल व्हीकल को उस पर आप पुलिस वाले समय नावर सेटिंग होकर छूट जाएगा ₹500 छोड़ रहा है दूसरे चलते हैं जो उन संस्थान कागज दे दिया जाता सर्टिफिकेट के आगे लोग कंट्रोल पॉपुलेशन उसमें बीता हुआ करता था पहले एडजस्टमेंट कर देते तो ड्राइवर से पेचकस से तो जी लो जी आप आपका पोलूशन हो गया वह सर्टिफिकेट बना कर देता था 3 महीने के लिए सारी चीजें बाबू क्या बताएं यार जो हार्वेस्टर में छेनी तो कहां का क्या करूंगा इतना सारा रोड पर पोलूशन होता है मिट्टी धूल डस्ट होती है जब ज्यादा कोई दम घुटने लगता है कोई सुप्रीम कोर्ट को डराते हैं फिर कहते हैं हम पानी छोड़ करेंगे अगले करें है क्यों एमसीडी हो चैट कलेक्टर लेवल कवचा पोलूशन डिपार्टमेंट ट्रांसपोर्ट बृजपाल सेक्रेट्री एग्जीक्यूटिव की ड्यूटी से बनती है लेकिन यह करते लूंगा

rajkiya prashasan me ias ki sabse badi bhumika hoti hai kyonki vaah bima ke top ke naukarashah hote hain jitne bhi neta hote yah toh jyadatar anpad hote angootha take hote hain unko kuch bhi pata hota toh jo bhi prashasan hota hai kanoon bhi jo banaye jaate hain karan ke jo draft hote hain vaah bhi ISC banate hain neta logo toh angootha picture toh ias ki bhumika bahut badi hai kyonki supreme kar sakte hain aur aapka ke mul par se delhi me pradushan se sambandhit kisi bhi sarkar ka jo pradushan hai wahi hai kya din bhar hai bilkul zimmedar ho sakte ho sakte kya hai vo isliye ki delhi pradushan niyantran committee bani hui hai usme bhi aaiye sochte hain district level district collector ADM sdm yah saare hote hain inki duty hoti hai ki yah pradushan ke bare me jitne bhi hero se balotra factory jyoti hai unko un par ban lage un ko chilakar lekin kuch karti nahi yah toh thodi bahut kuch formality karte hain phir list vagera banate hain tab yah thodi bahut kargar roop se yog internet regular work hai yah jo bhi duty hai vaah kabhi zarurat hi nahi padegi supreme court ke isi hotel toh aur chaudai ko shikayat karne jaega supreme court ko department department kya uska dil ka sisa tuta bhi ek kaam hai jo hua jo traffic hai jo kal se un se related jo bhi pollution ne us ko control karna tab hota kya hai ki par pradushan ka support karo for example Rs ka fine hai kisi ko pakad liya hai maal mujhe commercial vehicle ko us par aap police waale samay navar setting hokar chhut jaega Rs chhod raha hai dusre chalte hain jo un sansthan kagaz de diya jata certificate ke aage log control population usme bita hua karta tha pehle adjustment kar dete toh driver se pechakas se toh ji lo ji aap aapka pollution ho gaya vaah certificate bana kar deta tha 3 mahine ke liye saari cheezen babu kya bataye yaar jo harvester me cheni toh kaha ka kya karunga itna saara road par pollution hota hai mitti dhul dust hoti hai jab zyada koi dum ghutne lagta hai koi supreme court ko darate hain phir kehte hain hum paani chhod karenge agle kare hai kyon mcd ho chat collector level kavcha pollution department transport brijpal secretary executive ki duty se banti hai lekin yah karte lunga

राजकीय प्रशासन में आईएस की सबसे बड़ी भूमिका होती है क्योंकि वह बीमा के टॉप के नौकरशाह होते

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  369
KooApp_icon
WhatsApp_icon
15 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!