निरव ने 1.77 बिलियन डॉलर की धोखाधड़ी की।बिज़्निस् मेन्स को बैं कौन से इतना बड़ा लोन कैसे मिलता है?...


play
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

1:16

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डिगी बैंक जो है बिजनेसमैन को पैसा इसलिए ज्यादा देती है क्योंकि कोई भी जो भी बिजनेस में है ना उसकी मार्केट वैल्यू होती है ब्रांड वैल्यू होती है और उसकी भी खुद की क्रेडिबिलिटी होती है तो मुझे लगता है अगर बिजनेसमैन कोई बैंक से लोन लेता है तो उसको लोन छोटा-मोटा लोन तो नहीं होता बहुत बड़ा लोन होता है और भेजो इंटरेस्ट होता है वह बहुत ज्यादा होता है तो मुझे लगता है कि बैंक को बहुत ज्यादा प्रॉफिट गेन होता है इसी वजह से बैंक बिजनेसमैन को बहुत ज्यादा पैसे देती है दवाई ऑफ कॉमन मैन को देखने तो कॉमन मैन टू कोई रोने नहीं देता है आपने इतनी ज्यादा तो फॉर्मेलिटी वह बता देते हैं कि यह फॉर्म भी वह फॉर्म ऑफ लव फिर उसमें सबका शेर होते 10:00 पर्सेंट बैंक मैनेजर लेकर 5% जो मीडिएटर होगा वह लेगा तो फिर कैसे चलेगा तो इसी प्रोसीजर में लगभग 10 परसेंट तो जो व्यक्ति आम आदमी है उसका निकल जाता है अभी बचा हुआ उसको मिलता लेकिन बिजनेसमैन इतना ज्यादा लोन लेते हैं तो हर बैंक चाहता है कि वह उन्हीं की बैंक से लोन ले तो मुझे लगता है इसी कारण बैंक ऐसे बिजनेसमैन को लोन देती है लेकिन हां इसमें खतरा भी बहुत रहता है देखने विजय माल्या एक बहुत बड़ा एग्जांपल है यह नरेंद्र मोदी एक बहुत बड़ा एग्जांपल है तो मुझे लगता है कि बैंक को भी सोचना चाहिए कि आप जिस व्यक्ति को लोन दे रहा है कि क्या उसकी क्रेडिट वैल्यू और उसकी मार्केट वैल्यू इतनी है क्या वह इतने लोन के लिए डिस्टर्ब करता है कि नहीं करता है

degi bank jo hai bussinessmen ko paisa isliye zyada deti hai kyonki koi bhi jo bhi business mein hai na uski market value hoti hai brand value hoti hai aur uski bhi khud ki credibility hoti hai toh mujhe lagta hai agar bussinessmen koi bank se loan leta hai toh usko loan chota mota loan toh nahi hota bahut bada loan hota hai aur bhejo interest hota hai vaah bahut zyada hota hai toh mujhe lagta hai ki bank ko bahut zyada profit gain hota hai isi wajah se bank bussinessmen ko bahut zyada paise deti hai dawai of common man ko dekhne toh common man to koi rone nahi deta hai aapne itni zyada toh formality vaah bata dete hain ki yah form bhi vaah form of love phir usme sabka sher hote 10 00 percent bank manager lekar 5 jo midietar hoga vaah lega toh phir kaise chalega toh isi procedure mein lagbhag 10 percent toh jo vyakti aam aadmi hai uska nikal jata hai abhi bacha hua usko milta lekin bussinessmen itna zyada loan lete hain toh har bank chahta hai ki vaah unhi ki bank se loan le toh mujhe lagta hai isi karan bank aise bussinessmen ko loan deti hai lekin haan isme khatra bhi bahut rehta hai dekhne vijay malya ek bahut bada example hai yah narendra modi ek bahut bada example hai toh mujhe lagta hai ki bank ko bhi sochna chahiye ki aap jis vyakti ko loan de raha hai ki kya uski credit value aur uski market value itni hai kya vaah itne loan ke liye disturb karta hai ki nahi karta hai

डिगी बैंक जो है बिजनेसमैन को पैसा इसलिए ज्यादा देती है क्योंकि कोई भी जो भी बिजनेस में है

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  163
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

निरहुआ मोदी थोड़े दिन तक हम इस नाम से इतनी बहुत अनजान दे हम नहीं जानते थे इन भक्ति के बारे में ज्यादा पर अब जब इन्होंने करीबन 11400 करोड रुपए का स्कैन किया है तो उनका लाइमलाइट में आना बहुत आसान सी बात है अब आप का सवाल कि इतने $1 की धोखाधड़ी कि इन्होंने इतना बड़ा लोंगी कैसे मिल गया देखिए लोन तो चाहे आप कितना ही बड़ा ले लीजिए कितने ही करोड़ों रुपए ले ले लीजिए आपके पास ऐसे होने चाहिए यानी कि आपको किस बेसिस पर लोन दिया जाए जो नहीं तो मोदी है यह काफी बड़े बिजनेसमैन ए71 नंबर पर आता है कि इंडिया में पैसों के मामले में इसका मतलब बहुत बड़े बजट मानिए हुए तो इनके पास कितनी प्रॉपर्टी है प्ले डायमंड से जो भी झूल रही है उनके पास ठीक ही बैंक ने लोन दे दिया कि बात ही नहीं देखता कि कितना बड़ा माउंट आबू लिखी देखेंगे कि जो प्रॉपर्टी जिसके मतलब जिसके बेसिस पर इतना बड़ा फोन में ड्राइवर कैसी है या उस प्रॉपर्टी से क्या प्रॉपर्टी है जो भी वह गिरवी रखना चाहिए यानी कि जो भी वह ऐसे के द्वार पर दे रहे हैं उससे उनको रिफंड मिल सकता है कि नहीं मिल सकता है और घोटाला भी तब सामने आया जब आरबीआई ने एक डेडलाइन सेट कर दी हरे कृष्णा इस डांस के लिए कि वह अपना नॉन परफॉर्मिंग एसेट को रिकवर करें और जो करीबन 1 साल से जिन्होंने लोन पूरा नहीं किया उनके बारे में सामने उनको सामने लेकर आए तब निरहुआ मोदी का साथ नाम सामने आया तब पता चला कि उन्होंने करीब 1717 1771 मिलियन डॉलर का घोटाला किया

nirahua modi thode din tak hum is naam se itni bahut anjaan de hum nahi jante the in bhakti ke bare mein zyada par ab jab inhone kariban 11400 crore rupaye ka scan kiya hai toh unka limelight mein aana bahut aasaan si baat hai ab aap ka sawaal ki itne 1 ki dhokhadhari ki inhone itna bada longi kaise mil gaya dekhiye loan toh chahen aap kitna hi bada le lijiye kitne hi karodo rupaye le le lijiye aapke paas aise hone chahiye yani ki aapko kis basis par loan diya jaaye jo nahi toh modi hai yah kaafi bade bussinessmen a number par aata hai ki india mein paison ke mamle mein iska matlab bahut bade budget maniye hue toh inke paas kitni property hai play diamond se jo bhi jhul rahi hai unke paas theek hi bank ne loan de diya ki baat hi nahi dekhta ki kitna bada mount aabu likhi dekhenge ki jo property jiske matlab jiske basis par itna bada phone mein driver kaisi hai ya us property se kya property hai jo bhi vaah girvi rakhna chahiye yani ki jo bhi vaah aise ke dwar par de rahe hain usse unko refund mil sakta hai ki nahi mil sakta hai aur ghotala bhi tab saamne aaya jab RBI ne ek deadline set kar di hare krishna is dance ke liye ki vaah apna non parafarming asset ko recover kare aur jo kariban 1 saal se jinhone loan pura nahi kiya unke bare mein saamne unko saamne lekar aaye tab nirahua modi ka saath naam saamne aaya tab pata chala ki unhone kareeb 1717 1771 million dollar ka ghotala kiya

निरहुआ मोदी थोड़े दिन तक हम इस नाम से इतनी बहुत अनजान दे हम नहीं जानते थे इन भक्ति के बारे

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  142
WhatsApp_icon
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिंदी क्या करें पूरा मामला देखिए तो PNB नेशनल बैंक का नाम के आरोपी और सेलिब्रिटी ज्वेलर्स हीरो मोदी ने जो है 1.77 बैलेंस डाल की धोखाधड़ी की है आप बिजनेसमैन को बैंकों से इतना बड़ा लोन कैसे मिल जाता है गर्म पूरा मामला देखिए तो यह मामले में यह खुद पुष्टि आई गई है कि PNB के पुराने जो बैंक सदस्य थे उन्होंने जो है पासवर्ड दिए थे ताकि ताकि निरहू मोदी को मदद मिल पाए और कहां गानों पर इसी प्रकार से जो है बिजनेसमैन को बैंकों से इतना बड़ा बड़ा लोन जो मिल जाता है सिर्फ यही नहीं अगर हम देखें तो जिस प्रकार के बीमे संसार निरहू मोदी है उनके खुद की ज्वेलरी बुटीक स्टार्ट है जो की बहुत ही चलती है दुकानों का प्रथम इतना फेमस इंसान आपसे पैसे दे पैसे मांगने आता है अपना कैसा तेल लोन लेने आता है तो बैंक की जो है आंख बंद करके पूरी तरीके से विश्वास में उनको पैसे जो है वह दे देती है लोन की रकम जी को दे देते कि नहीं पता होता कि इतने बड़े सेलिब्रिटी जो है आप लोग कैसे थे इतनी बड़ी हस्ती जो है अगर पैसे ले रही है तू पैसे देगी क्योंकि पब्लिक इमेज भी होते हो पब्लिक इमेज को बनाए रखने के लिए पक्का लोग जरूर देखे थे सीबीआई नहीं क्योंकि जिस प्रकार से पढ़े लिखे इंसान हीरो मोदी थे तो यही कारण था कि पेन भी नहीं दे रहे हो ना इतनी बड़ी लोणा उनको दे देते लेकिन उनको नहीं पता था कि यह इतना बड़ा काम हो जाएगा और यह खुद निरहुआ मोदी जो है वह भाग जाएंगे भारत छोड़कर चले जाएंगे या रब तूने नरेगा स्टेटस भी मिल चुका है तो खाना कब पर यह चीज जो है हां बिल्कुल सही नहीं है और यही कारण है कि बड़े बड़े बिजनेसमैन को जरूर है साइको से इतना बड़ा लोन मिलता है

hindi kya kare pura maamla dekhiye toh PNB national bank ka naam ke aaropi aur celebrity jewellers hero modi ne jo hai 1 77 balance daal ki dhokhadhari ki hai aap bussinessmen ko bankon se itna bada loan kaise mil jata hai garam pura maamla dekhiye toh yah mamle mein yah khud pushti I gayi hai ki PNB ke purane jo bank sadasya the unhone jo hai password diye the taki taki nirhoo modi ko madad mil paye aur kahaan gaano par isi prakar se jo hai bussinessmen ko bankon se itna bada bada loan jo mil jata hai sirf yahi nahi agar hum dekhen toh jis prakar ke bime sansar nirhoo modi hai unke khud ki jewellery Boutique start hai jo ki bahut hi chalti hai dukaano ka pratham itna famous insaan aapse paise de paise mangne aata hai apna kaisa tel loan lene aata hai toh bank ki jo hai aankh band karke puri tarike se vishwas mein unko paise jo hai vaah de deti hai loan ki rakam ji ko de dete ki nahi pata hota ki itne bade celebrity jo hai aap log kaise the itni badi hasti jo hai agar paise le rahi hai tu paise degi kyonki public image bhi hote ho public image ko banaye rakhne ke liye pakka log zaroor dekhe the cbi nahi kyonki jis prakar se padhe likhe insaan hero modi the toh yahi karan tha ki pen bhi nahi de rahe ho na itni badi lona unko de dete lekin unko nahi pata tha ki yah itna bada kaam ho jaega aur yah khud nirahua modi jo hai vaah bhag jaenge bharat chhodkar chale jaenge ya rab tune nrega status bhi mil chuka hai toh khana kab par yah cheez jo hai haan bilkul sahi nahi hai aur yahi karan hai ki bade bade bussinessmen ko zaroor hai psycho se itna bada loan milta hai

हिंदी क्या करें पूरा मामला देखिए तो PNB नेशनल बैंक का नाम के आरोपी और सेलिब्रिटी ज्वेलर्स

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
user

Ekta

Researcher and Writer

1:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी आई एम PNB बैंक की जो फ्रॉड की न्यूज़ है उस दिन पहले आई है यह न्यूज़ जनवरी के तीसरे हफ्ते में सबसे पहले सामने हीरो मोदी योगी के डायमंड मर्चेंट है जिन्होंने इतना बड़ा फ्रॉड किया है PNB बैंक से यह सब शुरू हुआ था 2011 में लेटर ऑफ अंडरटेकिंग से 800 करो रुपए का था रितेश पांडे किंग से अगर मोदी जी किसी भी बिजनेस में पैसे नहीं चुका पा रहे हैं तो फिर यह बैंक की जिम्मेदारी है कि वह पैसे को उनकी तरफ से दे तू 2011 में यह 800 करोड़ पर से शुरू होते होते 2017 तक इसकी जो अमाउंट है वह 11400 करोड हो गई थी और यह काम PNB बैंक की पोयम प्राइस इन्होंने लेटर ऑफ अंडरटेकिंग को इशू किया था सबसे पहले उन्होंने किया है तू बिजनेसमैन को बैंकों से इतना बड़ा Alone सबसे पहले तो बिजनेस को आगे बढ़ाने और खास करके जो इंटरनेशनल बिजनेस कर रहे हैं इंपोर्ट एक्सपोर्ट और सारी चीजों को लेकर उन्हें दिया जाता था कि हमारे देश की इकनोमिक कंडीशन और हमारे देश का जो मार्केट है शेयर मार्केट है वह अच्छा हो जिसकी वजह से देश की आर्थिक व्यवस्था विकसित हो सकें इसलिए उन्हें देते हैं पर आज के लोगो के पेट कैपिटल स्टिक मतलब को अपनाने के चक्कर में खुद को ज्यादा देखने के चक्कर में ऐसे फ्रॉड करते हैं जैसा की अन्य मोदी ने किया तो बस आसमान को पैसे देश की उन्नति के लिए मिलते हैं ना कि खुद के फायदे के लिए

ji I M PNB bank ki jo fraud ki news hai us din pehle I hai yah news january ke teesre hafte mein sabse pehle saamne hero modi yogi ke diamond merchant hai jinhone itna bada fraud kiya hai PNB bank se yah sab shuru hua tha 2011 mein letter of undertaking se 800 karo rupaye ka tha ritesh pandey king se agar modi ji kisi bhi business mein paise nahi chuka paa rahe hain toh phir yah bank ki jimmedari hai ki vaah paise ko unki taraf se de tu 2011 mein yah 800 crore par se shuru hote hote 2017 tak iski jo amount hai vaah 11400 crore ho gayi thi aur yah kaam PNB bank ki poem price inhone letter of undertaking ko issue kiya tha sabse pehle unhone kiya hai tu bussinessmen ko bankon se itna bada Alone sabse pehle toh business ko aage badhane aur khaas karke jo international business kar rahe hain import export aur saree chijon ko lekar unhe diya jata tha ki hamare desh ki economic condition aur hamare desh ka jo market hai share market hai vaah accha ho jiski wajah se desh ki aarthik vyavastha viksit ho sake isliye unhe dete hain par aaj ke logo ke pet capital stick matlab ko apnane ke chakkar mein khud ko zyada dekhne ke chakkar mein aise fraud karte hain jaisa ki anya modi ne kiya toh bus aasman ko paise desh ki unnati ke liye milte hain na ki khud ke fayde ke liye

जी आई एम PNB बैंक की जो फ्रॉड की न्यूज़ है उस दिन पहले आई है यह न्यूज़ जनवरी के तीसरे हफ्त

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  159
WhatsApp_icon
user

Ambuj Singh

Media Professional

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नीरव मोदी आजकल काफी सुर्खियों में है वह हीरा व्यापारी हैं और वह सुर्खियों में इसलिए आया क्योंकि उन्होंने 1.77 बिलियन की धोखाधड़ी की और बैंक की अपनी भी कुछ मजबूरियां होती हैं इसलिए बैंक नरेंद्र मोदी को इतनी बड़ी रकम लोन पर दी क्योंकि बहन को अपना भी व्यापार चलाना पड़ता है जोकि इंटरेस्ट का बिजनेस है और एक आम व्यापारी की तरह बैंक भी मजबूर है कि जिनके पास होते हैं प्रॉपर्टी होते हैं या गिरवी रखने के लिए कुछ बड़ा प्रॉपर्टी और यह तो खुद हीरे के व्यापारी हैं तो बैंक के लिए तो सिक्योरिटी चाहिए जो निरहुआ मोदी ने दिया होगा तो इसीलिए लोग जो सवाल कर रहे हैं कि नहीं तो मोदी को बैंक में कैसे लोन दे दिया तो बैंक का एक्शन अंसार उल होता है कि हमें आप अपनी सामान गिरवी दो और हम आपको लोन देंगे तो इस मध्य नजर बैंक ने उन्हें लोन दिया और जहां तक बात रही कि नीरव मोदी कैसे नाम आया सुर्खियों में तो जब सरकार ने यह दिल लाइन सेट किया बैंकों के लिए कि आप सभी डिफॉल्टर्स का नाम जारी करो तो फिर नीरव मोदी का नाम सामने आया वह भी इतने बड़े घोटाले के रूप में और हमारे देश में इससे पहले भी ऐसे ही कहानी हो चुकी है जैसा कि विजय माल्या के रूप में उन्होंने भी SBI से बहुत बड़ा लोन लिया और वह उस लोन को सेटल नहीं कर पाए तो बैंक ने उन्हें डिफाल्टर घोषित किया और वह देश छोड़कर बाहर चले गए लेकिन यह तरीका सही नहीं था क्योंकि

neerav modi aajkal kaafi surkhiyon mein hai vaah heera vyapaari hain aur vaah surkhiyon mein isliye aaya kyonki unhone 1 77 billion ki dhokhadhari ki aur bank ki apni bhi kuch majabooriyan hoti hain isliye bank narendra modi ko itni badi rakam loan par di kyonki behen ko apna bhi vyapar chalana padta hai joki interest ka business hai aur ek aam vyapaari ki tarah bank bhi majboor hai ki jinke paas hote hain property hote hain ya girvi rakhne ke liye kuch bada property aur yah toh khud heere ke vyapaari hain toh bank ke liye toh Security chahiye jo nirahua modi ne diya hoga toh isliye log jo sawaal kar rahe hain ki nahi toh modi ko bank mein kaise loan de diya toh bank ka action answer ul hota hai ki hamein aap apni saamaan girvi do aur hum aapko loan denge toh is madhya nazar bank ne unhe loan diya aur jaha tak baat rahi ki neerav modi kaise naam aaya surkhiyon mein toh jab sarkar ne yah dil line set kiya bankon ke liye ki aap sabhi defaulters ka naam jaari karo toh phir neerav modi ka naam saamne aaya vaah bhi itne bade ghotale ke roop mein aur hamare desh mein isse pehle bhi aise hi kahani ho chuki hai jaisa ki vijay malya ke roop mein unhone bhi SBI se bahut bada loan liya aur vaah us loan ko settle nahi kar paye toh bank ne unhe defaulter ghoshit kiya aur vaah desh chhodkar bahar chale gaye lekin yah tarika sahi nahi tha kyonki

नीरव मोदी आजकल काफी सुर्खियों में है वह हीरा व्यापारी हैं और वह सुर्खियों में इसलिए आया क्

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  226
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!