मेरे दोस्त बोलते है की मैं बहुत ही नेगेटिव पर्सन हूँ।लोग मेरे बारे में ऐसा क्यों सोचते हैं और मैं अपने दिमाग़ में पॉज़िटिव ख़याल कैसे ला सकता हूँ?...


user

Bhim Singh Kasnia

Acupunctrist,Motivational Speaker

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपके दोस्त बोलते हैं कि बहुत ही नेगेटिव पर्सन है आप और लोग आपके बारे में ऐसा क्यों सोचते हैं आप अपने दिमाग में पॉजिटिव ख्याल कैसे ला सकते हैं देखिए सबसे पहला तो ख्याल आपको यही लाना है कि लोग कुछ भी सोचे उस पर ध्यान नहीं देना है क्योंकि लोगों का काम है कहना वह कहते रहेंगे आप अपना काम करिए और पॉजिटिव एटीट्यूड रखिए सकारात्मक सोच रखी है हर चीज को देखने का नजरिया आपका पॉजिटिव होना चाहिए आपको जल्दी ही पॉजिटिव ख्याल आपके अंदर बसे रहने शुरू हो जाएंगे और जल्दी ही आपको बहुत बड़ा बदलाव महसूस होगा धन्यवाद नमस्कार

namaskar aapke dost bolte hain ki bahut hi Negative person hai aap aur log aapke bare me aisa kyon sochte hain aap apne dimag me positive khayal kaise la sakte hain dekhiye sabse pehla toh khayal aapko yahi lana hai ki log kuch bhi soche us par dhyan nahi dena hai kyonki logo ka kaam hai kehna vaah kehte rahenge aap apna kaam kariye aur positive attitude rakhiye sakaratmak soch rakhi hai har cheez ko dekhne ka najariya aapka positive hona chahiye aapko jaldi hi positive khayal aapke andar base rehne shuru ho jaenge aur jaldi hi aapko bahut bada badlav mehsus hoga dhanyavad namaskar

नमस्कार आपके दोस्त बोलते हैं कि बहुत ही नेगेटिव पर्सन है आप और लोग आपके बारे में ऐसा क्यों

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  144
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:26
Play

Likes  231  Dislikes    views  1818
WhatsApp_icon
play
user

Umesh Upaadyay

Life Coach | Motivational Speaker

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए अगर आपके बहुत सारे दोस्त है शाम आने लगे हैं यकीन करने लगे हैं कि आप आने के लिए पसंद है आपको अगर माली से बोल भी देते हैं आपको पता भी है तो इस पर गौर करने की जरूरत है क्यों क्योंकि अगर उन्होंने यह विचार बनाए हैं आपके प्रति तो इसके पीछे कोई ना कोई रीज़न होगा लॉजिक होगा उन्होंने कुछ महसूस किया होगा आपके व्यवहार से आपके सोचने के तरीके 8 तरीके से अंदाज से या फिर आपके काम से तो ऐसे ही करके एक इंसान दूसरे इंसान के बारे में धारणा बनाता है तो वह आप यह देखिए कि मुझे क्या करना है ताकि यह धारणा को हम बदला हम बदल सके सबसे पहले यह कि ऐसा नहीं है कि आपको थॉट चेंज करने की जरूरत है अधिकृत हॉट क्या है और तो मैं थॉट है और एक हॉट न पॉजिटिव होते नागिन नेगेटिव होता है हार्ट का जो कौन सीक्वेंस होता है जो रिजल्ट होता है वह पॉजिटिव या नेगेटिव हो सकता है एग्जांपल मेरे मन में एक चीज का विचार आया अबू विचार अपने आप पर महेश विचार हैं अगर उस विचार का मैं उस पर एक्शन लेता हूं कुछ करता हूं और उसका रिजल्ट या प्रभाव अच्छा नहीं है बुरा है तो वह डेफिनटली आ जाता है कि भाई को नेगेटिव विचारधारा है मुझे उसका आगे नहीं बढ़ना है लेकिन अगर उसी का प्रभाव उस काम को करने का प्रभाव उस बोलने का तप का प्रभाव या परिणाम पॉजिटिव होता है या उसका असर अच्छा होता है तो वह होता है पवन सके तो आपको यह देखना है कि जो भी विचार आपके अंदर आ रहे हैं और उसके आगे आप उस विचार का क्या करते हैं वह कैसा रहा है उसका रिजल्ट कैसा रहा है उसी विषय पर आप यह सोचिए कि नहीं यह सही नहीं है मुझे यह नहीं करना चाहिए या यह सही है यह मुझे करना चाहिए इससे लोगों की आत्मा लोगों को ठेस पहुंचेगी या इससे कोई काम खराब होगा तो वह नहीं करना चाहिए और मेरे इस बोलने या करने से क्या फर्क पड़ता है उस पर ध्यान देना

dekhiye agar aapke bahut saare dost hai shaam aane lage hain yakin karne lage hain ki aap aane ke liye pasand hai aapko agar maali se bol bhi dete hain aapko pata bhi hai toh is par gaur karne ki zarurat hai kyon kyonki agar unhone yah vichar banaye hain aapke prati toh iske peeche koi na koi region hoga logic hoga unhone kuch mehsus kiya hoga aapke vyavhar se aapke sochne ke tarike 8 tarike se andaaz se ya phir aapke kaam se toh aise hi karke ek insaan dusre insaan ke bare mein dharana banata hai toh vaah aap yah dekhiye ki mujhe kya karna hai taki yah dharana ko hum badla hum badal sake sabse pehle yah ki aisa nahi hai ki aapko thought change karne ki zarurat hai adhikrit hot kya hai aur toh main thought hai aur ek hot na positive hote nagin Negative hota hai heart ka jo kaun sequence hota hai jo result hota hai vaah positive ya Negative ho sakta hai example mere man mein ek cheez ka vichar aaya abu vichar apne aap par mahesh vichar hain agar us vichar ka main us par action leta hoon kuch karta hoon aur uska result ya prabhav accha nahi hai bura hai toh vaah definatali aa jata hai ki bhai ko Negative vichardhara hai mujhe uska aage nahi badhana hai lekin agar usi ka prabhav us kaam ko karne ka prabhav us bolne ka tap ka prabhav ya parinam positive hota hai ya uska asar accha hota hai toh vaah hota hai pawan sake toh aapko yah dekhna hai ki jo bhi vichar aapke andar aa rahe hain aur uske aage aap us vichar ka kya karte hain vaah kaisa raha hai uska result kaisa raha hai usi vishay par aap yah sochiye ki nahi yah sahi nahi hai mujhe yah nahi karna chahiye ya yah sahi hai yah mujhe karna chahiye isse logo ki aatma logo ko thes pahunchegi ya isse koi kaam kharab hoga toh vaah nahi karna chahiye aur mere is bolne ya karne se kya fark padta hai us par dhyan dena

देखिए अगर आपके बहुत सारे दोस्त है शाम आने लगे हैं यकीन करने लगे हैं कि आप आने के लिए पसंद

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  353
WhatsApp_icon
user

Bharti Sharma

Love.. Beauty Tips..Life Tips

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आपके दोस्त बोलते हैं कि आप ही नेगेटिव पर्सन हो और आप पॉजिटिव क्या लाना चाहते अपने मायने तो आप किस तरीके से लाए उसके लिए पहले आपको अपने मन में जिस भी चीज का डर है वह निकाल दो और जिस भी चीज का इज्जत है वह भी दूर कर दो क्योंकि जो एक्चुअली में आपके साथ अब हो रहा है वह हो रहा है उसके लिए यह मत सोचो कि इन फ्यूचर की वापस से होगा अब आगे क्या होगा ऐसे क्या करना है वह क्या करना है ऐसे क्यों कैसे यह दिमाग में मतलब जिस सिचुएशन में हो आप फिलहाल आप उससे क्वेश्चन में पूरी तरीके से बाहर आ जाओ यह सोचो यह सिचुएशन है ही नहीं अगर वह सिचुएशन आप हर चीज में अब आप बोलते हो क्या पॉजिटिव ख्याल कहते हैं अपने दिमाग में तो पॉजिटिव लाने के लिए आपको बिल्कुल फ्री माइंड रहना पड़ेगा जो भी कंडीशन है चाहे वह कौन सी योर फाइनेंशियल रिलेशन वाली हो या फिर कोई भी सक्सेस के लिए वह किसी भी चीज के लिए उसके लिए आप माइंड को फ्रेश करके यह सोचो कि जो हुआ वह हो गया अब वह दोबारा नहीं करना है जो गलती की वह की उससे आपने क्या सबक सीखा है वह आपको सोचना है अगर कोई आपके लिए गलत बोल रहे हो उसने कैसे गलत बोल दिया यह चीज की बीवी नेगेटिविटी आती है कि वह ऐसे बोला तो मेरे फीचर में ऐसे होगा लोग मेरे बारे में भी सोचेंगे तो उस चीज के बारे में मत सोचो लेकिन लोग तो सोचेंगे ही और लोग बोलेंगे भी बोलेंगे ही क्योंकि उनका काम है बोलने का आप अच्छे बनो बुरे बनो वह दोनों आपकी पढ़ाई भी करेंगे बुराई भी करेंगे तो उन लोगों के बारे में मत सोचो यह सोचो लोग सोच रहे हैं सोचने दो जोड़ दो कर रहा है करने दो लेकिन अपने आप में बिल्कुल फ्री होकर फ्री माइंड ओके अपनी लाइफ को एंजॉय करो हर मूवमेंट को

agar aapke dost bolte hain ki aap hi Negative person ho aur aap positive kya lana chahte apne maayne toh aap kis tarike se laye uske liye pehle aapko apne man mein jis bhi cheez ka dar hai vaah nikaal do aur jis bhi cheez ka izzat hai vaah bhi dur kar do kyonki jo actually mein aapke saath ab ho raha hai vaah ho raha hai uske liye yah mat socho ki in future ki wapas se hoga ab aage kya hoga aise kya karna hai vaah kya karna hai aise kyon kaise yah dimag mein matlab jis situation mein ho aap filhal aap usse question mein puri tarike se bahar aa jao yah socho yah situation hai hi nahi agar vaah situation aap har cheez mein ab aap bolte ho kya positive khayal kehte hain apne dimag mein toh positive lane ke liye aapko bilkul free mind rehna padega jo bhi condition hai chahen vaah kaun si your financial relation wali ho ya phir koi bhi success ke liye vaah kisi bhi cheez ke liye uske liye aap mind ko fresh karke yah socho ki jo hua vaah ho gaya ab vaah dobara nahi karna hai jo galti ki vaah ki usse aapne kya sabak seekha hai vaah aapko sochna hai agar koi aapke liye galat bol rahe ho usne kaise galat bol diya yah cheez ki biwi negativity aati hai ki vaah aise bola toh mere feature mein aise hoga log mere bare mein bhi sochenge toh us cheez ke bare mein mat socho lekin log toh sochenge hi aur log bolenge bhi bolenge hi kyonki unka kaam hai bolne ka aap acche bano bure bano vaah dono aapki padhai bhi karenge burayi bhi karenge toh un logo ke bare mein mat socho yah socho log soch rahe hain sochne do jod do kar raha hai karne do lekin apne aap mein bilkul free hokar free mind ok apni life ko enjoy karo har movement ko

अगर आपके दोस्त बोलते हैं कि आप ही नेगेटिव पर्सन हो और आप पॉजिटिव क्या लाना चाहते अपने मायन

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  363
WhatsApp_icon
user

विकास सिंह

दिल से भारतीय

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आप अपने माइंड में पॉजिटिविटी रखना चाहते हैं तो हमेशा पॉजिटिव सोचो इसमें अब दिन का शुरुआत पॉजिटिव काम से करें और अपने डिपो जे7 योगा करें अपने ध्यान को खुश रखें आलू कुछ अच्छे से बातचीत करें तो आपके दिमाग में हमेशा पॉलिटिकल पॉजिटिविटी चलता है अगर आपके दिमाग में कोई भी नेगेटिव थी उसे बिल्कुल ना आने दे तभी आपका दिमाग पढ़ पाएगा

agar aap apne mind mein positivity rakhna chahte hain toh hamesha positive socho isme ab din ka shuruat positive kaam se kare aur apne depot je yoga kare apne dhyan ko khush rakhen aalu kuch acche se batchit kare toh aapke dimag mein hamesha political positivity chalta hai agar aapke dimag mein koi bhi Negative thi use bilkul na aane de tabhi aapka dimag padh payega

अगर आप अपने माइंड में पॉजिटिविटी रखना चाहते हैं तो हमेशा पॉजिटिव सोचो इसमें अब दिन का शुरु

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  106
WhatsApp_icon
user

Ridhima

Mass Communications Student

1:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पॉजिटिव माइंड के लिए बहुत सारे तरीके हैं जैसे एक तो यह कि आप एक पोस्टर माहौल बनाए रखें अपने पसंदीदा गाने सुनना आप बुक पढ़ना गेम खेलना लोगों से मिलना भी आपको एक पोस्टर माहौल देगी जो आपको लगता है कि जो इंसान जो आप को पॉजिटिव एनर्जी दे रहा है उससे आप ज्यादा फ्रेंच बनाइए फिर एक ही प्रॉब्लम का सलूशन ढूंढने में एक्सपोर्ट बने अगर प्रॉब्लम आती है तो उसका सलूशन भी आपके पास ही रहेगा उस वजह को ढूंढने जिससे यह प्रॉब्लम निकलेगी निकलेगी तो आप उस वजह को ढूंढिए और वैसे भी उसको सुरेश नहीं करिए आपको सलूशन जरूर मिलेगा फिर क्या गुस्सा एक आपको यह पता ही नहीं गुस्सा एक बहुत ही नेगेटिव चीज है तो उसको दूर ही रखें गुस्सा को आप जितना चाहे दूर रखें आप जितना गुस्सा करेंगे तो उतना ही आपको नेगेटिव फील्ड अपनी और आपको एक बात करेगा तो आप गुस्सा ज्यादा मत करिए तो उसका ग्राफ गुस्सा नहीं करनी तो आप अच्छी तरह से मेडिटेशन कर सकते हैं जिससे आपका माइंड पॉजिटिव होएगा फिर एक ही प्रॉब्लम स्कोर आप अपनी ऑफिस में ठीक समझे अगर आपके पास कोई प्रॉब्लम है तो उसको प्रॉब्लम की तरह मत और देखें बल्कि उसको एक ऑपर्चुनिटी देखे कि हां यह नया ऑप्शन है जिसको मेरे को क्लियर करना है आपकी कृपा प्रॉब्लम्स को प्रॉब्लम की तरह सोचेंगे आप इतना ज्यादा स्पेस लेंगे और वैसे आपका नेगेटिव माइंड हो जाएगा फिर है क्या अपने आप पर कंट्रोल रखें दिखए जैसा भी ट्यूशन हो अगर आप एटीट्यूड को आप अपना डगमगाने देंगे तो वैसे ही आपका मूड चेंज हो जाएगा और फिर वैसे आपका नेगेटिव माइंड हो जाएगा तब इतना एटीट्यूड अच्छा रखे उतना का पॉजिटिव माइंड होएगा फिर आप अपने गोल पर ध्यान दें आप अपने गोल को पानी का विश्वास रखिए और हार्ड वर्क पर अपना भरोसा रखिए कि जिससे आप निराशा ज्यादा खाएंगे उतना आपका नेगेटिव माइंड होगा

positive mind ke liye bahut saare tarike hain jaise ek toh yah ki aap ek poster maahaul banaye rakhen apne pasandida gaane sunana aap book padhna game khelna logo se milna bhi aapko ek poster maahaul degi jo aapko lagta hai ki jo insaan jo aap ko positive energy de raha hai usse aap zyada french banaiye phir ek hi problem ka salution dhundhne mein export bane agar problem aati hai toh uska salution bhi aapke paas hi rahega us wajah ko dhundhne jisse yah problem nikalegi nikalegi toh aap us wajah ko dhundhiye aur waise bhi usko suresh nahi kariye aapko salution zaroor milega phir kya gussa ek aapko yah pata hi nahi gussa ek bahut hi Negative cheez hai toh usko dur hi rakhen gussa ko aap jitna chahen dur rakhen aap jitna gussa karenge toh utana hi aapko Negative field apni aur aapko ek baat karega toh aap gussa zyada mat kariye toh uska graph gussa nahi karni toh aap achi tarah se meditation kar sakte hain jisse aapka mind positive hoega phir ek hi problem score aap apni office mein theek samjhe agar aapke paas koi problem hai toh usko problem ki tarah mat aur dekhen balki usko ek opportunity dekhe ki haan yah naya option hai jisko mere ko clear karna hai aapki kripa problems ko problem ki tarah sochenge aap itna zyada space lenge aur waise aapka Negative mind ho jaega phir hai kya apne aap par control rakhen dikhye jaisa bhi tuition ho agar aap attitude ko aap apna dagamagane denge toh waise hi aapka mood change ho jaega aur phir waise aapka Negative mind ho jaega tab itna attitude accha rakhe utana ka positive mind hoega phir aap apne gol par dhyan de aap apne gol ko paani ka vishwas rakhiye aur hard work par apna bharosa rakhiye ki jisse aap nirasha zyada khayenge utana aapka Negative mind hoga

पॉजिटिव माइंड के लिए बहुत सारे तरीके हैं जैसे एक तो यह कि आप एक पोस्टर माहौल बनाए रखें अपन

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  161
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!