हमारे दैनिक जीवन में योग का क्या महत्व है?...


user

Manmohan Bhutada

Founder & Director - Yog Prayog

1:24
Play

Likes  285  Dislikes    views  2495
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Pratima Tripathi

Yog Guru & Beauty Expert.

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हाय हरिओम कितने चौपाटी इंदौर से हमारे दैनिक जीवन में योग का जितना आपके लिए सांस लेने का महत्व नहीं आपका यह लाइफ में योग का महत्व हमारा हार्ट स्वस्थ रहेगा तो आप स्वस्थ रहेंगे जब आप स्वस्थ रहेंगे तो आपका देश स्वस्थ रहेगा आपके घरवाले स्वस्थ रहेंगे आपको देख कर खुशी हुई उनको तो आपकी लाइफ में बहुत ज्यादा योग कब थे जो आज किए प्रेस्टेशन भरी दुनिया में टेंशन टेंशन जॉब दौड़ लगी हुई है रेस लगी हुए एक-दूसरे को पीछे करने की किसी के पास कोई भी टाइम नहीं है ज्यादा टाइम होता तो बस चैट मोबाइल यह है वह मतलब मोबाइल पर करते रहते तो वह टाइम आप निकाल कर और अपना अपना ध्यान अपने शरीर के लिए बहुत मौत

hi hariom kitne chaupati indore se hamare dainik jeevan me yog ka jitna aapke liye saans lene ka mahatva nahi aapka yah life me yog ka mahatva hamara heart swasth rahega toh aap swasth rahenge jab aap swasth rahenge toh aapka desh swasth rahega aapke gharwale swasth rahenge aapko dekh kar khushi hui unko toh aapki life me bahut zyada yog kab the jo aaj kiye presteshan bhari duniya me tension tension job daudh lagi hui hai race lagi hue ek dusre ko peeche karne ki kisi ke paas koi bhi time nahi hai zyada time hota toh bus chat mobile yah hai vaah matlab mobile par karte rehte toh vaah time aap nikaal kar aur apna apna dhyan apne sharir ke liye bahut maut

हाय हरिओम कितने चौपाटी इंदौर से हमारे दैनिक जीवन में योग का जितना आपके लिए सांस लेने का मह

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  141
WhatsApp_icon
user

Pardeep

Naturopath

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दैनिक जीवन में हमारे खाने का महत्व क्या है जैसे हम खाते हैं जैसे बाइक में पेट्रोल के अनुप्रयोग का ही हमारे जीवन बहुत बड़ा महत्व जिसे हम मोबाइल फोन को चार्ज करते हैं उसमें बैटरी का महत्व क्या उसको चलाती है पूरे मोबाइल फोन को स्वाति योग हमारे शरीर को ऊर्जा देता है और वह हमारे शरीर को पूरा दिन एक्टिवेटर चलाती है फिर अपने आप को रिचार्ज कीजिए ताकि चलता रहे और इधर बूस्ट एनर्जी बूस्ट का काम करती है योग है और अपना शुद्ध रखिए विचार अपने सब्र रखिए बिल्कुल बहुत अच्छे प्रणाम आपको आएंगे गारंटी खत्म कर सकता हूं करके देखिए अधिक जानकारी के लिए हमसे संपर्क करें

dainik jeevan me hamare khane ka mahatva kya hai jaise hum khate hain jaise bike me petrol ke anuprayog ka hi hamare jeevan bahut bada mahatva jise hum mobile phone ko charge karte hain usme battery ka mahatva kya usko chalati hai poore mobile phone ko swati yog hamare sharir ko urja deta hai aur vaah hamare sharir ko pura din ektivetar chalati hai phir apne aap ko recharge kijiye taki chalta rahe aur idhar boost energy boost ka kaam karti hai yog hai aur apna shudh rakhiye vichar apne sabra rakhiye bilkul bahut acche pranam aapko aayenge guarantee khatam kar sakta hoon karke dekhiye adhik jaankari ke liye humse sampark kare

दैनिक जीवन में हमारे खाने का महत्व क्या है जैसे हम खाते हैं जैसे बाइक में पेट्रोल के अनुप्

Romanized Version
Likes  49  Dislikes    views  775
WhatsApp_icon
user

Dr.Kamaldeep Tyagi

Yoga Instructor

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ओके तू दैनिक जीवन में जो है कुत्तों की जैसे कि हम सारे काम शरीर के माध्यम से डरते हैं यह तो हम सभी जानते हैं तो शरीर स्वस्थ रहेगा तो हम सारे काम कर पाएंगे और स्वस्थ रहने के लिए योग जो है वह सबसे बड़ी सकते आज के समय में चीज है जैसा भी आप देख रहे हैं कि पुराणों की वजह से लॉक डाउन हो रखा है जिन वगैरह सब बंद है अब एकमात्र साधन जो है वह योग है जिसको हम कर सकते हैं और योग ऐसी जगह कहीं पर भी कभी भी किया जा सकता है अब तो भाई चार की जगह होगी वहां पर भी योग आराम से बैठ कर कर लेंगे 1848 का बेडरूम में तो भी हम उसमें कर लेंगे बाहर पार्क में भी कर सकते हैं खुले में करते तो योग तो दैनिक जीवन में बहुत ही ज्यादा उपयोगी है

ok tu dainik jeevan me jo hai kutto ki jaise ki hum saare kaam sharir ke madhyam se darte hain yah toh hum sabhi jante hain toh sharir swasth rahega toh hum saare kaam kar payenge aur swasth rehne ke liye yog jo hai vaah sabse badi sakte aaj ke samay me cheez hai jaisa bhi aap dekh rahe hain ki purano ki wajah se lock down ho rakha hai jin vagera sab band hai ab ekmatra sadhan jo hai vaah yog hai jisko hum kar sakte hain aur yog aisi jagah kahin par bhi kabhi bhi kiya ja sakta hai ab toh bhai char ki jagah hogi wahan par bhi yog aaram se baith kar kar lenge 1848 ka bedoom me toh bhi hum usme kar lenge bahar park me bhi kar sakte hain khule me karte toh yog toh dainik jeevan me bahut hi zyada upyogi hai

ओके तू दैनिक जीवन में जो है कुत्तों की जैसे कि हम सारे काम शरीर के माध्यम से डरते हैं यह त

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  101
WhatsApp_icon
user
1:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे दैनिक जीवन में योग का क्या महत्व दिखे हमारे दैनिक जीवन में योग का काफी महत्व रखता है क्योंकि जो को ना केवल हम एक चेहरा पी के रूप में अपनाते हैं जो केक जीवन जीने का सही ली के रूप में हम अपनाते हैं जिस वजह से जो वह को एक दर्शनशास्त्र भी कही जाती है और हर दर्शनशास्त्र का मनसा होती है यह उद्देश्य होती है कि समाज के कल्याण का तो यह जो का सबसे बड़ा डैम है लिखे जैसे कि आप अपने जीवन में कोई श्रृंखला को जॉब कर रहे हैं और आपको कोई भी कार्य करते हैं वह कार्यों का प्रतीक रूप से नियमित रूप से अगर कार्य करते हैं तो वह भी एक जगह है आप अगर आपने जीवन में कुछ अच्छा ही डालते हैं जो करते हैं तो वह भी जो का है अपने शरीर के साथ अपने मन को जोड़ना मंकी सतात्मक और अथवा के साथ परमात्मा का जोड़ना सारा चीज को जो भी कहा जाता है कि दोनों तरफ से जैसे कि मैंने आपको बताया कि जीवन धारण करने का एक सहेली होता है दूसरी होता है आप जो खैराती जैसे अलग-अलग बीमारियों से आप छुटकारा पाने के लिए कोई शारीरिक बीमारी हो या मानसिक बीमारियों से छुटकारा पाने के लिए आप जो तेरा पिक्चर और योग चिकित्सा का सहारा लेते हैं जिस बाबा सन करना पड़ता है आपको और प्रणाम करते हैं मेडिटेशन करते हैं जरूरत पड़ने साहब जोगी क्रिया भी करते हैं यह सारा चीज आपको करना पड़ता है 23:00 बजे से जो का काफी महत्व है दोनों तरफ से धन्यवाद

hamare dainik jeevan me yog ka kya mahatva dikhe hamare dainik jeevan me yog ka kaafi mahatva rakhta hai kyonki jo ko na keval hum ek chehra p ke roop me apanate hain jo cake jeevan jeene ka sahi li ke roop me hum apanate hain jis wajah se jo vaah ko ek darshanashastra bhi kahi jaati hai aur har darshanashastra ka manasa hoti hai yah uddeshya hoti hai ki samaj ke kalyan ka toh yah jo ka sabse bada dam hai likhe jaise ki aap apne jeevan me koi shrinkhala ko job kar rahe hain aur aapko koi bhi karya karte hain vaah karyo ka prateek roop se niyamit roop se agar karya karte hain toh vaah bhi ek jagah hai aap agar aapne jeevan me kuch accha hi daalte hain jo karte hain toh vaah bhi jo ka hai apne sharir ke saath apne man ko jodna monkey satatmak aur athva ke saath paramatma ka jodna saara cheez ko jo bhi kaha jata hai ki dono taraf se jaise ki maine aapko bataya ki jeevan dharan karne ka ek saheli hota hai dusri hota hai aap jo khairati jaise alag alag bimariyon se aap chhutkara paane ke liye koi sharirik bimari ho ya mansik bimariyon se chhutkara paane ke liye aap jo tera picture aur yog chikitsa ka sahara lete hain jis baba san karna padta hai aapko aur pranam karte hain meditation karte hain zarurat padane saheb jogi kriya bhi karte hain yah saara cheez aapko karna padta hai 23 00 baje se jo ka kaafi mahatva hai dono taraf se dhanyavad

हमारे दैनिक जीवन में योग का क्या महत्व दिखे हमारे दैनिक जीवन में योग का काफी महत्व रखता है

Romanized Version
Likes  150  Dislikes    views  2901
WhatsApp_icon
user

Ajay Tiwari

Yoga Master

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे दैनिक जीवन में योग का बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान है एक जीवन जीने की कला है योग की शुरुआत हठयोग की शुरुआत भगवान शिव से हुआ शिव ने पार्वती जी को योग के बारे में युवराज से बता रहे थे जब तो पार्वती जी को निद्रा लग गई थी जब वह निद्रा में थे वहां पर मछली सुन रही थी और जब उनका ध्यान खुला भगवान शंकर का तो दिखेगी मछली को अगले जन्म में ऋषि मत्स्य चंद्रनाथ हुए और उनके चित्र सांभर तथा ऋषि और उन्होंने लोगों को घूम घूम कर के सारे लोगों को बताया जो गृहस्थ जीवन में है वह अपने लाइफ को कैसे बेहतर कर सकते और इस तरह से योग आम आदमी के जीवन में आए धन्यवाद

hamare dainik jeevan me yog ka bahut hi mahatvapurna sthan hai ek jeevan jeene ki kala hai yog ki shuruat hathyog ki shuruat bhagwan shiv se hua shiv ne parvati ji ko yog ke bare me yuvraj se bata rahe the jab toh parvati ji ko nidra lag gayi thi jab vaah nidra me the wahan par machli sun rahi thi aur jab unka dhyan khula bhagwan shankar ka toh dikhegi machli ko agle janam me rishi matsya chandranath hue aur unke chitra saambhar tatha rishi aur unhone logo ko ghum ghum kar ke saare logo ko bataya jo grihasth jeevan me hai vaah apne life ko kaise behtar kar sakte aur is tarah se yog aam aadmi ke jeevan me aaye dhanyavad

हमारे दैनिक जीवन में योग का बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान है एक जीवन जीने की कला है योग की शुरु

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  275
WhatsApp_icon
user

Anshu Saxena

Business Manager

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे दैनिक जीवन में योग का महत्व बहुत है यदि आप योग करते हैं याद करना चाहते हैं और शुरू नहीं किया तो जरूर करिए योग क्या है मैं इसको इस तरह से आप को समझाना चाहता हूं कि आप आपकी बाइक आपकी गाड़ी आपकी कोई भी ऐसा वाहन कब चलता है जब उसमें आप ऑयल उस की सर्विसिंग कराते ऑयल उसमें डालते हैं पेट्रोल उसमें डालते हैं तो आपके काम आता है हमारे यह जो शरीर है वह एक मशीन है इस मशीन को चलाने के लिए योग का इतना ही महत्व है कि हमारा शरीर सुचारु रुप से स्वस्थ रूप से कार्य करने में सक्षम रहे इसलिए योग जो है आपके जीवन में जुड़ा रहना चाहिए हमेशा हर उम्र में किसका मैच है

hamare dainik jeevan me yog ka mahatva bahut hai yadi aap yog karte hain yaad karna chahte hain aur shuru nahi kiya toh zaroor kariye yog kya hai main isko is tarah se aap ko samajhana chahta hoon ki aap aapki bike aapki gaadi aapki koi bhi aisa vaahan kab chalta hai jab usme aap oil us ki servicing karate oil usme daalte hain petrol usme daalte hain toh aapke kaam aata hai hamare yah jo sharir hai vaah ek machine hai is machine ko chalane ke liye yog ka itna hi mahatva hai ki hamara sharir suruchi roop se swasth roop se karya karne me saksham rahe isliye yog jo hai aapke jeevan me juda rehna chahiye hamesha har umar me kiska match hai

हमारे दैनिक जीवन में योग का महत्व बहुत है यदि आप योग करते हैं याद करना चाहते हैं और शुरू न

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  93
WhatsApp_icon
user

Balveer

Yoga Instructor

0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दीदी क्या है व्यक्ति ने दैनिक जीवन में आम आदमी तक पढ़ा होया ना पढ़ाओ शिक्षित हो जाए तो सारी दुनिया में शिकायत कंप्लेंट इतनी कंप्लेंट करते हैं लोग तो जब हम योग करते हैं तो हमारी जो शिकायतें हैं वह शिकायतें दूर हो जाती हैं कैसे हमारा मन शांत रह नहीं लग जाता है वह ठीक है ना मैं ठीक ठीक दिखाई देती हैं हम लोग जर्मनी समाज है पूरी दुनिया का अंत होता है योग करने से व्यक्ति बुद्धि से सोचना शुरु करता है और जैसे ही कोई देखता है तो उसको ठीक साफ दिखाई देती और बुद्धिजीवी व्यक्ति ले ले ले लेता है तो हमेशा सफल होते हैं अच्छे होते हैं

didi kya hai vyakti ne dainik jeevan me aam aadmi tak padha hoya na padhao shikshit ho jaaye toh saari duniya me shikayat complaint itni complaint karte hain log toh jab hum yog karte hain toh hamari jo shikayaten hain vaah shikayaten dur ho jaati hain kaise hamara man shaant reh nahi lag jata hai vaah theek hai na main theek theek dikhai deti hain hum log germany samaj hai puri duniya ka ant hota hai yog karne se vyakti buddhi se sochna shuru karta hai aur jaise hi koi dekhta hai toh usko theek saaf dikhai deti aur buddhijeevi vyakti le le le leta hai toh hamesha safal hote hain acche hote hain

दीदी क्या है व्यक्ति ने दैनिक जीवन में आम आदमी तक पढ़ा होया ना पढ़ाओ शिक्षित हो जाए तो सार

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  119
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी दैनिक जीवन में योग का क्या महत्व है यह दैनिक जीवन में योग का बहुत बड़ा महत्व है क्योंकि योग के माध्यम से शरीर का शरीर को बैलेंस कर सकते हैं लोग जानते हैं हमारे शरीर में सिंपैथेटिक नर्वस सिस्टम और प्यारा सिंथेटिक ना सिस्टम है जिसका इंबैलेंस हो जाने पर काफी हमारे शरीर में धीरे-धीरे रोग आने लगते हैं लेकिन योगाभ्यास से हम सिंपैथेटिक और पैरा सिंपैथेटिक नर्वस सिस्टम को बैलेंस कर सकते हैं जिससे कि फ्यूचर में किसी भी तरह का हमारे शरीर में रोग नहीं आ पाता है तो और योग का महत्व हमारे दैनिक जीवन पर जरूर है और सभी को योग प्रैक्टिस करना चाहिए ताकि हर इंसान स्वस्थ रहें नमस्कार

ji dainik jeevan me yog ka kya mahatva hai yah dainik jeevan me yog ka bahut bada mahatva hai kyonki yog ke madhyam se sharir ka sharir ko balance kar sakte hain log jante hain hamare sharir me simpaithetik nervous system aur pyara synthetic na system hai jiska imbailens ho jaane par kaafi hamare sharir me dhire dhire rog aane lagte hain lekin yogabhayas se hum simpaithetik aur paira simpaithetik nervous system ko balance kar sakte hain jisse ki future me kisi bhi tarah ka hamare sharir me rog nahi aa pata hai toh aur yog ka mahatva hamare dainik jeevan par zaroor hai aur sabhi ko yog practice karna chahiye taki har insaan swasth rahein namaskar

जी दैनिक जीवन में योग का क्या महत्व है यह दैनिक जीवन में योग का बहुत बड़ा महत्व है क्योंकि

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  118
WhatsApp_icon
user

Giriraj Singh Tomar

Yoga Teacher, Motivator & Counselor

3:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे दैनिक जीवन में योग का क्या महत्व है तो मित्र दैनिक जीवन में हमारा हम सुबह से उठते हैं ना आते हैं होते हैं उसके बाद भोजन करते हैं ईश्वर पूजा करते हैं फिर हम काम के लिए नित्य क्रिया करते हैं और काम के लिए अपने दिन भर ड्यूटी ऑफिस वगैरह हम लोग निकल जाते हैं फिर शाम को वापस आते हैं और भोजन करके और रात को सो जाते हैं तो यह तो दिन भर हमारी दैनिक जीवन हो गया तो इस दैनिक जीवन में योग के आठ अंग बताए गए हैं यम नियम आसन प्राणायाम प्रत्याहार धारणा ध्यान समाधि तो यह आठ जो नियम है इसमें यम नियम आपको हम जो हैं आप को सामाजिक तौर पर आपको अच्छा लगता है सामाजिक तौर पर यह नियम हमारे समाज से बंधन जोड़ते हैं और हमें नैतिकता की ओर लेकर जाते हैं हम जो बताए गए हैं वह है अहिंसा सत्य अस्तेय अपरिग्रह और ब्रह्मचर्य इसके बाद से नियम बताए गए जो हमारे खुद के ऊपर पालन हमको करने होते हैं जैसे सोच संतोष तप स्वाध्याय ईश्वर परिणी धान तो यह इनके माध्यम से हम अपने दैनिक जीवन को एक उच्च कोटि का जीवन बना सकते हैं फिर आसन और प्राणायाम आता है आसनों के द्वारा हम शरीर को स्थिरता देते हैं आरोग्यता देते हैं और हल्का पंच शरीर के अंदर लाते हैं प्राणायाम के द्वारा हम एक हमारे जो शरीर में एंडोक्राइन सिस्टम में अंतर स्त्रावी ग्रंथियां हैं और कोशिकाएं हैं उनको संपूर्ण शरीर में हम ऑक्सीजन की मात्रा के साथ-साथ आवा में जो दूसरे तत्व होते हैं वह भी हमारे पूरे शरीर में पहुंचते हैं और हमें स्वस्थ रहने के लिए बना है हम काफी लाभ करता है हमें शारीरिक मानसिक और आध्यात्मिक रूप से स्वस्थ रखता है प्राणायाम उसका प्रत्याहार आता है प्रत्याहार यानी कि आज मैं यह शॉपिंग करूं मैं आज यह खाऊंगा तो हम जो हमारी पांचों इंद्रियां हैं ज्ञानेंद्रियां हैं और उनका ज्ञानेंद्रियों जैसे यहां नाक अपनी चमड़ी और सुनना स्वाद लेना यह सब हमारी ज्ञानेंद्रियां है तो यह अपने विषय में भाग रही है जीत चाहती कि मैं अच्छा खा लूं आंखें चाहती अच्छा देख लूं तो यह सब जो भाव है इनको इन इंद्रियों को रोकना इन को वश में करना इनको मन के अनुसार नहीं हम जो चाहते हैं आत्मा के अनुसार इनको रखना हमारे बल में हमारे वश में या जाए वह प्रत्याहार है तो मतलब इंद्रियों को अंदर की ओर मोर नाना की बाहर की ओर तो यह प्रत्याहार में आता है प्रत्याहार के बाद आता है धारणा तो किसी एक विषय पर अपने चित्र को बार-बार ले जाना उसको धारणा धारणा कहते हैं धारणा जब मजबूत होती है तो हम ध्यान की अवस्था में जाते हैं एक तार का चलना उस वस्तु पर ध्यान के लाता है और फिर आगे समाधि आती है समाधि बहुत ही आगे का विषय है हमें यम नियम आसन प्राणायाम ताकि रुकना है और अगर आप आगे जा सकते हैं तो जाइए बहुत-बहुत धन्यवाद

hamare dainik jeevan me yog ka kya mahatva hai toh mitra dainik jeevan me hamara hum subah se uthte hain na aate hain hote hain uske baad bhojan karte hain ishwar puja karte hain phir hum kaam ke liye nitya kriya karte hain aur kaam ke liye apne din bhar duty office vagera hum log nikal jaate hain phir shaam ko wapas aate hain aur bhojan karke aur raat ko so jaate hain toh yah toh din bhar hamari dainik jeevan ho gaya toh is dainik jeevan me yog ke aath ang bataye gaye hain yum niyam aasan pranayaam pratyahar dharana dhyan samadhi toh yah aath jo niyam hai isme yum niyam aapko hum jo hain aap ko samajik taur par aapko accha lagta hai samajik taur par yah niyam hamare samaj se bandhan jodte hain aur hamein naitikta ki aur lekar jaate hain hum jo bataye gaye hain vaah hai ahinsa satya astey aparigrah aur brahmacharya iske baad se niyam bataye gaye jo hamare khud ke upar palan hamko karne hote hain jaise soch santosh tap swaadhyaay ishwar parini dhaan toh yah inke madhyam se hum apne dainik jeevan ko ek ucch koti ka jeevan bana sakte hain phir aasan aur pranayaam aata hai aasanon ke dwara hum sharir ko sthirta dete hain arogyata dete hain aur halka punch sharir ke andar laate hain pranayaam ke dwara hum ek hamare jo sharir me endocrine system me antar stravi granthiyan hain aur koshikayen hain unko sampurna sharir me hum oxygen ki matra ke saath saath ava me jo dusre tatva hote hain vaah bhi hamare poore sharir me pahunchate hain aur hamein swasth rehne ke liye bana hai hum kaafi labh karta hai hamein sharirik mansik aur aadhyatmik roop se swasth rakhta hai pranayaam uska pratyahar aata hai pratyahar yani ki aaj main yah shopping karu main aaj yah khaunga toh hum jo hamari panchon indriya hain gyanendriyan hain aur unka gyanendriyon jaise yahan nak apni chamadi aur sunana swaad lena yah sab hamari gyanendriyan hai toh yah apne vishay me bhag rahi hai jeet chahti ki main accha kha loon aankhen chahti accha dekh loon toh yah sab jo bhav hai inko in indriyon ko rokna in ko vash me karna inko man ke anusaar nahi hum jo chahte hain aatma ke anusaar inko rakhna hamare bal me hamare vash me ya jaaye vaah pratyahar hai toh matlab indriyon ko andar ki aur mor nana ki bahar ki aur toh yah pratyahar me aata hai pratyahar ke baad aata hai dharana toh kisi ek vishay par apne chitra ko baar baar le jana usko dharana dharana kehte hain dharana jab majboot hoti hai toh hum dhyan ki avastha me jaate hain ek taar ka chalna us vastu par dhyan ke lata hai aur phir aage samadhi aati hai samadhi bahut hi aage ka vishay hai hamein yum niyam aasan pranayaam taki rukna hai aur agar aap aage ja sakte hain toh jaiye bahut bahut dhanyavad

हमारे दैनिक जीवन में योग का क्या महत्व है तो मित्र दैनिक जीवन में हमारा हम सुबह से उठते है

Romanized Version
Likes  59  Dislikes    views  1347
WhatsApp_icon
user

Bhupender Singh

Yoga Instructor

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिग जॉब तो आपका हर तरीके से विकास करता है आपका शरीर के चलते मन के चलते और आध्यात्मिक अटल पर योग करने का बेनिफिट है क्या था जिसके भावना होगी जो भावना करेगा उसको वैसा ही फल मिलेगा

big job toh aapka har tarike se vikas karta hai aapka sharir ke chalte man ke chalte aur aadhyatmik atal par yog karne ka benefit hai kya tha jiske bhavna hogi jo bhavna karega usko waisa hi fal milega

बिग जॉब तो आपका हर तरीके से विकास करता है आपका शरीर के चलते मन के चलते और आध्यात्मिक अटल प

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  90
WhatsApp_icon
user

योगाचार्य S.S.Rawat🕉🔱🚩🙏

Lecturer Of Yog And Alternative Therapy

0:34
Play

Likes  66  Dislikes    views  1639
WhatsApp_icon
play
user

Dr. R. K. Gupta

Yoga & Nature Care Health center

2:00

Likes  68  Dislikes    views  785
WhatsApp_icon
user

Gyanchand Soni

Yoga Instructor.

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे दैनिक जीवन में योग का बहुत बड़ा महत्व हम योग करके शरीर को स्वस्थ हल्का सुशीला बना सकते ऑडियो के साथ-साथ उन्हें संतुलित आहार चाहिए हमें एकाग्रता बढ़ती है जिससे हमारे कार्य सुचारू रूप से होने लगते हैं हम एक अनुशासित जीवन जीते हुए अपने चरम लक्ष्य मोक्ष को प्राप्त कर सकते हैं धन्यवाद आपका दिन शुभ रहे

hamare dainik jeevan me yog ka bahut bada mahatva hum yog karke sharir ko swasth halka susheela bana sakte audio ke saath saath unhe santulit aahaar chahiye hamein ekagrata badhti hai jisse hamare karya sucharu roop se hone lagte hain hum ek anushasit jeevan jeete hue apne charam lakshya moksha ko prapt kar sakte hain dhanyavad aapka din shubha rahe

हमारे दैनिक जीवन में योग का बहुत बड़ा महत्व हम योग करके शरीर को स्वस्थ हल्का सुशीला बना सक

Romanized Version
Likes  170  Dislikes    views  1465
WhatsApp_icon
user

Dr.Babita Singh

Yoga Master Trainer & Healer, Founder Director, Kaivalyam:The Yoga Academy

1:53
Play

Likes  104  Dislikes    views  895
WhatsApp_icon
user

Rony

Psychologist

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे जीवन में योग का बहुत महत्व है कि योग से हमें शांति मिलती है योग से हमें ज्ञान प्राप्त होता है जो हम किताबों में नहीं कर सकते यह एक ऐसा ज्ञान है जो हमें कोई शिकायत नहीं चाहता कि हमारे अंदर से उत्पन्न होता है यह समझ जो ज्ञान की बुद्धि की जो ज्योति है वह हमारे अंदर से ही जलती है तो इसलिए हमें ज्ञान योग से बहुत सारे लाभ है हमारे जीवन में इसलिए हमें योग करते रहना चाहिए थैंक यू

hamare jeevan me yog ka bahut mahatva hai ki yog se hamein shanti milti hai yog se hamein gyaan prapt hota hai jo hum kitabon me nahi kar sakte yah ek aisa gyaan hai jo hamein koi shikayat nahi chahta ki hamare andar se utpann hota hai yah samajh jo gyaan ki buddhi ki jo jyoti hai vaah hamare andar se hi jalti hai toh isliye hamein gyaan yog se bahut saare labh hai hamare jeevan me isliye hamein yog karte rehna chahiye thank you

हमारे जीवन में योग का बहुत महत्व है कि योग से हमें शांति मिलती है योग से हमें ज्ञान प्राप्

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  93
WhatsApp_icon
user

Shailesh Kumar Dubey

Yoga Teacher , Retired Government Employee

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

है हमारे दैनिक जीवन में योग का क्या महत्व है इसका उत्तर है हमारे दैनिक जीवन में योग का बहुत महत्व है हम जब नियमित योग करेंगे तो हम पूर्ण रूप से स्वस्थ रहेंगे स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क रहता है तो हमारा सब कार्य विचार पूर्वक संपन्न होगा जब हम नियमित योग करेंगे तो हमें किसी भी प्रकार की कोई बीमारी नहीं होगी हमारी पेट में कोई अच्छी कोई बीमारी नहीं होगी गैस नहीं बनेगा शुगर ब्लड प्रेशर की बीमारी नहीं होगी नियमित योग करने से हमारा फिटनेस बहुत ही अच्छा रहेगा हम न दुबले होंगे आना बहुत मोटे होंगे इस प्रकार दैनिक जीवन में योग का बहुत महत्व है जब आप नियमित योग करेंगे तो आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा बढ़ेगी नकारात्मक सोच तो आपकी है व धीरे-धीरे समाप्त हो जाएगी आप सकारात्मक सोच से बढ़ेगी आपकी आप यदि अब गुस्सा आता है तो वह धीरे-धीरे समाप्त हो जाएगा कम हो जाएगा आपको कोई छोटी या बड़ी बीमारी है वह धीरे-धीरे ठीक हो जाएगी कुछ ऐसी कमियां हैं जिसको हम जानते नहीं हैं जिसको हम नहीं जानते वह कमी भी दूर हो जाएगी इस प्रकार योग का हमारे दैनिक जीवन में बहुत ही अधिक महत्व है

hai hamare dainik jeevan me yog ka kya mahatva hai iska uttar hai hamare dainik jeevan me yog ka bahut mahatva hai hum jab niyamit yog karenge toh hum purn roop se swasth rahenge swasth sharir me swasth mastishk rehta hai toh hamara sab karya vichar purvak sampann hoga jab hum niyamit yog karenge toh hamein kisi bhi prakar ki koi bimari nahi hogi hamari pet me koi achi koi bimari nahi hogi gas nahi banega sugar blood pressure ki bimari nahi hogi niyamit yog karne se hamara fitness bahut hi accha rahega hum na duble honge aana bahut mote honge is prakar dainik jeevan me yog ka bahut mahatva hai jab aap niyamit yog karenge toh aapke andar sakaratmak urja badhegi nakaratmak soch toh aapki hai va dhire dhire samapt ho jayegi aap sakaratmak soch se badhegi aapki aap yadi ab gussa aata hai toh vaah dhire dhire samapt ho jaega kam ho jaega aapko koi choti ya badi bimari hai vaah dhire dhire theek ho jayegi kuch aisi kamiyan hain jisko hum jante nahi hain jisko hum nahi jante vaah kami bhi dur ho jayegi is prakar yog ka hamare dainik jeevan me bahut hi adhik mahatva hai

है हमारे दैनिक जीवन में योग का क्या महत्व है इसका उत्तर है हमारे दैनिक जीवन में योग का बहु

Romanized Version
Likes  67  Dislikes    views  1761
WhatsApp_icon
user

अशोक गुप्ता

Founder of Vision Commercial Services.

1:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

योग मूल रूप से हमारे भीतर की अवस्था से जुड़ा हुआ है जो हम अपने को अलग और शेष को अपने से अलग अनुभव करते हैं तब हम योग की स्थिति से हटे हुए हैं अर्थात उद्योग में हैं जिसके कारण हमें जीवन में भय चिंता इत्यादि का अनुभव होता है जब हम अपने भीतर सब के साथ जुड़ा हुआ करते हैं तो वह युग की अवस्था है तब हमें अपने भीतर एक सुकून शांति एक संभल का अनुभव होता है कि सब मेरे साथ है हम सब के साथ हैं इसलिए हमारे जीवन में युवक का सबसे अधिक महत्व है जीवन में सुख में रहने के लिए शांत रहने के लिए सुकून हो करने के लिए योग ही एकमात्र उपाय है हम वह चाहे संगीत के माध्यम से चाहे भक्ति के माध्यम से मैत्री के माध्यम से किसी भी माध्यम से जो अपने भीतर हम एक जुड़ाव की स्थिति में होते हैं तो हमारा जीवन बेहतर होता है धन्यवाद

yog mul roop se hamare bheetar ki avastha se juda hua hai jo hum apne ko alag aur shesh ko apne se alag anubhav karte hain tab hum yog ki sthiti se hate hue hain arthat udyog me hain jiske karan hamein jeevan me bhay chinta ityadi ka anubhav hota hai jab hum apne bheetar sab ke saath juda hua karte hain toh vaah yug ki avastha hai tab hamein apne bheetar ek sukoon shanti ek sambhal ka anubhav hota hai ki sab mere saath hai hum sab ke saath hain isliye hamare jeevan me yuvak ka sabse adhik mahatva hai jeevan me sukh me rehne ke liye shaant rehne ke liye sukoon ho karne ke liye yog hi ekmatra upay hai hum vaah chahen sangeet ke madhyam se chahen bhakti ke madhyam se maitri ke madhyam se kisi bhi madhyam se jo apne bheetar hum ek judav ki sthiti me hote hain toh hamara jeevan behtar hota hai dhanyavad

योग मूल रूप से हमारे भीतर की अवस्था से जुड़ा हुआ है जो हम अपने को अलग और शेष को अपने से अल

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  98
WhatsApp_icon
user

Swami Umesh Yogi

Peace-Guru (Global Peace Education)

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दैनिक जीवन में योग का महत्व ऐसे है समझना चाहिए कि हम योग के माध्यम से अपने जीवन को दैनिक जीवन को अत्यंत जीवन जी सकते हैं बहुत अच्छे से जीते हैं वरना जीवन निकल जा रहा है 1 दिन से दूसरे दिन आए थे और हम उसको अच्छे से जी नहीं पाते इसका तात्पर्य है कि हमारे प्रोडक्टिविटी क्रिएटिविटी इन बॉल बेसन कंसंट्रेशन सब कुछ इफेक्ट होता है और बैटर होता है

dainik jeevan me yog ka mahatva aise hai samajhna chahiye ki hum yog ke madhyam se apne jeevan ko dainik jeevan ko atyant jeevan ji sakte hain bahut acche se jeete hain varna jeevan nikal ja raha hai 1 din se dusre din aaye the aur hum usko acche se ji nahi paate iska tatparya hai ki hamare productivity creativity in ball besan kansantreshan sab kuch effect hota hai aur better hota hai

दैनिक जीवन में योग का महत्व ऐसे है समझना चाहिए कि हम योग के माध्यम से अपने जीवन को दैनिक ज

Romanized Version
Likes  381  Dislikes    views  3286
WhatsApp_icon
user

Devendra Pal Gangwar

योग प्रशिक्षक

1:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ताकि हम लोग जानते हैं कि लोग अपनी पता है आपने आपको कैसे सूत्र के आज के भागदौड़ के जीवन में हम अपने आप को कैसे समय दें ठीक है हमारे पास समय नहीं है तो हम यू के माध्यम से अपने आप को कम से कम 15 से 20 मिनट में पार्टी देते हैं देते हैं तो हम अपने आप को सत्र करते हैं जैसा कि आप जानते हैं कि हमारे घर पर नियमित मेहमान आते हैं उनको माता घंटा एक घंटा पोपट लिमिटेड आधा घंटा बैंक तुम अपने आप को सोच रहे सकती हो को बंद कर दो कर्नाटक पंचायत का एक टिकट और हम आप लोगों से आशा करते हैं कि हमें चक्रव्यू जांच करें थैंक यू

taki hum log jante hain ki log apni pata hai aapne aapko kaise sutra ke aaj ke bhagdaud ke jeevan mein hum apne aap ko kaise samay de theek hai hamare paas samay nahi hai toh hum you ke madhyam se apne aap ko kam se kam 15 se 20 minute mein party dete hain dete hain toh hum apne aap ko satra karte hain jaisa ki aap jante hain ki hamare ghar par niyamit mehmaan aate hain unko mata ghanta ek ghanta popat limited aadha ghanta bank tum apne aap ko soch rahe sakti ho ko band kar do karnataka panchayat ka ek ticket aur hum aap logo se asha karte hain ki hamein chakravyu jaanch kare thank you

ताकि हम लोग जानते हैं कि लोग अपनी पता है आपने आपको कैसे सूत्र के आज के भागदौड़ के जीवन में

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  133
WhatsApp_icon
user

Mohit Choudhary

Yoga Instructor

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आजकल की कंप्यूटराइज जिंदगी में हमारी जो लाइफस्टाइल है वह भी मशीनों पर आधारित हो चुका है और जितना यूजर मशीनों का कर रहे हैं उसी के कारण हमारा शरीर अव्यवस्थित होता चला जा रहा है कि हमारे बॉडी के इंटरनल जितने भी ऑर्गन हैं वह काम अच्छे से नहीं कर पा रहे हैं और हमारा दैनिक जो दिनचर्या होती है वह बिल्कुल बिगड़ती चली जा रही है यदि हम आउटडोर गेम नहीं करते हैं हम कोई और एक्टिविटी नहीं करते हम घर में कोई काम नहीं करते हैं और यदि हम इसलिए हम लोग करते हैं तो हमारे शरीर की सभी मांसपेशियां काम करती हैं और रक्त संचार वायु संचार और ब्लड संचार हमारे शरीर में सुचारू रूप से चलता है तो जिससे कि हमारा शरीर हमेशा ही स्वस्थ रहता है

aajkal ki computerise zindagi me hamari jo lifestyle hai vaah bhi machino par aadharit ho chuka hai aur jitna user machino ka kar rahe hain usi ke karan hamara sharir avyavasthit hota chala ja raha hai ki hamare body ke internal jitne bhi organ hain vaah kaam acche se nahi kar paa rahe hain aur hamara dainik jo dincharya hoti hai vaah bilkul bigadati chali ja rahi hai yadi hum outdoor game nahi karte hain hum koi aur activity nahi karte hum ghar me koi kaam nahi karte hain aur yadi hum isliye hum log karte hain toh hamare sharir ki sabhi manspeshiya kaam karti hain aur rakt sanchar vayu sanchar aur blood sanchar hamare sharir me sucharu roop se chalta hai toh jisse ki hamara sharir hamesha hi swasth rehta hai

आजकल की कंप्यूटराइज जिंदगी में हमारी जो लाइफस्टाइल है वह भी मशीनों पर आधारित हो चुका है और

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  91
WhatsApp_icon
user

Pawan

Financial Planer

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे दैनिक जीवन में योग का महत्व में जितना हमारे दिन जीवन में खाने का महत्व है लेकिन हम लोग इसको ध्यान नहीं रखते थे कि हमें योगा करनी चाहिए योगा करना बहुत ज्यादा जरूरी है जितना जरूरी खाना है उतनी ज्यादा जरूरी है योगा करना जिसे हम फिट रहें और अपना भी अपने और अपने परिवार का ध्यान अच्छे से रख सकें

hamare dainik jeevan me yog ka mahatva me jitna hamare din jeevan me khane ka mahatva hai lekin hum log isko dhyan nahi rakhte the ki hamein yoga karni chahiye yoga karna bahut zyada zaroori hai jitna zaroori khana hai utani zyada zaroori hai yoga karna jise hum fit rahein aur apna bhi apne aur apne parivar ka dhyan acche se rakh sake

हमारे दैनिक जीवन में योग का महत्व में जितना हमारे दिन जीवन में खाने का महत्व है लेकिन हम ल

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  110
WhatsApp_icon
user

Amit Mor

Yoga Expert

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं बिल्कुल मैं आपको डिटेल में बता रहे थे हमारे लिए बहुत काम आता है जिसे मेडिटेशन हो गया मैं जो भी हमारी फोकस को बढ़ाते हैं जो हम पढ़ते हैं उसको पासवर्ड आते हैं और जल्दी-जल्दी आज होता है और दूसरी बात होगी हमारी बॉडी हमारी बॉडी को हमें मतलब कोई भी दूर रहता है अगर हम डेली प्रैक्टिस करते हैं डिजिटल दूर रखता है और यह भी तो उसने हमारा फोकस बड़ा करके चलूंगी में ही रंग में बैठे रहते हैं टाइम 8 घंटे की गोपियां 10 घंटे की जॉब होती है तो बैक पेन होगी अपनी होने लगता है योगा कर रहे हैं क्या कर रहे हैं कि हमारा गुस्सा भी शांत रहता है काम करने की क्षमता बढ़ती है और हमारा वक्त भी नहीं होता तो हमें हल्दी रखता है योग लाइव साल अच्छी रहती है दिमाग शांत रहता है काम हो क्या मैं अपना अच्छे से काम कर सकते हैं

main bilkul main aapko detail mein bata rahe the hamare liye bahut kaam aata hai jise meditation ho gaya main jo bhi hamari focus ko badhate hain jo hum padhte hain usko password aate hain aur jaldi jaldi aaj hota hai aur dusri baat hogi hamari body hamari body ko hamein matlab koi bhi dur rehta hai agar hum daily practice karte hain digital dur rakhta hai aur yah bhi toh usne hamara focus bada karke chalungi mein hi rang mein baithe rehte hain time 8 ghante ki gopiyaan 10 ghante ki job hoti hai toh back pen hogi apni hone lagta hai yoga kar rahe kya kar rahe hain ki hamara gussa bhi shaant rehta hai kaam karne ki kshamta badhti hai aur hamara waqt bhi nahi hota toh hamein haldi rakhta hai yog live saal achi rehti hai dimag shaant rehta hai kaam ho kya main apna acche se kaam kar sakte hain

मैं बिल्कुल मैं आपको डिटेल में बता रहे थे हमारे लिए बहुत काम आता है जिसे मेडिटेशन हो गया म

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  96
WhatsApp_icon
play
user

Narendar Gupta

प्राकृतिक योगाथैरिपिस्ट एवं योगा शिक्षक,फीजीयोथैरीपिस्ट

0:41

Likes  207  Dislikes    views  2367
WhatsApp_icon
user

Anupam Kumar

Yoga Instructor

0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दैनिक जीवन बीमा कि हमारा शरीर स्वस्थ रहेगा खानपान आदि के स्थान पर मिलावट करने जाएंगे

dainik jeevan bima ki hamara sharir swasth rahega khanpan aadi ke sthan par milavat karne jaenge

दैनिक जीवन बीमा कि हमारा शरीर स्वस्थ रहेगा खानपान आदि के स्थान पर मिलावट करने जाएंगे

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  123
WhatsApp_icon
user

Yasmeen Bano

Yoga Instructor at Divine Yoga Center | Experience of 3 years | Gwalior

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन में योग का बहुत ज्यादा महत्व होता क्या है योग जो है मानसिक और शारीरिक दोनों ही पर काम करता है योगासन करते कर जब हम योगासन करते हैं तो हमारा मन स्थिर और शांत हो जाता है और हमारी जो योग है आजकल की जो स्ट्रेस मेरी दुनिया है उसे हमें निजात मिल जाता है डब्ल्यूएचओ के अनुसार स्वास्थ्य की स्वास्थ्य की परिभाषा है सारी बातें हम अपने योग के द्वारा हम आपने जो इस प्रेस है हम उसे दूर करते हैं योग के द्वारा हम अपने शारीरिक मानसिक जो भी स्थिति है उसे भी सुधार सकते हैं आजकल के वर्तमान समय में बहुत सारी दिस इज रिलेटेड प्रॉब्लम भी हो रही है जिसे हम योग के द्वारा सही कर सकते हैं

jeevan mein yog ka bahut zyada mahatva hota kya hai yog jo hai mansik aur sharirik dono hi par kaam karta hai yogasan karte kar jab hum yogasan karte hain toh hamara man sthir aur shaant ho jata hai aur hamari jo yog hai aajkal ki jo stress meri duniya hai use hamein nijat mil jata hai WHO ke anusaar swasthya ki swasthya ki paribhasha hai saree batein hum apne yog ke dwara hum aapne jo is press hai hum use dur karte hain yog ke dwara hum apne sharirik mansik jo bhi sthiti hai use bhi sudhaar sakte hain aajkal ke vartaman samay mein bahut saree this is related problem bhi ho rahi hai jise hum yog ke dwara sahi kar sakte hain

जीवन में योग का बहुत ज्यादा महत्व होता क्या है योग जो है मानसिक और शारीरिक दोनों ही पर काम

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  279
WhatsApp_icon
user

Dr Hemant Yogi

Yoga and Naturopathy

0:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे दैनिक जीवन में योग का बहुत ही महत्व है जिससे हमारे शरीर को रोजाना भोजन की आवश्यकता होती है ऐसे ही हमारे शरीर को उसको बचाने के लिए और अपने को स्वस्थ प्रसन्न चित्त आनंदित रखने के लिए अपनी वर्किंग पावर बढ़ाने के लिए जो अपना एक महत्व अलग रखता है दूर ऋषि-मुनियों द्वारा प्रभावित है तनाव से दूर रखता है और हमारे जीवन में अगर हम तरकी करना चाहते हैं कि वर्किंग पावर बढ़ाना चाहते हैं और स्वस्थ रहना चाहते हैं तो हमारे हिसाब से योग प्राइम मेडिटेशन योग निद्रा ही सबसे बड़ा विकल्प है धन्यवाद

hamare dainik jeevan mein yog ka bahut hi mahatva hai jisse hamare sharir ko rojana bhojan ki avashyakta hoti hai aise hi hamare sharir ko usko bachane ke liye aur apne ko swasth prasann chitt anandit rakhne ke liye apni working power badhane ke liye jo apna ek mahatva alag rakhta hai dur rishi muniyon dwara prabhavit hai tanaav se dur rakhta hai aur hamare jeevan mein agar hum taraki karna chahte hain ki working power badhana chahte hain aur swasth rehna chahte hain toh hamare hisab se yog prime meditation yog nidra hi sabse bada vikalp hai dhanyavad

हमारे दैनिक जीवन में योग का बहुत ही महत्व है जिससे हमारे शरीर को रोजाना भोजन की आवश्यकता ह

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  147
WhatsApp_icon
user

Diksha Sukhariya

Founder & MD , Beingayogic Follow me on fb/Insta/youtube/TikTok for videos -beingayogic

1:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसमें योगा का उतना ही महत्व है जितना जिंदगी का खुद में महत्व है क्योंकि अगर एक ऐसी चीज है जो आपका दिमाग आपकी आत्मा और आपका शरीर तीनों को एक साथ लेकर आता है अगर आप जिम करने जाते हैं तो वहां पर खाली आप जिन पर बॉडी बनाते हैं या वर्क आउट करते हैं लेकिन जब आप योगा करते हैं तो आप अपने आपको बैलेंस करते हैं मंथली अपनी आत्मा से और अपने शरीर को योगा का मतलब यह है जो आपकी जिंदगी पूरी बालन करता है तो योगा मेरे हिसाब से लाइफ में बहुत ही इंपॉर्टेंट पार्ट है आपकी जिंदगी का राज के मॉडर्न लाइफ में जहां जहां तक देखा जाए जैसे आज ऑफिस में काम करते हैं और जो नॉर्मल घर में औरतें हैं काम करते हैं अगर वह लोग कुछ और नहीं कर सकते तो उन्हें योगा मेडिटेशन करना चाहिए जिससे उनकी लाइफ बाली बने जिससे वह खुद भी फ्रेश रखें और अपने पास वालों को भी उतना ही खुश

isme yoga ka utana hi mahatva hai jitna zindagi ka khud mein mahatva hai kyonki agar ek aisi cheez hai jo aapka dimag aapki aatma aur aapka sharir tatvo ko ek saath lekar aata hai agar aap gym karne jaate hain toh wahan par khaali aap jin par body banate hain ya work out karte hain lekin jab aap yoga karte hain toh aap apne aapko balance karte hain monthly apni aatma se aur apne sharir ko yoga ka matlab yah hai jo aapki zindagi puri balan karta hai toh yoga mere hisab se life mein bahut hi important part hai aapki zindagi ka raj ke modern life mein jaha jahan tak dekha jaaye jaise aaj office mein kaam karte hain aur jo normal ghar mein auraten hain kaam karte hain agar vaah log kuch aur nahi kar sakte toh unhe yoga meditation karna chahiye jisse unki life baali bane jisse vaah khud bhi fresh rakhen aur apne paas walon ko bhi utana hi khush

इसमें योगा का उतना ही महत्व है जितना जिंदगी का खुद में महत्व है क्योंकि अगर एक ऐसी चीज है

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  386
WhatsApp_icon
user

International Yogi

spiritual Guru (Life Coach)

0:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे दैनिक जीवन में योग का बहुत महत्व है अगर हम प्रतिदिन योग करते हैं तो हमारा दिन अच्छे से व्यतीत होगा और हम अपने सभी कार्यों को अच्छे कौन स्टेशन के साथ कर पाएंगे

hamare dainik jeevan mein yog ka bahut mahatva hai agar hum pratidin yog karte hain toh hamara din acche se vyatit hoga aur hum apne sabhi karyo ko acche kaun station ke saath kar payenge

हमारे दैनिक जीवन में योग का बहुत महत्व है अगर हम प्रतिदिन योग करते हैं तो हमारा दिन अच्छे

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  140
WhatsApp_icon
user

PANKAJ SHARMA

Yoga Instructor

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बस इतना समझ लीजिए कि आपके दैनिक जीवन में योग के साथ चलने पर हर वह चीज जो आप चाहते हैं बाहर का वातावरण आपके अनुकूल हो जाएगा साथ ही आप आनंद में रहेंगे

bus itna samajh lijiye ki aapke dainik jeevan mein yog ke saath chalne par har vaah cheez jo aap chahte hain bahar ka vatavaran aapke anukul ho jaega saath hi aap anand mein rahenge

बस इतना समझ लीजिए कि आपके दैनिक जीवन में योग के साथ चलने पर हर वह चीज जो आप चाहते हैं बाहर

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  329
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!