एक बाल रोग विशेषज्ञ के रूप में, क्या आपने कभी किसी मरीज को खो दिया है?...


play
user

Kesharram

Teacher

1:42

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक बाल रोग विशेषक के रूप में क्या आपने कभी किसी मरीज को खो दिया है हां दोस्तों क्योंकि अक्सर कभी न कभी ऐसी घटना हमारे जीवन में करती रहती है और उसको हमने काफी प्रयास करने के बाद में भी हम बताने में असमर्थ रहता हूं और तब मेरे को यह कभी-कभी तो ऐसी घटना हो जाती है इस कार्य से कि यार मैं इस कार्य को क्यों करूं किसी के में काम ना आ सकूं और फिर दोस्तों मेरे को मोटिवेशन मिलता है कि नहीं नहीं आप हां हो सकता है कभी-कभी व्यक्ति असफल भी हो सकता है लेकिन ऐसे फल देगा बेबी है कि आप अपने कर्तव्य से विमुख हो जाओ वहां से अपना ध्यान हटाकर के अन्य आप जो कार्य करने लग जाओ इससे कुछ नहीं होने वाला है आप अनुभव के साथ में आगे बढ़ी है अपनी सोच और अपने विचार सकारात्मक रखते हुए आप आगे बढ़ते चले जाओगे तो आप एक दिन सफल भी हो जाओगे अगर हवाएं अपना रुख मोड़ लेती है तो क्या वह चलना बंद थोड़ी कर देती है नहीं करती है ना क्योंकि यह हो सकती है कभी उत्तर से हवाएं चलने लगती है तो कभी दक्षिण से चलती तो है ना उसी का हवा है इसलिए आप प्रयास करते रहिए सफलता आपके जीवन में कभी न कभी आती है लेकिन उसके बाद में आपको सफलता भी मिलती है इसलिए आशा करता हूं बेबी द्वारा देगी डालकर चाहोगे

ek baal rog visheshak ke roop mein kya aapne kabhi kisi marij ko kho diya hai haan doston kyonki aksar kabhi na kabhi aisi ghatna hamare jeevan mein karti rehti hai aur usko humne kaafi prayas karne ke baad mein bhi hum batane mein asamarth rehta hoon aur tab mere ko yah kabhi kabhi toh aisi ghatna ho jaati hai is karya se ki yaar main is karya ko kyon karu kisi ke mein kaam na aa saku aur phir doston mere ko motivation milta hai ki nahi nahi aap haan ho sakta hai kabhi kabhi vyakti asafal bhi ho sakta hai lekin aise fal dega baby hai ki aap apne kartavya se vimukh ho jao wahan se apna dhyan hatakar ke anya aap jo karya karne lag jao isse kuch nahi hone vala hai aap anubhav ke saath mein aage badhi hai apni soch aur apne vichar sakaratmak rakhte hue aap aage badhte chale jaoge toh aap ek din safal bhi ho jaoge agar hawaye apna rukh mod leti hai toh kya vaah chalna band thodi kar deti hai nahi karti hai na kyonki yah ho sakti hai kabhi uttar se hawaye chalne lagti hai toh kabhi dakshin se chalti toh hai na usi ka hawa hai isliye aap prayas karte rahiye safalta aapke jeevan mein kabhi na kabhi aati hai lekin uske baad mein aapko safalta bhi milti hai isliye asha karta hoon baby dwara degi dalkar chahoge

एक बाल रोग विशेषक के रूप में क्या आपने कभी किसी मरीज को खो दिया है हां दोस्तों क्योंकि अक्

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  361
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!