क्या भारत में कभी भ्रष्टाचार ख़तम होगा?...


play
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

4:26

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां मेरे मित्र पर आशावादी हूं इसलिए मैं विश्वास रखता हूं कि कोई ना कोई तो माई का लाल इस देश में जो बाल लाल बहादुर शास्त्री जी जैसा पैदा होगा या जो इस देश में नेतृत्व के लिए रिश्ता सब को समाप्त करने के लिए कानून सख्त बनाएंगे और भ्रष्टाचारियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए मैं आता हूं प्रशासन से क्योंकि हमारे कोर्ट कोर्ट के सिस्टम है कर्मचारी क्या करता है कि कर्मचारी या कोई भी भ्रष्टाचारी आदमी भ्रष्टाचार करता है मन को हटाले करता है उत्तर कोर्ट चला जाता है क्योंकि वकील वकील उधर बैठे रहते हैं वकीलों के पास तो धंधा ही है कुछ तो ऐसे ही वकील मिल जाएंगे जो अपने व्यवसाय से इतने गिरे हुए हैं कि जो के सीन या तो वे अपने पूरे पढ़ने वालों के लिए तैयार मर्डर करने वालों के लेते हैं या भ्रष्टाचारी ओके लेते हैं यह चोरी गबन करने वाले लोगों के लिए ते हैं उनके पास धंधा ही है क्योंकि दर्शन दें महाशय यदि उनके केस लेना बंद कर दें ऐसे भ्रष्टों को जो सामाजिक बहिष्कार बहिष्कार हो जाएगा वकील केस लड़ने करेंगे नहीं तो ऐसे प्रश्नों को तो सजा कड़ी से कड़ी होनी चाहिए किसी कर्मचारी को आप ने रिश्वत लेते हुए पकड़ा red-handed क्लासिक तो सीबीआई बहुत मेहनत करती है एसीबी वाले बहुत मेहनत करते हैं तब उसे रेड हैंडेड पकड़ते हैं फिर वह स्पष्ट करके जुड़ जाता प्रभाव हो जाता है तो बताइए बॉस डिपार्टमेंट में पूछा डिपार्टमेंट्स लिए कुख्यात है कि वहां दिल्ली सस्पेंड होते हैं और दो चार महीने बाद आराम से मौज करते हैं पर दो-चार मैंने बात पर लग जाते हैं तुम सोचो इन भ्रष्टाचारियों को जब तक सजा नहीं होगी हस्बैंड को सजा नहीं होती है कर्मचारी के लिए टर्मिनेट होना चाहिए या पुरुष पतले तूफान आ गया मिस एक बार वार्निंग दी जाए दूसरी बार अगर आपको जीवन में भी कभी मिल गया तो आपको टर्मिनेटर सारा पैसा आपका जब तक दूसरी बात कि ₹100 गबन किया है या ₹100 की रिश्वत ली है तो सहजादपुर वसूल किए हैं अब आप सोचो मैंने और आपने 500 करोड़ मेरे सुरक्षित हो गए मेरे बच्चे खा रहे हैं महेश कर रहे हैं मैं 500 साल से बहुत से पांच से नहीं 7:30 से करो रुपए वसूल किया जाए 500 करोड़ तो कर वह है ही लेकिन ढाई चकरोड आपकी भी संपत्ति से बचाव किया जाएगा ऐसे 10 पांच लोग जब तक रोड पर नहीं आएंगे बच्चे रोड पर नहीं आएंगे अब तक लोगों को ऐसे लोगों पर कोई अंकुश नहीं लगेगा और जब तक कोई उदाहरण नहीं होंगे तब तक ऐसे भ्रष्ट लोग रक्तबीज की तरह से दो से चार चार से 16 और 16 से 64 इस प्रकार बढ़ते ही जाएंगे बढ़ते ही जाएंगे जिस दिन को सख्त सजाएं मिलना चालू हो जाएंगे अरे तुम सोचो इस प्रजातंत्र तो राजाओं के साथ में बच्चे थे राजाओं के समय में भ्रष्टाचार करने की हिम्मत नहीं पड़ती थी किसी की रिश्वत खाने की हिम्मत नहीं पड़ती थी तब घोटाले की तो बात ही नहीं हो पाती थी अलाउद्दीन खिलजी का शासन याद कीजिए आप उस 1000 पर रोक लगा दिया भ्रष्टाचारी सब मिट गए खाना भूल गए कर्मचारी व्यापारी कम तोड़ना भूल गया दरअसल सख्त सजा की चोरी बेईमानी हो नहीं पाती थी गमन घोटाले की तो कल्पना भी नहीं आती होगी शायद उन राजाओं के साथ अच्छे थी स्वतंत्र में उत्तर दें मैं आशावादी हूं विश्वास करता हूं कि जिस रूप से किसी ना कोई दिन देख लेना कोई नैतिक रूप से ऐसे प्रधानमंत्री आएंगे या ऐसे शासन आएगा या ऐसी सरकार आएगी क्रिस्ट आचार्यों को सख्त से सख्त सजा मिलेगी और इस भ्रष्टाचार सदा के लिए विदा हो जाएगा

haan mere mitra par aashavadi hoon isliye main vishwas rakhta hoon ki koi na koi toh my ka laal is desh mein jo BA al laal BA hadur shastri ji jaisa paida hoga ya jo is desh mein netritva ke liye rishta sab ko samapt karne ke liye kanoon sakht BA nayenge aur bharashtachariyo ko kadi se kadi saza di jaaye main aata hoon prashasan se kyonki hamare court court ke system hai karmchari kya karta hai ki karmchari ya koi bhi bhrashtachaari aadmi bhrashtachar karta hai man ko hatale karta hai uttar court chala jata hai kyonki vakil vakil udhar BA ithe rehte hai vakilon ke paas toh dhandha hi hai kuch toh aise hi vakil mil jaenge jo apne vyavasaya se itne gire hue hai ki jo ke seen ya toh ve apne poore padhne walon ke liye taiyar murder karne walon ke lete hai ya bhrashtachaari ok lete hai yah chori gaban karne waale logo ke liye te hai unke paas dhandha hi hai kyonki darshan de mahashay yadi unke case lena BA nd kar de aise bhrashton ko jo samajik BA hishkar BA hishkar ho jaega vakil case ladane karenge nahi toh aise prashnon ko toh saza kadi se kadi honi chahiye kisi karmchari ko aap ne rishwat lete hue pakada red handed classic toh cbi BA hut mehnat karti hai ACB waale BA hut mehnat karte hai tab use red handed pakadten hai phir vaah spasht karke jud jata prabhav ho jata hai toh BA taiye boss department mein poocha departments liye kukhat hai ki wahan delhi Suspend hote hai aur do char mahine BA ad aaram se mauj karte hai par do char maine BA at par lag jaate hai tum socho in bharashtachariyo ko jab tak saza nahi hogi husband ko saza nahi hoti hai karmchari ke liye terminate hona chahiye ya purush patle toofan aa gaya miss ek BA ar warning di jaaye dusri BA ar agar aapko jeevan mein bhi kabhi mil gaya toh aapko terminator saara paisa aapka jab tak dusri BA at ki Rs gaban kiya hai ya Rs ki rishwat li hai toh sahajadpur vasool kiye hai ab aap socho maine aur aapne 500 crore mere surakshit ho gaye mere BA cche kha rahe hai mahesh kar rahe hai 500 saal se BA hut se paanch se nahi 7 30 se karo rupaye vasool kiya jaaye 500 crore toh kar vaah hai hi lekin dhai chakarod aapki bhi sampatti se BA chav kiya jaega aise 10 paanch log jab tak road par nahi aayenge BA cche road par nahi aayenge ab tak logo ko aise logo par koi ankush nahi lagega aur jab tak koi udaharan nahi honge tab tak aise bhrasht log raktabij ki tarah se do se char char se 16 aur 16 se 64 is prakar BA dhte hi jaenge BA dhte hi jaenge jis din ko sakht sajayen milna chaalu ho jaenge are tum socho is prajatantra toh rajaon ke saath mein BA cche the rajaon ke samay mein bhrashtachar karne ki himmat nahi padti thi kisi ki rishwat khane ki himmat nahi padti thi tab ghotale ki toh BA at hi nahi ho pati thi alauddin khilji ka shasan yaad kijiye aap us 1000 par rok laga diya bhrashtachaari sab mit gaye khana bhool gaye karmchari vyapaari kam todna bhool gaya darasal sakht saza ki chori BA imani ho nahi pati thi gaman ghotale ki toh kalpana bhi nahi aati hogi shayad un rajaon ke saath acche thi swatantra mein uttar de main aashavadi hoon vishwas karta hoon ki jis roop se kisi na koi din dekh lena koi naitik roop se aise pradhanmantri aayenge ya aise shasan aayega ya aisi sarkar aayegi krist acharyon ko sakht se sakht saza milegi aur is bhrashtachar sada ke liye vida ho jaega

हां मेरे मित्र पर आशावादी हूं इसलिए मैं विश्वास रखता हूं कि कोई ना कोई तो माई का लाल इस दे

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  2
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!