पढ़ाई करने वालों को ज़्यादा नींद क्यों आती है?...


user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न की पढ़ाई करने वालों को ज्यादा नींद क्यों आती है पढ़ाई करने वाले को ज्यादा नहीं थी इसलिए आती है कि उनका टारगेट नहीं होता पढ़ाई करना एंजॉय करो इसलिए फिर वह आगे नहीं बढ़ते फेल होते हैं उनका साल बर्बाद होता है फिर वह पछताते टिकट्स मैंने पढ़ाई कर ली पढ़ाई में आगे बढ़ के पास होकर आगे निकल चुके होते हैं बस यही होता है अगर वह पढ़ाई करनी है आपका दिन शुभ हो धन्यवाद

aapka prashna ki padhai karne walon ko zyada neend kyon aati hai padhai karne waale ko zyada nahi thi isliye aati hai ki unka target nahi hota padhai karna enjoy karo isliye phir vaah aage nahi badhte fail hote hain unka saal barbad hota hai phir vaah pachtate tikats maine padhai kar li padhai mein aage badh ke paas hokar aage nikal chuke hote hain bus yahi hota hai agar vaah padhai karni hai aapka din shubha ho dhanyavad

आपका प्रश्न की पढ़ाई करने वालों को ज्यादा नींद क्यों आती है पढ़ाई करने वाले को ज्यादा नहीं

Romanized Version
Likes  356  Dislikes    views  4441
KooApp_icon
WhatsApp_icon
13 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!