धर्मनिरपेक्षता का सही अर्थ बताइए?...


user

shekhar11

Volunteer

0:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

धर्मनिरपेक्षता का सही अर्थ है कि ऐसे व्यक्ति से समुदाय जो किसी भी धर्म को नहीं मानते वह दिखा जाए तो एकेश्वरवाद ई होते हैं और किसी धर्म को नहीं मानते कर्म ही पूजा होता है इनके लिए पर ऐसी सोच रखते हैं यह

dharmanirapekshata ka sahi arth hai ki aise vyakti se samuday jo kisi bhi dharm ko nahi maante vaah dikha jaaye toh ekeshwarvad ee hote hai aur kisi dharm ko nahi maante karm hi puja hota hai inke liye par aisi soch rakhte hai yah

धर्मनिरपेक्षता का सही अर्थ है कि ऐसे व्यक्ति से समुदाय जो किसी भी धर्म को नहीं मानते वह दि

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Poonamgupta

housewife

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अफ्रीका का सही अर्थ है जिसमें कोई धर्म ना हो सिर्फ हिंदुत्व अर्थात एकता हो और जा पाते छुआछूत तथा ऊंच नीच का कोई भेदभाव ना हो धर्मनिरपेक्षता कहलाता है

africa ka sahi arth hai jisme koi dharm na ho sirf hindutv arthat ekta ho aur ja paate chuachut tatha unch neech ka koi bhedbhav na ho dharmanirapekshata kehlata hai

अफ्रीका का सही अर्थ है जिसमें कोई धर्म ना हो सिर्फ हिंदुत्व अर्थात एकता हो और जा पाते छुआछ

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  340
WhatsApp_icon
user

Raghuveer Singh

👤Teacher & Advisor🙏

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

धर्मनिरपेक्षता धर्मनिरपेक्षता का सही अर्थ बताइए तो धर्म का मतलब धर्म होता है अनिल का मतलब होता रहित अक्षता अर्थात निष्पक्षता पक्ष नहीं रहना यूनिपर्ट्स रही थी किसी भी धर्म का पक्ष नहीं लेना सभी को बराबर मानना सभी को बराबर अधिकार देना भारत में धर्मनिरपेक्षता नियम है अर्थात सिद्धांत है कि कोई भी व्यक्ति के साथ में किसी भी व्यक्ति के साथ में उसकी मां ने था उसका धर्म को लेकर कोई भेदभाव नहीं किया जाएगा चाहे वह किसी भी पद भी पक्की बात हो जानी है कोई भी व्यक्ति भारत का निवासी किसी भी धर्म को मान सकता है कुछ भी बोल सकता है कुछ भी स्वीकार कर सकता है और अगर किसी भी पद के लिए अप्लाई करता है तो उसमें धर्म को लेकर किसी प्रकार का भेदभाव नहीं होगा

dharmanirapekshata dharmanirapekshata ka sahi arth BA taiye toh dharm ka matlab dharm hota hai anil ka matlab hota rahit akshata arthat nishpakshata paksh nahi rehna yuniparts rahi thi kisi bhi dharm ka paksh nahi lena sabhi ko BA rabar manana sabhi ko BA rabar adhikaar dena bharat mein dharmanirapekshata niyam hai arthat siddhant hai ki koi bhi vyakti ke saath mein kisi bhi vyakti ke saath mein uski maa ne tha uska dharm ko lekar koi bhedbhav nahi kiya jaega chahen vaah kisi bhi pad bhi pakki BA at ho jani hai koi bhi vyakti bharat ka niwasi kisi bhi dharm ko maan sakta hai kuch bhi bol sakta hai kuch bhi sweekar kar sakta hai aur agar kisi bhi pad ke liye apply karta hai toh usme dharm ko lekar kisi prakar ka bhedbhav nahi hoga

धर्मनिरपेक्षता धर्मनिरपेक्षता का सही अर्थ बताइए तो धर्म का मतलब धर्म होता है अनिल का मतलब

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  25
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!