शादी से पहले मैं और मेरी पत्नी दोनों ख़ुश थे। अब धीरे धीरे वो ख़ुशी कहतम हो रही है। मुझे क्या करना चाहिए की वह ख़ुशी बरक़रार र है?...


play
user

Shipra Ranjan

Life Coach

2:14

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शादी से पहले के चिपकना शादी के बाद सिचुएशन बहुत ज्यादा डिफरेंट होता है सच बताया तो वो समझना जरूरी है शादी के पहले हमारे ऊपर विश्वास नहीं होती है हम घूमने फिरने एंजॉयमेंट के लिए दूसरे के खाते हैं मस्ती मजाक करते हैं उसे अटेंड करते हैं बाहर जाकर खा लिया मूवी देख ली है एंड्रॉएड शादी के बाद हमारे साथ में जुड़ जाती हैं हम एक दूसरे को क्या करना होता है हमें एक दूसरे को शेयर करना होता है और फ्यूचर लाइफ में हमें अपने बच्चों को भी केयर करना होता है परंतु वाली रोल भी आ जाती है तो उसमें प्रॉब्लम बढ़ती ही बढ़ती है एक जंगल था यीशु है जो हर एक को फेस करना ही करना पड़ता है नहीं पाता तो बहुत ज्यादा प्रॉब्लम बढ़ रही है तो आपको सबसे पहले तांडव करने की प्रॉब्लम की तरफ से रही है और क्या प्रॉब्लम है उसको बैठ कर के बात करिए दोनों पार्टनर को यह बहुत ज्यादा जरूरी है कि साथ में बैठकर बात करिए उसको सॉर्ट आउट करने की कोशिश करिए अगर लेडी अगर वॉकिंग है तो सबसे ज्यादा प्रॉब्लम हो जाती है ऑफिस भी देखना है घर भी देखना है बच्चों को भी देखना है एंटरेंस को भी देखना है तो बहुत सारे दोस्तों से चाहते हो तो मैनेजमेंट किया जाए प्रार्थी को डिसाइड करेंगी क्या चीज आपको पार्टी पदक नहीं है और कुछ लिखा तो है आप अपने कामों को देखिए अगर आप फैमिली के साथ में अपने वर्क फोन नहीं कर पा रहे तो बेहतर है कि आप की प्रायिकता मिली है कि ऑफ वॉर को छोड़ दो और अगर आपकी राइटिंग वर्क है तो इस फैमिली में इस वजह से उपर डिपेंड करता है कि ईमेल के पाठ में कि उसको क्या है चाहिए उसको अपने पार्टी डिसाइड करनी है मेल के पाठ में अगर कोई प्रॉब्लम आ रही है तो मेरे पास में इतनी ज्यादा प्रॉब्लम नहीं आती है क्योंकि उनको जॉब देखनी होती है / देखना होता है फैमिली के साथ में इतनी ज्यादा रखो नोटिस नहीं होती है आप कंपेयर टू फीमेल बॉडी अपने बच्चे के लिए ऑन करना है और अपनी फैमिली के लिए ऑन करना है अगर कोई प्रॉब्लम है जिसके बाद कर दो

shadi se pehle ke chipakana shadi ke baad situation bahut zyada different hota hai sach bataya toh vo samajhna zaroori hai shadi ke pehle hamare upar vishwas nahi hoti hai hum ghoomne phirne enjoyment ke liye dusre ke khate hai masti mazak karte hai use attend karte hai bahar jaakar kha liya movie dekh li hai Android shadi ke baad hamare saath mein jud jati hai hum ek dusre ko kya karna hota hai humein ek dusre ko share karna hota hai aur future life mein humein apne baccho ko bhi care karna hota hai parantu wali roll bhi aa jati hai toh usme problem badhti hi badhti hai ek jungle tha yeshu hai jo har ek ko face karna hi karna padta hai nahi pata toh bahut zyada problem badh rahi hai toh aapko sabse pehle tandav karne ki problem ki taraf se rahi hai aur kya problem hai usko baith kar ke baat kariye dono partner ko yeh bahut zyada zaroori hai ki saath mein baithkar baat kariye usko short out karne ki koshish kariye agar lady agar walking hai toh sabse zyada problem ho jati hai office bhi dekhna hai ghar bhi dekhna hai baccho ko bhi dekhna hai entrance ko bhi dekhna hai toh bahut saare doston se chahte ho toh management kiya jaye prarthi ko decide karengi kya cheez aapko party padak nahi hai aur kuch likha toh hai aap apne kaamo ko dekhie agar aap family ke saath mein apne work phone nahi kar pa rahe toh behtar hai ki aap ki prayikta mili hai ki of war ko chod do aur agar aapki writing work hai toh is family mein is wajah se upar depend karta hai ki email ke path mein ki usko kya hai chahiye usko apne party decide karni hai male ke path mein agar koi problem aa rahi hai toh mere paas mein itni zyada problem nahi aati hai kyonki unko job dekhani hoti hai / dekhna hota hai family ke saath mein itni zyada rakho notice nahi hoti hai aap compare to female body apne bacche ke liye on karna hai aur apni family ke liye on karna hai agar koi problem hai jiske baad kar do

शादी से पहले के चिपकना शादी के बाद सिचुएशन बहुत ज्यादा डिफरेंट होता है सच बताया तो वो समझन

Romanized Version
Likes  222  Dislikes    views  3172
WhatsApp_icon
11 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Alok

Marriage Coach

1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शादी से पहले जो खुशी रहता है उसका पैसा हम खुद नहीं रहते हैं कि बजाज सूरी रहता है एक हरमन जिसको हम हमारा लैंग्वेज ओं कॉल लॉग होने के कारण हम चिल्ला चिल्ला के आई लव यू हर किसी के सामने बोल सकते हैं लेकिन जैसे ही वह हरमन धीरे धीरे बॉडी से कम होने लगता है हम और एक बार आई लव यू बोलने के लिए हम हजार बार सोचना पड़ता है तो इसका मतलब यह है कि अगर वह हरमन आपके पौड़ी में और नहीं है वह लव पीरियड लव हार्मोन अगर नहीं है तो आपको अपना लव लाइफ को बेहतर बनाने के लिए एवरीडे कोशिश करना पड़ेगा अपने नया नया तरीका नया नया सोचना पड़ेगा कि आप दोनों अपना लव लाइफ को फिर से जी सकें क्योंकि जब वह हरमन बॉडी में नहीं रहता या दिमाग में नहीं रहता है तो आपको अंदर का कोई विंस विंस नहीं रहता आपको अपने आप को लव को भी ऐड करना पड़ता है उसके लिए बहुत सारे एक्सरसाइजस है बहुत सारा रास्ता है जिससे हम वह लव को अपने अंदर किस जगह सकते हैं रोमांटिक जगह सकते हैं लेकिन अपने आप अंदर से और नहीं होता एक बार और मन जब बॉडी से खत्म हो जाता है तो वह हर एक इंसान का लाइफ में 2 से 3 साल तक बाहर मन रहता है जिसके कारण हमें लव होता है यह हम जनता रोमांस करते हैं और हम इसे भूषण किस करते हैं जो आगे जाके हमें लगता है कि यह सब कुछ किया हमें यह हैरान हो सकती है तो मैं कैसे करता या हमसे नहीं हो पाता है बल्कि हमें वह करने के लिए हमारा अपना है जो अधूरी नहीं इच्छा शक्ति उसको जगाना है और फिर जाकर वह अल्लाह को रोमन हासिल होता है जिंदगी

shadi se pehle jo khushi rehta hai uska paisa hum khud nahi rehte hain ki bajaj suri rehta hai ek harman jisko hum hamara language yuvaon call log hone ke kaaran hum chilla chilla ke I love you har kisi ke saamne bol sakte hain lekin jaise hi wah harman dhire dhire body se kam hone lagta hai hum aur ek baar I love you bolne ke liye hum hazaar baar sochna padta hai toh iska matlab yeh hai ki agar wah harman aapke podi mein aur nahi hai wah love period love hormone agar nahi hai toh aapko apna love life ko behtar banane ke liye everyday koshish karna padega apne naya naya tarika naya naya sochna padega ki aap dono apna love life ko phir se ji sake kyonki jab wah harman body mein nahi rehta ya dimag mein nahi rehta hai toh aapko andar ka koi vins vins nahi rehta aapko apne aap ko love ko bhi aid karna padta hai uske liye bahut saare eksarasaijas hai bahut saara rasta hai jisse hum wah love ko apne andar kis jagah sakte hain romantic jagah sakte hain lekin apne aap andar se aur nahi hota ek baar aur man jab body se khatam ho jata hai toh wah har ek insaan ka life mein 2 se 3 saal tak bahar man rehta hai jiske kaaran humein love hota hai yeh hum janta romance karte hain aur hum ise bhushan kis karte hain jo aage jake humein lagta hai ki yeh sab kuch kiya humein yeh hairan ho sakti hai toh main kaise karta ya humse nahi ho pata hai balki humein wah karne ke liye hamara apna hai jo adhuri nahi iccha shakti usko jagaana hai aur phir jaakar wah allah ko roman hasil hota hai zindagi

शादी से पहले जो खुशी रहता है उसका पैसा हम खुद नहीं रहते हैं कि बजाज सूरी रहता है एक हरमन ज

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  598
WhatsApp_icon
user

Dr. Nalini Taneja

Founder & Chief Enough Officer - AHAM- I Am Enough Training Group

4:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सही बात तो यह है मुझे लगता है कि कई बार जब सो कॉल्ड प्यार में होते हैं तो हम बहुत इन प्रैक्टिकल हो जाते हैं हमको लगता है सब घर में सब दुनिया के सब देखने जाते हैं विपिन गार्डन गार्डन ब्यूटीफुल और हम कभी प्रैक्टिकली सोचते नहीं हैं यह जो रिलेशनशिप है जिसने एंटर करने हैं इसके कुछ गेम इंटेक्स कुछ भूल गए हैं आप अगर इसी तरह मैरिज के लिए कुछ रूल्स एंड रेगुलेशंस बट अनफॉर्चूनेटली हमारे कल्चर में हमें इनके बारे में कोई नहीं बताता हमारे किसी स्कूल में शहद की ट्रेनिंग नहीं दी जाती हम जिंदगी क्यों स्कूल में जाते हैं हम पढ़ाई करते हैं लेकिन हमें नहीं बताता कि आगे जाकर जब हम अपने लाइफ पार्टनर टूटेंगे हमारी शादी होगी उसको बनाने के लिए इसके बारे में कोई बात नहीं करते किसी भी रिलेशनशिप में घुसने के लिए एक और तरीका है और वह मैरिज के लिए उतना ही इंपॉर्टेंट है जिंदगी की किसी भी और चीज के लिए तो पहली बात तो यह है एक दूसरे के साथ आपने कभी बैठ कर यह बात की है आपको इस रिलेशनशिप से क्या चाहिए कभी आपने यह सोचा है कि आपको अपनी रिलेशनशिप में फाइनेंस इसका क्या सेनानियों करना चाहते हैं बच्चों का क्या सुना रही हो करना चाहते हैं घूमने का क्या सेनारियो करना चाहते हैं पढ़ाई का क्या सेनारियो करना चाहते हैं घर कैसा रखना चाहते हैं आप एक दूसरे से एक्सपेक्टेशन क्या है आपने कभी बैठ कर उसके बारे में बात की प्रॉब्लम होती है कि हम कभी बात नहीं करते और फिर हम सुनना शुरू कर देते हैं हम स्टेट होते एनी की जरूरत है जो दूसरा इंसान है इस रिलेशनशिप में उसको आकाशवाणी नहीं होगी कि आपको क्या अच्छा लगता है आपको क्या पसंद है आपकी जिंदगी की प्रवृत्ति क्या है तुम बहुत जरूरी है जो दोनों उस रिलेशनशिप में हैं एक दूसरे से बात करें एक दूसरे को समझने की कोशिश करें एक दूसरे को जानने की कोशिश करें मैं आपसे प्यार करती हूं यह इस सेंटेंस का मतलब क्या है प्यार का मतलब होता है आदर प्यार का मतलब होता है अंडरस्टैंडिंग प्यार का मतलब होता है काइंड नेस प्यार का मतलब होता है हाथ बटाना प्यार का मतलब होता है दूसरे को समझना आपने कब कोशिश की अपने लाइफ पार्टनर को समझने की आपने कब उससे पूछा उसे क्या करना अच्छा लगता है आपने कब उससे उसकी जिंदगी उसके बचपन के बारे में पूछा उसकी जिंदगी में क्या-क्या चीजों ने उसको इंसाफ किया आपने कभी बात की आपने कभी बात नहीं की और फिर आप ही उम्मीद रखते हैं कि बिना बात किए इंसान ना आपने उसको अपने बारे में कुछ बताया वह आपको पूरी तरह से समझ जाए ह्यूमन रिलेशनशिप्स ब्रेक वायर टाइम समय की जरूरत है समझने की जरूरत है अपने साथ एक पैर अपने साथ अपने आपको बेहतर समझा और फिर यह समझने की कोशिश करें आपको इस रिलेशनशिप से क्या चाहिए हो सकता है आपने इसके बारे में कभी बात ही नहीं की क्या आप कोई दूसरे से क्या चाहिए इसके बारे में बात करें एक दूसरे को समझें जब आप एक दूसरे को समझने का प्रयत्न करेंगे कोशिश करेंगे तो शायद पता चलेगा अरे इनको समझ नहीं सकती मुश्किल भी नहीं इनको तो छोटी-छोटी चीज अच्छी लगती है लेकिन तो मुझे इसके बारे में पता ही नहीं था इसलिए मैंने तो कभी वजूद ही नहीं दिया कभी ध्यान ही नहीं दिया और इसी से मारा और इसी से मरी टेंशन इतनी बड़ी बात करें जानने की कोशिश करें और रिजल्ट करें कि आप लकी लोगों में से हैं जरा स्टीट्यूट शो करें दूसरे के लिए मुझे अपने घर में खाना बनाती हैं और अपना मोबाइल देखते देखते देखते खाना खा जाते हैं उनको इस बात का अंदाजा ही नहीं है कि कितनी मेहनत लगी है तो खाना बनाने में कितनी मेहनत लगी है आज सब्जी लेकर आने में कितनी मदद करने में छोटी-छोटी चीजें हमें वह छोटी-छोटी चीजों की जरूरत है जो हमारे दिल को बिल्कुल गार्डन गार्डन करती हैं उन चीजों पर फोकस करें और आपकी रिलेशनशिप एक टर्निंग पॉइंट पर आ जाएगी इनफ फॉर सिस्टर

sahi baat toh yah hai mujhe lagta hai ki kai baar jab so called pyar mein hote hain toh hum bahut in practical ho jaate hain hamko lagta hai sab ghar mein sab duniya ke sab dekhne jaate hain vipin garden garden beautiful aur hum kabhi practically sochte nahi hain yah jo Relationship hai jisne enter karne hain iske kuch game intex kuch bhool gaye hain aap agar isi tarah marriage ke liye kuch rules and reguleshans but anafarchunetli hamare culture mein hamein inke bare mein koi nahi batata hamare kisi school mein shehed ki training nahi di jaati hum zindagi kyon school mein jaate hain hum padhai karte hain lekin hamein nahi batata ki aage jaakar jab hum apne life partner tutenge hamari shadi hogi usko banane ke liye iske bare mein koi baat nahi karte kisi bhi Relationship mein ghusne ke liye ek aur tarika hai aur vaah marriage ke liye utana hi important hai zindagi ki kisi bhi aur cheez ke liye toh pehli baat toh yah hai ek dusre ke saath aapne kabhi baith kar yah baat ki hai aapko is Relationship se kya chahiye kabhi aapne yah socha hai ki aapko apni Relationship mein finance iska kya senaniyon karna chahte hain baccho ka kya suna rahi ho karna chahte hain ghoomne ka kya senariyo karna chahte hain padhai ka kya senariyo karna chahte hain ghar kaisa rakhna chahte hain aap ek dusre se expectation kya hai aapne kabhi baith kar uske bare mein baat ki problem hoti hai ki hum kabhi baat nahi karte aur phir hum sunana shuru kar dete hain hum state hote any ki zarurat hai jo doosra insaan hai is Relationship mein usko aakashwani nahi hogi ki aapko kya accha lagta hai aapko kya pasand hai aapki zindagi ki pravritti kya hai tum bahut zaroori hai jo dono us Relationship mein hain ek dusre se baat kare ek dusre ko samjhne ki koshish kare ek dusre ko jaanne ki koshish kare main aapse pyar karti hoon yah is sentence ka matlab kya hai pyar ka matlab hota hai aadar pyar ka matlab hota hai understanding pyar ka matlab hota hai chahinde Ness pyar ka matlab hota hai hath batana pyar ka matlab hota hai dusre ko samajhna aapne kab koshish ki apne life partner ko samjhne ki aapne kab usse poocha use kya karna accha lagta hai aapne kab usse uski zindagi uske bachpan ke bare mein poocha uski zindagi mein kya kya chijon ne usko insaaf kiya aapne kabhi baat ki aapne kabhi baat nahi ki aur phir aap hi ummid rakhte hain ki bina baat kiye insaan na aapne usko apne bare mein kuch bataya vaah aapko puri tarah se samajh jaaye human relationships break wire time samay ki zarurat hai samjhne ki zarurat hai apne saath ek pair apne saath apne aapko behtar samjha aur phir yah samjhne ki koshish kare aapko is Relationship se kya chahiye ho sakta hai aapne iske bare mein kabhi baat hi nahi ki kya aap koi dusre se kya chahiye iske bare mein baat kare ek dusre ko samajhe jab aap ek dusre ko samjhne ka prayatn karenge koshish karenge toh shayad pata chalega are inko samajh nahi sakti mushkil bhi nahi inko toh choti choti cheez achi lagti hai lekin toh mujhe iske bare mein pata hi nahi tha isliye maine toh kabhi wajood hi nahi diya kabhi dhyan hi nahi diya aur isi se mara aur isi se mari tension itni badi baat kare jaanne ki koshish kare aur result kare ki aap lucky logo mein se hain zara stityut show kare dusre ke liye mujhe apne ghar mein khana banati hain aur apna mobile dekhte dekhte dekhte khana kha jaate hain unko is baat ka andaja hi nahi hai ki kitni mehnat lagi hai toh khana banane mein kitni mehnat lagi hai aaj sabzi lekar aane mein kitni madad karne mein choti choti cheezen hamein vaah choti choti chijon ki zarurat hai jo hamare dil ko bilkul garden garden karti hain un chijon par focus kare aur aapki Relationship ek turning point par aa jayegi enough for sister

सही बात तो यह है मुझे लगता है कि कई बार जब सो कॉल्ड प्यार में होते हैं तो हम बहुत इन प्रैक

Romanized Version
Likes  85  Dislikes    views  1437
WhatsApp_icon
user

Nayan Zee

Motivational Scientist ! Speaker And Journalist

10:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पूछा है कि शादी से के समय हम लोगों यानी पति पत्नी बहुत खुश रहा करते थे और शादी के बाद धीरे-धीरे यह कम पर होती जा रही है खुशियां और एक ही स्थिति बदलती हुई आपको दिख रही है जो सेट शादी के समय के बाद जो एक खुशहाली आई थी और जो उमंग उत्साह था वह धीरे-धीरे कमजोर होता जा रहा है यह आपकी चिंता का विषय है और इस विषय को आप गंभीरता से लिया है यह एक अच्छी और बहुत ही अच्छी बात कही जा सकती है अगर खुश क्या है और ऐसी खुशियां रही है जो आप काफी उमंग उत्साह और ऊर्जा से पूरा भर के जीवन जय हो और अगर उसमें कोई कमी आती है तो निश्चित तौर पर एक प्रश्न तो खड़ा होता है एक चिंता का विषय तो बनता है तो वह अपनी चिंता क्या है उस दौर से गुजर रहे हैं और इसमें चाहते हैं समाधान हो कैसे हो क्यों हो कैसे हो कहां से हो कौन सा तार तरीका अपनाया जाए वही सारी खुशियां लौट जाए तो यह अच्छी बात है आपकी सोच अच्छी है और अगर ऐसी सोच आप रख रहे हैं तो निश्चित तौर पर आप ही मान कर चलिए कि कहीं भी कुछ आपकी खुशियां बिगड़ने वाली नहीं है बल्कि जो शादी के बाद आपको खुशियां मिली थी उससे कई गुना खुशियां और भी बढ़ सकती है वह तो आपको हासिल होगी उससे कई और ज्यादा बड़ी खुशियां आपको आपका इंतजार कर रही है लेकिन पता क्या है कि सबसे पहली बात आप समझिए साइकोलॉजी है इंसान की किसी भी काम को अगर आप निरंतर करेंगे किसी भी व्यक्ति से पहली मुलाकात होगी उसमें उसका वो धीरे-धीरे कम होता जाता है जैसे जैसे आप साथ रहने लगते हैं उस व्यक्ति से तो अगर वह बराबर मिलने लगे हैं उस व्यक्ति तो आपको वह इनर्जी आपको पहली बार जब मिलने में मिली होगी या दोसा वह कम होता ही है लेकिन लेकिन यहां जीवनसाथी का सवाल है जब साथ रह के जीवन को अच्छे से जीने की है पानी है और एक संकल्प लिया तो उसमें खुशियों में अगर कोई दरार या कमी आती है तो वहां जरूर चिंता करनी चाहिए और आप यह मान के चलिए है कि जो खुशियां आपको उस वक्त मिली थी वह खुशियों को आपको अभी इस वक्त याद करना चाहिए आप अब जो वह सो रहा है उससे आप परेशान है तो अब उस परेशानी को दूर करने की प्लान करिए अब अभी आप तकलीफ में है वह खुशियां नहीं मिल पा रही है तो अब उसको भूलिए जो अभी हो रहा है उस क्षण को आपको भूलना होगा भूलेंगे कैसे रोज खुशियों को वापस कैसे हासिल करेंगे तो अब आप को थोड़ा सा अपने जीवन को पीछे लौटता हुआ आप अपने आप को लौट आइए पीछे की और कभी-कभी देखें छक्का जो मारा जाता है वह फ्रंटफुट सयानी पैर आगे करके यह माना जाता है लेकिन कभी-कभी बेड फोटो के पैर पीछे भी करके आप सिक्स मार सकते हैं लाइफ में तो राजपूत और बैकफुट दोनों का इस्तेमाल आप पर जब आप चलते हैं तो एक आगे और एक पीछे होता तो आगे पीछे आगे पीछे आगे पीछे ऐसा करने से ही आदमी का लाइफ बहुत तेजी से आगे बढ़ता है और जितना फास्ट आगे पीछे आगे पीछे होंगे वह चाहिए आप तेजी से आगे जीवन में पढ़ेंगे तो आगे पीछे आगे पीछे होना है लाइफ में भी यही है साकी तो अब आप क्या करें कि जो खुशियां आपको उस समय मिल रही थी उन चीजों को मेमोराइज करें उन चीजों को याद करें और अभी उसी स्थिति को आप देखें समझें और उसी को याद करें कि हां हमारा लाइफ कितना खूबसूरत था और अभी भी उससे भी ज्यादा खुशियां अभी आ रही है ऐसी कल्पना ऐसे ही उत्साह में उसी तरह से आप प्यार मोहब्बत उसी तरह से अट्रैक्शन एक दूसरे के प्रति जो है ना उन्हें भी समझाइए कि हम लोगों को उस दिन को याद करना बहुत जरूरी है लेकिन हम लोग अपार खुशियों में जीते थे उस दिन को आप याद करिए ठीक होता क्या है ब्रेन के पावर को आप समझिए जैसे आपको कभी किसी ने कोई गुस्सा दिलाया हो कभी भी लाइफ में जिसको सुनकर समझ कर या याद करके आज भी आपको गुस्सा आ जाएगा कि उसने ऐसा क्यों किया मेरे साथ अगर उस गुस्से को कि घटना को हुए आप 5 साल बीत गया वह 10 साल बीत गया हो या 2 साल बीत गया हूं लेकिन आज भी अगर उस गुस्से को याद करेंगे उस घटनाक्रम को याद करेंगे तो आपको उतना ही गुस्सा आएगा जितना उस वक्त आया था अभी तो वह घटना घटी नहीं लेकिन सिर्फ याद करने से वह गुस्सा आपका अभी फिर जिंदा हुआ तो कोई दुर्घटना भी हुई है तो उस दुर्घटना को याद करें मैंने तो आपको लगेगा कि पीड़ा होगी और आप करवा शेयर जाएगा तो जो चीजें बीत गई हैं उनको याद करने से भी वह घटना फिर से एक एक्शन में आता बॉडी के अंदर रिएक्शन होता है तो हम उसी तरह से जैसे दुख भरी चीजों को याद करके दुखी हो जाते हैं उसी तरह से खुशियों भरी छल को खुशियों से भरा हुआ जब छल था उस बहन को आप याद करेगी कैसे हम खुश रहते थे क्या बोलते थे क्या हंसते थे किस तरह से हम एक दूसरे को रिसेट कर दिया क्या करते थे कैसे करते थे वह चीजें आप आपस में बात करिए और आंखों के बंद करके उसको ड्रीम देखिए उन चीजों को याद करिए खुशी के मारे झूम के नाची और यह सोचे कि अभी वह घटना अब घटना शुरू फिर से होने शुरू हो गए अगर आप ऐसी कल्पना करेंगे इस तरह के अपने अंदर 24 * 7 24ghanta हॉट को देखेंगे महसूस करेंगे तो निश्चित तौर पर ब्रेन के अंदर वह हारमोंस उत्पन्न होने लगेंगे खुशियों वाली हार्मोन उत्पन्न होने लगेंगे जिनकी जरूरत आज भी आपको है एक बात बहुत प्यार है धर्म में भी शास्त्र में भी साइंस में भी इस चीज को प्रभावित किया हुआ है कि इंसान जो सोचता है वैसा ही होता चला जाता है जैसे एक उदाहरण में आपको और दे रहा हूं कि आप अगर बीमार है इस वक्त मुझे फीवर है या मुझे बहुत तकलीफ है बताओ आउट कर रहे हैं अगर आप बीमारों की चर्चा करेंगे आपकी बीमारी की चर्चा करेंगे तो हमेशा बीमार रहे बीमार अगर कोर्ट से प्रार्थना ही करनी है तो आप कहेंगे कि मुझे स्वस्थ कर दो यह नहीं है कि मेरी बीमारी को ठीक कर दो मैं मैं बीमार हूं मुझे ठीक कर दो ऐसा नहीं कहा ना गॉड से क्या फेवरेट है क्या प्रार्थना करनी है कि मुझे स्वस्थ कर दो स्वस्थ कर दो मतलब कैसा सोच कर दो स्वच्छता आपसे पहले स्वास्थ्य खुशियों से भरे थी उस तरह के स्वस्थ ठीक होने की कल्पना करिए उससे की खुशियों से होने की कल्पना करना और बताना होगा आपने ब्रेन से अपने को देखकर क्या यह इस तरह से हम खुश थे तो उनको उसी तरह से यह खुशियां फिर से होनी चाहिए जब आप देखेंगे आंख बंद करके अपनी खुशियों की तो आपके आपके जो भी है जो भी गॉड है या जहां भी है जो भी प्रकृति से आप हाथ जोड़कर प्रार्थना करके निवेदन करेंगे कि यह ऐसी खुशियां मुझे फिर से मिल रही है और इस पर यकीन करेंगे जो आप ड्रीम देखेंगे जो सोचेंगे खुशियों भरी बात आगे पत्नी मुझे बहुत प्यार कर रही है अपार प्यार कर रही है बहुत ज्यादा प्यार कर रही है उसी तरह से हम लोग रहा है ना शुरू कर या फिर उसका माइंड चेंज हो रहा है और वह भी मुझे बहुत प्यार करती है पत्नी को भी यह कहिए कि तुम भी उसी दिन को याद करके जिओ हंसो बोलो का यो रहो काम करो तो ऐसा करने से क्या होगा यह घटना घटने शुरू हो जाएगी फिर से हारमोंस उत्पन्न होंगे कायनात जो कहते हैं कि पूरी कायनात शिद्दत से लग जाती है चीजों को करने में तो यकीन करेंगे अपनी ही उस दिन पर जो मैडम देख रहा हूं जो मैं खुशियां देख रहा हूं वह होकर रहेगा वह घटना घट के रहेगी हर हाल में इस पल से यह घटनाएं घटने शुरू हो चुकी है आप झूठा ही सही यकीन करके पूरी तरह से मन ही मन आप परसों के चित्र गाना शुरू करें खुशियों के साथ रहना शुरू करें और पत्नी को भी इस बात को समझा है एक दूसरे

aapne poocha hai ki shadi se ke samay hum logo yani pati patni bahut khush raha karte the aur shadi ke baad dhire dhire yah kam par hoti ja rahi hai khushiya aur ek hi sthiti badalti hui aapko dikh rahi hai jo set shadi ke samay ke baad jo ek khushahali I thi aur jo umang utsaah tha vaah dhire dhire kamjor hota ja raha hai yah aapki chinta ka vishay hai aur is vishay ko aap gambhirta se liya hai yah ek achi aur bahut hi achi baat kahi ja sakti hai agar khush kya hai aur aisi khushiya rahi hai jo aap kaafi umang utsaah aur urja se pura bhar ke jeevan jai ho aur agar usme koi kami aati hai toh nishchit taur par ek prashna toh khada hota hai ek chinta ka vishay toh baata hai toh vaah apni chinta kya hai us daur se gujar rahe hain aur isme chahte hain samadhan ho kaise ho kyon ho kaise ho kaha se ho kaun sa taar tarika apnaya jaaye wahi saari khushiya lot jaaye toh yah achi baat hai aapki soch achi hai aur agar aisi soch aap rakh rahe hain toh nishchit taur par aap hi maan kar chaliye ki kahin bhi kuch aapki khushiya bigadne wali nahi hai balki jo shadi ke baad aapko khushiya mili thi usse kai guna khushiya aur bhi badh sakti hai vaah toh aapko hasil hogi usse kai aur zyada badi khushiya aapko aapka intejar kar rahi hai lekin pata kya hai ki sabse pehli baat aap samjhiye psychology hai insaan ki kisi bhi kaam ko agar aap nirantar karenge kisi bhi vyakti se pehli mulakat hogi usme uska vo dhire dhire kam hota jata hai jaise jaise aap saath rehne lagte hain us vyakti se toh agar vaah barabar milne lage hain us vyakti toh aapko vaah inarji aapko pehli baar jab milne mein mili hogi ya dosa vaah kam hota hi hai lekin lekin yahan jeevansathi ka sawaal hai jab saath reh ke jeevan ko acche se jeene ki hai paani hai aur ek sankalp liya toh usme khushiyon mein agar koi daraar ya kami aati hai toh wahan zaroor chinta karni chahiye aur aap yah maan ke chaliye hai ki jo khushiya aapko us waqt mili thi vaah khushiyon ko aapko abhi is waqt yaad karna chahiye aap ab jo vaah so raha hai usse aap pareshan hai toh ab us pareshani ko dur karne ki plan kariye ab abhi aap takleef mein hai vaah khushiya nahi mil paa rahi hai toh ab usko bhuliye jo abhi ho raha hai us kshan ko aapko bhoolna hoga bhulenge kaise roj khushiyon ko wapas kaise hasil karenge toh ab aap ko thoda sa apne jeevan ko peeche lautata hua aap apne aap ko lot aaiye peeche ki aur kabhi kabhi dekhen chakka jo mara jata hai vaah frantafut sayani pair aage karke yah mana jata hai lekin kabhi kabhi bed photo ke pair peeche bhi karke aap six maar sakte hain life mein toh rajput aur baikfut dono ka istemal aap par jab aap chalte hain toh ek aage aur ek peeche hota toh aage peeche aage peeche aage peeche aisa karne se hi aadmi ka life bahut teji se aage badhta hai aur jitna fast aage peeche aage peeche honge vaah chahiye aap teji se aage jeevan mein padhenge toh aage peeche aage peeche hona hai life mein bhi yahi hai saqi toh ab aap kya kare ki jo khushiya aapko us samay mil rahi thi un chijon ko memorize kare un chijon ko yaad kare aur abhi usi sthiti ko aap dekhen samajhe aur usi ko yaad kare ki haan hamara life kitna khoobsurat tha aur abhi bhi usse bhi zyada khushiya abhi aa rahi hai aisi kalpana aise hi utsaah mein usi tarah se aap pyar mohabbat usi tarah se attraction ek dusre ke prati jo hai na unhe bhi samjhaiye ki hum logo ko us din ko yaad karna bahut zaroori hai lekin hum log apaar khushiyon mein jeete the us din ko aap yaad kariye theek hota kya hai brain ke power ko aap samjhiye jaise aapko kabhi kisi ne koi gussa dilaya ho kabhi bhi life mein jisko sunkar samajh kar ya yaad karke aaj bhi aapko gussa aa jaega ki usne aisa kyon kiya mere saath agar us gusse ko ki ghatna ko hue aap 5 saal beet gaya vaah 10 saal beet gaya ho ya 2 saal beet gaya hoon lekin aaj bhi agar us gusse ko yaad karenge us ghatanaakram ko yaad karenge toh aapko utana hi gussa aayega jitna us waqt aaya tha abhi toh vaah ghatna ghati nahi lekin sirf yaad karne se vaah gussa aapka abhi phir zinda hua toh koi durghatna bhi hui hai toh us durghatna ko yaad kare maine toh aapko lagega ki peeda hogi aur aap karva share jaega toh jo cheezen beet gayi hain unko yaad karne se bhi vaah ghatna phir se ek action mein aata body ke andar reaction hota hai toh hum usi tarah se jaise dukh bhari chijon ko yaad karke dukhi ho jaate hain usi tarah se khushiyon bhari chhal ko khushiyon se bhara hua jab chhal tha us behen ko aap yaad karegi kaise hum khush rehte the kya bolte the kya hansate the kis tarah se hum ek dusre ko reset kar diya kya karte the kaise karte the vaah cheezen aap aapas mein baat kariye aur aankho ke band karke usko dream dekhiye un chijon ko yaad kariye khushi ke maare jhoom ke nachi aur yah soche ki abhi vaah ghatna ab ghatna shuru phir se hone shuru ho gaye agar aap aisi kalpana karenge is tarah ke apne andar 24 7 24ghanta hot ko dekhenge mehsus karenge toh nishchit taur par brain ke andar vaah hormones utpann hone lagenge khushiyon wali hormone utpann hone lagenge jinki zarurat aaj bhi aapko hai ek baat bahut pyar hai dharm mein bhi shastra mein bhi science mein bhi is cheez ko prabhavit kiya hua hai ki insaan jo sochta hai waisa hi hota chala jata hai jaise ek udaharan mein aapko aur de raha hoon ki aap agar bimar hai is waqt mujhe fever hai ya mujhe bahut takleef hai batao out kar rahe hain agar aap bimaron ki charcha karenge aapki bimari ki charcha karenge toh hamesha bimar rahe bimar agar court se prarthna hi karni hai toh aap kahenge ki mujhe swasthya kar do yah nahi hai ki meri bimari ko theek kar do main main bimar hoon mujhe theek kar do aisa nahi kaha na god se kya favourite hai kya prarthna karni hai ki mujhe swasthya kar do swasthya kar do matlab kaisa soch kar do swachhta aapse pehle swasthya khushiyon se bhare thi us tarah ke swasthya theek hone ki kalpana kariye usse ki khushiyon se hone ki kalpana karna aur batana hoga aapne brain se apne ko dekhkar kya yah is tarah se hum khush the toh unko usi tarah se yah khushiya phir se honi chahiye jab aap dekhenge aankh band karke apni khushiyon ki toh aapke aapke jo bhi hai jo bhi god hai ya jaha bhi hai jo bhi prakriti se aap hath jodkar prarthna karke nivedan karenge ki yah aisi khushiya mujhe phir se mil rahi hai aur is par yakin karenge jo aap dream dekhenge jo sochenge khushiyon bhari baat aage patni mujhe bahut pyar kar rahi hai apaar pyar kar rahi hai bahut zyada pyar kar rahi hai usi tarah se hum log raha hai na shuru kar ya phir uska mind change ho raha hai aur vaah bhi mujhe bahut pyar karti hai patni ko bhi yah kahiye ki tum bhi usi din ko yaad karke jio hanso bolo ka yo raho kaam karo toh aisa karne se kya hoga yah ghatna ghatane shuru ho jayegi phir se hormones utpann honge kayanat jo kehte hain ki puri kayanat shiddat se lag jaati hai chijon ko karne mein toh yakin karenge apni hi us din par jo madam dekh raha hoon jo main khushiya dekh raha hoon vaah hokar rahega vaah ghatna ghat ke rahegi har haal mein is pal se yah ghatnaye ghatane shuru ho chuki hai aap jhutha hi sahi yakin karke puri tarah se man hi man aap parso ke chitra gaana shuru kare khushiyon ke saath rehna shuru kare aur patni ko bhi is baat ko samjha hai ek dusre

आपने पूछा है कि शादी से के समय हम लोगों यानी पति पत्नी बहुत खुश रहा करते थे और शादी के बाद

Romanized Version
Likes  151  Dislikes    views  1136
WhatsApp_icon
user

Pankaj Kr(youtube -AJ PANKAJ MATHS GURU)

Motivational Speaker/YouTube-AJ PANKAJ MATHS GURU

0:03
Play

Likes  68  Dislikes    views  449
WhatsApp_icon
user

Suresh Jeswani

Life Coach

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने लिखा है कि शादी के पहले आप और आपकी पत्नी खुश थे अब धीरे-धीरे खुशी खत्म हो रही है तो क्या करना चाहिए किसी पर खराब है तो आपको वापस जिस समय आप की शादी हुई थी पहले की बातों की जॉब और आप दोनों का जो भविष्य जो साथ जो अपने दोनों ने बातचीत करके प्रकट किया था उसको वापस वैसे बातचीत कीजिए और आपके पास इतनी उस चीज को लाइए बार-बार और उस समय रहूंगा आपको एक दूसरे की सगाई वाला दुनिया का पहला दिन है आप आज ही एक दूसरे से परिचित हैं जब नए नए वाला जो आपका एक दूसरे को एक दूसरे को समझने वाला उसको बहुत छोटी सी बातें सिर्फ एक बार कर लीजिए ऐसा करना है मेरा और मेरी पत्नी का एक दूसरे का जो मिलने कहा जाए वह पहले दिन एकदम है जिसने उनकी तरफ से आना शुरू हो जाएगा

apne likha hai ki shadi ke pehle aap aur aapki patni khush the ab dhire dhire khushi khatam ho rahi hai toh kya karna chahiye kisi par kharab hai toh aapko wapas jis samay aap ki shadi hui thi pehle ki baaton ki job aur aap dono ka jo bhavishya jo saath jo apne dono ne batchit karke prakat kiya tha usko wapas waise batchit kijiye aur aapke paas itni us cheez ko laiye baar baar aur us samay rahunga aapko ek dusre ki sagaai vala duniya ka pehla din hai aap aaj hi ek dusre se parichit hain jab naye naye vala jo aapka ek dusre ko ek dusre ko samjhne vala usko bahut choti si batein sirf ek baar kar lijiye aisa karna hai mera aur meri patni ka ek dusre ka jo milne kaha jaaye vaah pehle din ekdam hai jisne unki taraf se aana shuru ho jaega

अपने लिखा है कि शादी के पहले आप और आपकी पत्नी खुश थे अब धीरे-धीरे खुशी खत्म हो रही है तो क

Romanized Version
Likes  130  Dislikes    views  1306
WhatsApp_icon
user

Rashmin Trivedi

Motivational Speaker | Writer | Life Coach

6:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शादी के बाद बहुत सारे कपड़ों को मैंने देखा है कि उनकी खुशी कम हो जाती है उनकी खुशी घट जाती है तो उसके क्या वजह है वह हर एक कपल को सोचना चाहिए तो सबसे पहली बात है एक जो सुकून बहुत सारे के सारे अचूक उनको मिल जाते हैं इसलिए सुख में हम जीते हैं ना तो वह शाखा में हमारा जीवन ज्यादा खुश रहता है सुख मिलता है उससे ज्यादा खुशी सुख मिलेगा इस बात में है तो इसलिए हमें यह समझना चाहिए कि कौन-कौन से खुशी के सपने हमने देखे थे कि लव मैरिज में लोग बहुत सारे सपने देखते हैं कि हम यह करेंगे वह करेंगे ऐसे जिएंगे इस तरह से एक दूसरे का ख्याल रखेंगे मगर बाद में जब यकीन हो जाता है संसार तो उसके लिए जो सपने से वह सपने टूट जाते हैं या तो वह खुशी थी वह बरकरार नहीं रहती वह खुशी है वह चली जाती तो खुशी को बरकरार रखने के लिए आपके विचार जो न खुशी वाला ट्रैक्टर आ गया है उसके लिए सबसे पहले तो आपको रूटीन तोड़ना होगा जैसे कि आपकी वाइफ हमेशा चाय बना कर लाती है तो अगर आप चाय बना सकते हो तो उसके लिए भी कभी चाय बना कर दो कभी-कभी ऐसा लगे कि वो नाराज है दुखी है तो उसे पास बैठकर उसकी सारी बातों को सुनने लोग शादी के बाद पहले पत्नी की बहुत सारी बातें सुनते हैं और शादी हो जाने के बाद उसकी एक भी बात सुनते नहीं है इसलिए भी स्त्रिया नाराज होते हैं और ऐसा मैंने सुना है चुटकुला की हस्बैंड है वह घर में आता है और घर में आते ही बोलता है कि मैं आकर बैठा हूं और तुम्हें बोलना शुरू कर दिया है लड़के नहीं है क्या ऐसा है सांस ने ऐसा कहा तो तुम्हें ऐसा नहीं लगता कि मुझे आकर रिलैक्स होना चाहिए और तुम्हारा पति खुश रहे रिलैक्स रे वह तूने चाहती तो उसने ऐसा भी कहा कि उसकी पत्नी को भी तुम्हें यह समझना चाहिए कि पति को खुश रहना चाहिए रिलैक्स रहना चाहिए तो उसकी पत्नी ने बोला कि तुम यह सोचते हो तो मैं यह क्या कर रही हूं मैं ही अपने आपको रिलैक्स ही कर रही हूं या नहीं वही कर रही थी कि अपने भीतर जो भी पीड़ा थी वह निकाल रही थी और अपने रिलैक्स होने की कोशिश करते हो और यहां दुखी होते हो तो इसकी वजह है कि और घर में सीरियस हो जाते हैं तो संसार में हमें सीरियस नहीं रहना है एक दूसरे की मजाक कर ली है और कोई व्यक्ति कितना भी नाराज हो हम मजाक करें और उस मजाक करे तो नाराज हो जाती है तो हम कितना भी कोशिश करें उनकी नाराजगी रहती है यह हकीकत है मगर हमें यह समझना चाहिए कि यह उनका सच्चा ही ऐसा है कि उनके शरीर में इतने दुख दर्द होते हैं इतनी पीड़ा होती है और वह बॉडी से बहुत अटैच होती है तो उनका बॉडी का स्टेटमेंट ज्यादा होता है इसलिए सरिया बार-बार दुखी हो जाती है और उनको बाहर के दिखा में में में कपड़े में और मेकअप में ज्यादा इंटरेस्ट होता है तो हमें यह सोचना चाहिए कि उसका एड्रेस क्या है उसको किसी सहेली के साथ बैठकर बात करने में मजा आता है तो हमें उसके लिए ख्याल करना चाहिए उसको बहने खरीदना क्या कुछ भी ना खरीदे तो सिर्फ उसके बारे में बात करना या उसकी खरीद के लिए चर्चा करना अच्छा लगता है तो उसे से लाए हो तो वहां से ले जाना चाहिए और उसमें उसको बोल देना चाहिए कि इतना ही मेरा बजट है इससे ज्यादा नहीं हो सकेगा और इसमें भी प्रॉब्लम है तो उसको घर की स्थिति के बारे में डिस्कस करना चाहिए इस तरह की बहुत सारी चीजें हैं कि जहां से हमें दुख मिलता है वहां हम सुख पा सकते हैं आपको पहले कहां से सुख मिलता था पहले आप कहां से खुश रहते थे कौन कौन सी बात थी उसी बात को पकड़ कर आप कोशिश करेंगे तो आप उस खुशी को बरकरार रख पाएंगे और वही जगह है जहां से आपको खुशी मिलती है दूसरी बात की पत्नी के साथ दूसरी स्त्रियों का कंप्लीशन मत करो पति के सामने दूसरी स्त्रियों की तारीफ करोगे या उसके सामने दूसरी स्त्रियों के बाहर देखोगे तो उसके अंदर चेल्सी हो जाएगी उससे बहुत दुखी हो जाती है वाले आज की आधुनिक सरिया से बोलती है कि हमें कोई फर्क नहीं पड़ता किसी लड़की से बात करो मगर वो लोग भी तरसे जेलस हो जाते हैं तो स्त्री बहुत पुरुष का जो रिश्ता है उसमें पजेशन ज्यादा होता है और फ्रीजर प्रवेश करती है तो उसके भीतर भी उसका प्रेम होता है वह आपको ऐसा नहीं कि घर में आप बैठे रहे तो उसको अच्छा लगता है मगर आप घर में हो भले वह काम करते रहे तो उसको अच्छा लगता तो इसलिए पुरुष है ना उसको अवार्ड करता है टीवी देखता रहता है और पहले वह उसके साथ बैठकर बहुत सारी बातें की होती है और अभी वह टीवी देख कर उसको एक बार करता है तो स्त्री या नाराज हो जाती है फिर भी उसके लिए सही करती है कि पहले बातें करती थी और अभी वह स्त्री उसके सामने ना देख कर कि वीक और देखते या किसी छोटे-मोटे कामों में रहती है खुशी वहां से दूर हो जाती है वहां से दोनों में धोखा जाता है ऐसी बहुत सारी चीजें है जैसे साथ घूमने जाना गार्डन में जाना और शांति से कहीं एकांत जगह पर जाकर बैठना ऐसी बहुत सारी बातें है जो आप प्रयोग करोगे प्रयास करेंगे ध्यान योग में भी साथ में बैठे मोहन में साथ बैठे तो इस तरह के बहुत सारे प्रयोग है छोटे-मोटे जो आप करते रहेंगे तो आपको अच्छा रहेगा और आपके जीवन में फिर से खुशियां जाएगी

shaadi ke baad bahut saare kapdo ko maine dekha hai ki unki khushi kam ho jaati hai unki khushi ghat jaati hai toh uske kya wajah hai vaah har ek couple ko sochna chahiye toh sabse pehli baat hai ek jo sukoon bahut saare ke saare achuk unko mil jaate hain isliye sukh me hum jeete hain na toh vaah shakha me hamara jeevan zyada khush rehta hai sukh milta hai usse zyada khushi sukh milega is baat me hai toh isliye hamein yah samajhna chahiye ki kaun kaun se khushi ke sapne humne dekhe the ki love marriage me log bahut saare sapne dekhte hain ki hum yah karenge vaah karenge aise jeeenge is tarah se ek dusre ka khayal rakhenge magar baad me jab yakin ho jata hai sansar toh uske liye jo sapne se vaah sapne toot jaate hain ya toh vaah khushi thi vaah barkaraar nahi rehti vaah khushi hai vaah chali jaati toh khushi ko barkaraar rakhne ke liye aapke vichar jo na khushi vala tractor aa gaya hai uske liye sabse pehle toh aapko routine todna hoga jaise ki aapki wife hamesha chai bana kar lati hai toh agar aap chai bana sakte ho toh uske liye bhi kabhi chai bana kar do kabhi kabhi aisa lage ki vo naaraj hai dukhi hai toh use paas baithkar uski saari baaton ko sunne log shaadi ke baad pehle patni ki bahut saari batein sunte hain aur shaadi ho jaane ke baad uski ek bhi baat sunte nahi hai isliye bhi striya naaraj hote hain aur aisa maine suna hai chutkula ki husband hai vaah ghar me aata hai aur ghar me aate hi bolta hai ki main aakar baitha hoon aur tumhe bolna shuru kar diya hai ladke nahi hai kya aisa hai saans ne aisa kaha toh tumhe aisa nahi lagta ki mujhe aakar relax hona chahiye aur tumhara pati khush rahe relax ray vaah tune chahti toh usne aisa bhi kaha ki uski patni ko bhi tumhe yah samajhna chahiye ki pati ko khush rehna chahiye relax rehna chahiye toh uski patni ne bola ki tum yah sochte ho toh main yah kya kar rahi hoon main hi apne aapko relax hi kar rahi hoon ya nahi wahi kar rahi thi ki apne bheetar jo bhi peeda thi vaah nikaal rahi thi aur apne relax hone ki koshish karte ho aur yahan dukhi hote ho toh iski wajah hai ki aur ghar me serious ho jaate hain toh sansar me hamein serious nahi rehna hai ek dusre ki mazak kar li hai aur koi vyakti kitna bhi naaraj ho hum mazak kare aur us mazak kare toh naaraj ho jaati hai toh hum kitna bhi koshish kare unki narajgi rehti hai yah haqiqat hai magar hamein yah samajhna chahiye ki yah unka saccha hi aisa hai ki unke sharir me itne dukh dard hote hain itni peeda hoti hai aur vaah body se bahut attach hoti hai toh unka body ka statement zyada hota hai isliye sariya baar baar dukhi ho jaati hai aur unko bahar ke dikha me me me kapde me aur makeup me zyada interest hota hai toh hamein yah sochna chahiye ki uska address kya hai usko kisi saheli ke saath baithkar baat karne me maza aata hai toh hamein uske liye khayal karna chahiye usko behne kharidna kya kuch bhi na kharide toh sirf uske bare me baat karna ya uski kharid ke liye charcha karna accha lagta hai toh use se laye ho toh wahan se le jana chahiye aur usme usko bol dena chahiye ki itna hi mera budget hai isse zyada nahi ho sakega aur isme bhi problem hai toh usko ghar ki sthiti ke bare me discs karna chahiye is tarah ki bahut saari cheezen hain ki jaha se hamein dukh milta hai wahan hum sukh paa sakte hain aapko pehle kaha se sukh milta tha pehle aap kaha se khush rehte the kaun kaun si baat thi usi baat ko pakad kar aap koshish karenge toh aap us khushi ko barkaraar rakh payenge aur wahi jagah hai jaha se aapko khushi milti hai dusri baat ki patni ke saath dusri sthreeyon ka completion mat karo pati ke saamne dusri sthreeyon ki tareef karoge ya uske saamne dusri sthreeyon ke bahar dekhoge toh uske andar chelsee ho jayegi usse bahut dukhi ho jaati hai waale aaj ki aadhunik sariya se bolti hai ki hamein koi fark nahi padta kisi ladki se baat karo magar vo log bhi tarse ZALASE ho jaate hain toh stree bahut purush ka jo rishta hai usme possession zyada hota hai aur freezer pravesh karti hai toh uske bheetar bhi uska prem hota hai vaah aapko aisa nahi ki ghar me aap baithe rahe toh usko accha lagta hai magar aap ghar me ho bhale vaah kaam karte rahe toh usko accha lagta toh isliye purush hai na usko award karta hai TV dekhta rehta hai aur pehle vaah uske saath baithkar bahut saari batein ki hoti hai aur abhi vaah TV dekh kar usko ek baar karta hai toh stree ya naaraj ho jaati hai phir bhi uske liye sahi karti hai ki pehle batein karti thi aur abhi vaah stree uske saamne na dekh kar ki weak aur dekhte ya kisi chote mote kaamo me rehti hai khushi wahan se dur ho jaati hai wahan se dono me dhokha jata hai aisi bahut saari cheezen hai jaise saath ghoomne jana garden me jana aur shanti se kahin ekant jagah par jaakar baithana aisi bahut saari batein hai jo aap prayog karoge prayas karenge dhyan yog me bhi saath me baithe mohan me saath baithe toh is tarah ke bahut saare prayog hai chote mote jo aap karte rahenge toh aapko accha rahega aur aapke jeevan me phir se khushiya jayegi

शादी के बाद बहुत सारे कपड़ों को मैंने देखा है कि उनकी खुशी कम हो जाती है उनकी खुशी घट जाती

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  191
WhatsApp_icon
user

Aniel K Kumar Imprints

NLP Master Life Coach, Motivational Speaker

2:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार मैं निलके कुमार इन फ्रेंच ऐनल पेमास्टर लाइफ कोच के साथ छोड़ा हूं आपका सवाल बहुत ही बेहतरीन हैं और आप अपने रिश्तों को बेहतर करना चाहते हैं जो शादी के टाइम तक आए थे लेकिन अभी आप कैसा फील होता है कि वह हर रोज एक दूसरे की खुशी में कमी आ रही है और आप अपनी पत्नी खुशी के बारे में सोच रहे हैं आप जैसे शुभचिंतक और अच्छा पार्टनर किस्मत वालों को ही मिलता है और दोस्त आप यदि सच में शिव शिव खुश करना चाहते हैं तो एक टेक्निक मैं आपको बताना चाहूंगा अमूमन एक बहुत बेहतरीन कविता की जो मैंने सुनी थी कि बच्चा है उसे बच्चा रहने दो रे कुछ तो अच्छा रहने दो तो दोस्त लिखिए अब आप बड़े हो गए हैं कब यूपीएस आपकी शादी को हो गए हैं आप अपने आप को समझते हैं वह ग्रहणी और उस फील्ड में अपने आपको बिजी कर रही है तो कभी उसको बाहर लेकर जाएं और कुछ पल वही अंदाज में बताएं जैसे आपको शुरू में थे एक लव लविंग बर्ड्स तो इस तरह से आप कष्ट करें और कुछ बेहतर टाइम दे पाए तो ज्यादा बैटर होगा मैं तो पूरी तरह उसी के साथ बैठे हैं ना कि फोन व्हाट्सएप फेसबुक सब चीजें कुछ क्षण क्षण के लिए जब आप उसके साथ होते हैं तो कम से कम उसको साइड में तो जाओगे कि पूछो आप अपना हैंड प्रशासन रक्षण टाइम दे रहे होते हैं तो वह आपसे जैसे करने लगी और आपके साथ समय बिताने लगी दूसरी चीज के साथ में हाथ बताएं उनके काम में बिजी रहती है तो जब आपको समय लगता है तब उनके साथ है हाथ बताएं अभी काम में और तेजी से खुशियों प्यार दोबारा आपका उजागर हो जाएगा और मैं आशा करता हूं कि आप इस चीज को करेंगे और अपने जीवन को बेहतर बनाएंगे दोस्त कुछ अच्छा करते हैं किसी और चेहरे पर एक मुस्कान को पक्का करते हैं इसके साथ में आपको बताना चाह सकते हैं हमारे हमारे कि गुरु डॉट कॉम वेबसाइट पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं सी प्यारी-प्यारी वीडियो जो आपके जीवन को बेहतर करने में सक्षम बनाने में और उन्नत करने में आपको सहायता करेंगे जय हिंद जय भारत

namaskar main nilke kumar in french ainal paymaster life coach ke saath choda hoon aapka sawaal bahut hi behtareen hain aur aap apne rishton ko behtar karna chahte hain jo shaadi ke time tak aaye the lekin abhi aap kaisa feel hota hai ki vaah har roj ek dusre ki khushi me kami aa rahi hai aur aap apni patni khushi ke bare me soch rahe hain aap jaise shubhchintak aur accha partner kismat walon ko hi milta hai aur dost aap yadi sach me shiv shiv khush karna chahte hain toh ek technique main aapko batana chahunga amuman ek bahut behtareen kavita ki jo maine suni thi ki baccha hai use baccha rehne do ray kuch toh accha rehne do toh dost likhiye ab aap bade ho gaye hain kab UPS aapki shaadi ko ho gaye hain aap apne aap ko samajhte hain vaah grahanee aur us field me apne aapko busy kar rahi hai toh kabhi usko bahar lekar jayen aur kuch pal wahi andaaz me bataye jaise aapko shuru me the ek love loving birds toh is tarah se aap kasht kare aur kuch behtar time de paye toh zyada better hoga main toh puri tarah usi ke saath baithe hain na ki phone whatsapp facebook sab cheezen kuch kshan kshan ke liye jab aap uske saath hote hain toh kam se kam usko side me toh jaoge ki pucho aap apna hand prashasan rakshan time de rahe hote hain toh vaah aapse jaise karne lagi aur aapke saath samay bitane lagi dusri cheez ke saath me hath bataye unke kaam me busy rehti hai toh jab aapko samay lagta hai tab unke saath hai hath bataye abhi kaam me aur teji se khushiyon pyar dobara aapka ujagar ho jaega aur main asha karta hoon ki aap is cheez ko karenge aur apne jeevan ko behtar banayenge dost kuch accha karte hain kisi aur chehre par ek muskaan ko pakka karte hain iske saath me aapko batana chah sakte hain hamare hamare ki guru dot com website par jaakar apna registration kar sakte hain si pyaari pyaari video jo aapke jeevan ko behtar karne me saksham banane me aur unnat karne me aapko sahayta karenge jai hind jai bharat

नमस्कार मैं निलके कुमार इन फ्रेंच ऐनल पेमास्टर लाइफ कोच के साथ छोड़ा हूं आपका सवाल बहुत ही

Romanized Version
Likes  95  Dislikes    views  1100
WhatsApp_icon
user

Dr Sanjay Kumar

Life Coach, Parenting Mentor, Relationship Coach

1:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों में डॉक्टर संजय कुमार आप कमेंट और गाइड अंदर आपका स्वागत करता हूं शादी से पहले मैं और मेरी पत्नी दोनों खुश धीरे-धीरे कम होती जा रही है मुझे क्या करना चाहिए जो तो दोस्तों आप और आपकी पत्नी हिस रिलेशनशिप में है पहले थे और अब भी हैं वह प्यार से बंधा हुआ है एक दूसरे के लिए कम्युनिकेट करने का है यह रिलेशन एक दूसरे के साथ में ठंडी करें प्रॉपर्ली कम्युनिकेट करते रहिए और 30 तरीके से काम कम्युनिकेट करते रहे और इफेक्टिव कम्युनिकेशन मेरे को एक मेरे मेंटर है उन्होंने बताया है कि एक्टिव कम्युनिकेशन जो है वह हमेशा से इट्स ऑल अबाउट गिविंग गिविंग एंड गिविंग कितना दूसरे के लिए कर सकते हैं वह करने का नाम है एक्सपेक्टेशन दिल रखें और दूसरे के लिए करते रहे लोगों की जिंदगी में शॉर्ट टर्म और लांग टर्म तरीके से कंट्रीब्यूट करते रहे हैं उनकी जिंदगी में वैल्यू करते रहे नॉलेज स्कूल बढ़ाते रहिए बहुत सारे कोर्सेज ऑफलाइन ऑनलाइन अवेलेबल है कि सीमेंट और गाइड की भी आप मदद ले सकते हैं महीने में 2 महीने में कम से कम 6 महीने में एक ऐसा कोर्स जरूर करें आपकी मैरिज लाइफ के अंदर नया पर ला सके तो अपनी स्क्रीन एनहांस करते रहे रिलेशनशिप मेंटेन करने के लिए भी मैं बोलता हूं कि हमेशा स्किल्स के कॉमेंट होते हैं उनको हमेशा करते रहे आपके रिश्ते में भी चमक बरकरार रहेगी इसी शुभकामना के साथ में की नोट के साथ में स्टेशन को यहीं समाप्त करता हूं आपकी जिंदगी और आपका पूरा भविष्य आने वाली पूरी जिंदगी और आपके जो पत्नी हैं और परिवार में सभी लोगों की जिंदगी बहुत सुख में और खुश में और आनंदमय प्रेम से परिपूर्ण रहे नमस्कार

namaskar doston me doctor sanjay kumar aap comment aur guide andar aapka swaagat karta hoon shaadi se pehle main aur meri patni dono khush dhire dhire kam hoti ja rahi hai mujhe kya karna chahiye jo toh doston aap aur aapki patni hiss Relationship me hai pehle the aur ab bhi hain vaah pyar se bandha hua hai ek dusre ke liye kamyuniket karne ka hai yah relation ek dusre ke saath me thandi kare properly kamyuniket karte rahiye aur 30 tarike se kaam kamyuniket karte rahe aur effective communication mere ko ek mere mentor hai unhone bataya hai ki active communication jo hai vaah hamesha se its all about giving giving and giving kitna dusre ke liye kar sakte hain vaah karne ka naam hai expectation dil rakhen aur dusre ke liye karte rahe logo ki zindagi me short term aur lang term tarike se kantribyut karte rahe hain unki zindagi me value karte rahe knowledge school badhate rahiye bahut saare courses offline online available hai ki cement aur guide ki bhi aap madad le sakte hain mahine me 2 mahine me kam se kam 6 mahine me ek aisa course zaroor kare aapki marriage life ke andar naya par la sake toh apni screen enahans karte rahe Relationship maintain karne ke liye bhi main bolta hoon ki hamesha skills ke comment hote hain unko hamesha karte rahe aapke rishte me bhi chamak barkaraar rahegi isi shubhkamna ke saath me ki note ke saath me station ko yahin samapt karta hoon aapki zindagi aur aapka pura bhavishya aane wali puri zindagi aur aapke jo patni hain aur parivar me sabhi logo ki zindagi bahut sukh me aur khush me aur anandamay prem se paripurna rahe namaskar

नमस्कार दोस्तों में डॉक्टर संजय कुमार आप कमेंट और गाइड अंदर आपका स्वागत करता हूं शादी से प

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  328
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

धीरे-धीरे समय बीतने के साथ ऐसा होता है लेकिन अगर आप चाहें तो कुछ नहीं क्रिएटिविटी कर सकते हैं कि मैं आपकी पत्नी को भी अच्छा लगे और आपको भी अच्छा लगे और दोनों में एक दूसरे कई नए तरीके बाजार में उपलब्ध है वैसा कर सकते हैं

dhire dhire samay beetane ke saath aisa hota hai lekin agar aap chahain toh kuch nahi creativity kar sakte hain ki main aapki patni ko bhi accha lage aur aapko bhi accha lage aur dono me ek dusre kai naye tarike bazaar me uplabdh hai waisa kar sakte hain

धीरे-धीरे समय बीतने के साथ ऐसा होता है लेकिन अगर आप चाहें तो कुछ नहीं क्रिएटिविटी कर सकते

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  75
WhatsApp_icon
user

NotInterested

NotInterested

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसे एक को गुलाब का फुल कर अगर एग्जांपल लेते हैं तो वह जिस दिन वह खेलता है वह बहुत ही सुंदर दिखता है ऐसा लगता है क्यों मुस्कुरा रहा है बहुत खुश है लेकिन क्या होता है कि समय के हिसाब से होने से मुरझा जाता है खत्म हो जाता है तो ऐसे ही हम लोगों के साथ भी होता है कि कोई भी इंसान का जो मैंने सारे है मेंटलिटी है या फिर साइकोलॉजी वसीम नहीं रहती लोग बदलते हैं समय की सबसे बदलते हैं सारे लोग बदलते हैं तो यही बात है कि कोई भी इंसान शादी से पहले एक दूसरे से मिलते हैं तो दोनों लोगों के लिए दोनों लोग नए रहते हैं और दोनों लोगों को खुशी मिलती है अच्छा लगता है लेकिन कुछ टाइम के बाद क्या हो जाता है कि पता नहीं लोग बदलते ही हैं और उनका मेंटलिटी भी चेंज हो जाती है और एक दूसरे के लिए लोग पुराने हो जाते हैं तो इसीलिए क्या होता है कि शादी के बाद लोग ज्यादा करके खुश नहीं रहते तो यही प्रॉब्लम है क्योंकि जो लोग एक दूसरे के लिए पुराने हो जाते हैं एक दूसरे के लिए नए-नए नहीं रहते यही वह कारण है जिसकी वजह से लोग शादी के बाद बदल

jaise ek ko gulab ka full kar agar example lete hain toh vaah jis din vaah khelta hai vaah bahut hi sundar dikhta hai aisa lagta hai kyon muskura raha hai bahut khush hai lekin kya hota hai ki samay ke hisab se hone se murjha jata hai khatam ho jata hai toh aise hi hum logo ke saath bhi hota hai ki koi bhi insaan ka jo maine saare hai mentaliti hai ya phir psychology wasim nahi rehti log badalte hain samay ki sabse badalte hain saare log badalte hain toh yahi baat hai ki koi bhi insaan shadi se pehle ek dusre se milte hain toh dono logo ke liye dono log naye rehte hain aur dono logo ko khushi milti hai accha lagta hai lekin kuch time ke baad kya ho jata hai ki pata nahi log badalte hi hain aur unka mentaliti bhi change ho jaati hai aur ek dusre ke liye log purane ho jaate hain toh isliye kya hota hai ki shadi ke baad log zyada karke khush nahi rehte toh yahi problem hai kyonki jo log ek dusre ke liye purane ho jaate hain ek dusre ke liye naye naye nahi rehte yahi vaah karan hai jiski wajah se log shadi ke baad badal

जैसे एक को गुलाब का फुल कर अगर एग्जांपल लेते हैं तो वह जिस दिन वह खेलता है वह बहुत ही सुंद

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  177
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!