मैं मोदी जी को लाइक करता हूँ मगर दूसरे क्यों नहीं करते?...


user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

1:12
Play

Likes  544  Dislikes    views  7989
WhatsApp_icon
9 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Abhishek Sharma

Forest Range Officer, MP

1:31

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए, कौन किसको पसंद करता है या पसंद नहीं करता है इस बात से फर्क नहीं पड़ता l फर्क पड़ता है आपकी पसंद से l देखिए, हर व्यक्ति में क्योंकि भगवान में भी दोष होता है तो हर व्यक्ति कहीं ना कहीं सही तो कहिए कि गलत भी होता है l अगर आप मोदी जी को पसंद करते हैं तो यह चीज मैटर करती है इसके अलावा दुनिया की कोई चीज मैटर नहीं करती l आप यह मत सोचिए कि इन को नापसंद क्यों कर रहे हैं लोग क्योंकि नापसंद भी उसे किया जाता है जिसे लोग को पसंद करते हैं l आप एक बात बताइए शाहरुख खान है, वह इतने बड़े स्टार हैं क्या उन्हें पसंद और नापसंद करने वाले लोग नहीं होंगे l बिल्कुल होंगे क्योंकि नापसंद भी उन्हीं लोगों को किया था जिनकी फेम बढ़ती है, जो लोगों ऊपर होते हैं, जो लोग ऊंचे पद पर होते हैं l अभी गरीब आदमियों से कौन पसंद या नापसंद करेगा, कोई नहीं करेगा l क्योंकि उस व्यक्ति को जानता नहीं है, पहचानता नहीं है l उस व्यक्ति का कोई वजूद ही नहीं है l तो इतनी यह जो समाज में जेलेसिस जो या एक दूसरे को देखकर जलन की भावना चलती है वह आपको हमेशा डीग्रेड करने के लिए ही होती है l तो आप इस चीज से अपने आपको परेशानी मत रखिए, बिल्कुल भी डीग्रेड होने की जरूरत नहीं है, परेशान होने की जरूरत नहीं है l आप पसंद करते हैं बहुत अच्छी बात है, अपना सपोर्ट कीजिए l ब्लाइंडली फ़ोलो किसी भी नेता को मत कीजिए l किसी पार्टी को मत कीजिए l केवल उस व्यक्ति को वोट दीजिए जो आपके विकास की बात करें l आपको लड़ाए नहीं, हिंदुस्तान को जोड़े रखे l हमारे जो टेरिटरी है उनकी रक्षा करवाने में सक्षम हो l बस यही आपको सोचना है इसके अलावा कुछ नहीं सोचना है l जिसको जो लगता है सोचने दीजिए कोई फर्क नहीं पड़ता, धन्यवाद l

dekhiye kaun kisko pasand karta hai ya pasand nahi karta hai is baat se fark nahi padta l fark padta hai aapki pasand se l dekhiye har vyakti mein kyonki bhagwan mein bhi dosh hota hai toh har vyakti kahin na kahin sahi toh kahiye ki galat bhi hota hai l agar aap modi ji ko pasand karte hain toh yah cheez matter karti hai iske alava duniya ki koi cheez matter nahi karti l aap yah mat sochiye ki in ko napasand kyon kar rahe hain log kyonki napasand bhi use kiya jata hai jise log ko pasand karte hain l aap ek baat bataye shahrukh khan hai vaah itne bade star kya unhe pasand aur napasand karne waale log nahi honge l bilkul honge kyonki napasand bhi unhi logo ko kiya tha jinki fem badhti hai jo logo upar hote hain jo log unche pad par hote hain l abhi garib adamiyo se kaun pasand ya napasand karega koi nahi karega l kyonki us vyakti ko jaanta nahi hai pahachanta nahi hai l us vyakti ka koi wajood hi nahi hai l toh itni yah jo samaj mein jelesis jo ya ek dusre ko dekhkar jalan ki bhavna chalti hai vaah aapko hamesha digred karne ke liye hi hoti hai l toh aap is cheez se apne aapko pareshani mat rakhiye bilkul bhi digred hone ki zarurat nahi hai pareshan hone ki zarurat nahi hai l aap pasand karte hain bahut achi baat hai apna support kijiye l blindly folo kisi bhi neta ko mat kijiye l kisi party ko mat kijiye l keval us vyakti ko vote dijiye jo aapke vikas ki baat kare l aapko ladaye nahi Hindustan ko jode rakhe l hamare jo Territory hai unki raksha karwane mein saksham ho l bus yahi aapko sochna hai iske alava kuch nahi sochna hai l jisko jo lagta hai sochne dijiye koi fark nahi padta dhanyavad l

देखिए, कौन किसको पसंद करता है या पसंद नहीं करता है इस बात से फर्क नहीं पड़ता l फर्क पड़ता

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  272
WhatsApp_icon
user

Amber Rai

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

0:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां देखे कई लोग हैं जो मोदी की जो भी फेल है एटीट्यूड है और स्पीचेस वगैरा देते हैं जो काम है उसे बहुत पसंद करते रहते हैं और खुश रहते हैं और उनकी तारीफ करते हैं तुमको पसंद करता है लेकिन कई लोग जो है उनके काम और जो सबको पसंद नहीं करते जिससे वह काम कर रहे हो और जिस तरह से वह अपने पोजीशन पार्टी के लिए जो वर्ड्स है यूज़ करते हो ज़िद सातारा की WhatsApp चलाते हैं यह जरुरी नहीं है कि हर आदमी का जो है वह और नेगेटिव साइड होता है वैसे ही मोदी जी के भी कुछ ए पॉजिटिव साइड है और नेगेटिव साइड है कि कई लोगों ने लाइक करें और कई लोग नहीं करेंगे उसमें तो कुछ किया नहीं जा सकता इसमें कोई डिबेट की जरूरत नहीं है

haan dekhe kai log hain jo modi ki jo bhi fail hai attitude hai aur speeches vagera dete hain jo kaam hai use bahut pasand karte rehte hain aur khush rehte hain aur unki tareef karte hain tumko pasand karta hai lekin kai log jo hai unke kaam aur jo sabko pasand nahi karte jisse vaah kaam kar rahe ho aur jis tarah se vaah apne position party ke liye jo words hai use karte ho zid satara ki WhatsApp chalte hain yah zaroori nahi hai ki har aadmi ka jo hai vaah aur Negative side hota hai waise hi modi ji ke bhi kuch a positive side hai aur Negative side hai ki kai logo ne like kare aur kai log nahi karenge usme toh kuch kiya nahi ja sakta isme koi debate ki zarurat nahi hai

हां देखे कई लोग हैं जो मोदी की जो भी फेल है एटीट्यूड है और स्पीचेस वगैरा देते हैं जो काम ह

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  158
WhatsApp_icon
user

.

Hhhgnbhh

1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए, हम सब लोगों की अपनी पर्सनल चॉइस होती है कि वह किसी व्यक्ति को पसंद करते हैं, नहीं करते l एक समय था जब मोदी जी के सब दीवाने थे पर अब वह समय थोड़ा ज्यादा ज्यादा दिख रहा है अब जाकर लोगों ने इतना पसंद नहीं करते जितना पहले करते थे l क्योंकि समय बदल गया है और तो मोदी जी के काम थे उनको इतनी तो प्रशंसा नहीं मिली है l देमोनेतिसतिओन इसके अंदर हुआ क्या कि जिनके पास ब्लैक मनी था उन्होंने कोई ना कोई तरीका देखकर तो ब्लैक मनी को अपना रोक लिया l पर लोगों को तो नुकसान तो उन लोगों को हुआ है सबसे ज्यादा जो लोग गरीब थे, जिनके पास ज्यादा पैसे नहीं थे l लोअर मिडिल क्लास फैमिली को जब थोड़े से भी पैसे लगा डालने के लिए उन्हें इतनी लंबी लंबी लाइनों में लगना पड़ता था l उन्हें ऑफिस से छुट्टी लेकर यह काम करना पड़ता था l उसके बाद जब जैसे वह देश से बाहर जाते रहे और टैक्स भी बढ़ता रहा l चीजें महंगी हो गई तो दाल पहले 80 के मिलती थी आज वो डेढ़ सो की मिल रही है l तो चीज इतनी महंगी होगी, महंगाई बढ़ गई l तो इन्हीं सब कारण वर्ष जो है जो मोदी जी है उनकी उनको तो जरुर लाइक करते थे वह कम हो गए क्योंकि उनकी जो लोगों की जिंदगी है पर पहले से आसान बनाने का जो वादा हुआ था वह पूरा नहीं कर पाए और जिंदगी कहीं ना कहीं महंगाई से मिलते हुए और ज्यादा मुश्किल हो गई l

dekhiye hum sab logo ki apni personal choice hoti hai ki vaah kisi vyakti ko pasand karte hain nahi karte l ek samay tha jab modi ji ke sab deewane the par ab vaah samay thoda zyada zyada dikh raha hai ab jaakar logo ne itna pasand nahi karte jitna pehle karte the l kyonki samay badal gaya hai aur toh modi ji ke kaam the unko itni toh prashansa nahi mili hai l demonetistion iske andar hua kya ki jinke paas black money tha unhone koi na koi tarika dekhkar toh black money ko apna rok liya l par logo ko toh nuksan toh un logo ko hua hai sabse zyada jo log garib the jinke paas zyada paise nahi the l lower middle class family ko jab thode se bhi paise laga dalne ke liye unhe itni lambi lambi lineon mein lagna padta tha l unhe office se chhutti lekar yah kaam karna padta tha l uske baad jab jaise vaah desh se bahar jaate rahe aur tax bhi badhta raha l cheezen mehengi ho gayi toh daal pehle 80 ke milti thi aaj vo dedh so ki mil rahi hai l toh cheez itni mehengi hogi mahangai badh gayi l toh inhin sab karan varsh jo hai jo modi ji hai unki unko toh zaroor like karte the vaah kam ho gaye kyonki unki jo logo ki zindagi hai par pehle se aasaan banane ka jo vada hua tha vaah pura nahi kar paye aur zindagi kahin na kahin mahangai se milte hue aur zyada mushkil ho gayi l

देखिए, हम सब लोगों की अपनी पर्सनल चॉइस होती है कि वह किसी व्यक्ति को पसंद करते हैं, नहीं क

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  193
WhatsApp_icon
user

Vatsal

Engineering Student

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप मोदी जी को लाइक करते हैं लेकिन आप जानना चाह रहे दूसरे क्यों नहीं करते दिखे हर जने की अपनी अपनी व्यक्तिगत पसंद होती है व्यक्तिगत राय होती है तो किसी को मोदी जी प्रसन्न होंगे किसी को नहीं होंगे आप यह मैनडेटरी नहीं कर सकते क्यों नहीं पसंद है कि सबको पसंद होनी चाहिए ऐसा नहीं है बिल्कुल भी तुमको पसंद नहीं है वह या तो किसी दूसरी पार्टी के होंगे केवल इस वजह से पसंद नहीं करते होंगे या के कुछ लोगों में खामियां दिखती होंगी कुछ जिस वजह से पसंद नहीं करते हो कि मैं अपनी व्यक्तिगत राय बताओ मोदी जी बहुत ही ईमानदार मजबूत शक्तिशाली भरोसेमंद विश्वसनीय प्रधानमंत्री हैं इसमें कोई शक नहीं है इसमें कोई शक नहीं है कि आज तक के इतिहास में उनसे अच्छा प्रधानमंत्री जितना मेरा जीवन काल है उसमें नहीं है लेकिन यदि आप दूसरे परिभाषा में देखें जब यह सरकार 2014 में चुन के आई थी तो जनता को भारी उम्मीद थी कि अच्छे दिन आने वाले हैं लेकिन क्या वह आए उन नहीं आए क्योंकि हो क्या रहा है केवल मोदी एक नाम बन के रह गया है इस केंद्र सरकार और BJP की पार्टी में बाकी अन्य नेता और खुद पार्टी कुछ काम नहीं कर रही है मोदी जी विदेश में बहुत अच्छा काम कर रहे हैं दूसरे देश ने अपने देश की पहचान समझ रहे हैं लेकिन हर एक इंसान आखिरी में यह जानना चाहता हूं उसको पर्सनल क्या फायदा उसकी जेब में क्या फायदा हुआ जीएसटी से व्यापारी वर्ग परेशान है नोटबंदी से पूरे दुनिया देश पूरे देश की जनता परेशान होती खासतौर पर गरीब तबका किसान वर्ग परेशान है फसल के दाम नहीं मिल रहे हैं सही और अन्य हर डिपार्टमेंट के लोग जो हैं वह परेशान है यानी कि काम बहुत अच्छे नहीं हो रहे डीजल पेट्रोल इतना महंगा होता जा रहा है महंगाई बढ़ती जा रही है हमें जीडीपी कम होती जा रही है पर कश्मीर में लगातार हमले हो रहे हैं तो BJP काम नहीं कर रही है मोदी काम कर रहे हैं इस तरीके से लोग नापसंद कर रहे

aap modi ji ko like karte hain lekin aap janana chah rahe dusre kyon nahi karte dikhe har jane ki apni apni vyaktigat pasand hoti hai vyaktigat rai hoti hai toh kisi ko modi ji prasann honge kisi ko nahi honge aap yah maindetri nahi kar sakte kyon nahi pasand hai ki sabko pasand honi chahiye aisa nahi hai bilkul bhi tumko pasand nahi hai vaah ya toh kisi dusri party ke honge keval is wajah se pasand nahi karte honge ya ke kuch logo mein khamiyan dikhti hongi kuch jis wajah se pasand nahi karte ho ki main apni vyaktigat rai batao modi ji bahut hi imaandaar majboot shaktishali bharosemand viswasniya pradhanmantri hain isme koi shak nahi hai isme koi shak nahi hai ki aaj tak ke itihas mein unse accha pradhanmantri jitna mera jeevan kaal hai usme nahi hai lekin yadi aap dusre paribhasha mein dekhen jab yah sarkar 2014 mein chun ke I thi toh janta ko bhari ummid thi ki acche din aane waale hain lekin kya vaah aaye un nahi aaye kyonki ho kya raha hai keval modi ek naam ban ke reh gaya hai is kendra sarkar aur BJP ki party mein baki anya neta aur khud party kuch kaam nahi kar rahi hai modi ji videsh mein bahut accha kaam kar rahe hain dusre desh ne apne desh ki pehchaan samajh rahe hain lekin har ek insaan aakhiri mein yah janana chahta hoon usko personal kya fayda uski jeb mein kya fayda hua gst se vyapaari varg pareshan hai notebandi se poore duniya desh poore desh ki janta pareshan hoti khaasataur par garib tabaka kisan varg pareshan hai fasal ke daam nahi mil rahe hain sahi aur anya har department ke log jo hain vaah pareshan hai yani ki kaam bahut acche nahi ho rahe diesel petrol itna mehnga hota ja raha hai mahangai badhti ja rahi hai hamein gdp kam hoti ja rahi hai par kashmir mein lagatar hamle ho rahe hain toh BJP kaam nahi kar rahi hai modi kaam kar rahe hain is tarike se log napasand kar rahe

आप मोदी जी को लाइक करते हैं लेकिन आप जानना चाह रहे दूसरे क्यों नहीं करते दिखे हर जने की अप

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  130
WhatsApp_icon
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप मोदी जी को लाइक करते हैं और दूसरे लोगों ने लाइक नहीं करते हैं l क्योंकि हर इंसान का स्वभाव होता है अलग-अलग l अलग-अलग उस की नेचेर होती है और इसीलिए ऐसा होता है कि सबकी पसंद और नापसंद अलग-अलग होती है l जिसे आप पसंद करते हैं उसे दूसरे भी पसंद करेंगी यह जरूरी तो नहीं है l मोदी जी के बारे में तो लोगों की, जनता की राय कई मायनों पर, कई चीजों पर, कई कारणों पर टिकी हुई है l वह भारत के प्रधानमंत्री हैं उन्हें कई कई चीजों से तोला जाता है कि वह सही है या गलत है और फिर उन पर पसंद और नापसंद जाहिर की जाती है l जैसे मोदी जी ने जब 2014 में चुनाव जीता तो यह जनता की पसंद ही थी कि वह सर्वाधिक वोटों से विजई हुए और आज वोह भारत के प्रधानमंत्री हैं l लेकिन प्रधानमंत्री बनने के बाद उन्होंने जो कार्य किए, उन्होंने जो योजनाएं बनाई, उन्होंने जो कदम उठाने, उन्होंने जो फैसले लिए उनको देखकर जनता उन्हें पसंद और नापसंद कर रही है l उनके कार्यों का आंकलन कर रही है फिर उन्हें लग रहा है कि नहीं यहां वह गलत है, नहीं है वह सही है l इसलिए यह सवाल उठ रहा है जैसे उन्होंने नोटबंदी करी उन्होंने भारत के विकास के लिए, भ्रष्टाचार को हटाने के लिए की करें l जनता ने उनका साथ भी दिया l जनता परेशान लेकिन फिर भी ज्यादा जनता ने उनका साथ लेकर लोगों ने उसे गलत भी माना l तो कई चीजों से प्रधानमंत्री को तोला जा रहा है कि उनकी निर्णय सही है या गलत है l इसीलिए लोगों को लगता है कि वह उन्हें पसंद करते हैं या नहीं करते हैं l कई चीजों से उन्हें लोग नाविक ना पसंद भी करते हैं और पसंद भी करते हैं l तो इसमें हर व्यक्ति की एक अलग सोच है, उनके सोचने का तरीका अलग हो सकता है l आपको उनकी उनकी शैली, उनके व्यक्तित्व अच्छा लगता है और दूसरे लोगों को अच्छा नहीं लगता हो l इसीलिए वह नापसंद करते हैं, आप पसंद करते हो l

aap modi ji ko like karte hain aur dusre logo ne like nahi karte hain l kyonki har insaan ka swabhav hota hai alag alag l alag alag us ki necher hoti hai aur isliye aisa hota hai ki sabki pasand aur napasand alag alag hoti hai l jise aap pasand karte hain use dusre bhi pasand karengi yah zaroori toh nahi hai l modi ji ke bare mein toh logo ki janta ki rai kai maayano par kai chijon par kai karanon par tiki hui hai l vaah bharat ke pradhanmantri hain unhe kai kai chijon se tola jata hai ki vaah sahi hai ya galat hai aur phir un par pasand aur napasand jaahir ki jaati hai l jaise modi ji ne jab 2014 mein chunav jita toh yah janta ki pasand hi thi ki vaah sarvadhik voton se vijayi hue aur aaj woh bharat ke pradhanmantri hain l lekin pradhanmantri banne ke baad unhone jo karya kiye unhone jo yojanaye banai unhone jo kadam uthane unhone jo faisle liye unko dekhkar janta unhe pasand aur napasand kar rahi hai l unke karyo ka ankalan kar rahi hai phir unhe lag raha hai ki nahi yahan vaah galat hai nahi hai vaah sahi hai l isliye yah sawaal uth raha hai jaise unhone notebandi kari unhone bharat ke vikas ke liye bhrashtachar ko hatane ke liye ki kare l janta ne unka saath bhi diya l janta pareshan lekin phir bhi zyada janta ne unka saath lekar logo ne use galat bhi mana l toh kai chijon se pradhanmantri ko tola ja raha hai ki unki nirnay sahi hai ya galat hai l isliye logo ko lagta hai ki vaah unhe pasand karte hain ya nahi karte hain l kai chijon se unhe log navik na pasand bhi karte hain aur pasand bhi karte hain l toh isme har vyakti ki ek alag soch hai unke sochne ka tarika alag ho sakta hai l aapko unki unki shaili unke vyaktitva accha lagta hai aur dusre logo ko accha nahi lagta ho l isliye vaah napasand karte hain aap pasand karte ho l

आप मोदी जी को लाइक करते हैं और दूसरे लोगों ने लाइक नहीं करते हैं l क्योंकि हर इंसान का स्व

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
user

Pragati

Aspiring Lawyer

1:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आप मोदी जी को लाइक करते हैं उनको पसंद करते हैं तो यह आपका खुदका परसेप्शन है आप जो सोचते हैं वह आपको ओपिनियन होता है खुद और खुद का पर्सपेक्टिव होता है क्या आप और किसी इंसान को पसंद करते हैं किस वजह से करते हैं उनकी कोई चीज आपको पसंद आती है या उनके विचार आपको पसंद आते हैं लेकिन दूसरे लोग मोदी जी को लाइक नहीं करते इसके लिए आप या फिर वह दूसरे दो कोई भी जिम्मेदार नहीं है क्योंकि हर इंसान अपनी तरह से सोचते हैं अपने जो 9 जून को जो चीजें देखने को मिलती है अपने आस-पास उस तरह के हिसाब से वह लोग सोचते हैं तो जरूरी नहीं है कि हर कोई मोदी जी को लाइक करें कुछ लोग उनको उनके कामों की वजह से उनको लाइक करते हैं लेकिन कुछ लोग उन्हीं कामों की वजह से उनको लाइक नहीं करते जिस में हम एक एग्जांपल ले सकते हैं उन की विदेश यात्राओं का कुछ लोगों को जब समझ आता है कि उन्होंने जितनी भी विदेश यात्राएं करी है वह सब हमारे देश के लिए लाभदायक साबित हुई और उससे कहीं ना कहीं हमारे देश को ही लाभ मिल है तो इस वजह से वह लोग उनको पसंद करते हैं उन चीजों के लिए पीजी और उनको अच्छा भी बोलते हैं लेकिन कहीं वहीं कुछ लोगों को लगता है कि मोदी जी देश कुछ नहीं कर रहे हैं और विदेश यात्रा पर चले जाते हैं तो इस वजह से कई लोगों को नापसंद भी करते हैं तो यह सब सिर्फ लोगों के परसेप्शन की बात होती है हम किसी को भी जिम्मेदार नहीं ठहरा सकते इस बात के लिए कोई उनको पसंद करता क्यों नहीं आया क्यों करता है क्योंकि अपना-अपना ओपिनियन होता है अपना-अपना पर्सपेक्टिव होता है हर इंसान के देखने का

agar aap modi ji ko like karte hai unko pasand karte hai toh yah aapka khudaka perception hai aap jo sochte hai vaah aapko opinion hota hai khud aur khud ka parsapektiv hota hai kya aap aur kisi insaan ko pasand karte hai kis wajah se karte hai unki koi cheez aapko pasand aati hai ya unke vichar aapko pasand aate hai lekin dusre log modi ji ko like nahi karte iske liye aap ya phir vaah dusre do koi bhi zimmedar nahi hai kyonki har insaan apni tarah se sochte hai apne jo 9 june ko jo cheezen dekhne ko milti hai apne aas paas us tarah ke hisab se vaah log sochte hai toh zaroori nahi hai ki har koi modi ji ko like kare kuch log unko unke kaamo ki wajah se unko like karte hai lekin kuch log unhi kaamo ki wajah se unko like nahi karte jis mein hum ek example le sakte hai un ki videsh yatraon ka kuch logo ko jab samajh aata hai ki unhone jitni bhi videsh yatraen kari hai vaah sab hamare desh ke liye labhdayak saabit hui aur usse kahin na kahin hamare desh ko hi labh mil hai toh is wajah se vaah log unko pasand karte hai un chijon ke liye PG aur unko accha bhi bolte hai lekin kahin wahi kuch logo ko lagta hai ki modi ji desh kuch nahi kar rahe hai aur videsh yatra par chale jaate hai toh is wajah se kai logo ko napasand bhi karte hai toh yah sab sirf logo ke perception ki baat hoti hai hum kisi ko bhi zimmedar nahi thahara sakte is baat ke liye koi unko pasand karta kyon nahi aaya kyon karta hai kyonki apna apna opinion hota hai apna apna parsapektiv hota hai har insaan ke dekhne ka

अगर आप मोदी जी को लाइक करते हैं उनको पसंद करते हैं तो यह आपका खुदका परसेप्शन है आप जो सोचत

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  148
WhatsApp_icon
user

Ridhima

Mass Communications Student

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए, यह जरूरी नहीं कि अगर आप किसी को पसंद करें तो दूसरे भी उसी जन को पसंद करें l यह जो रहता है जो पसंद-लाइक्स रहते हैं वह सब सुब्जेक्टिव रहते हैं l हर आदमी के लिए अलग-अलग रहते हैं l हर वक्त जरूरी नहीं रहता कि कोई भी अगर एक इंसान एक किसी चीज को या किसी जन को पसंद करें तो सब लोग उसी को पसंद करेंगे l किसी किसी का अलग पसंद रहता है l

dekhiye yah zaroori nahi ki agar aap kisi ko pasand kare toh dusre bhi usi jan ko pasand kare l yah jo rehta hai jo pasand likes rehte hain vaah sab subjektiv rehte hain l har aadmi ke liye alag alag rehte hain l har waqt zaroori nahi rehta ki koi bhi agar ek insaan ek kisi cheez ko ya kisi jan ko pasand kare toh sab log usi ko pasand karenge l kisi kisi ka alag pasand rehta hai l

देखिए, यह जरूरी नहीं कि अगर आप किसी को पसंद करें तो दूसरे भी उसी जन को पसंद करें l यह जो र

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  161
WhatsApp_icon
user

Gulnaz

लेवल 1 (बिगिनर)

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आप मोदी को लाइक करते हैं दूसरे नहीं लाइक करते हैं अगर आपका यह सवाल है तो देखिए हर एक का हर एक तरह का ओपिनियन रहता है अगर मोदी जी को पॉजिटिव से लेते हैं या फिर निगेटिव से लेते हैं यह उनके ऊपर डिपेंड होता है उनकी सोच की बात होती है तो अगर आप लाइक करते हैं तो सारे सब कुछ भी लाइक नहीं कर सकते हैं उनका ओपिनियन रहता है कि लाइक करना नहीं लिख कर नहीं वह उनके ऊपर डिपेंड होता है

agar aap modi ko like karte hain dusre nahi like karte hain agar aapka yah sawaal hai toh dekhiye har ek ka har ek tarah ka opinion rehta hai agar modi ji ko positive se lete hain ya phir negative se lete hain yah unke upar depend hota hai unki soch ki baat hoti hai toh agar aap like karte hain toh saare sab kuch bhi like nahi kar sakte hain unka opinion rehta hai ki like karna nahi likh kar nahi vaah unke upar depend hota hai

अगर आप मोदी को लाइक करते हैं दूसरे नहीं लाइक करते हैं अगर आपका यह सवाल है तो देखिए हर एक क

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  193
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!