UPSC में हिंदी माध्यम के विद्यार्थी क्यों सफल नहीं होते हैं?...


user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि यूपीएससी में हिंदी माध्यम के विद्यार्थी क्यों सफल नहीं होते हैं जरूरी नहीं कि हिंदी माध्यम के विद्यार्थी के विद्यार्थी सफल होते हैं उनको मैंने थोड़ी सी ज्यादा करनी पड़ती है लेकिन वह भी सफल हो जाते हैं बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो यूपी में हिंदी माध्यम से भी सफल हो चुके हैं ठीक है आपका दिन शुभ हो धन्यवाद क्लब लाइव टेक केयर एंड एंजॉय और हिंदी में हिंदी माध्यम क्या कर कोई भी है एकदम दीजिए ठीक है मत करिए ठीक है आप जरुर सफल हो गए आपका दिन शुभ हो धन्यवाद लेकिन एक दिन के 17 से 18 घंटे पढ़ाई करो करिएगा

aapka prashna hai ki upsc mein hindi madhyam ke vidyarthi kyon safal nahi hote hain zaroori nahi ki hindi madhyam ke vidyarthi ke vidyarthi safal hote hain unko maine thodi si zyada karni padti hai lekin vaah bhi safal ho jaate hain bahut saare aise log hain jo up mein hindi madhyam se bhi safal ho chuke hain theek hai aapka din shubha ho dhanyavad club live take care and enjoy aur hindi mein hindi madhyam kya kar koi bhi hai ekdam dijiye theek hai mat kariye theek hai aap zaroor safal ho gaye aapka din shubha ho dhanyavad lekin ek din ke 17 se 18 ghante padhai karo kariega

आपका प्रश्न है कि यूपीएससी में हिंदी माध्यम के विद्यार्थी क्यों सफल नहीं होते हैं जरूरी नह

Romanized Version
Likes  312  Dislikes    views  4445
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Sandeep Shahi

Career Advisor @ Motivational Person

2:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह आपसे किसने कह दिया कि हिंदी माध्यम के विद्यार्थी यूपीएससी में सफल नहीं होते हैं मैं तो आपकी इन बातों को सिरे से खारिज करता हूं किसी भी बोर्ड का हो चाहे वह हिंदी बोर्ड का हो चाहे उर्दू बोर्ड का हुए चाय अंग्रेजी बोर्ड का अगर वह सही रणनीति बनाकर पड़ता है तो बिल्कुल सफल होता है अगर आप असफल हो रहे हैं और आप क्यों असफल हो रहे हैं इन कारणों को नहीं ढूंढ रहे हैं और बार-बार उसी ढर्रे पर चल रहे हैं अब जाहिर सी बात है बार-बार असफल होंगे चाय हिंदी मीडियम के स्टूडेंट हो और चाहे वह इंग्लिश मीडियम के स्टूडेंट पढ़ाई तो पढ़ाई होता है एक इंग्लिश मीडियम वाला भी उतनी ही मेहनत करता है और एक हिंदी मीडियम वाला व्यक्ति मेहनत करता और मैं आपको बता देना चाहता हूं अगर हिंदी माध्यम का विद्यार्थी है और उसने अगर मन लगाकर पड़ा है उसके आगे सीबीएसई बोर्ड वाले की हिम्मत नहीं बैठने की आप इतिहास उठा कर देखिए कितने हिंदी मीडियम वाले विद्यार्थी आईएसपीसीएस बिहार के हैं बिहार में जबकि उन लोगों की अंग्रेजी कमजोर होती है आप किसी भी माध्यम से अगर सही रणनीति और सही विश्वास और सही दिशा के साथ अपना कार्य करते हैं तो बिल्कुल आप सफल हो जाएंगे क्योंकि कहा गया असफलता एक चुनौती है स्वीकार करो इसको क्या कमी रह गई सुधार करो इसमें जब तक ना हो सफल नींद चैन की त्यागो तुम और संघर्षों का मैदान छोड़ मत भागो अगर सफल होना चाहते हैं तो जरूर एक बार असफल हुई और असफल हुई है तो उन कमियों को ढूंढिए किस कारण से हो जानबूझकर सफल तो होना नहीं है असफलता तो एक जानबूझकर होता है बिना पढ़े पेपर दे दिया गया तो और आप पढ़ के असफल होते हैं तो फिर अगली बार आप देखिएगा अगर असफलताओं को किन कारण से आप असफल हुए उनको ढूंढ लिए तो आप ही टॉपर रहेंगे मेरा ऐसा मानना है

yah aapse kisne keh diya ki hindi madhyam ke vidyarthi upsc mein safal nahi hote hain main toh aapki in baaton ko sire se khareej karta hoon kisi bhi board ka ho chahen vaah hindi board ka ho chahen urdu board ka hue chai angrezi board ka agar vaah sahi rananiti banakar padta hai toh bilkul safal hota hai agar aap asafal ho rahe hain aur aap kyon asafal ho rahe hain in karanon ko nahi dhundh rahe hain aur baar baar usi dharre par chal rahe hain ab jaahir si baat hai baar baar asafal honge chai hindi medium ke student ho aur chahen vaah english medium ke student padhai toh padhai hota hai ek english medium vala bhi utani hi mehnat karta hai aur ek hindi medium vala vyakti mehnat karta aur main aapko bata dena chahta hoon agar hindi madhyam ka vidyarthi hai aur usne agar man lagakar pada hai uske aage cbse board waale ki himmat nahi baithne ki aap itihas utha kar dekhiye kitne hindi medium waale vidyarthi ISPCS bihar ke hain bihar mein jabki un logo ki angrezi kamjor hoti hai aap kisi bhi madhyam se agar sahi rananiti aur sahi vishwas aur sahi disha ke saath apna karya karte hain toh bilkul aap safal ho jaenge kyonki kaha gaya asafaltaa ek chunauti hai sweekar karo isko kya kami reh gayi sudhaar karo isme jab tak na ho safal neend chain ki tyago tum aur sangharshon ka maidan chod mat bhago agar safal hona chahte hain toh zaroor ek baar asafal hui aur asafal hui hai toh un kamiyon ko dhundhiye kis karan se ho janbujhkar safal toh hona nahi hai asafaltaa toh ek janbujhkar hota hai bina padhe paper de diya gaya toh aur aap padh ke asafal hote hain toh phir agli baar aap dekhiega agar asafaltaon ko kin karan se aap asafal hue unko dhundh liye toh aap hi topper rahenge mera aisa manana hai

यह आपसे किसने कह दिया कि हिंदी माध्यम के विद्यार्थी यूपीएससी में सफल नहीं होते हैं मैं तो

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  288
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है यूपीएससी में हिंदी माध्यम के विद्यार्थी क्यों सफल नहीं होते हैं इससे यूपीएससी में हिंदी माध्यम वाले विद्यार्थियों की सफल होते हैं और इंग्लिश मीडियम वाले भी सफल होते हैं ऐसा कुछ भी नहीं है कि केवल इंग्लिश वाले ही सफल होते हैं और हिंदी वाले बिल्कुल भी नहीं होते जो मेहनत करेगा वह सफल होगा यह इसमें माध्यम का कोई फर्क नहीं पड़ता है यूपीएससी में बहुत सारे ऐसे एग्जांपल आपको मिल जाएंगे इसमें पहले प्रयास में ही यूपीएससी में हिंदी माध्यम के विद्यार्थी सफल होते हैं ऐसे बहुत सारे लोग आपको मिल जाएंगे तो यूपीएससी क्वालीफाई करने के लिए आपको बस मेहनत करने की जरूरत है माध्यम पर यह ध्यान देने की जरूरत नहीं है कि ऐसी में हिंदी माध्यम वाले क्वालिफाई नहीं कर पाते बहुत सारे हिंदी माध्यम वाले भी क्वालीफाई कर पाते और शत-प्रतिशत हम यह भी नहीं कह सकते हैं कि इंग्लिश मीडियम वाले सभी यूपीएससी क्वालीफाई कर पाए बस जो ज्यादा मेहनत करेगा वह क्वालिफाई कर पाएगा हिंदी माध्यम का हो या तो इंग्लिश विक्रम करो आप मन लगाकर के अध्ययन करें आपका एक लक्ष्य निर्धारित होना चाहिए और दृढ़ निश्चय से आप आत्मविश्वास के पूर्ण आत्मविश्वास के साथ आप तैयारी करें नियमित रूप से 12 से 15 घंटे तक आप पढ़ाई करें तो जरूर आपको सफलता मिल जाएगी और आप यूपीएससी क्वालीफाई कर पाएंगे तो हिंदी माध्यम वाले भी कर पाएंगे और इंग्लिश मीडियम वाले भी कर पाएंगे इसमें आपको मेहनत करने की जरूरी है जरूरत है बस धन्यवाद आपका दिन शुभ रहे

aapka prashna hai upsc mein hindi madhyam ke vidyarthi kyon safal nahi hote hain isse upsc mein hindi madhyam waale vidyarthiyon ki safal hote hain aur english medium waale bhi safal hote hain aisa kuch bhi nahi hai ki keval english waale hi safal hote hain aur hindi waale bilkul bhi nahi hote jo mehnat karega vaah safal hoga yah isme madhyam ka koi fark nahi padta hai upsc mein bahut saare aise example aapko mil jaenge isme pehle prayas mein hi upsc mein hindi madhyam ke vidyarthi safal hote hain aise bahut saare log aapko mil jaenge toh upsc qualify karne ke liye aapko bus mehnat karne ki zarurat hai madhyam par yah dhyan dene ki zarurat nahi hai ki aisi mein hindi madhyam waale kwalifai nahi kar paate bahut saare hindi madhyam waale bhi qualify kar paate aur shat pratishat hum yah bhi nahi keh sakte hain ki english medium waale sabhi upsc qualify kar paye bus jo zyada mehnat karega vaah kwalifai kar payega hindi madhyam ka ho ya toh english vikram karo aap man lagakar ke adhyayan kare aapka ek lakshya nirdharit hona chahiye aur dridh nishchay se aap aatmvishvaas ke purn aatmvishvaas ke saath aap taiyari kare niyamit roop se 12 se 15 ghante tak aap padhai kare toh zaroor aapko safalta mil jayegi aur aap upsc qualify kar payenge toh hindi madhyam waale bhi kar payenge aur english medium waale bhi kar payenge isme aapko mehnat karne ki zaroori hai zarurat hai bus dhanyavad aapka din shubha rahe

आपका प्रश्न है यूपीएससी में हिंदी माध्यम के विद्यार्थी क्यों सफल नहीं होते हैं इससे यूपीएस

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  142
WhatsApp_icon
user
0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यूपीएससी में हिंदी माध्यम में बिल्कुल सफल हो सकता है इसमें कोई दिक्कत नहीं लिखी हाथ पर कम देते क्योंकि जो अंग्रेजी मैडम से होता है उनको फांसी की डेट में अंग्रेजी बहुत ज्यादा इंपोर्टेंस है ऑफिस में या कोई लोग बाहर से आ गया तो उनको अंग्रेजी में समझना पड़ेगा तो मुझे लगता है अंकल जी को ज्यादा लेकिन जो हिंदी माध्यम है वह भी आराम से कर सकते हैं उसमें कोई दिक्कत नहीं

upsc mein hindi madhyam mein bilkul safal ho sakta hai isme koi dikkat nahi likhi hath par kam dete kyonki jo angrezi madam se hota hai unko fansi ki date mein angrezi bahut zyada importance hai office mein ya koi log bahar se aa gaya toh unko angrezi mein samajhna padega toh mujhe lagta hai uncle ji ko zyada lekin jo hindi madhyam hai vaah bhi aaram se kar sakte hain usme koi dikkat nahi

यूपीएससी में हिंदी माध्यम में बिल्कुल सफल हो सकता है इसमें कोई दिक्कत नहीं लिखी हाथ पर कम

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  2
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!