बाल क्यों पकता है, इसका नेचुरल तरीका क्या है जिससे फिर से काला किया जा सकता है?...


user

S Pal

Teacher

1:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मित्रों यहां एक प्रश्न आया है बाल क्यों पकता है तो बाल वैसे तो जैसे जैसे इस बढ़ती जाती है उस हिसाब से बाल पकता लेकिन इसमें मेन कारण है कि इसमें जो प्रोटीन की लहर जो प्रोटीन होता है वह धीरे धीरे धीरे धीरे कम हो जाता है तो जितना प्रोटीन की मात्रा जो है उसमें अधिक होगी तो वजह है काला दिखाई देगा और प्रोटीन की मात्रा कम होती जाती है तो उसका जो है कालापन जो है खत्म होता जाता है सफेद होते जाते हैं इसलिए बाल पकता है ठीक है अबे नेचुरल तरीका क्या है तो नेचुरल तरीके तो वैसे तो बहुत से है लेकिन फिर भी जो है आप इसमें एक कलौंजी और सरसों का तेल जो है कलौंजी को सरसों के तेल में हल्की आंच में पकाए हैं और फिर उसको दो से तीन बार छान के एक होटल में भरकर रखें उस तेल से आप मालिश करें और प्याज रहे हैं प्याज का रस भी लगाएं और वैसे नेचुरल अगर और करना चाहे तो इसमें कथा और भी होता है उस बीट का रस निकालकर के उसमें कत्था मिलाकर के और इसको आंवला पाउडर मिलाकर के उसको हल्की आंच में उबालें और उबालने के बाद में उसको सर में लगाए नेचुरल तरीके से बाल का है आपके काले हो गए

mitron yahan ek prashna aaya hai baal kyon pakata hai toh baal waise toh jaise jaise is badhti jaati hai us hisab se baal pakata lekin isme main karan hai ki isme jo protein ki lahar jo protein hota hai vaah dhire dhire dhire dhire kam ho jata hai toh jitna protein ki matra jo hai usme adhik hogi toh wajah hai kaala dikhai dega aur protein ki matra kam hoti jaati hai toh uska jo hai kalapan jo hai khatam hota jata hai safed hote jaate hain isliye baal pakata hai theek hai abe natural tarika kya hai toh natural tarike toh waise toh bahut se hai lekin phir bhi jo hai aap isme ek kalaunji aur sarso ka tel jo hai kalaunji ko sarso ke tel me halki aanch me pakaye hain aur phir usko do se teen baar chhan ke ek hotel me bharkar rakhen us tel se aap maalish kare aur pyaaz rahe hain pyaaz ka ras bhi lagaye aur waise natural agar aur karna chahen toh isme katha aur bhi hota hai us beat ka ras nikalakar ke usme kattha milakar ke aur isko aawla powder milakar ke usko halki aanch me ubalen aur ubaalane ke baad me usko sir me lagaye natural tarike se baal ka hai aapke kaale ho gaye

मित्रों यहां एक प्रश्न आया है बाल क्यों पकता है तो बाल वैसे तो जैसे जैसे इस बढ़ती जाती है

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  105
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!