जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल भारत दौरे पर आईं - इस मामले में आपका क्या विचार है?...


user

Ved prakash Mishra

Journalist Dainik jagran { Naidunia}

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चांसलर एंजेला मर्केल भारत के दौरे पर आई या अच्छी बात है चाहे किसी भी देश का राष्ट्राध्यक्ष व दूसरे देश के दौरे पर इसलिए क्योंकि वह उस देश से अपने आर्थिक व्यापारिक अन्य संबंधित मजबूत करना चाहता है या पारित होते हैं राजनीतिक हित होते हैं सैनिक होते हैं तो जिंदू सुविचार आप से मिलते जुलते हैं जिन देशों की तरह से मिलते जुलते हैं अंतरराष्ट्रीय एक दूसरे से मिलते हैं एक दूसरे की कैसे होते हैं ऐसे देश के राष्ट्र उनके मंत्रिमंडल के लोग प्रतिनिधिमंडल अक्सर एक-दूसरे देशों का दौरा करते रहते हैं उनके बीच व्यापारिक समझौते होते हैं सैनिक समझौते होते हैं और अन्य विभिन्न प्रकार के समझौते होते रहते प्रत्यर्पण संधि होती है इस प्रकार की होते होते रहती है इसलिए जर्मनी चांसलर एंजेला मर्केल भारत दौरे पर आई हुई थी

chancellor Angela markel bharat ke daure par I ya achi baat hai chahen kisi bhi desh ka rashtradhyaksh va dusre desh ke daure par isliye kyonki vaah us desh se apne aarthik vyaparik anya sambandhit majboot karna chahta hai ya paarit hote hain raajnitik hit hote hain sainik hote hain toh jindu suvichar aap se milte julte hain jin deshon ki tarah se milte julte hain antararashtriya ek dusre se milte hain ek dusre ki kaise hote hain aise desh ke rashtra unke mantrimandal ke log pratinidhimandal aksar ek dusre deshon ka daura karte rehte hain unke beech vyaparik samjhaute hote hain sainik samjhaute hote hain aur anya vibhinn prakar ke samjhaute hote rehte pratyarpan sandhi hoti hai is prakar ki hote hote rehti hai isliye germany chancellor Angela markel bharat daure par I hui thi

चांसलर एंजेला मर्केल भारत के दौरे पर आई या अच्छी बात है चाहे किसी भी देश का राष्ट्राध्यक्ष

Romanized Version
Likes  43  Dislikes    views  838
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

3:30

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल भारत दौरे पर आई इस मामले में आपका चाचा देखिए जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल भारत पाई और उन्हें बीच समझौते क्रश किए हैं और क्षेत्र में जर्मनी को आमंत्रण भारत सरकार ने दिया है 2022 तक में नए भारत की रचना में टेक्नोलॉजिकल और इकोनॉमिकल क्षेत्र में जर्मनी की मास्को की भूमिका हो सकती है ऐसा मोदी जी ने आश्वस्त किया है और एंजेला मर्केल को जब भारत का राष्ट्रगान जब बजा तब वह बैठी है और उसके बारे में बहुत ही टिका हुई और फिर बाद में जर्मन कभी जब राष्ट्रगीत बजा अभी बैठे थे तब प्लीज पिक्चर सनम को किया गया उनको रीढ़ की हड्डी की गंभीर बीमारी है और वह बिना सहारे के खड़े नहीं इसलिए उनको विशेष प्रावधान के तहत एक मोदी जी ने उनको बैठने दिया था और सब जो भी बात हो रहे थे वहीं पर तंग है इसके अलावा जो जन्म चांसलर एंजेला मर्केल वह आतंकवाद और कट्टरवाद के सामने लड़ने के लिए भारत और जर्मनी का द्विपक्षीय और बहुपक्षीय सरकार बनाएंगे और पांचवी इंटरगवर्नमेंटल कंसल्टेशन आईसीसी का जो आयोजन था उसमें जर्मनी ने चांसलर ने भारत की भौतिक प्रशंसा की थी भारत की वृद्धि पुल संस्कृति की हमेशा कुछ न कुछ सीखते रहती हैं ऐसा उन्होंने अपने भाषण के दौरान कहा कि मोदी ने भी साथ में भारत और जर्मनी के संबंधों पर बहुत ही भागते हुए कहा कि इस संबंध में बहुत ही कनिष्ठ हो रहे हैं और कितनी समझौते पर हस्ताक्षर हुए हैं वह टेक्नोलॉजी ट्रांसफर के बहुत ही दूर होगा भी अच्छे परिणाम दोनों देशों को मिलेंगे इस तरह से एंजेला मर्कल भारत दौरे पर आए और संदेश भारत के लिए भी छोड़ गई है और खुद भी एक अच्छा संदेश लेकर जर्मनी के लिए रवाना हो जय हिंद

german chancellor Angela markel bharat daure par I is mamle mein aapka chacha dekhiye german chancellor Angela markel bharat payi aur unhe beech samjhaute crush kiye hai aur kshetra mein germany ko aamantran bharat sarkar ne diya hai 2022 tak mein naye bharat ki rachna mein technological aur economical kshetra mein germany ki moscow ki bhumika ho sakti hai aisa modi ji ne aashvast kiya hai aur Angela markel ko jab bharat ka rashtragan jab baja tab vaah baithi hai aur uske bare mein bahut hi tika hui aur phir baad mein german kabhi jab rashtrageet baja abhi baithe the tab please picture sanam ko kiya gaya unko reedh ki haddi ki gambhir bimari hai aur vaah bina sahare ke khade nahi isliye unko vishesh pravadhan ke tahat ek modi ji ne unko baithne diya tha aur sab jo bhi baat ho rahe the wahi par tang hai iske alava jo janam chancellor Angela markel vaah aatankwad aur kattarvad ke saamne ladane ke liye bharat aur germany ka dwipakshiye aur bahupakshiye sarkar banayenge aur paanchvi intergovernmental kansalteshan icc ka jo aayojan tha usme germany ne chancellor ne bharat ki bhautik prashansa ki thi bharat ki vriddhi pool sanskriti ki hamesha kuch na kuch sikhate rehti hai aisa unhone apne bhashan ke dauran kaha ki modi ne bhi saath mein bharat aur germany ke sambandhon par bahut hi bhagte hue kaha ki is sambandh mein bahut hi kanishth ho rahe hai aur kitni samjhaute par hastakshar hue hai vaah technology transfer ke bahut hi dur hoga bhi acche parinam dono deshon ko milenge is tarah se Angela markal bharat daure par aaye aur sandesh bharat ke liye bhi chod gayi hai aur khud bhi ek accha sandesh lekar germany ke liye rawana ho jai hind

जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल भारत दौरे पर आई इस मामले में आपका चाचा देखिए जर्मन चांसलर एंजेल

Romanized Version
Likes  58  Dislikes    views  1125
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!