सऊदी अरब ने कश्मीर पर भारत के रुख का किया समर्थन, आपकी राय?...


user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

2:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसे की चर्चा का विषय है सऊदी अरब ने कश्मीर पर भारत के रुख का किया समर्थन आपकी राय तो यहां पर आपको बताना चाहेंगे कि जो सऊदी अरब अमीरात के जो क्रॉउन प्रिंस है वह शुरुआत से ही जो इंडिया है जो मोदी जी गवर्नमेंट है उससे बहुत ज्यादा इंटरेस्ट है उससे ज्यादा बहुत ज्यादा अच्छे रिलेशनशिप गम के चल रहे हैं और कूटनीतिक क्षेत्र में अगर देखा जाए तो भारत में जितने आधा पिछले 5 सालों में जितनी तरक्की करी है उतनी शायद 50 साल में भी नहीं हुई ऐसा नहीं कि नहीं हुई है पहले वाले नेताओं ने भी काफी काम किया लेकिन जितनी तेरी से आपके जो ग्लोबल प्लेटफॉर्म है वहां पर जितनी तेजी से भारत भर के सामने आया है वह पिछले कुछेक सालों में ही आया है इतना ज्यादा रिकॉग्निशन पहले इंडिया को नहीं मिला हुआ था कि थोड़ी सी छोटी सी चीज है यहां पर जैसे पहले कोई जाता था दूसरी कंट्री में तो वहां पर पैसा मांगने जाता था कि इंडिया इज द पुअर कंट्री हमारे लिए थोड़ा सा पैसा दीजिए अब इसी चीज को थोड़ा सा चेंज कर दिया क्या ब्रांडिंग कर दीजिएगा यह चीजें देना कि देखने में खाना अच्छा होता है तो अपने आप भूख भी लगने लगती है तो आप को क्या-क्या काम पेंडिंग हो गई अब क्या किया जाता है यहां पर वही चीज बोली गई लेकिन दूसरे में बोल दे गई अब बोला गया कि इंडिया ग्लोबल मार्केट बनकर उभर रहा है आपके यहां पेश करिए तो अब पैसा डायरेक्ट नहीं मांगा जा रहे हैं अब कहां जा रहा है कि आपदा इन्वेस्टर चाहिए अपने बिजनेस करिए आप भी कमाई है और हमें भी कमाने का मौका दीजिए हमारे रोजगार दीजिए ठीक है बहुत ज्यादा अभी उसमें अगर इंडस्ट्री या मेक इन इंडिया की बात करें तो बहुत ज्यादा उसमें सफलता नहीं मिली है चीजें हो रही है धीरे बदलाव आ रहा है लेकिन बहुत ज्यादा भी सक्सेस नहीं आई है जिस हिसाब से आनी चाहिए थी लेकिन एक चीजों को कहने का तरीका बदल गया है जिसकी वजह से इंडिया का जो स्टेटस है वह ज्यादा अच्छा होता जा रहा है और सऊदी अरब शुरुआत से भारत का समर्थन करता रहा है तो बहुत अच्छी यहां पर मैं कश्मीर के मुद्दे को भी कहा है कि इंडिया का इंटरनल मैटर है इसमें वह कोई भी इंटरव्यू नहीं करेगा भले वह पाकिस्तान का कितना अच्छा सहयोगी है दोस्त है लेकिन उसने अपने को इस मुद्दे से अलग करता है धन्यवाद

jaise ki charcha ka vishay hai saudi arab ne kashmir par bharat ke rukh ka kiya samarthan aapki rai toh yahan par aapko bataana chahenge ki jo saudi arab amirat ke jo kraun prince hai vaah shuruaat se hi jo india hai jo modi ji government hai usse bahut zyada interest hai usse zyada bahut zyada acche Relationship gum ke chal rahe hain aur kutanitik kshetra mein agar dekha jaaye toh bharat mein jitne aadha pichhle 5 salon mein jitni tarakki kari hai utani shayad 50 saal mein bhi nahi hui aisa nahi ki nahi hui hai pehle waale netaon ne bhi kafi kaam kiya lekin jitni teri se aapke jo global platform hai wahan par jitni teji se bharat bhar ke saamne aaya hai vaah pichhle kuchek salon mein hi aaya hai itna zyada rikagnishan pehle india ko nahi mila hua tha ki thodi si choti si cheez hai yahan par jaise pehle koi jata tha dusri country mein toh wahan par paisa mangne jata tha ki india is the poor country hamare liye thoda sa paisa dijiye ab isi cheez ko thoda sa change kar diya kya Branding kar dijiyega yah cheezen dena ki dekhne mein khana accha hota hai toh apne aap bhukh bhi lagne lagti hai toh aap ko kya kya kaam pending ho gayi ab kya kiya jata hai yahan par wahi cheez boli gayi lekin dusre mein bol de gayi ab bola gaya ki india global market bankar ubhar raha hai aapke yahan pesh kariye toh ab paisa direct nahi manga ja rahe hain ab kahaan ja raha hai ki aapada investor chahiye apne business kariye aap bhi kamai hai aur hamein bhi kamane ka mauka dijiye hamare rojgar dijiye theek hai bahut zyada abhi usmein agar industry ya make in india ki baat karen toh bahut zyada usmein safalta nahi mili hai cheezen ho rahi hai dhire badlav aa raha hai lekin bahut zyada bhi success nahi I hai jis hisab se aani chahiye thi lekin ek chijon ko kehne ka tarika badal gaya hai jiski wajah se india ka jo status hai vaah zyada accha hota ja raha hai aur saudi arab shuruaat se bharat ka samarthan karta raha hai toh bahut achi yahan par main kashmir ke mudde ko bhi kaha hai ki india ka internal matter hai isme vaah koi bhi interview nahi karega bhale vaah pakistan ka kitna accha sahayogi hai dost hai lekin usne apne ko is mudde se alag karta hai dhanyavad

जैसे की चर्चा का विषय है सऊदी अरब ने कश्मीर पर भारत के रुख का किया समर्थन आपकी राय तो यहां

Romanized Version
Likes  493  Dislikes    views  5640
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

2:22

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सऊदी अरब ने कश्मीर पर भारत के रुख का किया समर्थन आपकी रहे सऊदी अरब ने भारत के लिए समर्थन किया है वहां की क्राउन प्रिंस जाएं उन्होंने मोदी जी के साथ बहुत ही अच्छे संबंध है और हमारे व्यापारी चित भी एक दूसरे से जुड़े हुए हैं सऊदी अरब ने समर्थन किया है कि कश्मीर भारत का अंदरूनी मामला है इंटरनल मैटर है और किसी भी देश की इंटरनल मैटर ने बाहर के किसी भी देश को चेक करने का नैतिक अधिकार नहीं है इस ग्राउंड पर सऊदी अरब ने समर्थन किया है और उसकी मोदी जी ने वहां पर विजिट किया उसने बात दोहराई गई है कश्मीर में जो आतंकवाद की समस्या थी उसको धीमे-धीमे जड़ से उखाड़ आ जा रहा है और उसकी प्रगति जो भी है उसका भी उन्होंने जायजा लिया है कश्मीर में शांति बहाल हो रही है आतंकवाद खत्म हो रहा है उसका भी मैं संतोष है लेकिन क्योंकि यह भारत का अंदरूनी मामला है 370 की कलम हटाने का इसलिए कोई भी देश का हस्तक्षेप होना वह भी नैतिक आंखों के अनुसार ही हूं जब अमेरिका इसमें हस्तक्षेप नहीं कर रहा तो सऊदी अरब भी अपना पल्ला झाड़ रहा है कि हस्तक्षेप नहीं करें हालांकि करने वाले जो विश्व समुदाय के दूसरे देश हैं वह कहते हैं कि सऊदी अरब अंदर से पाकिस्तान को फंडिंग भी कर रहा है लेकिन इस पर कोई विश्वसनीय तक सामने नहीं आए हैं सिर्फ उसकी मलेशिया और चीन यह तीन लोग ही पाकिस्तान को समर्थन दे रहे हैं और भारत को समर्थन नहीं दे रहे हैं बाकी भारत को पूरा विश्व समुदाय समर्थन दे रहा है कि भारत में जो किया वह उसका अंदरूनी मामले सऊदी अरब में जो किया वो सही किया मेरे हिसाब से यह सही कदम है

saudi arab ne kashmir par bharat ke rukh ka kiya samarthan aapki rahe saudi arab ne bharat ke liye samarthan kiya hai wahan ki crown prince jayen unhone modi ji ke saath bahut hi acche sambandh hai aur hamare vyapaari chit bhi ek dusre se jude hue hain saudi arab ne samarthan kiya hai ki kashmir bharat ka andaruni maamla hai internal matter hai aur kisi bhi desh ki internal matter ne bahar ke kisi bhi desh ko check karne ka naitik adhikaar nahi hai is ground par saudi arab ne samarthan kiya hai aur uski modi ji ne wahan par visit kiya usne baat dohrai gayi hai kashmir mein jo aatankwad ki samasya thi usko dhime dhime jad se ukhad aa ja raha hai aur uski pragati jo bhi hai uska bhi unhone jayja liya hai kashmir mein shanti bahaal ho rahi hai aatankwad khatam ho raha hai uska bhi main santosh hai lekin kyonki yah bharat ka andaruni maamla hai 370 ki kalam hatane ka isliye koi bhi desh ka hastakshep hona vaah bhi naitik aakhon ke anusaar hi hoon jab america isme hastakshep nahi kar raha toh saudi arab bhi apna palla jhad raha hai ki hastakshep nahi karen halanki karne waale jo vishwa samuday ke dusre desh hain vaah kehte hain ki saudi arab andar se pakistan ko funding bhi kar raha hai lekin is par koi viswasniya tak saamne nahi aaye hain sirf uski malaysia aur china yah teen log hi pakistan ko samarthan de rahe hain aur bharat ko samarthan nahi de rahe hain baki bharat ko pura vishwa samuday samarthan de raha hai ki bharat mein jo kiya vaah uska andaruni mamle saudi arab mein jo kiya vo sahi kiya mere hisab se yah sahi kadam hai

सऊदी अरब ने कश्मीर पर भारत के रुख का किया समर्थन आपकी रहे सऊदी अरब ने भारत के लिए समर्थन क

Romanized Version
Likes  61  Dislikes    views  1158
WhatsApp_icon
user

Abhishek Shekher Gaur

Civil Engineer

1:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे आपको एक ही समझ नहीं होगी कि यह जो एक्सटर्नल अफेयर सोते हैं डिप्लोमेसी होती है उसमें जो उसमें कोई किसी का दोस्त नहीं होता है कोई किसी को दुश्मन नहीं होता उसमें लोग उसका साथ देते हैं जिससे उनको फायदा होता है जिसे सऊदी अरब के लिए यह बात अलग है कि सऊदी अरब और पाकिस्तान सेम सेम रीजन है तो थोड़ा सपोर्ट करता है वह लेकिन उसको पता है कि उसको ज्यादा फायदा इस सब भारत से उसको पाकिस्तान से इतना फायदा नहीं है तो वह सपोर्ट किसको करेगा भारत को करेगा क्योंकि किसको फायदा नींद इसी पर चलता है कोई किसी का दोस्त नहीं है कोई किसी का दुश्मन नहीं है सब सिर्फ फायदे और नुकसान पर चलता है जिससे नुकसान हो रहा था उसके खिलाफ हो जाती है विदेश नीति से फायदा हो रहा होता है उसकी तरफ हो जाती है तो सऊदी अरब इंडिया को सपोर्ट कर रहा है कश्मीर पर्व इंडिया को सपोर्ट कर दिया उसने क्यों क्योंकि इंडिया इतना बड़ा तेल का आयात अफीम क्या आप से तेल आयात करवाता है तो उसके लिए उनका ले तो फायदा ही है और वह जितना ज्यादा करीब आ सके भारत के उनके लिए उतना अच्छा है तो इसके लिए और यह अच्छा तरीका है इससे हमारा 2 देशों के संबंध अच्छे होते हैं और पाकिस्तान को बुरा भी लगता है तो और अच्छा थैंक यू

dekhe aapko ek hi samajh nahi hogi ki yah jo external affair sote hain diplomacy hoti hai usmein jo usmein koi kisi ka dost nahi hota hai koi kisi ko dushman nahi hota usmein log uska saath dete hain jisse unko fayda hota hai jise saudi arab ke liye yah baat alag hai ki saudi arab aur pakistan same same reason hai toh thoda support karta hai vaah lekin usko pata hai ki usko zyada fayda is sab bharat se usko pakistan se itna fayda nahi hai toh vaah support kisko karega bharat ko karega kyonki kisko fayda neend isi par chalta hai koi kisi ka dost nahi hai koi kisi ka dushman nahi hai sab sirf fayde aur nuksan par chalta hai jisse nuksan ho raha tha uske khilaf ho jaati hai videsh niti se fayda ho raha hota hai uski taraf ho jaati hai toh saudi arab india ko support kar raha hai kashmir parv india ko support kar diya usne kyon kyonki india itna bada tel ka aayaat afeem kya aap se tel aayaat karwata hai toh uske liye unka le toh fayda hi hai aur vaah jitna zyada kareeb aa sake bharat ke unke liye utana accha hai toh iske liye aur yah accha tarika hai isse hamara 2 deshon ke sambandh acche hote hain aur pakistan ko bura bhi lagta hai toh aur accha thank you

देखे आपको एक ही समझ नहीं होगी कि यह जो एक्सटर्नल अफेयर सोते हैं डिप्लोमेसी होती है उसमें ज

Romanized Version
Likes  63  Dislikes    views  2089
WhatsApp_icon
user

Dr. Ashwani Kumar Singh

Chairman & Director at VEMS

1:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सऊदी अरब में कश्मीर पर भारत के रुख का समर्थन 4 की क्या राय आशा है कि लोगों को लगता है कि लोग किसी कारण से किसी का समर्थन समर्थन करने हेतु लीडर स्टैंडिंग है कम उम्मीद है विभिन्न ट्रेड बैटरी बची हुई है और इससे कहीं किसी और कारण से नहीं आ रे दूसरा क्या है कि किसके साथ जाने पर कोई प्रोस्पेक्टिव क्या आता है तो करीब 28 से 30 लाख के हिंदुस्तानियों की भारतवंशियों की दुबई और सऊदी अरबिया में रहती है और यह वहां के कोनो मी को बूस्ट अप करने में आगे ले जाने पूरा जी जीजा लगाते हुए थे तो कोई मूर्ख ही कंट्री होगा जो अपने यह तथाकथित इस्लाम या किसी और ने ली जान के नाम पर अपना बेड़ा गर्क करेगा इसमें बहुत समझने की चीज नहीं खुला सच और सऊदी अरबिया का जो सा है कम से कम कितने ना आकर मन तो नहीं शुक्रिया सबका

saudi arab mein kashmir par bharat ke rukh ka samarthan 4 ki kya rai asha hai ki logon ko lagta hai ki log kisi karan se kisi ka samarthan samarthan karne hetu leader standing hai kam ummid hai vibhinn trade battery bachi hui hai aur isse kahin kisi aur karan se nahi aa ray doosra kya hai ki kiske saath jaane par koi Prospective kya aata hai toh kareeb 28 se 30 lakh ke hindustaniyon ki bharatavanshiyon ki dubai aur saudi arabia mein rehti hai aur yah wahan ke kono me ko boost up karne mein aage le jaane pura ji jija lagate hue the toh koi murkh hi country hoga jo apne yah tathakathit islam ya kisi aur ne li jaan ke naam par apna beda gark karega isme bahut samjhne ki cheez nahi khula sach aur saudi arabia ka jo sa hai kam se kam kitne na aakar man toh nahi shukriya sabka

सऊदी अरब में कश्मीर पर भारत के रुख का समर्थन 4 की क्या राय आशा है कि लोगों को लगता है कि ल

Romanized Version
Likes  257  Dislikes    views  3365
WhatsApp_icon
user
0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सऊदी अरब की तस्वीर सऊदी अरब ने कश्मीर पर भारत के रुख का क्या समर्थन तो इसमें कोई दो मत नहीं है कि कश्मीर के मामले में भारत सारे विश्व के देश समर्थन कर रहे हैं उसमें एक सऊदी अरब भी है और भारत किसी भी अन्य देशों के हस्तक्षेप कश्मीर मामले में नहीं चाहता है और कश्मीर पूरी तरह से भारत का अभिन्न अंग है इसमें कोई दो राय नहीं होना चाहिए

saudi arab ki tasveer saudi arab ne kashmir par bharat ke rukh ka kya samarthan toh isme koi do mat nahi hai ki kashmir ke mamle mein bharat saare vishwa ke desh samarthan kar rahe hain usmein ek saudi arab bhi hai aur bharat kisi bhi anya deshon ke hastakshep kashmir mamle mein nahi chahta hai aur kashmir puri tarah se bharat ka abhinn ang hai isme koi do rai nahi hona chahiye

सऊदी अरब की तस्वीर सऊदी अरब ने कश्मीर पर भारत के रुख का क्या समर्थन तो इसमें कोई दो मत नही

Romanized Version
Likes  86  Dislikes    views  1720
WhatsApp_icon
user

En Rajendra Kumar Joshi

Life Coach, Motivator

2:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सऊदी अरब क्यों भारत के साथ कश्मीर पर अपनी राय रखता है क्या आपने कभी सोचा है सऊदी अरब मुस्लिम राष्ट्र पाकिस्तान का साथ क्यों नहीं दे रहा उगते हुए सूरज को हर व्यक्ति सलाम करता है आज भारत की स्थिति वह है कोई भी देश भारत से दूर नहीं रह सकता चाहे वह चीन हो सऊदी अरब हो अमेरिका रसिया हो या और कोई भी देश क्योंकि भारत के पास एक क्रैकर शक्ति वाली जनता है जहां इन्होंने अपने उत्पादों को बेचना है पूरी दुनिया आज व्यापारिक हो चुकी है सऊदी अरब भी अपने व्यापार के लिए भारत की ओर रुख करता है कश्मीर पर भारत का समर्थन करता है इसी का दूसरा पहलू यह भी है कि भारत एक हिंदू देश नहीं है भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है जहां पर एक मुसलमानों की बहुत बड़ी आबादी है और वह आबादी भी सऊदी अरब के लिए बहुत मायने रखती पाकिस्तान का समर्थन करने से वह उस आबादी को भी अपने से खो देगा और भारत के साथ जो डेवलपमेंट के रिश्ते हैं वह भी टूट जाएंगे इसलिए सऊदी अरब की एक प्रॉब्लम है कि वह भारत के साथ बना रहे फिर भी खून का रिश्ता पानी के रिश्ते से गहरा होता है फिर भी आप आएंगे पाकिस्तान को मुश्किल हालातों में कर्ज देने वाला सऊदी अरब ही था गुपचुप रूप से सऊदी अरब आज भी पाकिस्तान को मदद कर ही रहा है हां सिर्फ कश्मीर पर भारत का रुख का समर्थन कर लेना पर्याप्त नहीं है अगर सऊदी अरब पाकिस्तान को बंद कर दो आतंकवादी गतिविधियों के लिए तब हम मानेंगे कि सऊदी अरब भारत के साथ अपना कंधे से कंधा मिलाकर चल रहा है

saudi arab kyon bharat ke saath kashmir par apni rai rakhta hai kya aapne kabhi socha hai saudi arab muslim rashtra pakistan ka saath kyon nahi de raha ugate hue suraj ko har vyakti salaam karta hai aaj bharat ki sthiti vaah hai koi bhi desh bharat se dur nahi reh sakta chahen vaah china ho saudi arab ho america rasiya ho ya aur koi bhi desh kyonki bharat ke paas ek kraikar shakti waali janta hai jahan inhone apne utpadon ko bechna hai puri duniya aaj vyaparik ho chuki hai saudi arab bhi apne vyapar ke liye bharat ki aur rukh karta hai kashmir par bharat ka samarthan karta hai isi ka doosra pahaloo yah bhi hai ki bharat ek hindu desh nahi hai bharat ek dharmanirapeksh desh hai jahan par ek musalmanon ki bahut badi aabadi hai aur vaah aabadi bhi saudi arab ke liye bahut maayne rakhti pakistan ka samarthan karne se vaah us aabadi ko bhi apne se kho dega aur bharat ke saath jo development ke rishte hain vaah bhi toot jaenge isliye saudi arab ki ek problem hai ki vaah bharat ke saath bana rahe phir bhi khoon ka rishta paani ke rishte se gehra hota hai phir bhi aap aayenge pakistan ko mushkil halaton mein karj dene vala saudi arab hi tha gupchup roop se saudi arab aaj bhi pakistan ko madad kar hi raha hai haan sirf kashmir par bharat ka rukh ka samarthan kar lena paryapt nahi hai agar saudi arab pakistan ko band kar do aatankwadi gatividhiyon ke liye tab hum manenge ki saudi arab bharat ke saath apna kandhe se kandha milakar chal raha hai

सऊदी अरब क्यों भारत के साथ कश्मीर पर अपनी राय रखता है क्या आपने कभी सोचा है सऊदी अरब मुस

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  197
WhatsApp_icon
user

Ajay Pratap Singh

Agriculturist

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सऊदी अरब मुस्लिम कंट्री है उसने भारत का आतंकवाद के विरुद्ध साथिया है यह एक अच्छा प्रशंसनीय दाना देते एक अच्छा संदेश जाएगा

saudi arab muslim country hai usne bharat ka aatankwad ke viruddh sathiya hai yah ek accha prashansaniya dana dete ek accha sandesh jaega

सऊदी अरब मुस्लिम कंट्री है उसने भारत का आतंकवाद के विरुद्ध साथिया है यह एक अच्छा प्रशंसनीय

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  121
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!