अक्षय कुमार बेटी संग गए झोपड़ी में, मांगा पानी तो मिली गुड़-रोटी - आपकी राय?...


play
user

Nikhil Ranjan

Programme Coordinator - National Institute of Electronics and Information Technology (NIELIT)

1:05

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखे जैसे कि आज की चर्चा का विषय है अक्षय कुमार बेटी संग झोपड़ी में मांगा पानी तो मिला गुड़ रोटी तो यहां पर आपको बताना चाहेंगे कि जो गरीब व्यक्ति होता है वह भले ही पैसे से गरीब हो लेकिन दिल से बहुत अमीर होता है आप उनके दरवाजे पर जाकर कुछ भी मांगी है अगर उनका सामर्थ है अगर वह कुछ कर सकते हैं तो अपनी हैसियत से ज्यादा ही करके देते हैं तो यह सबसे अच्छी खूबी होती है गरीब की झांकी अमीर के अंदर क्या होता है कि वह जितना सामान होता है उसका एक परसेंट भी या उसका कुछ पाठ भी नहीं करना चाहता क्यों क्यों देखता है कि उससे उसको क्या फायदा होगा अगर उसको फायदा होगा तब तो वह खर्चा करेगा या वह कुछ करेगा किसी को अगर नमस्ते भी करनी है आज की डेट में तो सामने वाला व्यक्ति देखता है कि नमस्ते भी लोग ऐसे व्यक्ति को करें जिससे उसको फायदा मिल रहा है तो जो अमीर है वह निश्चित की जगह अपने मतलब को देखता है जबकि गरीब आज भी विशेष कोपर लगता है बजाएं अपने मतलब के अपने स्वार्थों से धन्यवाद

likhe jaise ki aaj ki charcha ka vishay hai akshay kumar beti sang jhopdi mein manga paani toh mila good roti toh yahan par aapko bataana chahenge ki jo garib vyakti hota hai vaah bhale hi paise se garib ho lekin dil se bahut amir hota hai aap unke darwaze par jaakar kuch bhi maangi hai agar unka samarth hai agar vaah kuch kar sakte hain toh apni haisiyat se zyada hi karke dete hain toh yah sabse achi khoobi hoti hai garib ki jhanki amir ke andar kya hota hai ki vaah jitna saamaan hota hai uska ek percent bhi ya uska kuch path bhi nahi karna chahta kyon kyon dekhta hai ki usse usko kya fayda hoga agar usko fayda hoga tab toh vaah kharcha karega ya vaah kuch karega kisi ko agar namaste bhi karni hai aaj ki date mein toh saamne vala vyakti dekhta hai ki namaste bhi log aise vyakti ko karen jisse usko fayda mil raha hai toh jo amir hai vaah nishchit ki jagah apne matlab ko dekhta hai jabki garib aaj bhi vishesh copra lagta hai bajaen apne matlab ke apne swarthon se dhanyavad

लिखे जैसे कि आज की चर्चा का विषय है अक्षय कुमार बेटी संग झोपड़ी में मांगा पानी तो मिला गुड

Romanized Version
Likes  373  Dislikes    views  5290
KooApp_icon
WhatsApp_icon
8 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!