हम सोते क्यों हैं?...


user

Vimal Kumar Gour

General Physician

1:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आशा क्वेश्चन है कि हम सोते क्यों है इसीलिए हमारा शरीर पूरे दिन 24 घंटा अगर चलता रहेगा तू जल्दी डाउन हो जाएगा हाई पावर पहुंच जाएगा सोने के कारण इसीलिए है कि हम सोते हैं तो हमारा शरीर रिलैक्स हो जाता है मानसिक तनाव हो जाता है यह जैसा नहीं है आपको सो ऐसी आंख सोच ऐसी लिए हम हमारा सोने से माइंड फ्रेश हो जाता है शरीर रिलैक्स हो जाता है इसलिए हमको आना चाहिए सोने के लिए सोने से हमारा पूरा टेंपरेचर डाउन प्ले वर्मा जाता है और फिर दो-तीन घंटे बाद अखिलेश करके अगर आप पूरे दिन काम करोगे और पूरे दिन शरीर को रिलैक्स ने दोगे तो शरीर में था में रहेगी तो आपको शरीर काम नहीं करेगा इसलिए शरीर भी एक घंटा आधा घंटा रेस्ट भी है इसीलिए कहीं जॉब करते हैं तो लोग लंच में 1 घंटा तो रहते हैं टाइम नुकसान

asha question hai ki hum sote kyon hai isliye hamara sharir poore din 24 ghanta agar chalta rahega tu jaldi down ho jaega high power pohch jaega sone ke karan isliye hai ki hum sote hain toh hamara sharir relax ho jata hai mansik tanaav ho jata hai yah jaisa nahi hai aapko so aisi aankh soch aisi liye hum hamara sone se mind fresh ho jata hai sharir relax ho jata hai isliye hamko aana chahiye sone ke liye sone se hamara pura temperature down play verma jata hai aur phir do teen ghante baad akhilesh karke agar aap poore din kaam karoge aur poore din sharir ko relax ne doge toh sharir mein tha mein rahegi toh aapko sharir kaam nahi karega isliye sharir bhi ek ghanta aadha ghanta rest bhi hai isliye kahin job karte hain toh log lunch mein 1 ghanta toh rehte hain time nuksan

आशा क्वेश्चन है कि हम सोते क्यों है इसीलिए हमारा शरीर पूरे दिन 24 घंटा अगर चलता रहेगा तू ज

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  177
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Akash Mishra

Yoga Expert | Author | Naturopathist | Acupressure Specialist |

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है हम सोते क्यों दिए हमारा शरीर जो है वह निरंतर कार्य करता रहता है शरीर के विभिन्न तंत्र विभिन्न विभिन्न कोशिकाएं लगातार कार्य करती रहती तो उस कार्य को करने के बाद में शरीर के अंग प्रत्यय और कोशिकाओं में जो थकावट आती है जो ऊर्जा का हास्य होता है उसको पूर्ण करने के लिए उसको रिचार्ज करने के लिए हम सोते हैं हम नींद को देते हैं क्योंकि नींद की अवस्था में जितनी भी प्रक्रिया होती है शरीर की वह बिल्कुल धीरे हो जाती हैं उन प्रक्रियाओं के धीरे हो जाने के बाद में हमारे शरीर के अंग प्रतिनिधियों उसको और कोशिकाओं को पूर्ण आराम मिलता है पूर्ण लाभ प्राप्त होता है धन्यवाद

aapka prashna hai hum sote kyon diye hamara sharir jo hai vaah nirantar karya karta rehta hai sharir ke vibhinn tantra vibhinn vibhinn koshikayen lagatar karya karti rehti toh us karya ko karne ke baad mein sharir ke ang pratyay aur koshikaaon mein jo thakawat aati hai jo urja ka hasya hota hai usko purn karne ke liye usko recharge karne ke liye hum sote hain hum neend ko dete hain kyonki neend ki avastha mein jitni bhi prakriya hoti hai sharir ki vaah bilkul dhire ho jaati hain un prakriyaon ke dhire ho jaane ke baad mein hamare sharir ke ang pratinidhiyo usko aur koshikaaon ko purn aaram milta hai purn labh prapt hota hai dhanyavad

आपका प्रश्न है हम सोते क्यों दिए हमारा शरीर जो है वह निरंतर कार्य करता रहता है शरीर के विभ

Romanized Version
Likes  163  Dislikes    views  1028
WhatsApp_icon
user

Rohit Singh

Junior Volunteer

0:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सोने की स्टेट होती तो हमारा दिमाग में आराम कर रहा हूं दिमाग के लिए बहुत जरूरी होता है कि उसके बीच में आ जाए और

sone ki state hoti toh hamara dimag mein aaram kar raha hoon dimag ke liye bahut zaroori hota hai ki uske beech mein aa jaaye aur

सोने की स्टेट होती तो हमारा दिमाग में आराम कर रहा हूं दिमाग के लिए बहुत जरूरी होता है कि उ

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  3
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!