PM मोदी ने 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' जाकर दी श्रद्धांजलि - क्या इस स्टैच्यू पर इतना पैसा ख़र्च करना चाहिए था?...


user
2:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के बनाए इसका पैसा खर्च करना क्या ठीक था देखे प्रधानमंत्री ने तो इससे पहले वाली के प्रधानमंत्री ने तो जैसे हो जाओ सोना या हज पर सब्सिडी थी तो अगर इसका मिलाकर अगर अपन हिसाब किताब देखिए तो यह खरगों लाख के बराबर बैठती है जो इस मूर्ति का तो ओन्ली फॉर 1% भी नहीं है खर्चा किया जिसको इस्लाम में हर आम खा गया कि हज जब आदमी करता है तो उसके ऊपर कोई वह नहीं होना चाहिए और कर्जा नहीं होना चाहिए जिससे पैसा लिए होनी होनी चाहिए तो मैंने हंस कर दिया जबकि हज में उसका खुद का पैसा होना चाहिए था इसलिए कार्नेजी होता है पात्रोना मैसेज पर पैसा दिया और दूसरे को सैया बना दीजिए जो सफर इस्लाम के खिलाफ थे पर या के मौलवियों को आंखों पर पट्टी बंधी हुई थी चोरों ने यह कबूल की पैसे क्योंकि इस्लाम में युद्ध को हरा में किसी से पैसा लेकर हज करना तो आपने तो गरीब जनता का जो विचार किया से पहले पैसा देती है अपने देश की तरक्की के लिए उसका पैसा देखते हैं तो यह तो हराम था पैसा फिर भी फोकट में मिला जी पैसा देते हैं जाति के नेता मणि कनाडा की चौहान मध्य प्रदेश के लिए क्या सोचा स्टेचू ऑफ यूनिटी के बनाया है इस पर खर्चा हुआ उससे तो यह कमर्शियल विषय बनाया था बता तो मोदी जी ने 1 साल में निकाल दिया है एक पुलिस स्टेशन

aapka prashna statue of unity ke banaye iska paisa kharch karna kya theek tha dekhe pradhanmantri ne toh isse pehle wali ke pradhanmantri ne toh jaise ho jao sona ya haj par subsidy thi toh agar iska milakar agar apan hisab kitab dekhiye toh yah kharagon lakh ke barabar baithati hai jo is murti ka toh only for 1 bhi nahi hai kharcha kiya jisko islam me har aam kha gaya ki haj jab aadmi karta hai toh uske upar koi vaah nahi hona chahiye aur karja nahi hona chahiye jisse paisa liye honi honi chahiye toh maine hans kar diya jabki haj me uska khud ka paisa hona chahiye tha isliye karneji hota hai patrona massage par paisa diya aur dusre ko saiya bana dijiye jo safar islam ke khilaf the par ya ke maulviyon ko aakhon par patti bandhi hui thi choron ne yah kabool ki paise kyonki islam me yudh ko hara me kisi se paisa lekar haj karna toh aapne toh garib janta ka jo vichar kiya se pehle paisa deti hai apne desh ki tarakki ke liye uska paisa dekhte hain toh yah toh haraam tha paisa phir bhi fokat me mila ji paisa dete hain jati ke neta mani canada ki Chauhan madhya pradesh ke liye kya socha statue of unity ke banaya hai is par kharcha hua usse toh yah commercial vishay banaya tha bata toh modi ji ne 1 saal me nikaal diya hai ek police station

आपका प्रश्न स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के बनाए इसका पैसा खर्च करना क्या ठीक था देखे प्रधानमंत्री न

Romanized Version
Likes  175  Dislikes    views  1336
KooApp_icon
WhatsApp_icon
5 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!