J&K अब राज्य नहीं रहा, आधिकारिक तौर पर बने दो केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर और लद्दाख - क्या वहाँ के लोग इस से सच में ख़ुश हैं?...


user

Dr. Ashwani Kumar Singh

Chairman & Director at VEMS

1:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सर आज के लोग बहुत सारे आनंद में हैं क्योंकि अब उनको लग रहा है कि देश में प्रदेश में जो चार राजनीतिक पार्टियां और चार लोग लूट रहे थे वह पैसा सीधा-सीधा लोगों में है आप सोच कर देखिए ना पूरे देश में जो कानून लागू होता वहां लागू नहीं होता वहां करप्शन कानून लागू ही नहीं मिलता वहां पर लेबल्स के नियम लागू ही नहीं होते जो सेंट्रल गवर्नमेंट एंप्लाइज को डेंटिस्ट देती है या गाली बकता बढ़ाती है कुछ क्या है भाई मेरे को इतनी बुरी तरीके से शोषण करते रहे और सेकुलरिज्म के नाम पर और शांति के नाम पर मानवाधिकार के नाम पर अल्पसंख्यक के नाम पर उसको इनको तो जड़ से खुद के खत्म कर देना चाहिए और इस पर

sir aaj ke log bahut saare anand mein hain kyonki ab unko lag raha hai ki desh mein pradesh mein jo char raajnitik partyian aur char log loot rahe the vaah paisa seedha seedha logo mein hai aap soch kar dekhiye na poore desh mein jo kanoon laagu hota wahan laagu nahi hota wahan corruption kanoon laagu hi nahi milta wahan par labels ke niyam laagu hi nahi hote jo central government emplaij ko dentist deti hai ya gaali bakata badhati hai kuch kya hai bhai mere ko itni buri tarike se shoshan karte rahe aur secularism ke naam par aur shanti ke naam par manavadhikar ke naam par alpsankhyak ke naam par usko inko toh jad se khud ke khatam kar dena chahiye aur is par

सर आज के लोग बहुत सारे आनंद में हैं क्योंकि अब उनको लग रहा है कि देश में प्रदेश में जो चार

Romanized Version
Likes  186  Dislikes    views  2677
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसे कि आज की चर्चा का विषय है जम्मू कश्मीर अब राज्य नहीं रहा आधिकारिक तौर पर 2 केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर और लद्दाख हो गए हैं और यह आज के डेट में हुआ है गत 30 अक्टूबर का खास दिन यहां पर चुना गया था क्योंकि आज सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती भी होती है तो इसको नेशनल यूनिटी डे यारी की राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाया भी जाता है तो इसी में ही इसी दिन इसलिए इसका रखा गया था कि यहां पर एकता के स्वरूप में कि हमने जम्मू कश्मीर को आजाद केंद्र शासित प्रदेश अपने जोश में है भारत में शामिल कर लिया है तो यहां पर एक सिग्नीफायर किया गया है कि एक भारत श्रेष्ठ भारत का जो क्वेश्चन दिया गया है उसी को लेकर आगे बढ़ा गया है और एक अच्छा कदम उठाया है अभी के कितना ज्यादा वहां पर विकास होता है कितना ज्यादा वहां पर्चे जाता है यह देखने वाली बात होगी फ्यूचर में धन्यवाद

jaise ki aaj ki charcha ka vishay hai jammu kashmir ab rajya nahi raha adhikarik taur par 2 kendra shasit pradesh jammu kashmir aur ladakh ho gaye hai aur yah aaj ke date mein hua hai gat 30 october ka khaas din yahan par chuna gaya tha kyonki aaj sardar vallabh bhai patel ki jayanti bhi hoti hai toh isko national unity day yaari ki rashtriya ekta divas ke roop mein manaya bhi jata hai toh isi mein hi isi din isliye iska rakha gaya tha ki yahan par ekta ke swaroop mein ki humne jammu kashmir ko azad kendra shasit pradesh apne josh mein hai bharat mein shaamil kar liya hai toh yahan par ek signifier kiya gaya hai ki ek bharat shreshtha bharat ka jo question diya gaya hai usi ko lekar aage badha gaya hai aur ek accha kadam uthaya hai abhi ke kitna zyada wahan par vikas hota hai kitna zyada wahan parche jata hai yah dekhne wali baat hogi future mein dhanyavad

जैसे कि आज की चर्चा का विषय है जम्मू कश्मीर अब राज्य नहीं रहा आधिकारिक तौर पर 2 केंद्र शास

Romanized Version
Likes  373  Dislikes    views  5807
WhatsApp_icon
play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

3:27

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जेएमकेएम राज्य मीरा अधिकारिक तौर पर बनी रो केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर और लद्दाख क्या वहां के लोग सच में कुर्सी धारा 370 हटा कर जम्मू और कश्मीर और लद्दाख को 2 केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित कर दिया गया है आज के दिन जम्मू एंड कश्मीर के ऊपर राज्यपाल के रूप में गिरीश चंद्र मोदी ने शपथ ग्रहण की है और जो लद्दाख उसको यूटी के रूप में केंद्र शासित प्रदेश के रूप में रमाकांत मथुरा दास माथुर ने शपथ ग्रहण करने अब वह अपना कार्यभार संभाल कर और वहां की शासन व्यवस्था को चलाएंगे इससे वहां का जो शासन है बेहतर तरीके से चलेगा और चीजें केंद्र से वह उचित होगा इसे अब वहां के लोग सच में खुश हैं या नहीं वह आने वाला समय बताएगा जो कि जब सुगरण शासन प्रणाली होगी और जो पाकिस्तान का हस्तक्षेप चौक तक होता रहा है लद्दाख अपने आप को जो उपेक्षित महसूस करता था वह स्नेह सदा रहेगा और वहां के लोग खुश होंगे कि हमें भारत से जुड़कर और अच्छी शासन प्रणाली निधि जम्मू एंड कश्मीर में जम्मू पहाड़ी इलाका है और वैली है बहुत ज्यादा आतंकवादी ग्रसित क्षेत्र रहा है अभी तक जो भी केंद्र सरकार जो फंड मुहैया कराती थी वह सब आम जनता तक पहुंचने में पूरी तरह से नहीं सफल हो पाता लेकिन अब वह सब संभव हो पाएगा जहां तक कर हमारा चांद है कि जब शासन प्रणाली सुंदर होती है और सभी केंद्र से केंद्र शासित प्रदेश में जो केंद्र सरकार की योजनाएं वह अगर अच्छे तरीके से कार्यान्वित होती है तो वहां की जनता खुश होती है और अच्छे-अच्छे अपना जीवन यापन कर सके पूरी तरह से संतान होने पर वहां पर पुरुष लोग जैसे जो कश्मीर को स्वर्ग धरती का कहा जाता है वह सही मायने में अब होकर रहेगा और तक वहां की जनता अपने आपको गौरवान्वित महसूस करेंगे कि वह भी भारत का हिस्सा है और वह भारत के नागरिक हैं आतंकवाद को वहां से बाय बाय कर दिया जाएगा धन्यवाद

JMKM rajya meera adhikarik taur par bani ro kendra shasit pradesh jammu kashmir aur ladakh kya wahan ke log sach mein kursi dhara 370 hata kar jammu aur kashmir aur ladakh ko 2 kendra shasit pradeshon mein vibhajit kar diya gaya hai aaj ke din jammu and kashmir ke upar rajyapal ke roop mein girish chandra modi ne shapath grahan ki hai aur jo ladakh usko UT ke roop mein kendra shasit pradesh ke roop mein ramakant mathura das mathur ne shapath grahan karne ab vaah apna karyabhar sambhaal kar aur wahan ki shasan vyavastha ko chalayenge isse wahan ka jo shasan hai behtar tarike se chalega aur cheezen kendra se vaah uchit hoga ise ab wahan ke log sach mein khush hai ya nahi vaah aane vala samay batayega jo ki jab sugaran shasan pranali hogi aur jo pakistan ka hastakshep chauk tak hota raha hai ladakh apne aap ko jo upekshit mehsus karta tha vaah sneh sada rahega aur wahan ke log khush honge ki hamein bharat se judakar aur achi shasan pranali nidhi jammu and kashmir mein jammu pahadi ilaka hai aur valley hai bahut zyada aatankwadi grasit kshetra raha hai abhi tak jo bhi kendra sarkar jo fund muhaiya karati thi vaah sab aam janta tak pahuchne mein puri tarah se nahi safal ho pata lekin ab vaah sab sambhav ho payega jaha tak kar hamara chand hai ki jab shasan pranali sundar hoti hai aur sabhi kendra se kendra shasit pradesh mein jo kendra sarkar ki yojanaye vaah agar acche tarike se karyanwit hoti hai toh wahan ki janta khush hoti hai aur acche acche apna jeevan yaapan kar sake puri tarah se santan hone par wahan par purush log jaise jo kashmir ko swarg dharti ka kaha jata hai vaah sahi maayne mein ab hokar rahega aur tak wahan ki janta apne aapko gaurvanvit mehsus karenge ki vaah bhi bharat ka hissa hai aur vaah bharat ke nagarik hai aatankwad ko wahan se bye bye kar diya jaega dhanyavad

जेएमकेएम राज्य मीरा अधिकारिक तौर पर बनी रो केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर और लद्दाख क्या

Romanized Version
Likes  69  Dislikes    views  1378
WhatsApp_icon
user

Ajay Pratap Singh

Agriculturist

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोग खुश हैं कौन से लोग दुखी हैं वहां पर 70 साल से कोई रेसिपी बनी थी केवल जनसंख्या घटाने और बढ़ाने का काम चल रहा था पाकिस्तान से आए लोग लगातार शादी करके फंस रहे थे देश के लिए बहुत खतरनाक धन्यवाद

log khush hain kaun se log dukhi hain wahan par 70 saal se koi recipe bani thi keval jansankhya ghatane aur badhane ka kaam chal raha tha pakistan se aaye log lagatar shadi karke fans rahe the desh ke liye bahut khataranaak dhanyavad

लोग खुश हैं कौन से लोग दुखी हैं वहां पर 70 साल से कोई रेसिपी बनी थी केवल जनसंख्या घटाने औ

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  120
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!