क्यों कभी अपनी पसंदीदा चीज़ भी अच्छी नहीं लगती है?...


user

Nikhil Ranjan

Programme Coordinator - National Institute of Electronics and Information Technology (NIELIT)

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपस में कभी कभी अपने पसंदीदा चीज भी अच्छी नहीं लगती है तो आपको बता देंगे बिल्कुल सबसे बड़ी चीज की नथिंग इस परफेक्ट इंग्लिश वर्ड की कोई भी चीज दुनिया में परफेक्ट नहीं है मैं कई बार आंसर करता हूं और मुझे लगता है कि शायद मैं अगर इसको आंसर इस नगर के दूसरे तरीके से करता है ऐसा कुछ कहता तो शायद और अच्छा होता तो यहां पर हमेशा बढ़ोतरी का हमेशा इंप्रूवमेंट का स्कोप तो हर जगह होता ही है तो आपको कई बार अपनी पसंद का चीज आप जो करते हैं या पसंद करते हैं किसी चीज को तो जोड़ने की माउस हर वक्त आपको अच्छी लगे कई बार आपको भी उसमें इंप्रूवमेंट नजर आता है और आप चाहते हैं कि आ जाना इंप्रोवाइज हो जाए और ज्यादा इंप्रूव हो जाए तो वह चीजें होनी भी चाहिए इंसान के अंदर तभी वह आगे क्रोध की और और आगे और अच्छा करने की सोचता है मैं शुभकामनाएं आपके साथ है धन्यवाद

aapas me kabhi kabhi apne pasandida cheez bhi achi nahi lagti hai toh aapko bata denge bilkul sabse badi cheez ki nothing is perfect english word ki koi bhi cheez duniya me perfect nahi hai main kai baar answer karta hoon aur mujhe lagta hai ki shayad main agar isko answer is nagar ke dusre tarike se karta hai aisa kuch kahata toh shayad aur accha hota toh yahan par hamesha badhotari ka hamesha improvement ka scope toh har jagah hota hi hai toh aapko kai baar apni pasand ka cheez aap jo karte hain ya pasand karte hain kisi cheez ko toh jodne ki mouse har waqt aapko achi lage kai baar aapko bhi usme improvement nazar aata hai aur aap chahte hain ki aa jana improvise ho jaaye aur zyada improve ho jaaye toh vaah cheezen honi bhi chahiye insaan ke andar tabhi vaah aage krodh ki aur aur aage aur accha karne ki sochta hai main subhkamnaayain aapke saath hai dhanyavad

आपस में कभी कभी अपने पसंदीदा चीज भी अच्छी नहीं लगती है तो आपको बता देंगे बिल्कुल सबसे बड़ी

Romanized Version
Likes  608  Dislikes    views  6929
KooApp_icon
WhatsApp_icon
16 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!