राजस्थान हाईकोर्ट ने मॉब लिंचिंग के शिकार पहलू खान और उनके बेटों पर दर्ज FIR रद्द करने का आदेश दिया, आपकी राय?...


play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

1:12

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राजस्थान हाईकोर्ट ने मोब लिंचिंग के शिकार खान और उनके बेटों पर दर्ज एफआइआर दर्ज करने का आदेश दिया राजस्थान हाई कोर्ट ने अलवर कोर्ट में मॉब लिंचिंग के शिकार पहलू खान और जो एफआईआर दर्ज हुई थी वह आदेश दिया है और उनको बेनिफिट्स ऑफ डाउट देकर रिहा करने का आदेश दिया है विनोद अशोक गहलोत की सरकार ने वापस हाई कोर्ट के ऊपर जाने का फैसला लिया लेकिन फिलहाल जो वर्जित भाई वैसे सबको हम बेनिफिट्स ऑफ डाउट का लाभ दिया है और उसे उसे अपराध

rajasthan highcourt ne mob lynching ke shikaar khan aur unke beto par darj FIR darj karne ka aadesh diya rajasthan high court ne alwar court mein mob lynching ke shikaar pahaloo khan aur jo FIR darj hui thi vaah aadesh diya hai aur unko benefits of doubt dekar riha karne ka aadesh diya hai vinod ashok gehlot ki sarkar ne wapas high court ke upar jaane ka faisla liya lekin filhal jo varjit bhai waise sabko hum benefits of doubt ka labh diya hai aur use use apradh

राजस्थान हाईकोर्ट ने मोब लिंचिंग के शिकार खान और उनके बेटों पर दर्ज एफआइआर दर्ज करने का आद

Romanized Version
Likes  67  Dislikes    views  1331
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr Chandra Shekhar Jain

MBBS, Yoga Therapist Yoga Psychotherapist

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मॉब लिंचिंग को किसी भी रूप में सही नहीं ठहराया जा सकता है चाहे वह बंगाल में हिंदुओं की हो और चाहे वह उत्तर भारत में मुस्लिमों की हूं अगर आपको किसी भी व्यक्ति से कोई शिकायत है तो सबसे पहले उसे बैठकर समझाना फिर उसके बाद उसके खिलाफ किसी प्रकार की कानूनी कार्यवाही करना और ईमानदारी से उस चीज को समझने की कोशिश करना इसका सबसे अच्छा सलूशन है परंतु जब अशिक्षा हमारे सर चढ़कर बोलती है और कानून में कोई शक्ति नहीं होती है तो हर व्यक्ति अपना कानून बना देता है यह कहा जाता है यह कहावत है कि जिस देश का कोई कानून नहीं होता वहां पर हर्ब कानून वाला बन जाता है और अपनी ही तरह से जीवन को जीता है और हर जगह क्यों या या अस्त व्यस्त था कल जाती है

mob lynching ko kisi bhi roop mein sahi nahi thehraya ja sakta hai chahen vaah bengal mein hinduon ki ho aur chahen vaah uttar bharat mein muslimo ki hoon agar aapko kisi bhi vyakti se koi shikayat hai toh sabse pehle use baithkar samajhana phir uske baad uske khilaf kisi prakar ki kanooni karyavahi karna aur imaandaari se us cheez ko samjhne ki koshish karna iska sabse accha salution hai parantu jab asiksha hamare sir chadhakar bolti hai aur kanoon mein koi shakti nahi hoti hai toh har vyakti apna kanoon bana deta hai yah kaha jata hai yah kahaavat hai ki jis desh ka koi kanoon nahi hota wahan par herb kanoon vala ban jata hai aur apni hi tarah se jeevan ko jita hai aur har jagah kyon ya ya ast vyast tha kal jaati hai

मॉब लिंचिंग को किसी भी रूप में सही नहीं ठहराया जा सकता है चाहे वह बंगाल में हिंदुओं की हो

Romanized Version
Likes  100  Dislikes    views  1222
WhatsApp_icon
user

Ajay Pratap Singh

Agriculturist

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए हाईकोर्ट ने मारली नशे के शिकार और उनके बेटों पर दर्ज एफआइआर रद करने का आदेश दिया है तो पहलू खान का एक्ट देखना होगा पहले क्या है फिर मौज ले जा रहा है तो उसकी जांच हुई हो उसमें क्या पाया गया हो इसके बाद पुलिस फॉर खुदाई 169 लगा देती है तो मैं कह रहा था कि यदि सबूत ना मिले तो पुलिस को पहले ही इसको जैन जी को खिला सकती थी अगर कोई जांच ना मिली हो मिली हो तो गई हो वहां पर लाया गया होगा और इसके 60 दिन तो विशेष सभी लोग जानते

dekhiye highcourt ne maarli nashe ke shikaar aur unke beto par darj FIR rad karne ka aadesh diya hai toh pahaloo khan ka act dekhna hoga pehle kya hai phir mauj le ja raha hai toh uski jaanch hui ho usme kya paya gaya ho iske baad police for khudai 169 laga deti hai toh main keh raha tha ki yadi sabut na mile toh police ko pehle hi isko jain ji ko khila sakti thi agar koi jaanch na mili ho mili ho toh gayi ho wahan par laya gaya hoga aur iske 60 din toh vishesh sabhi log jante

देखिए हाईकोर्ट ने मारली नशे के शिकार और उनके बेटों पर दर्ज एफआइआर रद करने का आदेश दिया है

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user

Rs Rathore

Politician

0:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राजस्थान हाईकोर्ट ने मॉडलिंग चीन के ऐसी कालू खान और उनके बेटों पर कोई भी हो उसका उसको दम देना ही उसका अंतिम हथियार तो अपराधी को सजा मिले

rajasthan highcourt ne modelling china ke aisi kalu khan aur unke beto par koi bhi ho uska usko dum dena hi uska antim hathiyar toh apradhi ko saza mile

राजस्थान हाईकोर्ट ने मॉडलिंग चीन के ऐसी कालू खान और उनके बेटों पर कोई भी हो उसका उसको दम द

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  108
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!