सवालों के घेरे में यूरोपियन यूनियन के 27 सांसदों का कश्मीर दौरा, किसने की है फंडिंग?...


play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

3:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सवालों के घेरे में यूरोपियन के 27 सांसदों का कश्मीर दौरा किस किए पढ़ने में 27 सांसद जो है यूरोपीय यूनियन के उसके जो फंडिंग की है बुलाने का निमंत्रण दिया है माधवी शर्मा ने दिया है माही शर्मा नाम की जो है एक एनजीओ चलाती है और बेस्ट इकोनामिक नाम का जो हीरोइन है उनका काम करती हैं और विदेशी जो यूरोपीय यूनियन के 27 सांसदों को उन्होंने बुलाया है और पढ़ने की उन्होंने की है और दूसरा जो है दूसरे को यह नियम कि उन्होंने उनके रहने का और दूसरा इंतजाम किया हुआ है और पहले दिन मोदी जी के साथ फिल्म की वीडियो मुलाकात सभी स्थापना कराई गई और फिर बाद में दूसरे दिन उन्हें काटने के लिए जाकर सब अभिजीत कराई गई उसके बाद इन्होंने सब अपनी भावना व्यक्त की है कि वह फासीवादी नहीं है और किसी भी देश को इस तरह से आतंकवाद से ग्रसित होकर तबाह होते नहीं देख सकते उनको कई लोगों ने सवालों के घेरे में भी लेने की कोशिश की कि इस तरह का कश्मीर दौरा करने का क्या मतलब है क्या फर्क पड़ेगा कि उन्होंने साफ इनकार किया कि वह चुने हुए प्रतिनिधि है वह कोई देश के एजेंट नहीं है यार ऐसी कोई उनके जो क्रियाकलाप ऐसे नहीं है कि वह कोई ऐसा नहीं चाहती कि कोई भी देश या प्रवीण किसी भी देश का इस तरह से आतंकवाद से ग्रसित होकर तबाह हो वह आमंत्रित करना चाहते और मोदी जी के प्रयासों को हमें दिख रहा है और अमन शांति वहां पर दिख रही है और प्रयास और सच्चे थे कि एक तरफ से यूरोपियन यूनियन के जो सोता है उचित रिपोर्ट देंगे जैसा कि उन्होंने देखा है इस तरह से फंडिंग मांगी शर्मा ने की है और उनके दूसरे इंडिया में की है धन्य

sawalon ke ghere mein european ke 27 sansadon ka kashmir daura kis kiye padhne mein 27 saansad jo hai european union ke uske jo funding ki hai bulane ka nimantran diya hai madhvi sharma ne diya hai maahi sharma naam ki jo hai ek ngo chalati hai aur best economic naam ka jo heroine hai unka kaam karti hain aur videshi jo european union ke 27 sansadon ko unhone bulaya hai aur padhne ki unhone ki hai aur doosra jo hai dusre ko yah niyam ki unhone unke rehne ka aur doosra intajam kiya hua hai aur pehle din modi ji ke saath film ki video mulakat sabhi sthapna karai gayi aur phir baad mein dusre din unhe katne ke liye jaakar sab abhijeet karai gayi uske baad inhone sab apni bhavna vyakt ki hai ki vaah fasivadi nahi hai aur kisi bhi desh ko is tarah se aatankwad se grasit hokar tabah hote nahi dekh sakte unko kai logo ne sawalon ke ghere mein bhi lene ki koshish ki ki is tarah ka kashmir daura karne ka kya matlab hai kya fark padega ki unhone saaf inkar kiya ki vaah chune hue pratinidhi hai vaah koi desh ke agent nahi hai yaar aisi koi unke jo kriyakalap aise nahi hai ki vaah koi aisa nahi chahti ki koi bhi desh ya praveen kisi bhi desh ka is tarah se aatankwad se grasit hokar tabah ho vaah aamantrit karna chahte aur modi ji ke prayaso ko hamein dikh raha hai aur aman shanti wahan par dikh rahi hai aur prayas aur sacche the ki ek taraf se european union ke jo sota hai uchit report denge jaisa ki unhone dekha hai is tarah se funding maangi sharma ne ki hai aur unke dusre india mein ki hai dhanya

सवालों के घेरे में यूरोपियन के 27 सांसदों का कश्मीर दौरा किस किए पढ़ने में 27 सांसद जो है

Romanized Version
Likes  64  Dislikes    views  1272
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ajay Pratap Singh

Agriculturist

0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

फंडिंग का तक देश के लोग आए थे देखने के बारे में उन्होंने भारत को हस्तक्षेप करने की जरूरत नहीं है कोई प्रायोजित और वह नहीं है

funding ka tak desh ke log aaye the dekhne ke bare mein unhone bharat ko hastakshep karne ki zarurat nahi hai koi prayojeet aur vaah nahi hai

फंडिंग का तक देश के लोग आए थे देखने के बारे में उन्होंने भारत को हस्तक्षेप करने की जरूरत न

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  133
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!