गुस्सा पर कैसे कंट्रोल करना चाहिए?...


user

Dr. Swatantra Jain

Psychotherapist, Family & Career Counsellor and Parenting & Life Coach

9:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपके प्रश्न के गुस्से पर कंट्रोल कैसे करना चाहिए बहुत अच्छा प्रश्न पूछा आपने गुस्से पर कंट्रोल करना बहुत जरूरी है क्योंकि गुस्से से के कितने गलत प्रभाव पड़ सकता है हम सब समझते हैं रिश्ते टूटते हैं नौकरी छुट्टी गया है बच्चों को गणित बच्चे घर छोड़ कर सकते हैं और न जाने क्या-क्या तो अब सवाल उठता है यह गुस्से पर कंट्रोल कैसे करें सबसे पहले तो देखे हमें सोच समझकर बोलना चाहिए गुस्सा प्रकट करने से पहले सूची इसका अंजाम क्या होगा आप गुस्से में किसी को ऐसे शब्द कहेंगे किसी का दर्शन करेंगे कड़वे शब्द पहन के मारेंगे पिएंगे खिलाएंगे उत्सव का क्या असर होने वाला है और यह नहीं समझ में आता आपको मतलब आप नहीं सोच पाते गुस्सा आ जाता है उसमें पर आप उससे पहले नहीं सोच पाते तू दूसरा चेक कर सकते हो क्या आप इन को छोड़कर चले जाओ घर में गुस्सा आ रहा है तू रूम को छोड़कर चले जाओ ऑफिस में तुम छोड़कर चले जाओ लेकिन बात कैसे नहीं छोड़ सकते तू उस इक्वेशन को छोड़ने की पूरी कोशिश करें अब चलिए आप कंफ्यूजन को छोड़ नहीं सकती और गुस्से पर भी आप से कंट्रोल नहीं हो रहा आप चुप रह चुप रह सकते ना आपको व्हाट्सएप डांस कर रही है आप आपको लग रहा है बेवजह जानता है तो बताए रिजल्ट करने की आप जैसे बच्चों के सारे तो अच्छे शब्द बोलना चाहिए कि बदले आप चुप रह जा अपने आप को चुप करें पति पत्नी के बीच में आपस में तकरार हो रही है चित्र कुछ ब्लेम लगाने से या गुस्से में कुछ अपशब्द कहने के बदले चुप हो जाए तो किस स्टेट की आवास की साइलेंट साइलेंट हां जी आपसे तो थोड़ी देर के लिए आप शाम का जो गुस्सा हो चाय पानी पी ली जी चलिए लंबी गहरी श्वास टाइम लेने का एक तरीका है यह लंबी गहरी श्वास वहीं पर एक तीसरा लो चौथा लो वैसे करके जैसे जैसे आप लंबे चेहरे से आपका यह घर आपका तक की गिनती पूरी होने पर पूरा हो चुका होगा क्योंकि वास्तव में काम करेगा जब आप शांत हो गए तो पीछे मुड़कर देखिए कि गुस्सा जो आपको आया था कि आवाज एक था क्या होना चाहिए था कि आप उसको किसी और तरीके से प्रकट करते थे उसे अच्छी तरह गुस्से को डिसेंटली प्रकट करना कि उपाय सोचो जब आप अपने आप को याद दिलाएंगे कि मुझे मुझे नहीं होना मुझे हिंदी से नहीं होना मुझे टी-शर्ट याद करना आपको फायदा करेगा लेकिन जाग तो आपको दिलाना पड़ेगा अपने आप को क्या कर सकते हो आप कुछ ठीक है पड़ेगा आपको आई स्टेट में दूसरे को ब्लेम करने के बदले आप क्या चाहते हो उसको डायरेक्टली करना सीखो फिर बोल रही मैं गुस्से में हम क्या कहते हैं हम दोषारोपण करते हैं दूसरे में तो करना चाहिए था और उसी को बहुत अच्छे तरीके से किया जाता है उसको कैपटेन कुछ भी कह देते हैं फिर भी पछताना न पड़े ऐसा काम करो ऐसा काम करने के लिए एक ही तरीका है बेस्ट ठीक है और वह है अपने आप को आई स्टेटमेंट कहना दिखाइए और ब्लेम जादू सर ओपन करना बंद करो और स्टेटमेंट स्टेटमेंट पांडे जी आपके पति घर आने की वेट करते रहती है वह तुम पूरे दिन पर दिन पर बहुत देर में आए क्या आप कुछ और कर सकती थी आपने बरस पड़े तो आपने उन पर दोषारोपण कर दिया हमेशा लेट आते आपकी वजह से मैं दो आपको बिल्कुल भी परवाह नहीं हमारी यह है दूसरों पर अब आपको इसको कैसे आई स्ट्रीटमैन में कैसे कन्वर्ट कर सकते हैं कि किस को आप कहिए आईपीएल आपसे मैं बहुत अपसेट होती हूं आप कहकर भी टाइम पर नहीं आ सकते क्या आप टाइम पर आने की कोशिश कर सकते हैं तो आप अपनी अपने अपने अपने आपको अपनी पोजीशन बताइए अपने मोड बताइए आप दूसरे पर दोषारोपण नहीं करें तो ही आई थी आपको प्रेक्टिस करने पड़े जैसे आप कहेंगे आई थी ना तो आपको अपने आप ही शर्मिंदा हो जाएंगे आपको करने की जरूरत नहीं होगी या फिर दूसरा उनकी वेट मत करिए आगे से आपको ओके सॉरी मुझे तो भूख लगती है मैं आपकी वेट नहीं कर सकती और मजबूरी तो मैं जल्दी खा लो जल्दी खा लीजिए अगर आपको लगता नहीं पति पत्नी को इकट्ठा करना चाहिए लड़ाई करने से एक गुस्सा होने से रिश्ते खराब करने से अच्छा आप खा लेना पहले खा ले तो उनके साथ दिखा दे तो उपाय निकाली उसके गुस्सा होने के बाद रही है क्या आपको उसके बदले क्या पॉजिटिव हो सकता है उसके उपाय निकाली कुछ सोचेंगे तो जरूर कोई ना कोई आ जाएगा और आप गुस्से को कंट्रोल करने के लिए याद करें तो हमारी शुभकामनाएं आपके साथ

aapke prashna ke gusse par control kaise karna chahiye bahut accha prashna poocha aapne gusse par control karna bahut zaroori hai kyonki gusse se ke kitne galat prabhav pad sakta hai hum sab samajhte hain rishte tutate hain naukri chhutti gaya hai baccho ko ganit bacche ghar chhod kar sakte hain aur na jaane kya kya toh ab sawaal uthata hai yah gusse par control kaise kare sabse pehle toh dekhe hamein soch samajhkar bolna chahiye gussa prakat karne se pehle suchi iska anjaam kya hoga aap gusse me kisi ko aise shabd kahenge kisi ka darshan karenge kadve shabd pahan ke marenge piyenge khilaenge utsav ka kya asar hone vala hai aur yah nahi samajh me aata aapko matlab aap nahi soch paate gussa aa jata hai usme par aap usse pehle nahi soch paate tu doosra check kar sakte ho kya aap in ko chhodkar chale jao ghar me gussa aa raha hai tu room ko chhodkar chale jao office me tum chhodkar chale jao lekin baat kaise nahi chhod sakte tu us equation ko chodne ki puri koshish kare ab chaliye aap confusion ko chhod nahi sakti aur gusse par bhi aap se control nahi ho raha aap chup reh chup reh sakte na aapko whatsapp dance kar rahi hai aap aapko lag raha hai bewajah jaanta hai toh bataye result karne ki aap jaise baccho ke saare toh acche shabd bolna chahiye ki badle aap chup reh ja apne aap ko chup kare pati patni ke beech me aapas me takrar ho rahi hai chitra kuch blame lagane se ya gusse me kuch apashabd kehne ke badle chup ho jaaye toh kis state ki aawas ki silent silent haan ji aapse toh thodi der ke liye aap shaam ka jo gussa ho chai paani p li ji chaliye lambi gehri swas time lene ka ek tarika hai yah lambi gehri swas wahi par ek teesra lo chautha lo waise karke jaise jaise aap lambe chehre se aapka yah ghar aapka tak ki ginti puri hone par pura ho chuka hoga kyonki vaastav me kaam karega jab aap shaant ho gaye toh peeche mudkar dekhiye ki gussa jo aapko aaya tha ki awaaz ek tha kya hona chahiye tha ki aap usko kisi aur tarike se prakat karte the use achi tarah gusse ko decently prakat karna ki upay socho jab aap apne aap ko yaad dilaenge ki mujhe mujhe nahi hona mujhe hindi se nahi hona mujhe T shirt yaad karna aapko fayda karega lekin jag toh aapko dilana padega apne aap ko kya kar sakte ho aap kuch theek hai padega aapko I state me dusre ko blame karne ke badle aap kya chahte ho usko directly karna sikho phir bol rahi main gusse me hum kya kehte hain hum dosharopan karte hain dusre me toh karna chahiye tha aur usi ko bahut acche tarike se kiya jata hai usko kaipten kuch bhi keh dete hain phir bhi pachhataana na pade aisa kaam karo aisa kaam karne ke liye ek hi tarika hai best theek hai aur vaah hai apne aap ko I statement kehna dikhaiye aur blame jadu sir open karna band karo aur statement statement pandey ji aapke pati ghar aane ki wait karte rehti hai vaah tum poore din par din par bahut der me aaye kya aap kuch aur kar sakti thi aapne baras pade toh aapne un par dosharopan kar diya hamesha late aate aapki wajah se main do aapko bilkul bhi parvaah nahi hamari yah hai dusro par ab aapko isko kaise I stritamain me kaise convert kar sakte hain ki kis ko aap kahiye IPL aapse main bahut upset hoti hoon aap kehkar bhi time par nahi aa sakte kya aap time par aane ki koshish kar sakte hain toh aap apni apne apne apne aapko apni position bataiye apne mode bataiye aap dusre par dosharopan nahi kare toh hi I thi aapko practice karne pade jaise aap kahenge I thi na toh aapko apne aap hi sharminda ho jaenge aapko karne ki zarurat nahi hogi ya phir doosra unki wait mat kariye aage se aapko ok sorry mujhe toh bhukh lagti hai main aapki wait nahi kar sakti aur majburi toh main jaldi kha lo jaldi kha lijiye agar aapko lagta nahi pati patni ko ikattha karna chahiye ladai karne se ek gussa hone se rishte kharab karne se accha aap kha lena pehle kha le toh unke saath dikha de toh upay nikali uske gussa hone ke baad rahi hai kya aapko uske badle kya positive ho sakta hai uske upay nikali kuch sochenge toh zaroor koi na koi aa jaega aur aap gusse ko control karne ke liye yaad kare toh hamari subhkamnaayain aapke saath

आपके प्रश्न के गुस्से पर कंट्रोल कैसे करना चाहिए बहुत अच्छा प्रश्न पूछा आपने गुस्से पर कंट

Romanized Version
Likes  494  Dislikes    views  4880
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Tanay Mishra

Head Control Clerk In Forest Department U.P.

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुस्सा कंट्रोल करने का एक बहुत अच्छा तरीका अगर आपको गुस्सा कंट्रोल करना अगर आपको शायद आप लेट है सीधे सभी पोस्ट में सलमान खान ने सिद्धार्थ शुक्ला को एक राजनीति का सही करें जिससे कि हंसी आने लगे लोगों को ग्राफी करेंगे तो मेरे ख्याल से बहुत ही ज्यादा उचित होकर आपको क्रोध नहीं आएगा

gussa control karne ka ek bahut accha tarika agar aapko gussa control karna agar aapko shayad aap late hai sidhe sabhi post me salman khan ne siddharth shukla ko ek raajneeti ka sahi kare jisse ki hansi aane lage logo ko graafi karenge toh mere khayal se bahut hi zyada uchit hokar aapko krodh nahi aayega

गुस्सा कंट्रोल करने का एक बहुत अच्छा तरीका अगर आपको गुस्सा कंट्रोल करना अगर आपको शायद आप ल

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  162
WhatsApp_icon
user

आचार्य प्रशांत

IIT-IIM Alumnus, Ex Civil Services Officer, Mystic

6:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चंदन गुप्ता और प्रेम वास्तव में दो जिसे तुम प्यार करते हो वह अपनी आभार ही निरंकार मैं जिसको हम छन छन छन वीडियो या ड्यूटी करके आया उपाध्यक्ष पहुंचेगी अपनी प्यास को जाती है उसका आवेदन तुम्हारी इच्छाएं गुरु के रूप में बाहर आती और इच्छा है क्या तुमको इच्छा इच्छा इच्छा क्रोध में भी आत्मा कुड़ी प्रारूप जैसा भी हूं खुद क्यों आता तुम्हें अरे तुम्हें कुछ चाहिए ना सामना के बिना क्रोध घुसता है छोटा-मोटा उधर उधर अपना गुस्सा प्रकट कर लेते हो या फिर कहीं भी अपनी दिक्षित ऊर्जा प्रदर्शित कर आते हो यह देखो किसी पर भी क्रोधित होते होते अपने ऊपर कोई अच्छा है इतनी क्रोध में स्वयं को कई बार कोई और मिलता नहीं तुम्हें इस पर उसका उतार सकूं लेकिन अपने गुस्से में अपने आप को हाथ रखे हो ग्रुप में तुमको जो यह सजा देते हो गुनाह क्या है तुम्हारा इसके लिए अपने आप को दोषी मानते हो वह तो है जो मुरझाया हुआ जीवन धोखा हुआ है यह शिकायत से भरी आते हैं इस्तेमा हुआ मन है हमसे बेवफाई जिस को छोड़कर के 11 से मन लगा सुरक्षा के

chandan gupta aur prem vaastav mein do jise tum pyar karte ho vaah apni abhar hi nirankar main jisko hum chhan chhan chhan video ya duty karke aaya upadhyaksh pahunchegi apni pyaas ko jaati hai uska avedan tumhari ichhaen guru ke roop mein bahar aati aur iccha hai kya tumko iccha iccha iccha krodh mein bhi aatma kundi prarup jaisa bhi hoon khud kyon aata tumhe are tumhe kuch chahiye na samana ke bina krodh ghuste hai chota mota udhar udhar apna gussa prakat kar lete ho ya phir kahin bhi apni dixit urja pradarshit kar aate ho yah dekho kisi par bhi krodhit hote hote apne upar koi accha hai itni krodh mein swayam ko kai baar koi aur milta nahi tumhe is par uska utar sakun lekin apne gusse mein apne aap ko hath rakhe ho group mein tumko jo yah saza dete ho gunah kya hai tumhara iske liye apne aap ko doshi maante ho vaah toh hai jo murjhaaya hua jeevan dhokha hua hai yah shikayat se bhari aate hain istema hua man hai humse bewafai jis ko chhodkar ke 11 se man laga suraksha ke

चंदन गुप्ता और प्रेम वास्तव में दो जिसे तुम प्यार करते हो वह अपनी आभार ही निरंकार मैं जिसक

Romanized Version
Likes  361  Dislikes    views  4456
WhatsApp_icon
user

Prince Varma

Motivational Speaker and Life Coach

1:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बात करना बहुत जरूरी होता है क्योंकि में काम कर रहे हैं और आपको अपने उत्पादों गुस्से में हम खुद पर कंट्रोल काटे जाते हैं मस्ती करता है जो आपको गुस्सा नहीं हो सकता है तू यहां पर रोक देते हैं कि नहीं मुझे गुस्सा नहीं आना चाहिए नहीं करना है मेडिटेशन कर सकते हैं आप तो वैसे आप अपने आप को जानेंगे कंट्रोल कंट्रोलिंग करेंगे खुद के ऊपर तो वह ज्यादा बेस्ट ऑप्शन है

baat karna bahut zaroori hota hai kyonki mein kaam kar rahe hain aur aapko apne utpado gusse mein hum khud par control kaate jaate hain masti karta hai jo aapko gussa nahi ho sakta hai tu yahan par rok dete hain ki nahi mujhe gussa nahi aana chahiye nahi karna hai meditation kar sakte hain aap toh waise aap apne aap ko jaanege control controlling karenge khud ke upar toh vaah zyada best option hai

बात करना बहुत जरूरी होता है क्योंकि में काम कर रहे हैं और आपको अपने उत्पादों गुस्से में हम

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  161
WhatsApp_icon
user

Rashmi Marathe- Lokapure

Keynote Speaker | Trainer

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुस्से पर कैसे कंट्रोल करना चाहिए बहुत ही महत्वपूर्ण सवाल पूछा है और सबसे पहले तो आप यह सच में यह समझ लेना चाहिए कि हमें गुस्सा क्यों आता है किसी भी व्यक्ति को गुस्सा तब आता है जब वह सामने वाले से कुछ अपेक्षा करता है हम सामने वाले व्यक्ति से कुछ अपेक्षा करते हो और वह अपेक्षा पूर्ण नहीं हो पाती हम चाहते कि वह हमारी हमारी तरीके से या हम जैसे चाहे वैसे वह बर्ताव करें और वह नहीं होता फिर हमें गुस्सा आता है जैसे हम चाहते हैं वैसे अगर सामने सामने वाला व्यक्ति यह सामने वाले क्वेश्चन प्रतीत नहीं होती तो हमें बहुत ज्यादा गुस्सा आता है तो यह पहले मुंह स्वरुप है गुस्से का ही हम समझ ले तो गुस्सा ना आने के लिए गुस्सा कंट्रोल करने के दो तरीके हैं पहला आप यह समझ ले कि सामने वाले व्यक्ति का स्वभाव या कोई भी सिचुएशन आपके कंट्रोल में नहीं है यह पहले समझ आपके कंट्रोल में है आपका स्वभाव आपके डिसीजन kabhi khushi पर कंट्रोल कर सकते हैं आउट ऑफ कंट्रोल है जैसे उदाहरण देना हो तो बारिश बारिश मेरे कंट्रोल में नहीं है पर अगर मैं उस पर गुस्सा करो कि अरे बारिश हो रही है पागलपन दूसरा जो चीज हो रही है जो घटना हुई है यह जो व्यक्ति का व्यक्ति का बिहेवियर आपको अच्छा ना लगे उसको स्वीकार कर लो कोई भी चीज स्वीकार करने से उस पर हमें गुस्सा नहीं आता अगर हम स्वीकार कर लेते हैं कि सामने वाले व्यक्ति का चलन ही ऐसा है उसका बिहेवियर ऐसा है मैं उसे स्वीकार कर लेती हूं मेरे मामा जैसे हम अपने मां बाप को अपने बच्चों को स्वीकार कर लेते हैं उसी प्रकार हम अगर सामने वाले व्यक्ति को स्वीकार कर ले तो हमें उस बात का गुस्सा नहीं आता स्वीकार ना करने से गुस्से के निर्मिती होती है गुस्सा उत्पन्न होता है तो आप किसी भी चीज को स्वीकार कर ले कि हां यह ऐसा है तो आप बड़े ठंडे दिमाग से शांत विचारों से उस पर निर्णय ले सकते हैं या उस पर सेंड कर सकते हैं तो स्वीकार कीजिए

gusse par kaise control karna chahiye bahut hi mahatvapurna sawaal poocha hai aur sabse pehle toh aap yah sach mein yah samajh lena chahiye ki hamein gussa kyon aata hai kisi bhi vyakti ko gussa tab aata hai jab vaah saamne waale se kuch apeksha karta hai hum saamne waale vyakti se kuch apeksha karte ho aur vaah apeksha purn nahi ho pati hum chahte ki vaah hamari hamari tarike se ya hum jaise chahen waise vaah bartaav kare aur vaah nahi hota phir hamein gussa aata hai jaise hum chahte hain waise agar saamne saamne vala vyakti yah saamne waale question pratit nahi hoti toh hamein bahut zyada gussa aata hai toh yah pehle mooh swarup hai gusse ka hi hum samajh le toh gussa na aane ke liye gussa control karne ke do tarike hain pehla aap yah samajh le ki saamne waale vyakti ka swabhav ya koi bhi situation aapke control mein nahi hai yah pehle samajh aapke control mein hai aapka swabhav aapke decision kabhi khushi par control kar sakte hain out of control hai jaise udaharan dena ho toh barish barish mere control mein nahi hai par agar main us par gussa karo ki are barish ho rahi hai pagalpan doosra jo cheez ho rahi hai jo ghatna hui hai yah jo vyakti ka vyakti ka behaviour aapko accha na lage usko sweekar kar lo koi bhi cheez sweekar karne se us par hamein gussa nahi aata agar hum sweekar kar lete hain ki saamne waale vyakti ka chalan hi aisa hai uska behaviour aisa hai use sweekar kar leti hoon mere mama jaise hum apne maa baap ko apne baccho ko sweekar kar lete hain usi prakar hum agar saamne waale vyakti ko sweekar kar le toh hamein us baat ka gussa nahi aata sweekar na karne se gusse ke nirmiti hoti hai gussa utpann hota hai toh aap kisi bhi cheez ko sweekar kar le ki haan yah aisa hai toh aap bade thande dimag se shaant vicharon se us par nirnay le sakte hain ya us par send kar sakte hain toh sweekar kijiye

गुस्से पर कैसे कंट्रोल करना चाहिए बहुत ही महत्वपूर्ण सवाल पूछा है और सबसे पहले तो आप यह सच

Romanized Version
Likes  56  Dislikes    views  1818
WhatsApp_icon
user

Jyoti Arya

Www.soulsymphony.in

1:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सवाल है कि गुस्से पर कंट्रोल कैसे करें तो आपको तीन सेक्स में मैं बताऊंगी कि आप गुस्से पर कैसे काबू पा सकते हैं चेतना भगवान रिएक्ट नहीं रिपोर्ट करें यानी किसी भी बात का जवाब देने से पहले एक छोटा सा फौज में सोचे और फिर भूले शॉप नंबर दो ऐसी कोई भी बात या विचार जिसे सुनने से आपको गुस्सा आता है उसे आप सुनते ही 11 सेकंड से 17 सेकेंड के अंदर अंदर रिजेक्ट कर दें और खुद को एक पॉजिटिव थॉट थे याद रहे कि थॉट्स को एक्सेप्ट या रिजेक्ट करना आपके हाथ में है फॉर एग्जांपल आप से किसी ने कहा कि है काम आपके बस का नहीं है या आप इसे नहीं कर सकते और आपको ऐसा सुनते ही बहुत गुस्सा आया तो आप थॉट को उस विचार को रिजेक्ट करें और खुद से कहें कि मुझे खुद पर पूरा विश्वास है मैं सफलता को जरूर प्राप्त करूंगा या करूंगी 10 नंबर 3 पॉजिटिव थॉट और ग्रिटीट्यूड की फीलिंग के साथ अपने दिन की शुरुआत करें शिकायतों से नहीं

sawaal hai ki gusse par control kaise kare toh aapko teen sex mein main bataungi ki aap gusse par kaise kabu paa sakte hain chetna bhagwan react nahi report kare yani kisi bhi baat ka jawab dene se pehle ek chota sa fauj mein soche aur phir bhule shop number do aisi koi bhi baat ya vichar jise sunne se aapko gussa aata hai use aap sunte hi 11 second se 17 second ke andar andar reject kar de aur khud ko ek positive thought the yaad rahe ki thoughts ko except ya reject karna aapke hath mein hai for example aap se kisi ne kaha ki hai kaam aapke bus ka nahi hai ya aap ise nahi kar sakte aur aapko aisa sunte hi bahut gussa aaya toh aap thought ko us vichar ko reject kare aur khud se kahein ki mujhe khud par pura vishwas hai safalta ko zaroor prapt karunga ya karungi 10 number 3 positive thought aur gritityud ki feeling ke saath apne din ki shuruat kare shikayaton se nahi

सवाल है कि गुस्से पर कंट्रोल कैसे करें तो आपको तीन सेक्स में मैं बताऊंगी कि आप गुस्से पर क

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  705
WhatsApp_icon
user

Dr Anamika Papriwal

Psychologist & Psychotherapist

1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड गुस्से पर कंट्रोल कैसे करें एक कॉमन क्वेश्चन है और इससे सभी लोग बहुत परेशान भी है पर एक बात मैं आपसे पूछना चाहती हूं किसी चीज को कंट्रोल करने के लिए थोड़ा ब्रेक देना होता है ना बस वैसे ही हम अगर ब्रेक लगा ले या अपने पैर थोड़े से ब्रेक पर अगर रख नहीं तो गुस्सा कंट्रोल हो जाएगा बहुत सीधा सा फार्मूला है गुस्से को कंट्रोल प्यार से करें परंतु कब करें जब गुस्सा आएगा तभी तो करेंगे आप पहले से सोच कर चली मैं गुस्से पर कंट्रोल कर लूं कर लूं और एकदम से उसी चीज पर गुस्सा आ जाएगा तब क्या करेंगे कि जरूरी है कि जब गुस्सा आए उसी समय तुरंत अवेयर हूं थोड़ा सा ब्रेक थे वह कंट्रोल हो जाएगा इसे बहुत सिंपल से एग्जांपल से आप समझ सकते हैं कि जब कभी आप को गुस्सा आ रहा हो और आप का ध्यान दूसरी तरफ डायवर्ट हो जाए तो थोड़ी देर बाद आप भूल जाते हैं कि आपने गुस्सा क्यों किया था या को गुस्सा क्यों आ रहा था एक फीलिंग से निकलती है निकलने दो परंतु प्यार से बस इतना ध्यान रखना पेन किलर पेन होने पर ही ली जाती है विदाउट पेन पेन किलर्स नहीं ठीक वैसे ही जब गुस्सा आए तो थोड़ा सा पेशेंट थोड़ा सा कंट्रोल और एक छोटी सी स्माइल आप के गुस्से पर कंट्रोल करना सिखा देगी ओके

hello friend gusse par control kaise kare ek common question hai aur isse sabhi log bahut pareshan bhi hai par ek baat main aapse poochna chahti hoon kisi cheez ko control karne ke liye thoda break dena hota hai na bus waise hi hum agar break laga le ya apne pair thode se break par agar rakh nahi toh gussa control ho jaega bahut seedha sa formula hai gusse ko control pyar se kare parantu kab kare jab gussa aayega tabhi toh karenge aap pehle se soch kar chali main gusse par control kar loon kar loon aur ekdam se usi cheez par gussa aa jaega tab kya karenge ki zaroori hai ki jab gussa aaye usi samay turant aveyar hoon thoda sa break the vaah control ho jaega ise bahut simple se example se aap samajh sakte hain ki jab kabhi aap ko gussa aa raha ho aur aap ka dhyan dusri taraf divert ho jaaye toh thodi der baad aap bhool jaate hain ki aapne gussa kyon kiya tha ya ko gussa kyon aa raha tha ek feeling se nikalti hai nikalne do parantu pyar se bus itna dhyan rakhna pen killer pen hone par hi li jaati hai without pen pen killers nahi theek waise hi jab gussa aaye toh thoda sa patient thoda sa control aur ek choti si smile aap ke gusse par control karna sikha degi ok

हेलो फ्रेंड गुस्से पर कंट्रोल कैसे करें एक कॉमन क्वेश्चन है और इससे सभी लोग बहुत परेशान भी

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  618
WhatsApp_icon
user

Govind Mishra

Business|Success|Oratory Coach

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इंसान अलग-अलग परिस्थितियों में अलग अलग तरीके से व्यक्त करता है गुस्सा भी एक तरीका है इंसान को अपने भाव बताने के और हमेशा गुस्सा गलत नहीं होता कभी कभी क्रोध यानी गुस्सा हमारे लिए जरूरी होता है लेकिन अधिकतर परिस्थितियों में देखा गया है कि क्रोध यानी कि गुस्सा हमेशा इंसान के लिए गलत रास्ता ही बनाता है वह चीज है जिससे आपके आसपास रहने वाले लोग आपसे करने लग जाते हैं लोग आपको अवार्ड करने लग जाते हैं लोग सोचते हैं कि इंसान हमेशा गुस्से में ही रहता है अजीब इंसान गोद में होता है तो उसका चेहरा बदल जाता है आंखें लाल हो जाती हैं दिल की धड़कनें तेज हो जाती हैं और कभी-कभी हमें जिन शब्दों का प्रयोग नहीं करना चाहिए हम उनका भी प्रयोग कर जाते हैं गुस्सा यानि क्रोध को सभी धर्मों में बताया गया है कि उसको आप को रोकना चाहिए अलग अलग अलग अलग अलग तरीके बताते हैं मैंने जो तरीका सीखा है मैं आपसे शेयर करूंगा पहला जब भी आपको गुस्सा आए तो कोशिश करें कि आप पानी पी हैं आप कोशिश करें आप टॉयलेट में चले जाएं और ठंडे पानी से मुंह धो लें ताकि आपका जो शरीर का गर्माहट है वह कम हो और दूसरा तरीका एक यूज़ रबर बैंड पहने हाथ में जब भी आपको लगे कि आप को क्रोध आ रहा है कोशिश कर अपने मन को उस तरफ ले जाएं और उस रबर बैंड को खींचकर छोड़ के कई बार जब भी प्रक्रिया करेंगे तो दिमाग एक्सेप्ट कर लेगा कि गुस्सा करने से आपको चोट लगेगी आपको दर्द होगा और धीरे-धीरे दिमाग उस चीज को एक्सेप्ट करेगा और फिर जब भी गुस्सा आने की स्थिति होगी तो दिमाग को दर्द याद आ जाएगा और दर्द से बचने के लिए दिमाग कहेगा कि नहीं शांत गुस्सा ना करें यह दोनों चीज हो सकता है आपके साथ काम आए या ना आए लेकिन मेरी जिंदगी में यह काम जरूर आया है एक बार आप इसको प्रयास करके देखें हो सकता है कि शायद आपके जीवन में भी गुस्सा खत्म हो जाए धन्यवाद

insaan alag alag paristhitiyon mein alag alag tarike se vyakt karta hai gussa bhi ek tarika hai insaan ko apne bhav batane ke aur hamesha gussa galat nahi hota kabhi kabhi krodh yani gussa hamare liye zaroori hota hai lekin adhiktar paristhitiyon mein dekha gaya hai ki krodh yani ki gussa hamesha insaan ke liye galat rasta hi banata hai vaah cheez hai jisse aapke aaspass rehne waale log aapse karne lag jaate hai log aapko award karne lag jaate hai log sochte hai ki insaan hamesha gusse mein hi rehta hai ajib insaan god mein hota hai toh uska chehra badal jata hai aankhen laal ho jaati hai dil ki dhadkanen tez ho jaati hai aur kabhi kabhi hamein jin shabdon ka prayog nahi karna chahiye hum unka bhi prayog kar jaate hai gussa yani krodh ko sabhi dharmon mein bataya gaya hai ki usko aap ko rokna chahiye alag alag alag alag alag tarike batatey hai maine jo tarika seekha hai aapse share karunga pehla jab bhi aapko gussa aaye toh koshish kare ki aap paani p hai aap koshish kare aap toilet mein chale jayen aur thande paani se mooh dho le taki aapka jo sharir ka garmahat hai vaah kam ho aur doosra tarika ek use rubber band pehne hath mein jab bhi aapko lage ki aap ko krodh aa raha hai koshish kar apne man ko us taraf le jayen aur us rubber band ko khichkar chod ke kai baar jab bhi prakriya karenge toh dimag except kar lega ki gussa karne se aapko chot lagegi aapko dard hoga aur dhire dhire dimag us cheez ko except karega aur phir jab bhi gussa aane ki sthiti hogi toh dimag ko dard yaad aa jaega aur dard se bachne ke liye dimag kahega ki nahi shaant gussa na kare yah dono cheez ho sakta hai aapke saath kaam aaye ya na aaye lekin meri zindagi mein yah kaam zaroor aaya hai ek baar aap isko prayas karke dekhen ho sakta hai ki shayad aapke jeevan mein bhi gussa khatam ho jaaye dhanyavad

इंसान अलग-अलग परिस्थितियों में अलग अलग तरीके से व्यक्त करता है गुस्सा भी एक तरीका है इंसान

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  563
WhatsApp_icon
play
user

Vincent Thomas

Life Coach & Trainer

1:39

Likes  10  Dislikes    views  1139
WhatsApp_icon
user

Indu Indira Lala

Motivational Speaker and Life Coach

6:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुस्से को कैसे कंट्रोल करें आपकी प्रॉब्लम नहीं है पहले तो मुझे बहुत गुस्सा आता होगा कि मेडिकल करना होगा और मैं अपनी खूबसूरती रूम में आई हूं और कुछ भी नहीं है खाने को और मुझे बहुत भूख लग रही है और कुछ भी नहीं है खाने को मुझे गुस्सा आ रहा है अब मैं जा रही हूं अपने रूम में रूम पर चला रही हूं या फिर मैं कैंटीन जा रही हूं देखी हूं कैंटीन बंद है इसका टाइम मैच का टाइम हो चुका है जम्मू से चिल्ला रही हूं गुस्सा करते जा रहे हो मुझे बहुत गुस्सा आ रही है मुझे भूख लग रही है मुझे भूख लग रही है पेट में चूहे दौड़ना सामने खाना नहीं है मुझे भूख लग रही है गुस्सा गुस्सा क्यों आ रहा है क्योंकि मुझे भूख लग रही है और त्रुटि मेरे सामने खाना होना चाहिए और खाना नहीं है मैं चाहती हूं कि मेरे सामने खाना होना चाहिए क्योंकि मेरे सामने खाना नहीं गुस्सा करती थी मेरे सामने जिंदगी प्रकट हुआ क्योंकि मैं खाना लाया हूं और खड़ा था मुझे भूख लग रही है मुझे भूख लग रही नहीं सामने खाना नहीं है मेरे साथ भी खाना नहीं गुस्सा करते हो रही है नहीं हो रही है मैं काम में जा रही थी वहां देख रही हूं मैच का टाइम हो चुका है असलियत क्या है खाना चाहिए मुझे खाना नहीं मिल रहा है अब मेरे सामने खाना नहीं है मुझे भूख लगती जा रही है वापस आ रही हूं फिर मुझे बहुत गुस्सा आ रहा है अब पानी मेरा गुस्सा गुस्सा भी बारिश सिचुएशन क्या हुआ मुझे भूख लग रही थी मुझे खाना मिल गया तो धीरे-धीरे खाना जो मेरा गुस्सा मेरे सामने किसी को चालू हो जाए तो मैं क्या कर रही हूं ठीक है मैं क्या चाह रही हूं मैं दुखी हूं और खाना सामने आ रही हूं बात अब हमें गुस्सा आता है मुझे बाहर निकल कर जाना है मैंने बोला मंगाया था मुझे 2:05 बजे बाहर होना चाहिए 2:30 तक मेरे घर के सामने नजर नहीं आ रहा है नहीं आ जाना नहीं करते हो और उसी के चमत्कारिक रूप से बदलने की कोशिश करते हो गुस्सा आता है आपके अंदर आपसे बात क्यों नहीं बोला हमेशा जब भी समझो हमारे सामने पोस्ट उसे बदल नहीं पाते हैं जब हम गुस्सा करते हैं जब तक मैं भूखी हूं और मेरे सामने आना नहीं है खाने को तो मैं खुद बनाती मेरे सामने रख और दो चार चम्मच में लिखाया अंदर तो मेरा गुस्सा शांत होने लगा

gusse ko kaise control kare aapki problem nahi hai pehle toh mujhe bahut gussa aata hoga ki medical karna hoga aur main apni khoobsoorti room mein I hoon aur kuch bhi nahi hai khane ko aur mujhe bahut bhukh lag rahi hai aur kuch bhi nahi hai khane ko mujhe gussa aa raha hai ab main ja rahi hoon apne room mein room par chala rahi hoon ya phir main canteen ja rahi hoon dekhi hoon canteen band hai iska time match ka time ho chuka hai jammu se chilla rahi hoon gussa karte ja rahe ho mujhe bahut gussa aa rahi hai mujhe bhukh lag rahi hai mujhe bhukh lag rahi hai pet mein chuhe daudana saamne khana nahi hai mujhe bhukh lag rahi hai gussa gussa kyon aa raha hai kyonki mujhe bhukh lag rahi hai aur truti mere saamne khana hona chahiye aur khana nahi hai chahti hoon ki mere saamne khana hona chahiye kyonki mere saamne khana nahi gussa karti thi mere saamne zindagi prakat hua kyonki main khana laya hoon aur khada tha mujhe bhukh lag rahi hai mujhe bhukh lag rahi nahi saamne khana nahi hai mere saath bhi khana nahi gussa karte ho rahi hai nahi ho rahi hai kaam mein ja rahi thi wahan dekh rahi hoon match ka time ho chuka hai asliyat kya hai khana chahiye mujhe khana nahi mil raha hai ab mere saamne khana nahi hai mujhe bhukh lagti ja rahi hai wapas aa rahi hoon phir mujhe bahut gussa aa raha hai ab paani mera gussa gussa bhi barish situation kya hua mujhe bhukh lag rahi thi mujhe khana mil gaya toh dhire dhire khana jo mera gussa mere saamne kisi ko chaalu ho jaaye toh main kya kar rahi hoon theek hai kya chah rahi hoon main dukhi hoon aur khana saamne aa rahi hoon baat ab hamein gussa aata hai mujhe bahar nikal kar jana hai maine bola mangaya tha mujhe 2 05 baje bahar hona chahiye 2 30 tak mere ghar ke saamne nazar nahi aa raha hai nahi aa jana nahi karte ho aur usi ke chamatkarik roop se badalne ki koshish karte ho gussa aata hai aapke andar aapse baat kyon nahi bola hamesha jab bhi samjho hamare saamne post use badal nahi paate hain jab hum gussa karte hain jab tak main bhukhi hoon aur mere saamne aana nahi hai khane ko toh main khud banati mere saamne rakh aur do char chammach mein likhaya andar toh mera gussa shaant hone laga

गुस्से को कैसे कंट्रोल करें आपकी प्रॉब्लम नहीं है पहले तो मुझे बहुत गुस्सा आता होगा कि मेड

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  152
WhatsApp_icon
user

Bharat Damodhar Tambekar

Motivational Speaker

2:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुस्से पर कंट्रोल इस तरह कर सकते हैं कि जैसे मुझे कोई आदमी मैं आपको एग्जांपल दूंगा गुस्से से कभी भी किसी का ही तो नहीं हुआ है गुस्सा हमेशा फिल्म के लिए दूसरों के लिए उपयोगी बन जाता है तो अपने आप में यह ठान लेना चाहिए जो चीज तो भगवान बुद्ध भी कहते हैं जो अगर कुछ झगड़ा हो गए हो जाता है जिसको पहले अपना जीवन शांतिपूर्ण बनाना होता है उसने उसके पीछे लेना चाहिए दो कदम पीछे जाना चाहिए क्यों क्यों गुस्सा हमेशा दृष्ट्वा करने वाला है उपद्रवी करने वालों पर बजने वाला कौर और कारणों नहीं करना है अगर उसका एक आसान तरीका यह है मैडम मैं अपने मन में ठान लो दुनिया का कोई भी ऐसा प्रश्न नहीं है जिसका सुन कोई भी प्रश्न का शुरू समझ लेना कि मुझे किसी तरह कोई भी अगर उपद्रव हो जाता है तो मुझे उठा नहीं करनी क्या करना है आपने कब करना है तो क्या कैसे करना एक बार अपनी मोरालिटी पठान लेना चाहिए मोर लेवल पर कि मुझे गुस्सा चाहे कोई भी चीज हो मुझे गुस्सा नहीं करना है तो उसके लिए क्या एक छोटा सा एक कथा बहुत ही प्रभावी एक उदाहरण है आपने जेब में शुरू में अपने जेब में अपने मन में ठान लेना चाहिए कि देखो जागेगा इंसान को नहीं छोड़ दो मैं अब गुस्सा मुझे आ रहा है मुझे गुस्सा आ रहा है मुझे गुस्सा आ रहा है और मुझे उस को आगे नहीं देना है तो यह तरीका है कि उसको नहीं नहीं भैया गुस्सा मेरे पर हो रहा है नई पाइपलाइन डिविजन कैरेक्टर बना के गुस्से के साथ स्वयं लड़ेंगे तो गुस्सा आएगा ऐसा करते-करते यह प्रोसेस करते करते गुस्से पर आप कुछ दिनों में बहुत ही अच्छी तरह कैसे खाओगे दूसरा तरीका है जो कि गुस्सा उतार देना चाहिए जैसे कि आपको बहुत गुस्सा है एक समय लेकिन यह मैंने स्वयं में जब मैं मेडिटेशन काम करता हूं तो इस बहुत ही बार ऐसा किया है मैंने जो कोई इंसान बहुत ही गुस्से से गुस्सा होकर घर से चला है तू कुछ उसको समझा कर बाद में डांसिंग एक्शन होता था उसका डांस घंटे में उसका गुस्सा हो चाहे कुछ बातें हो कुछ और उनके नाराज हो जाते थे

gusse par control is tarah kar sakte hain ki jaise mujhe koi aadmi main aapko example dunga gusse se kabhi bhi kisi ka hi toh nahi hua hai gussa hamesha film ke liye dusro ke liye upyogi ban jata hai toh apne aap mein yah than lena chahiye jo cheez toh bhagwan buddha bhi kehte hain jo agar kuch jhadna ho gaye ho jata hai jisko pehle apna jeevan shantipurna banana hota hai usne uske peeche lena chahiye do kadam peeche jana chahiye kyon kyon gussa hamesha drishtwa karne vala hai upadravi karne walon par bajne vala kaur aur karanon nahi karna hai agar uska ek aasaan tarika yah hai madam main apne man mein than lo duniya ka koi bhi aisa prashna nahi hai jiska sun koi bhi prashna ka shuru samajh lena ki mujhe kisi tarah koi bhi agar upadrav ho jata hai toh mujhe utha nahi karni kya karna hai aapne kab karna hai toh kya kaise karna ek baar apni morality pathan lena chahiye mor level par ki mujhe gussa chahen koi bhi cheez ho mujhe gussa nahi karna hai toh uske liye kya ek chota sa ek katha bahut hi prabhavi ek udaharan hai aapne jeb mein shuru mein apne jeb mein apne man mein than lena chahiye ki dekho jaagegaa insaan ko nahi chod do main ab gussa mujhe aa raha hai mujhe gussa aa raha hai mujhe gussa aa raha hai aur mujhe us ko aage nahi dena hai toh yah tarika hai ki usko nahi nahi bhaiya gussa mere par ho raha hai nayi pipeline divison character bana ke gusse ke saath swayam ladenge toh gussa aayega aisa karte karte yah process karte karte gusse par aap kuch dino mein bahut hi achi tarah kaise khaoge doosra tarika hai jo ki gussa utar dena chahiye jaise ki aapko bahut gussa hai ek samay lekin yah maine swayam mein jab main meditation kaam karta hoon toh is bahut hi baar aisa kiya hai maine jo koi insaan bahut hi gusse se gussa hokar ghar se chala hai tu kuch usko samjha kar baad mein dancing action hota tha uska dance ghante mein uska gussa ho chahen kuch batein ho kuch aur unke naaraj ho jaate the

गुस्से पर कंट्रोल इस तरह कर सकते हैं कि जैसे मुझे कोई आदमी मैं आपको एग्जांपल दूंगा गुस्से

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  204
WhatsApp_icon
user

Anshul Moonat

Motivational Speaker

1:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज भी लोगों से क्वेश्चन पूछे कि गुस्सा कैसे कंट्रोल करें मैं इन सब से पहले कि तू स्थान क्या गर्लफ्रेंड किसी को गुस्सा आता है कि हमको रिलीज होता कि मेरी गलती को आप मेरी नुकसान हो चाहे किसी को नुकसान हो जाए हमारा मूड ऑफ स्टेशन कर सकते हैं कंट्रोल करने की कोशिश तो मैं कश्मीर का शासक था इतना नहीं कर सकती क्या गलत हो गई है या हमसे कोई नुकसान हो गया है क्या कोई भी कैसे कर सकते हैं हम नहीं जा सकते हैं

aaj bhi logo se question pooche ki gussa kaise control kare main in sab se pehle ki tu sthan kya girlfriend kisi ko gussa aata hai ki hamko release hota ki meri galti ko aap meri nuksan ho chahen kisi ko nuksan ho jaaye hamara mood of station kar sakte hain control karne ki koshish toh main kashmir ka shasak tha itna nahi kar sakti kya galat ho gayi hai ya humse koi nuksan ho gaya hai kya koi bhi kaise kar sakte hain hum nahi ja sakte hain

आज भी लोगों से क्वेश्चन पूछे कि गुस्सा कैसे कंट्रोल करें मैं इन सब से पहले कि तू स्थान क्य

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  116
WhatsApp_icon
user

Mamta Jain

Psychologist

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुस्सा एक ऐसा रिएक्शन है जो अपने आप अंदर से आता है लेकिन उसका कारण होता है वह कोई एक चैनल बाहर कर ही दम होता है तो अगर हम किसी भी बाहर की चीजें अपने आपको बार-बार हम इफेक्ट होते हैं तो इसका मतलब हमारा रिमोट कंट्रोल हमारे हाथ में नहीं गुस्सा सिर्फ एक प्रकार का रिस्पांस प्रतिक्रिया है किसी और के व्यवहार के लिए अगर किसी और के व्यवहार को अगर आप अपने मन पर या अपने दिमाग पर हावी होने मत देना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको खुद को अपने आप को चेक करना कि कि आप की कमजोरियां कहां कहां है उनको चेक जैसी आपने उनको चेक किया प्लीज फ्रेंड को अपनी एबिलिटी को तो आप अपने आप अपने गुस्से पर काबू कर सकते हैं अपना रिमोट अपने हाथ में ले लेंगे

gussa ek aisa reaction hai jo apne aap andar se aata hai lekin uska karan hota hai vaah koi ek channel bahar kar hi dum hota hai toh agar hum kisi bhi bahar ki cheezen apne aapko baar baar hum effect hote hain toh iska matlab hamara remote control hamare hath mein nahi gussa sirf ek prakar ka response pratikriya hai kisi aur ke vyavhar ke liye agar kisi aur ke vyavhar ko agar aap apne man par ya apne dimag par haavi hone mat dena chahte hain toh sabse pehle aapko khud ko apne aap ko check karna ki ki aap ki kamajoriyan kahaan kahaan hai unko check jaisi aapne unko check kiya please friend ko apni ability ko toh aap apne aap apne gusse par kabu kar sakte hain apna remote apne hath mein le lenge

गुस्सा एक ऐसा रिएक्शन है जो अपने आप अंदर से आता है लेकिन उसका कारण होता है वह कोई एक चैनल

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  448
WhatsApp_icon
user

Dr. Suman Aggarwal

Personal Development Coach

1:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जितना मुश्किल यह सवाल दिखता है ना उतना ही आसान है इसका उपाय गुस्से पर कंट्रोल कैसे करना है थोड़ा सा आपको अब्जॉर्बेंट होना होगा जिस वक्त आप को गुस्साए उस समय आपको खुद से यह सवाल करना है सबसे पहला कि मुझे किस वजह से गुस्सा आया मान लीजिए और एग्जांपल देते हैं मान लीजिए घर में आपके एक बच्चा है उसने कांच का बहुत कीमती क्लास था वह तोड़ दिया तो आपको इस बात पर गुस्सा आया ठीक है तो आपने पहले आप जॉब क्या कि मुझे किस बात पर गुस्सा आया और फिर आप खुद से पूछें कि मेरे अंदर क्या ऐसे चेंज हो रहे हैं कौन सी ऐसी आंखें बड़ी मेरे दिमाग में हो रही है किस तरह से मैं इस गुस्से को बाहर निकाल रहा हूं और उस वक्त उस पल में अगर आप अपने अंदर आंखें बंद करके 2 मिनट नोटिस करेंगे कि मैं यह गुस्सा कैसे कर रहा हूं तो आप देखिए आपका गुस्सा अपने आप शांत हो जाएगा और एक और जरूरी बात कि जब भी गुस्सा आता है आप उसको एक्सेप्ट करें कि हां मुझे गुस्सा आता है गुस्सा आने में कोई बुराई नहीं है जब भी भी इंसान के मन के खिलाफ कोई काम होता है तो उसे गुस्सा आता है लेकिन मायने यह रखता है कि आप अपने गुस्से को किस तरह से बाहर निकाल दें तो आपको यह आप जॉब करना है कि जब मुझे गुस्सा आता है तो मैं उसको किस तरीके से बाहर निकालो किसी प्रोडक्ट प्रेमी जैसे मेरे साथ होता है अगर मुझे कभी गुस्सा आता है तो या तो मुझे मेरे सामने इंसान है पहले मैं उस पर चला देती थी या में जो उसे बोलती थी अब मैं क्या कोशिश करती हूं कि मैं चलाऊंगा और उस वक्त में किसी और काम में लग जाऊं जहां मेरी एनर्जी गुस्से से एनर्जी बढ़ती है तो उस एनर्जी को हम किसी काम में इस्तेमाल कर सकते हैं आप कोई ऐसा काम करने में लग जाए जहां आपको थोड़ी सी ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है तो गुस्सा उस तरीके से भी निकाला जा सकता है

jitna mushkil yah sawaal dikhta hai na utana hi aasaan hai iska upay gusse par control kaise karna hai thoda sa aapko abjarbent hona hoga jis waqt aap ko gussaye us samay aapko khud se yah sawaal karna hai sabse pehla ki mujhe kis wajah se gussa aaya maan lijiye aur example dete hain maan lijiye ghar mein aapke ek baccha hai usne kanch ka bahut kimti class tha vaah tod diya toh aapko is baat par gussa aaya theek hai toh aapne pehle aap job kya ki mujhe kis baat par gussa aaya aur phir aap khud se puchen ki mere andar kya aise change ho rahe hain kaun si aisi aankhen badi mere dimag mein ho rahi hai kis tarah se main is gusse ko bahar nikaal raha hoon aur us waqt us pal mein agar aap apne andar aankhen band karke 2 minute notice karenge ki main yah gussa kaise kar raha hoon toh aap dekhiye aapka gussa apne aap shaant ho jaega aur ek aur zaroori baat ki jab bhi gussa aata hai aap usko except kare ki haan mujhe gussa aata hai gussa aane mein koi burayi nahi hai jab bhi bhi insaan ke man ke khilaf koi kaam hota hai toh use gussa aata hai lekin maayne yah rakhta hai ki aap apne gusse ko kis tarah se bahar nikaal de toh aapko yah aap job karna hai ki jab mujhe gussa aata hai toh main usko kis tarike se bahar nikalo kisi product premi jaise mere saath hota hai agar mujhe kabhi gussa aata hai toh ya toh mujhe mere saamne insaan hai pehle main us par chala deti thi ya mein jo use bolti thi ab main kya koshish karti hoon ki main chalaunga aur us waqt mein kisi aur kaam mein lag jaaun jaha meri energy gusse se energy badhti hai toh us energy ko hum kisi kaam mein istemal kar sakte hain aap koi aisa kaam karne mein lag jaaye jaha aapko thodi si zyada mehnat karni padti hai toh gussa us tarike se bhi nikaala ja sakta hai

जितना मुश्किल यह सवाल दिखता है ना उतना ही आसान है इसका उपाय गुस्से पर कंट्रोल कैसे करना है

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  342
WhatsApp_icon
user

Subash

Founder @Regal Unlimited

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमें गुस्सा होता है लोगों की वजह से इस तरह से हम याद करना चाहेंगे यार फोन करना चाहेंगे उस बेसिस पर हम वह सिपरेशन कहानी कर सकते हैं अगर हम यह चार सुषमा मन में हम कर पाते हैं फिर वह हमारे लिए अच्छा है बाकी लोगों के लिए नहीं आफ इंडिया अच्छा है हमारे फिजिकल मनचली मनचली

hamein gussa hota hai logo ki wajah se is tarah se hum yaad karna chahenge yaar phone karna chahenge us basis par hum vaah separation kahani kar sakte hain agar hum yah char sushma man mein hum kar paate hain phir vaah hamare liye accha hai baki logo ke liye nahi of india accha hai hamare physical manchali manchali

हमें गुस्सा होता है लोगों की वजह से इस तरह से हम याद करना चाहेंगे यार फोन करना चाहेंगे उस

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  282
WhatsApp_icon
user

Ajay Kumar

Motivational Guru

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शिव दूसरों की बातों को सुनकर उसकी बातों पर यकीन कर लेना हमारी सबसे बड़ी बेवकूफी है अगर आपको किसी की बात पर गुस्सा आता है तो हमें ठंडे दिमाग से सोचना चाहिए क्या सही है और क्या गलत है आपने देखा भी होगा कि अगर पानी उगल रहा हो तो हम उसमें अपना प्रतिबिंब नहीं देख पाते उसी प्रकार अगर हम गुस्से में है तो क्या सही है और क्या गलत है हम इसका भी चैन नहीं कर पाते अगर हम ठंडे दिमाग से सोचेंगे कि क्या सही है और क्या गलत इससे हमारा गुस्सा भी शांत होगा और हमें परेशानी भी नहीं होगी

shiv dusro ki baaton ko sunkar uski baaton par yakin kar lena hamari sabse badi bewakoofi hai agar aapko kisi ki baat par gussa aata hai toh hamein thande dimag se sochna chahiye kya sahi hai aur kya galat hai aapne dekha bhi hoga ki agar paani ugal raha ho toh hum usme apna pratibimb nahi dekh paate usi prakar agar hum gusse mein hai toh kya sahi hai aur kya galat hai hum iska bhi chain nahi kar paate agar hum thande dimag se sochenge ki kya sahi hai aur kya galat isse hamara gussa bhi shaant hoga aur hamein pareshani bhi nahi hogi

शिव दूसरों की बातों को सुनकर उसकी बातों पर यकीन कर लेना हमारी सबसे बड़ी बेवकूफी है अगर आपक

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  363
WhatsApp_icon
user

Kavita Chandak

Psychologist, Psychotherapist

1:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

और गुप्ता इमोशन इमोशन और दो क्यों आ रहा है इंटेंसिटी कैसी है उसके ऊपर ध्यान देना चाहिए और हम अलग तरीके के ऊपर कंट्रोल रंगो आ रहा है और दूसरा नहीं आने के लिए बहुत ही कर सकते हैं जो आप रोज या अवॉइडेंस जो भी गए हैं उन चीजों को ध्यान में रख दूं तो शायद हमारा गुस्सा कम किया जाए

aur gupta emotion emotion aur do kyon aa raha hai intention kaisi hai uske upar dhyan dena chahiye aur hum alag tarike ke upar control rango aa raha hai aur doosra nahi aane ke liye bahut hi kar sakte hain jo aap roj ya avaidens jo bhi gaye hain un chijon ko dhyan mein rakh doon toh shayad hamara gussa kam kiya jaaye

और गुप्ता इमोशन इमोशन और दो क्यों आ रहा है इंटेंसिटी कैसी है उसके ऊपर ध्यान देना चाहिए और

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  215
WhatsApp_icon
user

Harsh Verdhan

Trainer | Motivational Speaker |Mind Power Consultant

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एंजॉय कंट्रोल करने के लिए सबसे पहली चीज है जो हमें मेडिटेक करना चाहिए मेडिटेशन करते हैं बहुत सारी वेरियस भेजते हो सकते हैं तरीके हो सकते हैं मेडिटेशन करने की तो आप में ही टाइप करिए उसी से अंडर कंट्रोल हो जाएगा दूसरी चीज है अगर आप उस बेसिक फंडा पर जा पाए कि हम अगर हमें हम गुस्सा कर क्यों रहे हैं अगर यह समझे कि गुस्सा में आ रहा है ऐसा नहीं होता है इतना डांस डांस करना हमें आता है तभी हम डांस करते हैं गुस्सा करना हमें आता है तभी हम गुस्सा करते हैं अगर हम यह वाली थॉट पर चलें क्या जान गुस्सा कर रहे हैं तो को हमारी मर्जी से हो रहा है अपने आप कभी नहीं आता तो वह थॉट पहले अपने आप में डेवलप करना पड़ेगा और मेडिटेक करना पड़ेगा तो हम अपने अंदर को कंट्रोल कर सकता हूं

enjoy control karne ke liye sabse pehli cheez hai jo hamein meditek karna chahiye meditation karte hain bahut saree veriyas bhejate ho sakte hain tarike ho sakte hain meditation karne ki toh aap mein hi type kariye usi se under control ho jaega dusri cheez hai agar aap us basic fanda par ja paye ki hum agar hamein hum gussa kar kyon rahe hain agar yah samjhe ki gussa mein aa raha hai aisa nahi hota hai itna dance dance karna hamein aata hai tabhi hum dance karte hain gussa karna hamein aata hai tabhi hum gussa karte hain agar hum yah wali thought par chalen kya jaan gussa kar rahe hain toh ko hamari marji se ho raha hai apne aap kabhi nahi aata toh vaah thought pehle apne aap mein develop karna padega aur meditek karna padega toh hum apne andar ko control kar sakta hoon

एंजॉय कंट्रोल करने के लिए सबसे पहली चीज है जो हमें मेडिटेक करना चाहिए मेडिटेशन करते हैं बह

Romanized Version
Likes  63  Dislikes    views  582
WhatsApp_icon
user

Neha Makhija

Clinical Psychologist

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उठा कंट्रोल करने का सबसे बेहतर तरीका यह है कि अपने आपको गुस्से से थोड़ा दूर कर ले और यह कहे कि गुस्सा ना कर रही हूं गुस्सा एक और तार है जिसे मैं संभाल कर सकती हूं या कर सकता हूं और गुस्से पत्थर की पहली और उसके लिए जरूरी बात यह अपने दिमाग से नथिया हटा दें कि गुस्से पर कंट्रोल पाना मुश्किल गुस्सा करना और उसको दिखाना एक आदत है और ज्यादा बदली जा सकती तो मैंने आपको बता दिया मेरे

utha control karne ka sabse behtar tarika yah hai ki apne aapko gusse se thoda dur kar le aur yah kahe ki gussa na kar rahi hoon gussa ek aur taar hai jise main sambhaal kar sakti hoon ya kar sakta hoon aur gusse patthar ki pehli aur uske liye zaroori baat yah apne dimag se nathiya hata de ki gusse par control paana mushkil gussa karna aur usko dikhana ek aadat hai aur zyada badli ja sakti toh maine aapko bata diya mere

उठा कंट्रोल करने का सबसे बेहतर तरीका यह है कि अपने आपको गुस्से से थोड़ा दूर कर ले और यह कह

Romanized Version
Likes  88  Dislikes    views  887
WhatsApp_icon
user

Ganesh Sahu

Clinical Psychologist

1:60
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डीजे गुस्से पर कंट्रोल करने के उपाय अगर देखा जाए तो आपको बहुत सारी उपाय मिल जाएंगे अलग-अलग जैसे काउंटिंग है या फिर राशनल थिंकिंग थिंकिंग में आ जाता है कि सामने वाले के ऊपर गुस्सा क्यों करना चाहिए यह सामने वाली ने हमारे पर ऐसा क्यों ऐसा सेगमेंट दिया या फिर ऐसा क्यों हमारे पर आएगी मैं क्या फिर कोई चीज हमारे प्रदर्शन दिखाया राशनल होना जरूरी होता है पहली की सूची क्यों हम लोग भी हम एक नार्मल जन्मदिन की बात कर रहे हैं जो अच्छी तरह सोच सकता है समझ सकता है यदि सोच रहा है समझ रहा है तो वह यह भी सोच सकता है कि मैं सामने वाले ने क्यों ऐसा हमारे सदृश फोन किया अगर वह इस चीज को समझ ले तो ऑटोमेटेकली यह गुस्से पर कंट्रोल किया जा सकता है ऐसे में एग्जाम देना चाहता हूं जैसे कि अगर मान लीजिए आपके बॉस में आपके ऊपर चिल्लाया ठीक है आपने तो यह टाइम में ड्रिंक नहीं किया कंप्लीट तो उन्होंने खिला दिया यह एक रीजन है सच में क्या प्रॉब्लम है क्या उनकी सेहत अच्छी है या हो सकता है घर में तो याद भी मत होकर आया हो या फिर कोई प्राकृतिक में जून-जुलाई तो उसके सामने वाला बटन जो है वह हमारी पर किसी प्रकार का दर्शन दिखा सकता है और उसके रिएक्शन में हम अपना जो है निकल जाता है तू जो है रिलेटिव थिंकिंग ज्यादा आती है जिसको

DJ gusse par control karne ke upay agar dekha jaaye toh aapko bahut saree upay mil jaenge alag alag jaise counting hai ya phir rashanal thinking thinking mein aa jata hai ki saamne waale ke upar gussa kyon karna chahiye yah saamne wali ne hamare par aisa kyon aisa Segment diya ya phir aisa kyon hamare par aayegi main kya phir koi cheez hamare pradarshan dikhaya rashanal hona zaroori hota hai pehli ki suchi kyon hum log bhi hum ek normal janamdin ki baat kar rahe hain jo achi tarah soch sakta hai samajh sakta hai yadi soch raha hai samajh raha hai toh vaah yah bhi soch sakta hai ki main saamne waale ne kyon aisa hamare sadrish phone kiya agar vaah is cheez ko samajh le toh atometekli yah gusse par control kiya ja sakta hai aise mein exam dena chahta hoon jaise ki agar maan lijiye aapke boss mein aapke upar chillaya theek hai aapne toh yah time mein drink nahi kiya complete toh unhone khila diya yah ek reason hai sach mein kya problem hai kya unki sehat achi hai ya ho sakta hai ghar mein toh yaad bhi mat hokar aaya ho ya phir koi prakirtik mein june july toh uske saamne vala button jo hai vaah hamari par kisi prakar ka darshan dikha sakta hai aur uske reaction mein hum apna jo hai nikal jata hai tu jo hai relative thinking zyada aati hai jisko

डीजे गुस्से पर कंट्रोल करने के उपाय अगर देखा जाए तो आपको बहुत सारी उपाय मिल जाएंगे अलग-अलग

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  213
WhatsApp_icon
user

Varun Singh

Life Coach

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मान लीजिए आप अपने कमरे में बैठे हैं और एकदम से लाइट चली जाती है तो आप क्या करते हैं क्या आप अंधेरे को हटाने की कोशिश करते हैं नहीं आप एक मोमबत्ती या एक दिया लेकर आएंगे तो वह एक छोटी सी मोमबत्ती भी उस अंधेरे को मिटा देगी और रोशनी को ले आएगी इसका मतलब क्या हुआ कि जो अंधकार है वह इसलिए है क्योंकि वहां पर रोशनी नहीं है तो उसी तरह से अगर हम गुस्से की बात करें तो गुस्से का अर्थ यह हुआ कि वहां पर शांति की कमी है हैंगर इस द एप्स ऑफ पीस इंडियन live.net इज द ऑप्शन शो लाइट आप अपने जीवन में वह काम करने शुरू कर दीजिए जिनको करके आप को सुकून मिलता है खुशी मिलती है और शांति महसूस होती है जब आप यह करने लगेंगे तो आपके जीवन से गुस्सा खुद-ब-खुद पहाड़ चला जाएगा

maan lijiye aap apne kamre mein baithe hain aur ekdam se light chali jaati hai toh aap kya karte kya aap andhere ko hatane ki koshish karte hain nahi aap ek mombatti ya ek diya lekar aayenge toh vaah ek choti si mombatti bhi us andhere ko mita degi aur roshni ko le aayegi iska matlab kya hua ki jo andhakar hai vaah isliye hai kyonki wahan par roshni nahi hai toh usi tarah se agar hum gusse ki baat kare toh gusse ka arth yah hua ki wahan par shanti ki kami hai hangar is the apps of peace indian live net is the option show light aap apne jeevan mein vaah kaam karne shuru kar dijiye jinako karke aap ko sukoon milta hai khushi milti hai aur shanti mehsus hoti hai jab aap yah karne lagenge toh aapke jeevan se gussa khud bsp khud pahad chala jaega

मान लीजिए आप अपने कमरे में बैठे हैं और एकदम से लाइट चली जाती है तो आप क्या करते हैं क्या आ

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  181
WhatsApp_icon
user

Tanmay Banerjee

Founder, CMHS, Pune

1:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे हिसाब से अगर आप पहले तो यह देखना है कि कौन से टाइप का आपका जीवन खुशियों से जमा कर रखते हो ताकि हो ताकि आपको पता है कि आप का पैटर्न क्या है अगर होने के बाद अगर आपको प्रैक्टिकल सॉल्यूशन चाहिए तो प्रेक्टिस किया दो अज्ञात का पता है कि आप मेरी टेटस टेक्निक्स ट्राई कर सकते हैं आज चली इडली दूसरे से बात नहीं कर पाते हैं और ऐसी बात नहीं कर पाता तो अपने आप को एक ही दिन होता है क्या आप क्या चाहते हैं पहला ऑप्शन ही होगा कि आपका या फिर अपने पति से थोड़ी कम करें अगर देखा जाए तो नहीं बता पाऊंगा

mere hisab se agar aap pehle toh yah dekhna hai ki kaunsi type ka aapka jeevan khushiyon se jama kar rakhte ho taki ho taki aapko pata hai ki aap ka pattern kya hai agar hone ke baad agar aapko practical solution chahiye toh practice kiya do agyaat ka pata hai ki aap meri tetas techniques try kar sakte hain aaj chali idli dusre se baat nahi kar paate hain aur aisi baat nahi kar pata toh apne aap ko ek hi din hota hai kya aap kya chahte hain pehla option hi hoga ki aapka ya phir apne pati se thodi kam kare agar dekha jaaye toh nahi bata paunga

मेरे हिसाब से अगर आप पहले तो यह देखना है कि कौन से टाइप का आपका जीवन खुशियों से जमा कर रखत

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  420
WhatsApp_icon
user

Akash {Chaudhary}

Motivation Speaker

3:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार गुस्से पर कंट्रोल कैसे करें आपका सवाल है तो मैं आकर सुधरी इस सवाल का जवाब दूंगा गुस्सा किया है गुस्सा एक ऐसा रोग है जो आपको दिखाई भी नहीं देता और दिखाई देता है कि गुस्सा एक गुस्सा होता है कि आप किसी को दिखाते नहीं और दूसरा गुस्सा होता है आप दिखाते दिखाते तीसरा किसी व्यक्ति पर बेहद दूर में भड़ास निकाला वह सबसे भयंकर गुस्सा है तीन प्रकार के गुस्से हैं और यह बताया गया है कि अगर हम गुस्सा करते हैं 45 साल की उम्र तक रोज 2 मिनट अगर हमने 45 साल की उम्र तक रोज 2 मिनट गुस्सा किया तो हमारी उम्र हमारी उम्र से 2 साल कट जाएगी यानी कि आपका जीने का टाइम टेबल है मानव 50 साल तो आ 2 साल घट जाएगा तो इसका यह प्रभाव पड़ता है अब आपने एक दार्शनिक था रूसो उसका नाम तो सुना होगा उसे बहुत ज्यादा गुस्सा आता था बहुत ही बहुत ही ज्यादा गुस्सा करने वाला था अगर उसका कोई काम ना हो तो बहुत ज्यादा गुस्सा करता था तू जबकि डॉक्टर से एक रिसर्च किया उसके ऊपर की सूचक फिर उसने रिसर्च की कि उनकी उम्र जो थी तब वह 25 साल की थी तो उनका डिप्रेशन लेबल था वह एक 80 साल की बूढ़ी के बराबर था 80 साल की उम्र 25 साल की उम्र में डिप्रेशन पूरी अपनी पूरी उम्र भी नहीं दे पाए गुस्से के कारण और उनकी मौत हो गई इसी कारण वर्ष उनकी मृत्यु हो गई किस कारण से एक उसी के कारण से तू जो गुस्सा है ज्यादा ना करें थोड़ा भी गुस्सा तो करेगी ना तू ठीक है मैं बिल्कुल किसी पर गुस्सा नहीं करता और जो करता भी हूं तो उस गुस्से को अपने बॉक्सिंग बैग पर बैठना निकाल दो बॉक्सिंग बैग पर गुस्सा निकालने से जो हमारे अंदर की भड़ास है टेंशन है माइंड डिस्टर्ब है वह कम हो जाएगा खत्म ही हो जाएगा मैंने गुस्सा निकालने पर अपने बॉक्सिंग पर निकाले तो एक मैंने उदाहरण है कि गुस्सा क्या कर सकता है गुस्सा हमें हमारी जो हमारा नंबर सिस्टम है हमारे दिमाग का हमारे माइंड का अगर देता है और एक तरह का एंजॉय बोलते हारमोंस रिलीज करता है जिससे हम बिल्कुल स्टेट में चले जाते हैं और हार्मोन उसकी मात्रा बढ़ जाती है ना तू माइंड के लिए बहुत टेंशन वाली बात होती है और जो इंसान होता है वह माइग्रेट का मरीज बन जाता है कि आधे सर में दर्द रहना स्टार्ट तो गुस्सा ना करें मेरी समस्या भाई मेरे बोलो बहुत कम है तो आप प्लीज मुझे फॉलो कर लीजिए धन्यवाद

namaskar gusse par control kaise kare aapka sawaal hai toh main aakar sudhari is sawaal ka jawab dunga gussa kiya hai gussa ek aisa rog hai jo aapko dikhai bhi nahi deta aur dikhai deta hai ki gussa ek gussa hota hai ki aap kisi ko dikhate nahi aur doosra gussa hota hai aap dikhate dikhate teesra kisi vyakti par behad dur mein bhadas nikaala vaah sabse bhayankar gussa hai teen prakar ke gusse hain aur yah bataya gaya hai ki agar hum gussa karte hain 45 saal ki umr tak roj 2 minute agar humne 45 saal ki umr tak roj 2 minute gussa kiya toh hamari umr hamari umr se 2 saal cut jayegi yani ki aapka jeene ka time table hai manav 50 saal toh aa 2 saal ghat jaega toh iska yah prabhav padta hai ab aapne ek darshnik tha ruso uska naam toh suna hoga use bahut zyada gussa aata tha bahut hi bahut hi zyada gussa karne vala tha agar uska koi kaam na ho toh bahut zyada gussa karta tha tu jabki doctor se ek research kiya uske upar ki suchak phir usne research ki ki unki umr jo thi tab vaah 25 saal ki thi toh unka depression lebal tha vaah ek 80 saal ki budhi ke barabar tha 80 saal ki umr 25 saal ki umr mein depression puri apni puri umr bhi nahi de paye gusse ke karan aur unki maut ho gayi isi karan varsh unki mrityu ho gayi kis karan se ek usi ke karan se tu jo gussa hai zyada na kare thoda bhi gussa toh karegi na tu theek hai bilkul kisi par gussa nahi karta aur jo karta bhi hoon toh us gusse ko apne boxing bag par baithana nikaal do boxing bag par gussa nikalne se jo hamare andar ki bhadas hai tension hai mind disturb hai vaah kam ho jaega khatam hi ho jaega maine gussa nikalne par apne boxing par nikale toh ek maine udaharan hai ki gussa kya kar sakta hai gussa hamein hamari jo hamara number system hai hamare dimag ka hamare mind ka agar deta hai aur ek tarah ka enjoy bolte hormones release karta hai jisse hum bilkul state mein chale jaate hain aur hormone uski matra badh jaati hai na tu mind ke liye bahut tension wali baat hoti hai aur jo insaan hota hai vaah migrate ka marij ban jata hai ki aadhe sir mein dard rehna start toh gussa na kare meri samasya bhai mere bolo bahut kam hai toh aap please mujhe follow kar lijiye dhanyavad

नमस्कार गुस्से पर कंट्रोल कैसे करें आपका सवाल है तो मैं आकर सुधरी इस सवाल का जवाब दूंगा गु

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  221
WhatsApp_icon
user

Karanbir Singh

Sports Psychologist

1:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बीपी कंट्रोल करने की विधि को समझने की जरूरत के लिए राजस्थान सरकार तो आपका तबीयत ठीक करते हैं तो आपको पता है क्या आपको लोन रेंजर

BP control karne ki vidhi ko samjhne ki zarurat ke liye rajasthan sarkar toh aapka tabiyat theek karte hain toh aapko pata hai kya aapko loan renjar

बीपी कंट्रोल करने की विधि को समझने की जरूरत के लिए राजस्थान सरकार तो आपका तबीयत ठीक करते ह

Romanized Version
Likes  47  Dislikes    views  559
WhatsApp_icon
user

Suman Bhardwaj

Psychologist/Yoga Trainer/Marriage Counsellor,Child And Adolscent Counsellor

1:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एंटरटेनमेंट की कुत्ता की टेक्निक्स होती है और दिन को अप्लाई करके हमको से को कंट्रोल कर सकते हैं बहुत सारी होती हैं उन्हें सबसे यहीं रहती हैं दीपिका जी आप अपने आप को उस टाइम पर कुछ ऐसी एक्टिविटीज कर सकते हैं जैसे फीचर बनाकर आप अपने कुत्ते को सिंबॉलिकली तो कर सकते हैं दिल और एक्टिव करके तो कर सकते हैं वन क्लास ऑफ वॉटर उसी टाइम अगर आपको अवेलेबल है जहां अपने को टी पी सकते हैं एक लंबी गहरी सांस ले सकते हैं तो यह तो रहा और मगर उसे वहां पर अवेलेबल नहीं है आपको अपनी आंखें बंद करें और कंप्लीट करने की कोशिश करें अपनी पेट इंफेक्शन था क्योंकि वह है जो हमेशा आपके साथ रहती है तो आप अपने पेट इंफेक्शन पर कंसंट्रेट कर की कोशिश करें कि आपकी सांस कितनी देर में आ रही है कितनी देर में पहुंच जाती है कि आप 1 मिनट पर क्या उपाय होते हैं गुस्से को कंट्रोल कर सकते हैं और काटने की बहुत सारी टेक्निक का सहारा लगता वर्ल्ड कप

Entertainment ki kutta ki techniques hoti hai aur din ko apply karke hamko se ko control kar sakte hain bahut saree hoti hain unhein sabse yahin rehti hain deepika ji aap apne aap ko us time par kuch aisi activities kar sakte hain jaise feature banakar aap apne kutte ko simbalikli toh kar sakte hain dil aur active karke toh kar sakte hain van class of water usi time agar aapko available hai jaha apne ko T p sakte hain ek lambi gehri saans le sakte hain toh yeh toh raha aur magar use wahan par available nahi hai aapko apni aankhen band karein aur complete karne ki koshish karein apni pet infection tha kyonki wah hai jo hamesha aapke saath rehti hai toh aap apne pet infection par concentrate kar ki koshish karein ki aapki saans kitni der mein aa rahi hai kitni der mein pohch jati hai ki aap 1 minute par kya upay hote hain gusse ko control kar sakte hain aur katne ki bahut saree technique ka sahara lagta world cup

एंटरटेनमेंट की कुत्ता की टेक्निक्स होती है और दिन को अप्लाई करके हमको से को कंट्रोल कर सकत

Romanized Version
Likes  124  Dislikes    views  1790
WhatsApp_icon
user

BHOLESHWAR PRASAD MISHRA

CLINICAL PSYCHOLOGIST

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुस्से का जो मेन कारण होता है मनुष्य का दिमाग हमेशा सोचता रहता है उसका काम सूचना है वह टायर्ड हो जाता है और उसके रेश्यो में अगर हम चीन की लड़की बीपी नहीं करते तो माइंड को पूरा देश नहीं मिलता इसलिए कि कोई चीज हमारे हिसाब से नहीं होती है तो हमें उसे कल परसों में एकदम से गिर जाता है मत मत मदत करता है और उसका सबसे सिंपल का गुस्सा ज्यादा आता है तो थोड़ी सी चिड़िया

gusse ka jo main kaaran hota hai manushya ka dimag hamesha sochta rehta hai uska suchana hai wah tired ho jata hai aur uske ratio mein agar hum china ki ladki BP nahi karte toh mind ko pura desh nahi milta isliye ki koi cheez hamare hisab se nahi hoti hai toh humein use kal parso mein ekdam se gir jata hai mat mat madat karta hai aur uska sabse simple ka gussa zyada aata hai toh thodi si chidiya

गुस्से का जो मेन कारण होता है मनुष्य का दिमाग हमेशा सोचता रहता है उसका काम सूचना है वह टाय

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  171
WhatsApp_icon
user

Dr. Akhil Chopra

Consultant Psychiatrist

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तहकीकात उसके अलावा हम 21 अगस्त करते हैं मिस कॉल डायरी में इसकी सूचना कैसे याद किया और रेट्रोस्पेक्टिव लाइफ इंश्योरेंस

tahkikat uske alava hum 21 august karte hain miss call diary mein iski soochna kaise yaad kiya aur retrospective life insurance

तहकीकात उसके अलावा हम 21 अगस्त करते हैं मिस कॉल डायरी में इसकी सूचना कैसे याद किया और रेट्

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
user

Sonali Behl

Psychologist, Pune

0:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तू गुस्से को काबू करने के लिए सबसे अच्छी चीज क्या आप अपने आप को इन चीजों में बनाए रखे या उन चीजों में डाले जो चीज आपको पसंद है जो चीज आपको अच्छी लगती है 9181 हैंडीक्राफ्ट 91 शॉपिंग जोगिंग एक्सप्रेस एनी गणपति जो हमें खुशियां हम अपने लिए समय निकाल कर दो गुस्सा पैदा ही नहीं

tu gusse ko kabu karne ke liye sabse achi cheez kya aap apne aap ko in chijon mein banaye rakhe ya un chijon mein dale jo cheez aapko pasand hai jo cheez aapko achi lagti hai 9181 haindikraft 91 shopping jogging express any ganapati jo hamein khushiya hum apne liye samay nikaal kar do gussa paida hi nahi

तू गुस्से को काबू करने के लिए सबसे अच्छी चीज क्या आप अपने आप को इन चीजों में बनाए रखे या उ

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  444
WhatsApp_icon
user

Dr Vikas Khanna

Founder, Orange Pines

1:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पीके गुस्सा आ जाएंगे करनी है सबसे पहली बार करने की मौत हुई है कि उसकी रफ्तार बिजली की रफ्तार से भी तेज गुस्सा आता है उसको काबू करना उसको उसको 1 रनों की पर्सनैलिटी लैला के व्यक्ति को ज्यादा गुस्सा आता है कैसे बनाते हैं क्या किस तरह दूसरे को एक दूसरे का व्यवहार कैसा होना चाहिए काम होता है वही बात नहीं होती तो कहीं ना कहीं जानना बहुत जरूरी है कि आप हमारे अनुसार नींद आ सकती लेट को करना बहुत जरूरी है लाइफ में ताकि गुस्सा गुस्सा कम होना जरूरी है और बहुत मुश्किल है लोगों को पारिवारिक दिक्कत या अनमैरिड कपल्स

pk gussa aa jaenge karni hai sabse pehli baar karne ki maut hui hai ki uski raftaar bijli ki raftaar se bhi tez gussa aata hai usko kabu karna usko usko 1 rano ki personality laila ke vyakti ko zyada gussa aata hai kaise banate kya kis tarah dusre ko ek dusre ka vyavhar kaisa hona chahiye kaam hota hai wahi baat nahi hoti toh kahin na kahin janana bahut zaroori hai ki aap hamare anusaar neend aa sakti late ko karna bahut zaroori hai life mein taki gussa gussa kam hona zaroori hai aur bahut mushkil hai logo ko parivarik dikkat ya unmarried couples

पीके गुस्सा आ जाएंगे करनी है सबसे पहली बार करने की मौत हुई है कि उसकी रफ्तार बिजली की रफ्त

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  385
WhatsApp_icon
user

Loveleena Singh

Rehabilitation Psychologist

0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

चेतन की गुस्सा कितना मैंने केवल है क्योंकि और गुस्सा हम सबको आता है हमको उनसे को बस करने की कई लोग अपनी मौसी को बहुत ही धीमी मालिश कर लेते हैं

chetan ki gussa kitna maine keval hai kyonki aur gussa hum sabko aata hai hamko unse ko bus karne ki kai log apni mausi ko bahut hi dheemi maalish kar lete hain

चेतन की गुस्सा कितना मैंने केवल है क्योंकि और गुस्सा हम सबको आता है हमको उनसे को बस करने क

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  462
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
आपको गुस्सा आ रहा है? ; control karna ; gussa kyon kar rahe ho ; sahu ko kabu mein kaise karen ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!