लोग शादी के बाद माता-पिता से दूर रहना पसंद क्यों करते हैं?...


user

Bhim Singh Kasnia

Acupunctrist,Motivational Speaker

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका सवाल है कि लोग शादी के बाद माता-पिता से दूर रहना क्यों पसंद करते हैं देखिए यह कुछ 1 लोगों की बहुत ही गलत आदत होती है जो शादी के बाद मां बाप को पराया कर देते हैं उनको यह नहीं पता होता कि माता-पिता से बढ़कर दुनिया में कोई चीज नहीं होती है नमस्कार धन्यवाद

namaskar aapka sawaal hai ki log shaadi ke baad mata pita se dur rehna kyon pasand karte hain dekhiye yah kuch 1 logo ki bahut hi galat aadat hoti hai jo shaadi ke baad maa baap ko paraaya kar dete hain unko yah nahi pata hota ki mata pita se badhkar duniya me koi cheez nahi hoti hai namaskar dhanyavad

नमस्कार आपका सवाल है कि लोग शादी के बाद माता-पिता से दूर रहना क्यों पसंद करते हैं देखिए यह

Romanized Version
Likes  36  Dislikes    views  450
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Awdhesh Singh

Former IRS, Top Quora Writer, IAS Educator

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए यह प्रकृति का नियम है कि जब चिड़िया के बच्चे बड़े हो जाते हैं तो अपना घोंसला बनाते हैं तो इस तरीके से जो मां बाप हैं उनका रोल जो है बच्चियों को अपने बड़े होने तक उनके शादी ब्याह तक लिमिटेड रहता है और उसके बाद में वह भी चाहते हैं कि जो उनके लड़के लड़कियां हो अपनी एक अलग जिंदगी शुरू करें और अपने तरीके से रहे क्योंकि उसी तरीके से एक प्रॉपर ग्रोथ हो सकती है और जो मियां बीवी है उनके बीच में एक प्रॉपर इंटिमेसी डेवलप हो सकती है तो ठीक है कि मां बाप को अच्छा तो नहीं लगता है कई बार कि उनके बच्चे अलग रहते हैं लेकिन मैं समझता हूं कि यह बहुत जरूरी है कि बच्चे इंडिपेंडेंट रहे हो अपनी गृहस्ती शुरू करें अपना घर शुरू करें इसमें हमें कोई आश्चर्य नहीं होना चाहिए

dekhie chahiye yeh prakriti ka niyam hai ki jab chidiya ke bacche bade ho jaate hain to apna ghonsala banate hain to is tarike se jo maa baap hain unka roll jo hai bacchiyo ko apne bade hone tak unke shadi byaah tak limited chahiye rehta hai aur uske baad mein wah bhi chahte hain ki jo unke ladke ladkiyan ho apni ek alag zindagi shuru kare chahiye aur apne tarike se rahe kyonki ussi tarike se ek proper growth ho sakti hai aur jo miyan biwi chahiye hai unke beech mein ek proper intimesi develop ho sakti hai to theek hai ki maa baap ko accha to nahi lagta hai kai baar ki unke bacche alag rehte hain lekin main samajhata hoon ki yeh bahut zaroori hai ki bacche independent rahe ho apni grihasti shuru kare chahiye apna ghar shuru kare chahiye isme hume koi aashcharya nahi hona chahiye

देखिए यह प्रकृति का नियम है कि जब चिड़िया के बच्चे बड़े हो जाते हैं तो अपना घोंसला बनाते ह

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  684
WhatsApp_icon
user

Kavita Panyam

Certified Award Winning Counseling Psychologist

1:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आपने बहुत अच्छा सवाल पूछा है कि शादी के बाद जो बच्चे हैं वह माता-पिता से दूर क्यों रहना चाहते हैं इसकी सबसे बड़ी वजह है कि वह माता-पिता जो अपने बेटे की बीवी को एक्सेप्ट नहीं कर सकते जिनगर फोन को अपना नहीं सकते अपने फैमिली में तो हमेशा एक तरह का तनाव रहता है और वह तनाव किसी को खुशी खुशी रहने नहीं देता ना मां बाप को ना बच्चों को मां बाप को यह चाहिए कि अपने बेटे की जो बीवी है जो उनके बहू है उनको अपनी बेटी की तरह रखें और घर में स्वागत करें जब बाहर से कोई इंसान हमारे घर के घर में आता है फैमिली मेंबर बन के तो देखने के लिए हमारा कर्तव्य है कि हम उनका स्वागत करें उनको कंफर्टेबल बनाए और उनको अपनी लाइफ में पूरी तरह से शामिल करें उनको रिस्पेक्ट करें और उनको फैमिली मेंबर का दर्जा दे यह जो है यह नहीं हो रहा है मैं सोसाइटी में और इसी का कारण है कितना से बचने के लिए बच्चे जो है वह मां-बाप से दूर रहना चाहते हैं अगर बड़े-बड़े यह समझ जाएं कि उनके बच्चे जो हैं जब उनकी शादी हो जाती है तो जो दूसरा मेंबर बाहर वाला नहीं घर वाला ही है तो यह प्रॉब्लम आराम से सॉल्व हो सकता है

dekhie aapne bahut accha sawal puchha hai ki shadi ke baad jo bacche hain wah mata pita se dur kyon rehna chahte hain iski sabse badi wajah hai ki wah mata pita jo apne bete ki biwi ko except nahi kar sakte jinagar phone ko apna nahi sakte apne family mein toh hamesha ek tarah ka tanaav rehta hai aur wah tanaav kisi ko khushi khushi rehne nahi deta na maa baap ko na baccho ko maa baap ko yeh chahiye ki apne bete ki jo biwi hai jo unke bahu hai unko apni beti ki tarah rakhen aur ghar mein swaagat karein jab bahar se koi insaan hamare ghar ke ghar mein aata hai family member ban ke toh dekhne ke liye hamara kartavya hai ki hum unka swaagat karein unko Comfortable banaye aur unko apni life mein puri tarah se shaamil karein unko respect karein aur unko family member ka darja de yeh jo hai yeh nahi ho raha hai society mein aur isi ka kaaran hai kitna se bachne ke liye bacche jo hai wah maa baap se dur rehna chahte hain agar bade bade yeh samajh jayen ki unke bacche jo hain jab unki shadi ho jati hai toh jo doosra member bahar vala nahi ghar vala hi hai toh yeh problem aaram se solve ho sakta hai

देखिए आपने बहुत अच्छा सवाल पूछा है कि शादी के बाद जो बच्चे हैं वह माता-पिता से दूर क्यों र

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  815
WhatsApp_icon
user

Dr. Mohan Pawar

Counselor | Hypnotherapist

1:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आजकल की लड़कियां हैं शादी के बाद जाती है मेरे को चाहिए सपनों की रानी कब आएगी तू सब कुछ हो सकता है

aajkal ki ladkiyan hain shadi ke baad jati hai mere ko chahiye sapno ki rani kab aayegi tu sab kuch ho sakta hai

आजकल की लड़कियां हैं शादी के बाद जाती है मेरे को चाहिए सपनों की रानी कब आएगी तू सब कुछ हो

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  694
WhatsApp_icon
user

Garima Dwivedi

Clinical Psychologist

0:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आरएलपीएस नहीं होते बहुत लोग भी कुछ लोगों को हमारी लाइफ और कोई ना हो

RLPS nahi hote bahut log bhi kuch logo ko hamari life aur koi na ho

आरएलपीएस नहीं होते बहुत लोग भी कुछ लोगों को हमारी लाइफ और कोई ना हो

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  362
WhatsApp_icon
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

1:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोग शादी के बाद माता-पिता से दूर रहना ऐसा क्यों करते हो ऐसा कोई जरूरी नहीं है कि सब लोग शादी के बाद माता-पिता जो समझदार इंसान होते हैं वह माता-पिता के साथ रहकर और उनका मार्गदर्शन चाहते लेकिन कुछ लोग ऐसे हो सकते हैं कि माता-पिता से दूर रहना पसंद करें क्योंकि उसके पीछे दो तीन कारण होते हैं पहला कारण तो यह होता है कि वह अपनी प्राइवेट नीचे लाइफ में अपने माता-पिता का हस्तक्षेप नहीं पसंद दूसरी बात यह कि जो नई आने वाली दुल्हन है कि वह उनकी अर्धांगिनी बनी है उसके साथ ज्यादा से ज्यादा समय व्यतीत करते हैं और फिजिकल और इसका कारण यह है कि जो नई आई है उसको दुर्घटना होती है तो वह भी किसी को बहुत ज्यादा पसंद नहीं होती क्योंकि वह हो सकती है लेकिन समझदार क्यों जलन होती है सबको लिस्ट कर लेती है और माता को माता की तरह सास को सांप की तरह और पिता को अपने पिता के लिए मानती छोटे-मोटे कारण होते हैं कि लोग शादी के बाद

log shadi ke baad mata pita se dur rehna aisa kyon karte ho aisa koi zaroori nahi hai ki sab log shadi ke baad mata pita jo samajhdar insaan hote hain vaah mata pita ke saath rahkar aur unka margdarshan chahte lekin kuch log aise ho sakte hain ki mata pita se dur rehna pasand kare kyonki uske peeche do teen karan hote hain pehla karan toh yah hota hai ki vaah apni private niche life mein apne mata pita ka hastakshep nahi pasand dusri baat yah ki jo nayi aane wali dulhan hai ki vaah unki ardhangini bani hai uske saath zyada se zyada samay vyatit karte hain aur physical aur iska karan yah hai ki jo nayi I hai usko durghatna hoti hai toh vaah bhi kisi ko bahut zyada pasand nahi hoti kyonki vaah ho sakti hai lekin samajhdar kyon jalan hoti hai sabko list kar leti hai aur mata ko mata ki tarah saas ko saap ki tarah aur pita ko apne pita ke liye maanati chote mote karan hote hain ki log shadi ke baad

लोग शादी के बाद माता-पिता से दूर रहना ऐसा क्यों करते हो ऐसा कोई जरूरी नहीं है कि सब लोग शा

Romanized Version
Likes  65  Dislikes    views  1251
WhatsApp_icon
user

Narinder Bhatia

Life Coach, Mentor, Blogger & Motivational Speaker

1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कॉन्पिटिटिव क्वेश्चन आइडिया नंबर चॉइस रहती है या नहीं रहती कुछ सिचुएशन में यह मिशन भी रहता है कुछ सिचुएशन में चॉइस नहीं होती तो रहना पड़ता है उसमें हैव आईडी की टेंशन से दूर रहना चाहता है क्या हुआ इंसान चाहते हैं कि आप इस सेटअप से बाहर निकलो अपने को एक फोन करो यह लाइट को एक फ्रीडम की तरह जीना चाहती हो तो काफी रिस्पांसिबिलिटी होती है सच बताना चाहता हूं कि आप मैडम को एक्सीडेंट करूं वह बनना चाहता हूं सेक्स नहीं कर पाता या वह नहीं बन पाता जो बनना चाहता है वह 1:00 बजे हो सकते तो उसी से दूर दूर रहना चाहता कुछ समय तक सेक्स करते मिलकर

competetive question idea number choice rehti hai ya nahi rehti kuch situation mein yeh mission bhi rehta hai kuch situation mein choice nahi hoti toh rehna padta hai usme have id ki tension se dur rehna chahta hai kya hua insaan chahte hain ki aap is setup se bahar niklo apne ko ek phone karo yeh light ko ek freedom ki tarah jeena chahti ho toh kaafi responsibility hoti hai sach batana chahta hoon ki aap madam ko accident karu wah banana chahta hoon sex nahi kar pata ya wah nahi ban pata jo banana chahta hai wah 1:00 baje ho sakte toh usi se dur dur rehna chahta kuch samay tak sex karte milkar

कॉन्पिटिटिव क्वेश्चन आइडिया नंबर चॉइस रहती है या नहीं रहती कुछ सिचुएशन में यह मिशन भी रहता

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  462
WhatsApp_icon
user
1:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत मुश्किल होता है कि आपकी जैसे आप को जीने का मन था तो थोड़ा सा तो अलग रहना चाहिए ऐसा जरूरी नहीं है कि पूरी जिंदगी आप लग रहा हूं मां-बाप से और और तुम ही हो जाती है पहले पहले यह मेरा पिता नया मेरा घर है तो उसमें इंडिपेंडेंस होनी चाहिए

bahut mushkil hota hai ki aapki jaise aap ko jeene ka man tha toh thoda sa toh alag rehna chahiye aisa zaroori nahi hai ki puri zindagi aap lag raha hoon maa baap se aur aur tum hi ho jati hai pehle pehle yeh mera pita naya mera ghar hai toh usme Independence honi chahiye

बहुत मुश्किल होता है कि आपकी जैसे आप को जीने का मन था तो थोड़ा सा तो अलग रहना चाहिए ऐसा जर

Romanized Version
Likes  69  Dislikes    views  1844
WhatsApp_icon
user

Dr. Renu Bhatia

Clinical Psychologist

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोटा निकले वालों को ब्लेम करना चाहूंगी कि अगर थोड़े फ्लैक्सिबल नहीं होते हैं बच्चे की उम्र के हिसाब से एडजस्ट नहीं होता यही बैठो पर नहीं आओ मालवीय हुआ यह सूचना देंगे तुम प्यार बना रहे आपने तो बदलना

lota nikle walon ko blame karna chahungi ki agar thode flaiksibal nahi hote hain bacche ki umar ke hisab se adjust nahi hota yahi baetho par nahi aao malaviya hua yeh suchana denge tum pyar bana rahe aapne toh badalna

लोटा निकले वालों को ब्लेम करना चाहूंगी कि अगर थोड़े फ्लैक्सिबल नहीं होते हैं बच्चे की उम्र

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  757
WhatsApp_icon
user

Afshan Jabeen

Clinical Psychologist

3:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक तुझे एवरी सिचुएशन हर सिचुएशन में अलग-अलग भजन होती है बट ने जन्म लिया कर देखूं तो मैंने देखा है कि द मेन रीजन होता है जहां पर रहना पसंद नहीं करते हर कोई बात करना चाहता है हर कोई बोलता कि मेरा डिवाइस बोले कि मेरी बात सुनो मेरी बात सुनो मेरी बात मेरी नजर में यह है कि ज्यादा किस लिए होता है रिलेशनशिप में कहीं ना कहीं 1 औरतें बहुत छोटी है तो उसको बार बार ही बोला जाता है कि आप अच्छे तभी हो जब आप अच्छी वाइफ को जब आप अच्छे मां हो तो लड़कियों की आइडेंटिटी से रिश्तो की तरफ होती है जब अगस्त अम्स मेरी बेटी की शादी होती है देखती हूं कि मेरा बेटा जो मेरा सबसे प्यारा बेटा है वो किसी और औरत के साथ वाइफ के साथ ज्यादा उसको टेंशन मिल रहा है मेरा मेरी आईडेंटिटी मेरे बच्चों से मेरे शहर से हैं एनुअल डेट 27 में 2 मिनट करना शुरू करूंगी शादी करके बच्चों की बदबू उनको और उनके सेक्शन को हाइजैक कर रहा है कितना पर ऐसे रिलेशनशिप में मजबूती नहीं है जैसे उसे शादियों के लिए ब्लड प्रेशर यह चली आजकल का जनरेशन में बैलेंस नहीं पढ़ सकता कि मेरी मां मेरे मां-बाप का जो हक निभाना है मैं अच्छे से निभा लूंगा वाइफ का जो हक निभाना है आजकल हो क्या रहा है कि अगर आप वाइफ का सपोर्ट करें तो आप बिल्कुल ही टैलेंट को डिस्ट्रिक्ट करते हो जब पैरंट का अच्छे से बात करते हो ही नहीं रहा पूरा करने के लिए वाइफ का मां-बाप का पूरी कर सकते इस बेसिकली बैलेंस है आजकल बहुत मुश्किल होगा सबर करना बरदाश्त क्वालिटी वॉल्यूम धीरे धीरे कम हो रही है

ek tujhe every situation har situation mein alag alag bhajan hoti hai but ne janam liya kar dekhu toh maine dekha hai ki the main reason hota hai jaha par rehna pasand nahi karte har koi baat karna chahta hai har koi bolta ki mera device bole ki meri baat suno meri baat suno meri baat meri nazar mein yeh hai ki zyada kis liye hota hai Relationship mein kahin na kahin 1 auraten bahut choti hai toh usko baar baar hi bola jata hai ki aap acche tabhi ho jab aap acchi wife ko jab aap acche maa ho toh ladkiyon ki identity se rishto ki taraf hoti hai jab august ams meri beti ki shadi hoti hai dekhti hoon ki mera beta jo mera sabse pyara beta hai vo kisi aur aurat ke saath wife ke saath zyada usko tension mil raha hai mera meri identity mere baccho se mere sheher se hain annual date 27 mein 2 minute karna shuru karungi shadi karke baccho ki badabu unko aur unke section ko hyjack kar raha hai kitna par aise Relationship mein majbuti nahi hai jaise use shadiyo ke liye blood pressure yeh chali aajkal ka generation mein balance nahi padh sakta ki meri maa mere maa baap ka jo haq nibhana hai acche se nibha lunga wife ka jo haq nibhana hai aajkal ho kya raha hai ki agar aap wife ka support karein toh aap bilkul hi talent ko district karte ho jab parent ka acche se baat karte ho hi nahi raha pura karne ke liye wife ka maa baap ka puri kar sakte is basically balance hai aajkal bahut mushkil hoga sabar karna bardasht quality volume dhire dhire kam ho rahi hai

एक तुझे एवरी सिचुएशन हर सिचुएशन में अलग-अलग भजन होती है बट ने जन्म लिया कर देखूं तो मैंने

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  395
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका प्रश्न है लोग शादी के बाद माता-पिता से दूर रहना क्यों पसंद करते हैं देखें शादी के बाद उनके ऊपर नई जिम्मेदारियां आती हैं इसलिए वह स्वयं के प्रति अपने नए संबंधों के प्रति आजादी का किसी तरह की रोक तो नहीं चाहते हैं परंतु ऐसा नहीं होना चाहिए आज आप अपने माता-पिता से अलग रहना चाहते हैं कल को आपके बच्चे भी आपके साथ वैसा ही व्यवहार करेंगे इसलिए अपने माता-पिता के स्थान पर स्वयं को रख कर देखें उनकी भी कुछ अपेक्षाएं होती हैं आपसे कुछ उम्मीदें होती हैं तो उन उम्मीदों को खराब ना करें उनको खुशियां दे और उनके साथ सही से सुख पूर्वक जीवन व्यतीत करें धन्यवाद आपका दिन शुभ हो

namaskar aapka prashna hai log shadi ke baad mata pita se dur rehna kyon pasand karte hain dekhen shadi ke baad unke upar nayi zimmedariyan aati hain isliye vaah swayam ke prati apne naye sambandhon ke prati azadi ka kisi tarah ki rok toh nahi chahte hain parantu aisa nahi hona chahiye aaj aap apne mata pita se alag rehna chahte hain kal ko aapke bacche bhi aapke saath waisa hi vyavhar karenge isliye apne mata pita ke sthan par swayam ko rakh kar dekhen unki bhi kuch apekshayen hoti hain aapse kuch ummeeden hoti hain toh un ummidon ko kharab na kare unko khushiya de aur unke saath sahi se sukh purvak jeevan vyatit kare dhanyavad aapka din shubha ho

नमस्कार आपका प्रश्न है लोग शादी के बाद माता-पिता से दूर रहना क्यों पसंद करते हैं देखें शाद

Romanized Version
Likes  163  Dislikes    views  3638
WhatsApp_icon
user

Shipra Ranjan

Life Coach

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शादी के बाद माता-पिता से दूर रहना क्यों पसंद करते हैं लाइफ इंजॉय करना चाहते हैं जीना चाहते हैं अपने तरीके से रहना सब कुछ आते हैं आप अकेले रहोगे तभी काम कर सकते हो अपने हिसाब से अगर आप फैमिली के साथ में रह रहे हो तो हर जगह पर जिस करना पड़ेगा चाहे कोई ऐसी बात कर ले जाए खानपान की बात कर ली जाए कहीं जाने कि उसे मारने के तरीके की बात कर लीजिए करना पड़ेगा जो कि आज खाना नहीं चाहती है और यही कारण है कि अधिकतर लोग सो करके अकेले रहना ज्यादा पसंद करते हैं

shadi ke baad mata pita se dur rehna kyon pasand karte hain life enjoy karna chahte hain jeena chahte hain apne tarike se rehna sab kuch aate hain aap akele rahoge tabhi kaam kar sakte ho apne hisab se agar aap family ke saath mein reh rahe ho toh har jagah par jis karna padega chahen koi aisi baat kar le jaaye khanpan ki baat kar li jaaye kahin jaane ki use maarne ke tarike ki baat kar lijiye karna padega jo ki aaj khana nahi chahti hai aur yahi karan hai ki adhiktar log so karke akele rehna zyada pasand karte hain

शादी के बाद माता-पिता से दूर रहना क्यों पसंद करते हैं लाइफ इंजॉय करना चाहते हैं जीना चाहते

Romanized Version
Likes  434  Dislikes    views  6209
WhatsApp_icon
user

Pankaj Kr(youtube -AJ PANKAJ MATHS GURU)

Motivational Speaker/YouTube-AJ PANKAJ MATHS GURU

0:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लड़की शादी करने में क्या जाती है अपने ससुराल आ जाती है इस वजह से मोकामा के संबंध होते जाता है और ना न्यूनतम साल के बच्चे को जलाकर के आंखों से काम कर सकते हैं

ladki shadi karne mein kya jaati hai apne sasural aa jaati hai is wajah se mokama ke sambandh hote jata hai aur na ninuntam saal ke bacche ko jalakar ke aankho se kaam kar sakte hain

लड़की शादी करने में क्या जाती है अपने ससुराल आ जाती है इस वजह से मोकामा के संबंध होते जाता

Romanized Version
Likes  54  Dislikes    views  701
WhatsApp_icon
user

Rinku Kumar Meena

managing director (MD)life expert hindi writer tourist guides writing self employed मैं चाहता हूं हर व्यक्ति को अपने जीवन में खुश रहने का पूरा अधिकार है चाहे वह लड़का या लड़की और वह जो चाहे कर सकती अपनी लाइफ से उसका भी अधिकार होना चाहिए और मैं चाहता हूं लड़कियां भी अपना जीवन पूरी तरीके से खुश हो कर दिया चाहे वह अपने परिवार में हो या ससुराल में विश्वास करता हूं

1:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बारिश के सिंपल से जवाब की बात की जाए बिलकुल पहला अगर व्यक्ति को स्वतंत्रता दी जाए व्यक्ति वही रहना पसंद करेगा जो उसे खुशी खुशी मिलती हो तो यहां पर खुश रहता हूं क्योंकि काफी पर क्या होता है कई व्यक्ति होते हैं जो अपने निजी मामलों में घर पर नहीं चाहते हैं क्योंकि काफी माता-पिता इस बात को नहीं समझ पाते कि मैं शादी के बाद में उनके निजी मामले में इंटरफ़ेस ना किया जाए और मैं मानता हूं छोटे से बच्चे की बात भी जाए तो वह बच्चा भी वही रहना पसंद करेगा जहां उसे खुशी मिलती होकर व्यक्ति को अपने माता पिता के पास एक तरह से सपोर्ट पल खुशी मिलती हो या वहां रहना उन्हें अच्छा लगता हो तो कोई भी उनसे दूर नहीं जाना चाहेगा लेकिन इसका मूल कारण होता है क्योंकि जो आने वाला पार्टनर से होता है तो काफी माता पिता उन्हें एक तरह से सपोर्ट नहीं कर पाते हैं उन्हें अपने बच्चे की तरह नहीं रख पाते हैं ऐसा हो सकता है जो आने वाले पाटन से वह लड़के के माता-पिता को अपने माता पिता की तरह नहीं रख पाता तो या दूसरा कारण यह भी है कि लोग खुलापन लाइफ में खुलापन चाहते हैं तो अगर जिन व्यक्तियों को अपने परिवार में तेरे से खुलापन मिल रहा है और इनके माता-पिता उनके निजी मामलों में हस्तक्षेप नहीं करते हैं इंटरफेस नहीं करते हैं तो व्यक्ति बिल्कुल भी दूर नहीं चाहते दूसरा आज के युग में एक और भी कारण है कि आज देखा जाए तो लोग मतलब लाइफ में आगे बढ़ बिल्कुल आगे बढ़ना चाहते हैं तो इस वजह से भी लोग अपने माता पिता से दूर जाते हैं लेकिन अगर पहले कारण की बात की जाए तो सबसे मजबूत कारण यह है कि लोग कैसे अपने निजी मामले हैं उनमें किसी का हक नहीं चाहते हैं और साथ में खुश रहना चाहते हैं अगर उनको परिवार में खुशी मिलेगी तो बिल्कुल कोई भी दूर नहीं जाएगा

barish ke simple se jawab ki baat ki jaye bilkul pehla agar vyakti ko swatantrata di jaye vyakti wahi rehna pasand karega jo use khushi khushi milti ho toh yahan par khush rehta hoon kyonki kaafi par kya hota hai kai vyakti hote hain jo apne niji mamlon mein ghar par nahi chahte hain kyonki kaafi mata pita is baat ko nahi samajh paate ki main shadi ke baad mein unke niji mamle mein interface na kiya jaye aur main manata hoon chote se bacche ki baat bhi jaye toh wah baccha bhi wahi rehna pasand karega jaha use khushi milti hokar vyakti ko apne mata pita ke paas ek tarah se support pal khushi milti ho ya wahan rehna unhein accha lagta ho toh koi bhi unse dur nahi jana chahega lekin iska mul kaaran hota hai kyonki jo aane vala partner se hota hai toh kaafi mata pita unhein ek tarah se support nahi kar paate hain unhein apne bacche ki tarah nahi rakh paate hain aisa ho sakta hai jo aane wale patan se wah ladke ke mata pita ko apne mata pita ki tarah nahi rakh pata toh ya doosra kaaran yeh bhi hai ki log khulapan life mein khulapan chahte hain toh agar jin vyaktiyon ko apne parivar mein tere se khulapan mil raha hai aur inke mata pita unke niji mamlon mein hastakshep nahi karte hain interface nahi karte hain toh vyakti bilkul bhi dur nahi chahte doosra aaj ke yug mein ek aur bhi kaaran hai ki aaj dekha jaye toh log matlab life mein aage badh bilkul aage badhana chahte hain toh is wajah se bhi log apne mata pita se dur jaate hain lekin agar pehle kaaran ki baat ki jaye toh sabse majboot kaaran yeh hai ki log kaise apne niji mamle hain unmen kisi ka haq nahi chahte hain aur saath mein khush rehna chahte hain agar unko parivar mein khushi milegi toh bilkul koi bhi dur nahi jayega

बारिश के सिंपल से जवाब की बात की जाए बिलकुल पहला अगर व्यक्ति को स्वतंत्रता दी जाए व्यक्ति

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  406
WhatsApp_icon
user

Sandeep Yadav

Aspiring Journalism

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए शादी के बाद लोग माता पिता से दूर इसलिए रहना चाहते हैं पसंद करते हैं कि आजकल इस भागदौड़ भरी जिंदगी में पति-पत्नी दोनों के पास टाइम होता दोनों जॉब करते हैं हर कोई चाहता कि हमारे पास अच्छी इनकम इस वजह से लोग माता-पिता का भार नहीं उठाना चाहते और कई बार होता है कि बड़े बुजुर्ग ऐसे होते हैं जो अपनी सोच पर अपने परिवार को चलाना चाहते हैं या बहू बेटे को चलाना चाहते हैं तो आज की मॉडर्न बहुओं को ऊंची ने पसंद नहीं आती इसलिए शादी के बाद लोग अपने माता पिता से दूर रहना पसंद करते हैं अगर बेटा ना भी चाहे तो भी बहू अपनी बातों से बेटे को रिचा लेती है कोई तरकीब लगाकर तो बेटा जिससे की बहू की बातों में आ जाता है क्योंकि आजकल के इस मॉडल लाइफ में किसी को कोई फर्क नहीं पड़ता कि उसके माता-पिता उन कितने कष्ट में है या क्या उन पर बीत रही है उन्हें कैसे उसको पाला यह कोई नहीं सोचता क्योंकि आज की इस जिंदगी में लोगों के अंदर से नैतिकता मरती जा रही है यूनिटी बढ़ती जा रही है बस उनको क्या है कि उनकी जिंदगी कैसे चल रही उनकी जिंदगी कितनी खुशहाल हो यह लोगों को समझ में आता है बाकी और कुछ नहीं सुनना था बाद में भले उनके बच्चे अगर उनपर यही चीज करें तो उनको समझ में आएगा लेकिन जब वह अपने माता-पिता के साथ करते तो दो कुछ नहीं समझ में आता यही सारे कारण है जिसके का बच्चे अपने माता पिता से शादी के बाद दूर रहना पसंद करता है और एक बात और है कि हमारे पगी से हमारे परिवार से संयुक्त परिवार का की धारणा मिटती जा रही है एकल परिवार लोग पसंद करने लगे हैं यह भी एक कारण है क्यों शादी

dekhie shadi ke baad log mata pita se dur isliye rehna chahte hain pasand karte hain ki aajkal is bhagdaud bhari zindagi mein pati patni dono ke paas time hota dono job karte hain har koi chahta ki hamare paas acchi income is wajah se log mata pita ka bhar nahi uthana chahte aur kai baar hota hai ki bade bujurg aise hote hain jo apni soch par apne parivar ko chalana chahte hain ya bahu bete ko chalana chahte hain toh aaj ki modern bahuon ko uchi ne pasand nahi aati isliye shadi ke baad log apne mata pita se dur rehna pasand karte hain agar beta na bhi chahe toh bhi bahu apni baaton se bete ko richa leti hai koi tarkib lagakar toh beta jisse ki bahu ki baaton mein aa jata hai kyonki aajkal ke is model life mein kisi ko koi fark nahi padta ki uske mata pita un kitne kasht mein hai ya kya un par beet rahi hai unhein kaise usko pala yeh koi nahi sochta kyonki aaj ki is zindagi mein logo ke andar se naitikta marti ja rahi hai unity badhti ja rahi hai bus unko kya hai ki unki zindagi kaise chal rahi unki zindagi kitni khushahal ho yeh logo ko samajh mein aata hai baki aur kuch nahi sunana tha baad mein bhale unke bacche agar unpar yahi cheez karein toh unko samajh mein aaega lekin jab wah apne mata pita ke saath karte toh do kuch nahi samajh mein aata yahi saare kaaran hai jiske ka bacche apne mata pita se shadi ke baad dur rehna pasand karta hai aur ek baat aur hai ki hamare pagi se hamare parivar se sanyukt parivar ka ki dharana mitati ja rahi hai ekal parivar log pasand karne lage hain yeh bhi ek kaaran hai kyon shadi

देखिए शादी के बाद लोग माता पिता से दूर इसलिए रहना चाहते हैं पसंद करते हैं कि आजकल इस भागदौ

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  186
WhatsApp_icon
user

Ghanshyamvan

मंदिर सेवा

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जेके शादी बाहर के बाद लड़का पत्रिका हो जाता है और सेक्स का ख्याल रखना पड़ता है और पत्नी के कहने के लिए रहने के कारण में माता-पिता के साथ धोने का आशियाना पसंद करता मैं भूल जाता है कि जिसकी माता पिता से मिली जीवन मिला है इन्होंने पाल पोस कर बड़ा किया है जो ऐसा करते हैं तो उनकी संतानों ने अपने से दूर कर देती है इंसान को माता-पिता को नहीं छोड़ना चाहिए

jeke shadi bahar ke baad ladka patrika ho jata hai aur sex ka khayal rakhna padta hai aur patni ke kehne ke liye rehne ke karan mein mata pita ke saath dhone ka aashiana pasand karta main bhool jata hai ki jiski mata pita se mili jeevan mila hai inhone pal pos kar bada kiya hai jo aisa karte hain toh unki santano ne apne se dur kar deti hai insaan ko mata pita ko nahi chhodna chahiye

जेके शादी बाहर के बाद लड़का पत्रिका हो जाता है और सेक्स का ख्याल रखना पड़ता है और पत्नी के

Romanized Version
Likes  103  Dislikes    views  1722
WhatsApp_icon
user

शशांक पाण्डेय

इंकलाब जिंदाबाद

1:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज के समय में जो है ऐसा नहीं है कि माता-पिता से कोई दूर रहना पसंद करता है ठीक है पहली बात तो यह चाहे वह आपकी बीवी हो तो इस समय जो है आज आज के समय में सबसे बड़ी प्रॉब्लम है लोग एक दूसरे को समझना नहीं चाहते हैं पढ़े लिखे होने के बाद ग मारू जैसी हरकत करते हैं शुद्ध शुद्ध भाषा में बोला जाए तो और कहीं माता-पिता की गलती होती है तो कहीं बहू और बेटों को भी गलतियां होती है दोनों बातें बराबर की हैं और यह दोनों किसी चीज का जो है सामान्यत शांतिपूर्ण नहीं करते हमेशा लड़ाई करते तो मेरा यह निवेदन है कि अगर आपके यहां कोई बात भी बात हुई है 30 को माता पिता से दूर रहना सिर्फ इसीलिए तो पसंद करते हैं उनकी रोक तो उनको पसंद नहीं आती है बस यही कारण है इस कारण का भी निवारण है कि आप आराम से बैठ कर बात करिए अपने घर पर पक्का इसका कुछ न कुछ निष्कर्ष है अच्छा लगा हो तो लाइक करके शेयर करें कमेंट करें जय हिंद जय भारत वंदे मातरम

aaj ke samay mein jo hai aisa nahi hai ki mata pita se koi dur rehna pasand karta hai theek hai pehli baat toh yah chahen vaah aapki biwi ho toh is samay jo hai aaj aaj ke samay mein sabse badi problem hai log ek dusre ko samajhna nahi chahte hain padhe likhe hone ke baad ga maaru jaisi harkat karte hain shudh shudh bhasha mein bola jaaye toh aur kahin mata pita ki galti hoti hai toh kahin bahu aur beto ko bhi galtiya hoti hai dono batein barabar ki hain aur yah dono kisi cheez ka jo hai samanyat shantipurna nahi karte hamesha ladai karte toh mera yah nivedan hai ki agar aapke yahan koi baat bhi baat hui hai 30 ko mata pita se dur rehna sirf isliye toh pasand karte hain unki rok toh unko pasand nahi aati hai bus yahi karan hai is karan ka bhi nivaran hai ki aap aaram se baith kar baat kariye apne ghar par pakka iska kuch na kuch nishkarsh hai accha laga ho toh like karke share kare comment kare jai hind jai bharat vande mataram

आज के समय में जो है ऐसा नहीं है कि माता-पिता से कोई दूर रहना पसंद करता है ठीक है पहली बात

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  272
WhatsApp_icon
user

Raju Singh

IT professional

1:60
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आदि की बधाई एवं आजकल का जो जनरेशन है यह काफी मॉडर्न हो चुका है मॉडल होने के हिसाब से वह शहरों में जाकर जॉब करते हैं जॉब के दौरान किसी से शादी कर लेते हैं जो लव मैरिज होता है या फिर घर वाले शादी कर देते हैं लेकिन इसमें क्या होगा कि इस पर फोन नहीं होती है कि जो औरत की आती है वह इतना मॉडर्न होती है कि वह पहले के जो थोड़े से ट्रेडिशनल लोग होते हैं उनको वह समझने में असमर्थ हो जाते हैं तो उस समय वह अपने हस्बैंड पर दबाव देती है कि वह उनसे अलग हो जाएं और उस समय हस्बैंड अपने माता-पिता के साथ वही कर देता है जो उसे नहीं करना चाहिए वह अलग हो जाता है जैसी बात है कि आप देखिए माता पिता जो है देखे मां बाप अगर गलत है अगर गलत है तो उनकी गलतियां माफ करनी होगी क्योंकि मां-बाप को एक ऐसे व्यक्तित्व होते हैं जिनका कोई भी मतलब कि जवाब नहीं बिल्कुल और साधारण तरीके के व्यक्तित्व होता है जिससे आप झूठ ला नहीं सकते मां बाप को छोड़ने का मतलब है आपने अपने लाइफ के बहुत सारी चीजें मिस कर दी जो आप को उनके छत्रछाया में मिल सकती थी मां बाप के साथ हमेशा रहना चाहिए चाहे उनकी गलती कितना भी हो उस कंडीशन में देखिए आप एक मर्द होता है हस्बैंड होता है एक बच्चा होते एक्शन होता है तो वह उन सब चीजों में फंसा रहता है सास बहू के झगड़े में फंसा रहता है लेकिन वहां पर अंडरस्टैंडिंग कर हो दोनों को समझाया जाए तो वहां पर समझाया जा सकता है जिसे कोई भी प्रथक ना हो कोई अलग ना हो सब एक साथ रहे तो यहां पर आप कोशिश करें कि अपने माता-पिता से अलग ना रहे और उनके साथ रहे हैं वह देखिए उनकी आप तो अब आपको और आपके परिवार इस करने के पहले वह बिल्कुल यह नहीं सोचते कि आप उनसे दूर हो जाए तो यह आप गलती कभी ना करें उनके साथ रहे धन्यवाद

aadi ki badhai evam aajkal ka chahiye jo generation hai yeh kaafi modern ho chuka hai model hone ke hisab se wah shaharon chahiye mein jaakar job karte hain job ke dauran kisi se shadi kar lete hain jo love marriage hota hai ya phir ghar wali shadi kar dete hain lekin isme kya hoga ki is par phone nahi hoti hai ki jo aurat ki aati hai wah itna modern hoti hai ki wah pehle ke jo thode se traditional log hote hain unko wah samjhne mein asamarth ho jaate hain to us chahiye samay wah apne husband par dabaav deti hai ki wah unse alag ho jaye aur us chahiye samay husband apne mata pita ke saath wahi kar deta hai jo use nahi karna chahiye wah alag ho jata hai jaisi baat hai ki aap dekhie chahiye mata pita jo hai dekhe maa baap agar galat hai agar galat hai to unki galtiya maaf karni hogi kyonki maa baap ko ek chahiye aise vyaktitva hote hain jinka koi bhi matlab ki jawab nahi bilkul aur sadhaaran tarike ke vyaktitva hota hai jisse aap jhuth la nahi sakte maa baap ko chodane ka chahiye matlab hai aapne apne life ke bahut saree cheezen miss kar di jo aap ko unke chatrachaya mein mil sakti thi maa baap ke saath hamesha rehna chahiye chahe unki galti kitna bhi ho us chahiye condition mein dekhie chahiye aap ek chahiye mard hota hai husband hota hai ek chahiye baccha hote action hota hai to wah un sab chijon mein fansa rehta hai saas bahu ke jhagde mein fansa rehta hai lekin wahan par understanding kar ho dono ko samjhaya jaye to wahan par samjhaya ja sakta hai jise koi bhi prathak na ho koi alag na ho sab ek chahiye saath rahe to yahan par aap koshish kare chahiye ki apne mata pita se alag na rahe aur unke saath rahe hain wah dekhie chahiye unki aap to ab aapko chahiye aur aapke parivar is karne ke pehle wah bilkul yeh nahi sochte ki aap unse dur ho jaye to yeh aap galti kabhi na kare chahiye unke saath rahe dhanyavad

आदि की बधाई एवं आजकल का जो जनरेशन है यह काफी मॉडर्न हो चुका है मॉडल होने के हिसाब से वह शह

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  324
WhatsApp_icon
user

Chaina Karmakar

Spiritual Healer & Life Coach

1:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

माता पिता के निधन के बाद

mata pita ke nidhan ke baad

माता पिता के निधन के बाद

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  578
WhatsApp_icon
user
1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसा कि हम जानते हैं कि समय-समय पर हमारे पारिवारिक जीवन में काफी सारे परिवर्तन आते रहे हैं और अब एक बड़ा परिवर्तन हमारे पारिवारिक जीवन में यह आया है कि शादी के बाद नवविवाहित जोड़े अपने माता पिता से दूर रहना ज्यादा पसंद कर रहे हैं इसके कई सारे कारण हो सकते हैं इससे मुख्य कारणों में से एक मुख्य कारण यह है कि शादी के बाद जो भी नवविवाहित जोड़ा जब अपने नए जीवन की शुरुआत करता है तो वह चाहता है कि अपने सारे निर्णय अपने आप ले सके और अपनी आजादी के साथ ले सके वह यह नहीं चाहता कि उनकी + जीवन पर जो है माता पिता के निर्णयों का प्रभाव पड़े और इसीलिए वह माता पिता से दूर रहना पसंद करते हैं दूसरी बड़ी बात हुई है सोचते हैं कि जब वह एक संयुक्त परिवार में रहेंगे तो उन्हें काफी बंद कर देना पड़ेगा और शायद वह आजादी जिसकी उन्हें जरूरत है जिसकी उन्होंने उम्मीद लगा रखी है अपनी शादी के जीवन में वह नहीं मिल पाएगी और उसकी आजादी को जीने के लिए वह अपने माता-पिता से अलग रहना पसंद करते हैं कई लोग तो यह भी सोचते हैं कि अगर वह अलग रहेंगे तो ज्यादा खुश रहेंगे क्योंकि एक संयुक्त परिवार में जो बहू होती है उसे सभी लोगों का काम करना पड़ता है लेकिन अगर वह उस परिवार से दूर रहे और केवल अपने पति के साथ अपने जीवन की शुरुआत करें अपने जीवन को बताए तो शायद उसका काम कम हो जाता है और अगर कोई शिक्षित बहू आज के समय में किसी परिवार में आती है तो वह तो खास करा देना पसंद करती है क्योंकि उसे नौकरी भी करनी होती है उसकी चाहत नौकरी करने की भी होती है और शायद यही कारण होता है कि शादी के बाद में कहीं सारे जो नवविवाहित जोड़े होते हैं अपने माता-पिता से अलग रहते हैं

jaisa ki hum jante hain ki samay samay par hamare parivarik jeevan mein kaafi sare pariwartan aate rahe hain aur ab ek chahiye bada pariwartan hamare parivarik jeevan mein yeh aaya hai ki shadi ke baad navavivahit jode apne mata pita se dur rehna zyada pasand kar rahe hain iske kai sare kaaran ho sakte hain isse mukhya kaarno mein se ek chahiye mukhya kaaran yeh hai ki shadi ke baad jo bhi navavivahit joda jab apne naye jeevan ki shuruvat karta hai to wah chahta hai ki apne sare nirnay apne aap le sake aur apni azadi ke saath le sake wah yeh nahi chahta ki unki + jeevan par jo hai mata pita ke nirnayon ka chahiye prabhav pade chahiye aur isliye wah mata pita se dur rehna pasand karte hain dusri badi baat hui hai sochte hain ki jab wah ek chahiye samyukt parivar mein rahenge to unhen chahiye kaafi band kar dena padega aur shayad wah azadi jiski unhen chahiye zarurat hai jiski unhone ummid laga rakhi hai apni shadi ke jeevan mein wah nahi mil payegi aur uski azadi ko jeene ke liye wah apne mata pita se alag rehna pasand karte hain kai log to yeh bhi sochte hain ki agar wah alag rahenge to zyada khush rahenge kyonki ek chahiye samyukt parivar mein jo bahu hoti hai use sabhi logo chahiye ka chahiye kaam karna padata hai lekin agar wah us chahiye parivar se dur rahe aur kewal apne pati ke saath apne jeevan ki shuruvat kare chahiye apne jeevan ko bataye to shayad uska kam ho jata hai aur agar koi shikshit bahu aaj ke samay mein kisi parivar mein aati hai to wah to khaas kra dena pasand karti chahiye hai kyonki use naukri bhi karni hoti hai uski chahat naukri karne ki bhi hoti hai aur shayad yahi kaaran hota hai ki shadi ke baad mein kahin sare jo navavivahit jode hote hain apne mata pita se alag rehte hain

जैसा कि हम जानते हैं कि समय-समय पर हमारे पारिवारिक जीवन में काफी सारे परिवर्तन आते रहे हैं

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  187
WhatsApp_icon
user

Raj Kiran Sharma Bhartiya

LifeCoach MotivationalSpeaker

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोग शादी के बाद माता पिता से दूर रहना पसंद करते हैं यह पश्चिमी सभ्यता का कनेक्शन से ज्यादा कांटेक्ट माता पिता से दूर रहना मतलबी है कि सात आठ नौ 10 साल तक बच्चा अच्छी बात यह है कि आप खुद ही समय कुछ नहीं रह जाती यह अच्छा भी है और बुरा भी है मेरे हिसाब से पूरा इरादा है तो आप जितना हो सके अपनी फैमिली के साथ

log shadi ke baad mata pita se dur rehna pasand karte hain yeh pashchimi sabhyata ka connection se zyada Contact mata pita se dur rehna matlabi hai ki saat aath nau 10 saal tak baccha acchi baat yeh hai ki aap khud hi samay kuch nahi reh jati yeh accha bhi hai aur bura bhi hai mere hisab se pura irada hai toh aap jitna ho sake apni family ke saath

लोग शादी के बाद माता पिता से दूर रहना पसंद करते हैं यह पश्चिमी सभ्यता का कनेक्शन से ज्यादा

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  364
WhatsApp_icon
user
0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोग शादी के बाद एक नारी का घर है लेकिन वह गलत सोचती है शादी के माता-पिता के साथ रहना जरूरी है क्योंकि आप उनसे ले सकते हो ना कुछ दे नहीं सकते बढ़िया परिवार की लड़की होगी वह कभी इस बात पर राजी नहीं होगी कि आप अपने माता पिता से अलग रखें

log shadi ke baad ek nari ka ghar hai lekin wah galat sochti hai shadi ke mata pita ke saath rehna zaroori hai kyonki aap unse le sakte ho na kuch de nahi sakte badhiya parivar ki ladki hogi wah kabhi is baat par raji nahi hogi ki aap apne mata pita se alag rakhen

लोग शादी के बाद एक नारी का घर है लेकिन वह गलत सोचती है शादी के माता-पिता के साथ रहना जरूरी

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  185
WhatsApp_icon
user

Ramesh Prajapati

||....Be....Legendary......||

1:60
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोक शादी के बाद माता पिता से दूर रहना इसलिए पसंद करते हैं क्योंकि देखिए अगर वह सेटल हो जाते हैं ना तो उनको मां-बाप की जरूरत नहीं पड़ती टेक तो जब तक जब तक लड़का कामयाब नहीं है ना तब तक वह मां-बाप के दायरे में रहता है और जो कि यह सब गलत बात होती है कि लड़का जब अपने पैरों पर खड़ा होता है अच्छी कमाई करता है अच्छी जॉब करता है तो देखिए अब वह उसको ना एक तो प्राउड बोलो देखो जो अच्छे लोग होते जो अपने मां बाप को पूछते हैं वह तो 1 तरीके से पूरा हम प्राउड बोलेंगे और जो अच्छा सेट अच्छी जिंदगी मैं जो सेटल हो जाते हैं और वह मां-बाप को भूल जाते हैं ना तो वही गो होता घमंड आ जाता है कि यहां अब क्या करना है यार अब तो अच्छी जॉब है क्या फायदा मां बाप के साथ रहूं या ना रहूं तो इसलिए मां-बाप से यह लोग दूर रहते हैं आप अच्छे लोग अपने मां बाप को मां बाप को कभी नहीं छोड़ते प्राउड होता है और बुरे लोग अपने मां बाप को छोड़ देते हैं वह घमंड होता है कि मैं कामयाब हम मुझे की जरूरत नहीं है लेकिन वह आगे चलकर खुश नहीं रहते आगे चलकर जो अपने मां-बाप को छोड़ देता है दूर रहते हैं वह कभी भी खुश नहीं रह सकते गारंटीड

lok shadi ke baad mata pita se dur rehna isliye pasand karte hain kyonki dekhie agar wah settle ho jaate hain na toh unko maa baap ki zarurat nahi padti take toh jab tak jab tak ladka kamyab nahi hai na tab tak wah maa baap ke daayre mein rehta hai aur jo ki yeh sab galat baat hoti hai ki ladka jab apne pairon par khada hota hai acchi kamai karta hai acchi job karta hai toh dekhie ab wah usko na ek toh proud bolo dekho jo acche log hote jo apne maa baap ko poochhte hain wah toh 1 tarike se pura hum proud bolenge aur jo accha set acchi zindagi main jo settle ho jaate hain aur wah maa baap ko bhul jaate hain na toh wahi go hota ghamand aa jata hai ki yahan ab kya karna hai yaar ab toh acchi job hai kya fayda maa baap ke saath rahun ya na rahun toh isliye maa baap se yeh log dur rehte hain aap acche log apne maa baap ko maa baap ko kabhi nahi chodte proud hota hai aur bure log apne maa baap ko chod dete hain wah ghamand hota hai ki main kamyab hum mujhe ki zarurat nahi hai lekin wah aage chalkar khush nahi rehte aage chalkar jo apne maa baap ko chod deta hai dur rehte hain wah kabhi bhi khush nahi reh sakte guaranteed

लोक शादी के बाद माता पिता से दूर रहना इसलिए पसंद करते हैं क्योंकि देखिए अगर वह सेटल हो जात

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  185
WhatsApp_icon
user
2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे हिसाब से एक सिंपल सा बताऊं आपको रास्ता इसका कारण है कि है यार क्यों होता है क्या है लॉजिकली मां बाप ना हम आपकी हर बात मानते हैं मां-बाप से हर कोई बात हम कुछ छुपाते नहीं है उसकी कुछ बातों को छोड़ के हम नहीं छुपाते वह बात ही जमा मस्जिद में अटैच होते हैं थोड़ा समझ आने के बाद हमारे हमारे जब बैलेंस है वह हमारे साथ प्रणाली नहीं हो पाते वो हमारे साथ हमारे जैसे कुछ नहीं हो पाते क्योंकि हम उनकी उम्र में होंगे तो उनके जैसे हो जाएंगे पर वह हमारी उम्र के जैसे नहीं हो पाते तो क्या होता है कि हम दोनों के बीच तालमेल मिलने चाहिए वह नहीं मिलते वह पुराने जमाने क्यों होते हैं तो उनका दिमाग उस तरह से चलता है कि बेटा इसमें ज्यादा पैसे मत खर्च करो यह चीज तो लायक नहीं है ऐसी कुछ बातें बताते हैं जो ठीक है और बहुत ही अच्छी लेवल पर होती है पर कुछ ऐसा होता है कि कुछ कुछ ऐसा मानते हैं कि को मां-बाप को समझाना चाहिए उनके साथ बैठकर बात करनी है कि यह प्रॉब्लम है जिसकी वजह से यह हो रहा है कि बाद दूसरी होते हैं पत्नी की बात पत्नी की बात हम क्यों मानते किया था प्यार करते हैं उसकी बात को कभी पटाना नहीं जाने क्यों हटाना नहीं जाती क्योंकि वह आपको खुश रख सके और आप उसको खुश रख सके आप दोनों की बात एक-दूसरे के लिए ठीक है पर मां बाप के लिए ठीक नहीं है तो फिर अब मां बाप के अधीन जाएंगे क्योंकि आप उसी से ठीक है ना आपको सही लगता है बट मजबूरी नहीं होता है कि आपके माता-पिता को चीज अच्छी ना लगे जो आज प्लानिंग नहीं है क्योंकि उनकी समाज में ऐसा नहीं होता था इसकी वजह से दोनों को अलग होना पसंद होता है

mere hisab se ek simple sa bataun aapko rasta iska kaaran hai ki hai yaar kyon hota hai kya hai lajikali maa baap na hum aapki har baat maante hai maa baap se har koi baat hum kuch chhupaate nahi hai uski kuch baaton ko chod ke hum nahi chhupaate wah baat hi jama masjid mein attach hote hai thoda samajh aane ke baad hamare hamare jab balance hai wah hamare saath pranali nahi ho paate vo hamare saath hamare jaise kuch nahi ho paate kyonki hum unki umar mein honge toh unke jaise ho jaenge par wah hamari umar ke jaise nahi ho paate toh kya hota hai ki hum dono ke beech talmel milne chahiye wah nahi milte wah purane jamane kyon hote hai toh unka dimag us tarah se chalta hai ki beta ismein zyada paise mat kharch karo yeh cheez toh layak nahi hai aisi kuch batein batatey hai jo theek hai aur bahut hi acchi level par hoti hai par kuch aisa hota hai ki kuch kuch aisa maante hai ki ko maa baap ko samajhana chahiye unke saath baithkar baat karni hai ki yeh problem hai jiski wajah se yeh ho raha hai ki baad dusri hote hai patni ki baat patni ki baat hum kyon maante kiya tha pyar karte hai uski baat ko kabhi patana nahi jaane kyon hatana nahi jati kyonki wah aapko khush rakh sake aur aap usko khush rakh sake aap dono ki baat ek dusre ke liye theek hai par maa baap ke liye theek nahi hai toh phir ab maa baap ke c jaenge kyonki aap usi se theek hai na aapko sahi lagta hai but majburi nahi hota hai ki aapke mata pita ko cheez acchi na lage jo aaj planning nahi hai kyonki unki samaj mein aisa nahi hota tha iski wajah se dono ko alag hona pasand hota hai

मेरे हिसाब से एक सिंपल सा बताऊं आपको रास्ता इसका कारण है कि है यार क्यों होता है क्या है ल

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  221
WhatsApp_icon
user

Ishita Seth

Obstinate Programmer

1:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए ऐसा जरूरी नहीं है कि सारे लोग शादी के बाद में माता-पिता से दूर रहना पसंद करते हैं अपने माता-पिता से बहुत दूर है ना कोई पसंद नहीं करता सब तेरा मैसेज आ जाती है ऐसी नमी छा जाती है जिनकी वजह से लोगों को अपने माता-पिता से दूर रहना पड़ता है आज कुछ लोग तो शादी में शादी से पहले अपनी जॉब और अपनी पढ़ाई के कारण दूर रहते हैं और कुछ लोग शादी के बाद दूर रहते हैं लेकिन वह सिचुएशन ऐसी आ जाती है जिंदगी कार्य में दूर रहना पड़ता है और आज कल का जो बोल है जूता मॉडल कंडीशन है उससे छोटा है तो बड़े शहरों में जाकर अपना देश को पाना चाहते हैं तो उस कारण होने का घरेलू उपाय सेंड करता है

dekhie chahiye aisa zaroori nahi hai ki sare log shadi ke baad mein mata pita se dur rehna pasand karte hain apne mata pita se bahut dur hai na koi pasand nahi karta sab tera massage aa jati hai aisi nami cha jati hai jinaki wajah se logo chahiye ko apne mata pita se dur rehna padata hai aaj kuch log to shadi mein shadi se pehle apni job aur apni padhai ke kaaran dur rehte hain aur kuch log shadi ke baad dur rehte hain lekin wah situation aisi aa jati hai zindagi karya mein dur rehna padata hai aur aaj kal ka chahiye jo bol hai juta model condition hai usse chota hai to bade shaharon chahiye mein jaakar apna desh ko pana chahte hain to us chahiye kaaran hone ka chahiye gharelu upay chahiye send karta hai

देखिए ऐसा जरूरी नहीं है कि सारे लोग शादी के बाद में माता-पिता से दूर रहना पसंद करते हैं अप

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  144
WhatsApp_icon
user

Vatsal

Engineering Student

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज कल का जो समाज है जो वातावरण है वह बहुत ज्यादा बदलता जा रहा है जो पुराना समय था मुख्य तौर पर आज के समय में ऐसे कई परिवार होते हैं कई लोग होते हैं लेकिन विशेष तौर पर जो पहले था उसमें लोग एक परिवार में रहना पसंद करते थे जॉइंट फैमिली में लोग पर रहना पसंद करते थे उन्हें बहुत खुशी होती थी सबके साथ रहना मस्जिद से जिंदगी जीना शादी के बाद हो सब लोग आपस में साथ में रहते थे लेकिन आज का दौर है उसमें बहुत ज्यादा वातावरण पर दिल तो जैसी 12th कर लेते हैं कॉलेज जाने के लिए अपने शहर को अपने घर को छोड़कर बाहर जाना पसंद करते हैं वहीं से इसकी शुरुआत हो गई सॉन्ग को बाहर की जिंदगी की आदत लग जाती है और वह बाहर की लाइट ज्यादा पसंद करते हैं बताएं कि घर में रहकर रोक-टोक से नहीं के यह लाइव ज्यादा पसंद करते हैं जहां तक बात रही शादी की शादी के बाद की क्या होता है शादी के बाद की स्थिति जब आपकी अगर आप पुरुष हैं और आप शादी कर रहे हैं और आपकी जो वाइफ आएगी तो इसी तरीके की होती है कि हनुमान बनी रहती है मेरे रोक-टोक बनती है वह पसंद नहीं आती है सब चीजों को देखते हुए इन सब चीजों से बचने के लिए जो जोड़ा होता है शादी का वह सोचते हैं कि बाहर हम रहेंगे अपनी अपनी लाइफ चेंज और कोई रोक-टोक अभी नहीं होगी और शादी होगी पूरी तरीके से अपने मनमुताबिक लाइफ जी सकते हैं जीवन जी सकते हैं कहीं भी आ जा सकते हैं किसी भी समय कुछ भी कर सकते हैं जो मुख गई घरों में आजादी नहीं होती है कुछ भी कपड़े पहनने के लड़कियों के तो वह कर सकते हैं कितने भी बजे पहुंच सकते हैं इसके अलावा जो हम कॉलेज बाहर जाते हैं पढ़ने के लिए जॉब लग जाती हैं जो भारी हम पसंद करते हैं अपने शहर में हम महसूस करते हैं अक्सर कि हमारे शहर में उस जॉब नहीं है हम बाहर सेटल हो जाते हैं तो वहीं का वातावरण में अनुकूल लगता मेरा भाई सेट रोना पसंद करते हैं तो वह जय माता पिता से दूर होने से परहेज नहीं करते लेकिन असलियत यही है जो सिली तो क्या वह घर में सब के साथ रहने से कमाई भी वही होगी सब कुछ नहीं होगा लेकिन हम फिर भी ऐसे माहौल में

aaj kal ka chahiye jo samaj hai jo vatavaran hai wah bahut zyada badalta ja raha hai jo purana samay tha mukhya taur par aaj ke samay mein aise kai parivar hote hai kai log hote hai lekin vishesh taur par jo pehle tha usamen chahiye log ek chahiye parivar mein rehna pasand karte the joint family mein log par rehna pasand karte the unhen chahiye bahut khushi hoti thi sabke saath rehna masjid se zindagi jeena shadi ke baad ho sab log aapas mein saath mein rehte the lekin aaj ka chahiye daur hai usamen chahiye bahut zyada vatavaran par dil to jaisi 12th kar lete hai college jaane ke liye apne sheher ko apne ghar ko chodkar bahar jana pasand karte hai wahi se iski shuruvat ho gayi song ko bahar ki zindagi ki aadat lag jati hai aur wah bahar ki light zyada pasand karte hai bataen chahiye ki ghar mein rahkar rok tok se nahi ke yeh live zyada pasand karte hai jaha tak baat rahi shadi ki shadi ke baad ki kya hota hai shadi ke baad ki sthiti jab aapki agar aap purush hai aur aap shadi kar rahe hai aur aapki jo wife aayegi to isi tarike ki hoti hai ki hanuman bani rehti hai mere rok tok banti hai wah pasand nahi aati hai sab chijon ko dekhte huye in sab chijon se bachane ke liye jo joda hota hai shadi ka chahiye wah sochte hai ki bahar hum rahenge apni apni life change aur koi rok tok abhi nahi hogi aur shadi hogi puri tarike se apne manamutabik life G sakte hai jeevan G sakte hai kahin bhi aa ja sakte hai kisi bhi samay kuch bhi kar sakte hai jo mukh gayi gharon mein azadi nahi hoti hai kuch bhi kapde pahanne ke ladkiyon ke to wah kar sakte hai kitne bhi baje pohch sakte hai iske alava jo hum college bahar jaate hai padhne ke liye job lag jati hai jo bhari hum pasand karte hai apne sheher mein hum mehsus karte hai aksar ki hamare sheher mein us chahiye job nahi hai hum bahar settle ho jaate hai to wahi ka chahiye vatavaran mein anukul lagta mera bhai set rona pasand karte hai to wah jai mata pita se dur hone se parhej nahi karte lekin asliyat yahi hai jo silly to kya wah ghar mein sab ke saath rehne se kamai bhi wahi hogi sab kuch nahi hoga lekin hum phir bhi aise maahaul mein

आज कल का जो समाज है जो वातावरण है वह बहुत ज्यादा बदलता जा रहा है जो पुराना समय था मुख्य तौ

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  60
WhatsApp_icon
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी शादी के बाद लोग अपने पेरेंट्स से दूर रहना शायद इसलिए पेपर करते होंगे क्योंकि उन्हें वह प्रदूषित चाहिए होती होगी शादी के बाद नए नवेले जो कपिल सोते हैं उन्हें थोड़ा दूसरे के साथ टाइम स्पेंड करना चाहते अच्छा लगता है नई-नई फीलिंग्स होती है और नया नया रिलेशन शुरू होता है तो वह जो फीलिंग होती है अकेले रहना हम एक दूसरे के साथ रहना हमेशा बता दो लोग कहते हो जाएगी पेमेंट शादी के बाद करेंगे थोड़ा सा बंद हो जाएंगे क्योंकि आप को सोच समझकर चीजें करनी होगी आपने अपने पार्टनर को निक नेम क्यों गया परिजनों उनसे भी नहीं भुला सकते आपको जैसा आपके इन लॉ जी आज से आपके पैरेंट्स रेफर करता उसे उसी नाम से बुलाना पड़ता होगा जैसे बहुत अच्छे हैं आप लेटेस्ट न्यूज़ के लिए नहीं जा सकते क्योंकि आपको पेरेंट्स के लिए खाना बनाना होगा या फ्रेंड को इनवाइट करना थोड़ी सी से मुश्किल हो जाती है अगर पेरेंट्स हाथ जाते तो हालांकि आज के समय में वक्त बदल रहा है थोड़े पेरेंट्स पर सूर्या बचपन यह चीज अभी भी है और तो यही रीजन होगा कि लोग पैसे कटेंगे अकेले हैं ना बजाए कि पेरेंट्स के साथ पर मुझे लगता है कि पैंट को साथ रखना जरूरी होता है इसलिए एक-दो साल के लाभ ले लीजिए फिर उसके बाद पेरेंट्स साथ रहने से बहुत सपोर्ट मिलता है बहुत अच्छी चीज भी होती है यह

vikee shadi ke baad log apne parents se dur rehna shayad isliye paper karte honge kyonki unhen chahiye wah pradushit chahiye hoti hogi shadi ke baad naye navele jo kapil sote hain unhen chahiye thoda dusre chahiye ke saath time spend karna chahte accha lagta hai nayi nayi feelings hoti hai aur naya naya relation shuru hota hai to wah jo feeling hoti hai akele rehna hum ek chahiye dusre chahiye ke saath rehna hamesha bata do log kehte ho jayegi payment shadi ke baad karenge thoda sa band ho jaenge kyonki aap ko soch samajhkar cheezen karni hogi aapne apne partner ko nick name kyon gaya parijano unse bhi nahi bhula sakte aapko chahiye jaisa aapke in law G aaj se aapke parents Refer karta use ussi naam se bulana padata hoga jaise bahut acche hain aap latest news ke liye nahi ja sakte kyonki aapko chahiye parents ke liye khana banana hoga ya friend ko invite karna thodi si se mushkil ho jati hai agar parents hath jaate to halaki aaj ke samay mein waqt badal raha hai thode parents par surya bachpan yeh cheez abhi bhi hai aur to yahi reason hoga ki log paise katenge akele hain na bajae ki parents ke saath par mujhe lagta hai ki paint ko saath rakhna zaroori hota hai isliye ek chahiye do saal ke labh le lijiye phir uske baad parents saath rehne se bahut support milta hai bahut acchi cheez bhi hoti hai yeh

विकी शादी के बाद लोग अपने पेरेंट्स से दूर रहना शायद इसलिए पेपर करते होंगे क्योंकि उन्हें व

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  178
WhatsApp_icon
user

Ekta

Researcher and Writer

1:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अजी आज के समय में ऐसा हो गया कि और शादी के बाद कोई भी हो यह एक लड़का हो या लड़की को अपने माता-पिता से रहना है दूर पसंद करते हैं क्योंकि सबसे मिनिमम करो इसमें प्ले करता है जनरेशन गैप जैसे ही जनरेशन चेंज होते हैं लोगों की मेंटलिटी और चीजों के लिए उनकी थिंकिंग बदलती है तो आजकल के यंगस्टर को ऐसा लगता है कि उनके माता-पिता की थिंकिंग बहुत पुरानी है तो वह अपने तरीके से जीना चाहते हैं तो उनके माता-पिता से रहना है दूर ज्यादा पसंद करते हैं लेकिन अगर वही अगर माता-पिता के बहुत गंदे स्टैंडिंग है आपकी बातों को समझ रहे हैं तो उनके चिल्ड्रन उनके साथ ही रहना पसंद करेंगे जनरेशन गैप से होता है और कुछ लोगों को ऐसा लगता है कि अब माता-पिता एक रिस्पॉन्सिबिलिटी है आफ्टर सेटिंग्स जब आप बहुत मशहूर हो जाते आपको ऐसा लगता है ऐसे में मैं छोटी नहीं होती है आपकी 1 मिनट id वह बन जाती है जो कि गलत है तो वह यही रीजन है जिसकी वजह से आज करके खासकर अक्सर अपनी शादी के बाद माता पिता से दूर रहना चाहते हैं और कुछ-कुछ जगह पर तो शादी से पहले ही बच्चे माता-पिता के साथ रहना कम पसंद करते हैं क्योंकि जनरेशन गैप के कारण एक दूसरे की मेंटलिटी और थिंकिंग नहीं मिलती है

aji aaj ke samay mein aisa ho gaya ki aur shadi ke baad koi bhi ho yeh ek chahiye ladka ho ya ladki ko apne mata pita se rehna hai dur pasand karte hain kyonki sabse minimum karo isme play karta hai generation gap jaise hi generation change hote hain logo chahiye ki mentaliti aur chijon ke liye unki thinking badalati hai to aajkal ke youngster ko aisa lagta hai ki unke mata pita ki thinking bahut purani hai to wah apne tarike se jeena chahte hain to unke mata pita se rehna hai dur zyada pasand karte hain lekin agar wahi agar mata pita ke bahut gande standing hai aapki baaton ko samajh rahe hain to unke children chahiye unke saath hi rehna pasand karenge generation gap se hota hai aur kuch logo chahiye ko aisa lagta hai ki ab mata pita ek chahiye rispansibiliti hai after settings jab aap bahut mashoor ho jaate aapko chahiye aisa lagta hai aise mein main choti nahi hoti hai aapki 1 minute id wah ban jati hai jo ki galat hai to wah yahi reason hai jiski wajah se aaj karke khaskar aksar apni shadi ke baad mata pita se dur rehna chahte hain aur kuch kuch jagah par to shadi se pehle hi bacche mata pita ke saath rehna kam pasand karte hain kyonki generation gap ke kaaran ek chahiye dusre chahiye ki mentaliti aur thinking nahi milti hai

अजी आज के समय में ऐसा हो गया कि और शादी के बाद कोई भी हो यह एक लड़का हो या लड़की को अपने म

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  39
WhatsApp_icon
user

.

Hhhgnbhh

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए कुछ लोगों की ऐसी सोच होती है कि शादी के बाद होने पर वैसी चाहिए होती है उन्हें ज्यादा दखल अंदाजी नहीं चाहिए थी और जैसा यह मानना है लोगों का कि जो एक व्यक्ति होता है उसकी पत्नी और उसकी मां की ज्यादा बनती नहीं है तो इन सब कारणों 1 लड़ाइयों से बचने के लिए जो ट्रेन दो बच्चे होते हैं वही हम से दूर रहने का डिसीजन ले लेते हैं यह किसी से नहीं होता है दूसरा यह है कि जो इंजीनियर है या फिर तो बाकी लोग भी है तो दम है देखते हैं कि बाहर की कंट्री में होने लगता है कि उनका जो फ्यूचर है वह बहुत ज्यादा ब्राइट है तो वह यह भी कोशिश करते हैं कि वह उस एक मोड पर में जाएंगे बाहर के देशों में जाकर रहना शुरू करें इस वजह से मैं अपने माता-पिता से दूर हो जाते हैं ऑटोमेटिक के लिए और भी दो तीन ऐसे कारण है जिनकी वजह से वह अपने माता पिता से दूर हो जाते हैं पर यह कुछ प्रमुख कारण है जो मैंने आपको बताया

dekhie chahiye kuch logo chahiye ki aisi soch hoti hai ki shadi ke baad hone par waisi chahiye hoti hai unhen chahiye jyada dakhal andaji nahi chahiye thi aur jaisa yeh manana hai logo chahiye ka ki jo ek vyakti hota hai uski patni aur uski maa ki jyada banti nahi hai to in sab kaarno 1 ladaiyon se bachane ke liye jo train do bacche hote hain wahi hum se dur rehne ka decision le lete hain yeh kisi se nahi hota hai doosra yeh hai ki jo engineer hai ya phir to baki log bhi hai to dum hai dekhte hain ki bahar ki country mein hone lagta hai ki unka jo future hai wah bahut jyada bright hai to wah yeh bhi koshish karte hain ki wah us ek mode par mein jaenge bahar ke deshon mein jaakar rehna shuru kare chahiye is wajah se main apne mata pita se dur ho jaate hain Automatic ke liye aur bhi do teen aise kaaran hai jinaki wajah se wah apne mata pita se dur ho jaate hain par yeh kuch pramukh kaaran hai jo maine aapko bataya

देखिए कुछ लोगों की ऐसी सोच होती है कि शादी के बाद होने पर वैसी चाहिए होती है उन्हें ज्यादा

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  134
WhatsApp_icon
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

1:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज के समय में हमेशा देखते हैं कि जो शादीशुदा जोड़े हैं जिनकी नई नई शादी होती है वह यही प्रिफर करते हैं कि वह अपने माता-पिता से या फिर फैमिली मेंबर से अलग होकर अकेले रहें ताकि वह अपनी फ्रीडम इंजॉय कर सकें और जो भी वह चाहते हैं जिस तरह कि वह लाइफ स्टाइल पसंद करते हैं उसके हिसाब से अपनी जिंदगी जी पाए और उन्हें कोई भी रोकने टोकने वाला नहीं हूं और जब लोग अकेले रहते हैं अपने माता पिता से दूर दो सारे डिसीजन वह खुद ही लेते हैं और इसमें उनके परिवार वालों का कोई भी हाथ नहीं होता है और अगर उनके डिसीजन गलत हो गए तू जो कौन सी के वंशज होते हैं वह भी उन्हें खुद ही झेलने पड़ते हैं तो मुझे लगता है कि अकेले रहने के कुछ फायदे तो जरूर है जैसे कि आप जो मन चाहे वह कर सकते हैं और जहां चाहे जितनी बजे चाहे जा सकते हैं और जिस तरह के कपड़े पहनना चाहे वह भी पहन सकते हैं लेकिन परिवार में रहने पर कुछ पाबंदियां जरूर होती हैं लेकिन अगर आप अपने माता-पिता या फिर परिवार वालों के साथ रहे तो इससे भी कुछ फायदा जरूर होता है जैसे कि अगर कोई इमरजेंसी सिचुएशन आती है मान लीजिए कि हसबैंड वाइफ दोनों जॉब में हैं और किसी एक की तबीयत खराब हो जाती है या दोनों की तबीयत खराब हो जाती है तो फिर उस समय देखभाल करने वाला आपकी केयर करने वाला कोई भी नहीं होता है तो इन इमरजेंसी के केसेस में या फिर माली जी आपका कभी अचानक एक्सीडेंट हो गया तो उस केस में भी अगर परिवार वाले आपके साथ हैं तो आपकी काफी मदद होती है और जो घर के काम है उसमें भी अगर आपके माता पिता आपके साथ हैं तो वह सारे काम आसानी से हो सकते हैं लेकिन अकेले रहने पर सारी चीज़ें आपको खुद ही हैंडल करनी पड़ी है तो मुझे लगता है कि मैं जो युवा है और जिनकी शादी नहीं हो रही है उन्हें इन चीजों पर ध्यान देना चाहिए और कोशिश करनी चाहिए कि अगर संभव है तूने अपने माता-पिता के साथ जरूर रहना चाहिए

aaj ke samay mein hamesha dekhte hai ki jo shaadishuda jode hai jinaki nayi nayi shadi hoti hai wah yahi prefer karte hai ki wah apne mata pita se ya phir family member se alag hokar akele rahen taki wah apni freedom enjoy kar saken aur jo bhi wah chahte hai jis tarah ki wah life style pasand karte hai uske hisab se apni zindagi ji paye aur unhen chahiye koi bhi rokne tokane wala nahi hoon aur jab log akele rehte hai apne mata pita se dur do sare decision wah khud hi lete hai aur isme unke parivar walon ka koi bhi hath nahi hota hai aur agar unke decision galat ho gaye tu jo kaun si ke vanshaj hote hai wah bhi unhen chahiye khud hi jhelne padte hai to mujhe lagta hai ki akele rehne ke kuch fayde to jarur hai jaise ki aap jo man chahe wah kar sakte hai aur jaha chahe jitni baje chahe ja sakte hai aur jis tarah ke kapde pahanna chahe wah bhi pahan sakte hai lekin parivar mein rehne par kuch pabandiyan jarur hoti hai lekin agar aap apne mata pita ya phir parivar walon ke saath rahe to isse bhi kuch fayda jarur hota hai jaise ki agar koi emergency situation aati hai maan lijiye ki husband wife dono job mein hai aur kisi ek ki tabiyat kharab ho jati hai ya dono ki tabiyat kharab ho jati hai to phir us samay dekhbhal karne wala aapki care karne wala koi bhi nahi hota hai to in emergency ke cases mein ya phir mali ji aapka kabhi achanak accident ho gaya to us case mein bhi agar parivar wale aapke saath hai to aapki kaafi madad hoti hai aur jo ghar ke kaam hai usamen chahiye bhi agar aapke mata pita aapke saath hai to wah sare kaam aasani se ho sakte hai lekin akele rehne par saree chize aapko khud hi handle chahiye karni padi hai to mujhe lagta hai ki main jo yuva hai aur jinaki shadi nahi ho rahi hai unhen chahiye in chijon par dhyan dena chahiye aur koshish karni chahiye ki agar sambhav hai tune apne mata pita ke saath jarur rehna chahiye

आज के समय में हमेशा देखते हैं कि जो शादीशुदा जोड़े हैं जिनकी नई नई शादी होती है वह यही प्र

Romanized Version
Likes  35  Dislikes    views  552
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!