अगर आपका बेटा समलैंगिक होता तो आप क्या करते?...


user

Isu Vasava

PASTOR in CHURCH.

1:10
Play

Likes  201  Dislikes    views  2562
WhatsApp_icon
16 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अब इसमें हम क्या कर सकते थे होता तो जो समाज जो वक्त करता वही करता है जो वो करता वह कर्तव्य हम क्या कर सकते हैं फिर उपस्थित में किसी के भी साथ ऐसी हो सकती आपके साथ मेरे साथ समाज के साथ किसी के साथ भी हो सकती हैं उन पक्षियों के लिए उसमें कोई परिवर्तन नहीं किया जा सकता

ab isme hum kya kar sakte the hota toh jo samaj jo waqt karta wahi karta hai jo vo karta vaah kartavya hum kya kar sakte hain phir upasthit me kisi ke bhi saath aisi ho sakti aapke saath mere saath samaj ke saath kisi ke saath bhi ho sakti hain un pakshiyo ke liye usme koi parivartan nahi kiya ja sakta

अब इसमें हम क्या कर सकते थे होता तो जो समाज जो वक्त करता वही करता है जो वो करता वह कर्तव्य

Romanized Version
Likes  239  Dislikes    views  2121
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

1:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर बेटा बेटा समलैंगिक होता मैं उसको तुरंत ही किसी साइकिल के पास ले जाता साइकेट्रिक के बाद बिठाकर उसे कहता कि ऐसी ऐसी बात है इसके अंदर आप इसको दवाई दो जिसका मन चेंज हो जाए बेशक मैं थोड़ा सा पैसा जरूर खर्च हो तो साइकिल से जाने में उसको दवाई देने में तो भविष्य क्या होता बच्चे जैसा लग जाते हैं तो उसके बाबा की कमीनी सुनते उसके वह सुनते हैं तो दूसरे लोग होते हैं हीरो का है ऐसे हालात में आप कुछ भी कर सकते अब दूसरे दोस्त को लेकर उसे कहिए समझाइए या किसी लड़की से उसकी दोस्ती करा दीजिए ठीक है और ऐसे दोस्त से अपने कुछ दोस्तों उसको बताइए सारी बात उसकी वीडियो बताइए सारी बात ऐसे ऐसे हालात हैं वह बहुत परेशान हैं वैसे उस समय आ गया है जब आएगा लड़कियों संगत भाई का लड़की के साथ घूमेगा भेजेगा तो उसका ध्यान डायवर्टर जाएगा और शायद वह समलैंगिक बना छोड़ देगा या फिर

agar beta beta samlaingik hota main usko turant hi kisi cycle ke paas le jata saiketrik ke baad bithakar use kahata ki aisi aisi baat hai iske andar aap isko dawai do jiska man change ho jaaye beshak main thoda sa paisa zaroor kharch ho toh cycle se jaane me usko dawai dene me toh bhavishya kya hota bacche jaisa lag jaate hain toh uske baba ki kamini sunte uske vaah sunte hain toh dusre log hote hain hero ka hai aise haalaat me aap kuch bhi kar sakte ab dusre dost ko lekar use kahiye samjhaiye ya kisi ladki se uski dosti kara dijiye theek hai aur aise dost se apne kuch doston usko bataiye saari baat uski video bataiye saari baat aise aise haalaat hain vaah bahut pareshan hain waise us samay aa gaya hai jab aayega ladkiyon sangat bhai ka ladki ke saath ghumega bhejega toh uska dhyan dayavartar jaega aur shayad vaah samlaingik bana chhod dega ya phir

अगर बेटा बेटा समलैंगिक होता मैं उसको तुरंत ही किसी साइकिल के पास ले जाता साइकेट्रिक के बाद

Romanized Version
Likes  129  Dislikes    views  3833
WhatsApp_icon
user

Dr. Rajesh Gupta

Doctor Sexologist

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपके प्रश्न से लगता है कि आपका बेटा समलैंगिक है उसकी बीमारी बीमारी तो आप उसको चित्र कैसे बात कर सकते हैं क्योंकि बस हार्मोन के कारण होता है एक्स्ट्रा हार्मोन हारमोंस लड़कों में लड़कियों वाले हार दिखा जा सकता है पूरी डिटेल के साथ संपर्क करना पड़ेगा आपकी समस्या का समाधान करने का पूरा प्रयत्न किया जाए

aapke prashna se lagta hai ki aapka beta samlaingik hai uski bimari bimari toh aap usko chitra kaise baat kar sakte hain kyonki bus hormone ke karan hota hai extra hormone hormones ladko me ladkiyon waale haar dikha ja sakta hai puri detail ke saath sampark karna padega aapki samasya ka samadhan karne ka pura prayatn kiya jaaye

आपके प्रश्न से लगता है कि आपका बेटा समलैंगिक है उसकी बीमारी बीमारी तो आप उसको चित्र कैसे ब

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  135
WhatsApp_icon
user

DR. MANISH

MULTI TASKER & DR.M.D (A.M.), B-PHARMA, PGDM-M

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर तुमने बोला कि विकास मार्केटिंग होता पहली बार कैसे सवाल तुमने पूछा मुझे लगता तो मकान बनाने का शौक है तो भी तुम दूसरों के लड़कों से पूछ रही थी वही कौन तुम्हारी गांड मार सकता है ठीक है ना तो इसलिए भाई को गांड बनाने का कुकर दो फोन नंबर दो जिससे कि अगर और भी दस पांच लड़कों को नंबर दे दे तुम्हारा बहन के लोड़े ढंग से सवाल पूछता यह पूछता कि तुझे गांड मरा नहीं है यदि है तुम्हारे बेटे को उसमें गरीब होता तो क्या करती है तेरी मां चोदने के लिए भेज दे

agar tumne bola ki vikas marketing hota pehli baar kaise sawaal tumne poocha mujhe lagta toh makan banane ka shauk hai toh bhi tum dusro ke ladko se puch rahi thi wahi kaun tumhari gaand maar sakta hai theek hai na toh isliye bhai ko gaand banane ka cooker do phone number do jisse ki agar aur bhi das paanch ladko ko number de de tumhara behen ke lode dhang se sawaal poochta yah poochta ki tujhe gaand mara nahi hai yadi hai tumhare bete ko usme garib hota toh kya karti hai teri maa chodane ke liye bhej de

अगर तुमने बोला कि विकास मार्केटिंग होता पहली बार कैसे सवाल तुमने पूछा मुझे लगता तो मकान बन

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  266
WhatsApp_icon
user
0:24
Play

Likes  141  Dislikes    views  1039
WhatsApp_icon
user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

1:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका पति अगर आपका बेटा समय होता तो आप क्या करते हैं उसका मार्गदर्शन करते अपराधी है एक दुष्ट प्रवृत्ति है अगर आप अगर हमारी जानकारी में करिए होगी काउंसलिंग करते डॉक्टर के माध्यम से करते हैं मनोवैज्ञानिक के माध्यम से करवाते हैं और जो जून एक्सपर्ट उनके माध्यम से लगातार घोषणा की और भी आकर्षक इस तरह की घटना का विरोध स्वरूप है

aapka pati agar aapka beta samay hota toh aap kya karte hain uska margdarshan karte apradhi hai ek dusht pravritti hai agar aap agar hamari jaankari me kariye hogi kaunsaling karte doctor ke madhyam se karte hain manovaigyanik ke madhyam se karwaate hain aur jo june expert unke madhyam se lagatar ghoshana ki aur bhi aakarshak is tarah ki ghatna ka virodh swaroop hai

आपका पति अगर आपका बेटा समय होता तो आप क्या करते हैं उसका मार्गदर्शन करते अपराधी है एक दु

Romanized Version
Likes  303  Dislikes    views  2465
WhatsApp_icon
user

ज्योतिषी झा मेरठ (Pt. K L Shashtri)

Astrologer Jhaमेरठ,झंझारपुर और मुम्बई

0:52
Play

Likes  68  Dislikes    views  2278
WhatsApp_icon
play
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:37

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि अगर आपका बेटा समलैंगिक होता तो आप क्या करते कुछ नहीं उसको उसके हिसाब से अपनी लाइफ जीने देते हैं ठीक है आपके आज की लाइफ में यह सब कुछ नॉर्मल है तो उसकी पर्सनल लाइफ है जिन्हें देता है ठीक है और हो सके चेक कर लेना चाहिए ठीक है और एक्सेप्ट नहीं कर सकते हो समाज में बदनामी का नाम है तो उसको हम तुम्हारी मदद करेंगे लेकिन तुम कहीं और सेट हो जाओ ठीक है और बस ऐसे ही कर ली हो जाता है

aapka prashna hai ki agar aapka beta samlaingik hota toh aap kya karte kuch nahi usko uske hisab se apni life jeene dete hain theek hai aapke aaj ki life mein yah sab kuch normal hai toh uski personal life hai jinhen deta hai theek hai aur ho sake check kar lena chahiye theek hai aur except nahi kar sakte ho samaj mein badnami ka naam hai toh usko hum tumhari madad karenge lekin tum kahin aur set ho jao theek hai aur bus aise hi kar li ho jata hai

आपका प्रश्न है कि अगर आपका बेटा समलैंगिक होता तो आप क्या करते कुछ नहीं उसको उसके हिसाब से

Romanized Version
Likes  404  Dislikes    views  5057
WhatsApp_icon
user
0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका बेटा समलैंगिक तो आप उसको समझाइए कोशिश करिए और उसके दीवानापन छोड़ देना ज्यादा अच्छा रहेगा

aapka beta samlaingik toh aap usko samjhaiye koshish kariye aur uske diwanapan chhod dena zyada accha rahega

आपका बेटा समलैंगिक तो आप उसको समझाइए कोशिश करिए और उसके दीवानापन छोड़ देना ज्यादा अच्छा रह

Romanized Version
Likes  84  Dislikes    views  1685
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

समलैंगिकता एक सामाजिक बुराई है और निश्चित रूप से हमारे समाज में व्याप्त है किशोरावस्था में विपरीत लिंग के प्रति जो आकर्षण होता है उसे पूरा करना काफी मुश्किल होता है लेकिन समलैंगिक संबंध बनाना आसान होता है खासकर आश्रमों में छात्रावासों में मदरसों में जहां कहीं भी किशोर वह के लोग एक साथ रहते हैं उनमें इस तरह की बुराइयां आना आम बात है कुछ वृद्धजन या युवा जन भी ऐसे हैं जो किसी किशोर वर्ग के बच्चों को पिछला करके उन्हें इस रास्ते पर ले जाते हैं इसके लिए किसी को तनाव नहीं लेना बहुत ज्यादा तकलीफ व्यवहार नहीं करना है बच्चों के मनोवैज्ञानिक स्तर पर अगर आपको हमसे बातचीत करेंगे समझेंगे बुझायेंगे तो निश्चित रूप से वे इस बुराई से निकल पाएंगे उनके अंदर आत्म सम्मान का भाव जागृत कीजिए ऐसा कुछ ना कीजिए जिससे उन्हें आत्मग्लानि का अनुभव उनके आत्मसम्मान को जगाए उनका बेहतर तरीके से काउंसलिंग कीजिए उनसे बातचीत कीजिए निश्चित रूप से इस सामाजिक बुराई से हमारे बच्चे बाहर आ जाएंगे बहुत बहुत धन्यवाद

samlaingikta ek samajik burayi hai aur nishchit roop se hamare samaj mein vyapt hai kishoraavastha mein viprit ling ke prati jo aakarshan hota hai use pura karna kaafi mushkil hota hai lekin samlaingik sambandh banana aasaan hota hai khaskar aashramon mein chatrawason mein madarson mein jaha kahin bhi kishore vaah ke log ek saath rehte hain unmen is tarah ki buraiyan aana aam baat hai kuch vriddhajan ya yuva jan bhi aise hain jo kisi kishore varg ke baccho ko pichla karke unhe is raste par le jaate hain iske liye kisi ko tanaav nahi lena bahut zyada takleef vyavhar nahi karna hai baccho ke manovaigyanik sthar par agar aapko humse batchit karenge samjhenge bujhayenge toh nishchit roop se ve is burayi se nikal payenge unke andar aatm sammaan ka bhav jagrit kijiye aisa kuch na kijiye jisse unhe atmaglani ka anubhav unke atmasamman ko jagae unka behtar tarike se kaunsaling kijiye unse batchit kijiye nishchit roop se is samajik burayi se hamare bacche bahar aa jaenge bahut bahut dhanyavad

समलैंगिकता एक सामाजिक बुराई है और निश्चित रूप से हमारे समाज में व्याप्त है किशोरावस्था में

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  1018
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

1:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

समलैंगिक समलैंगिक लोगों सच में बहुत धड़कता है सीना के पात्र हैं वेस्टर्न कल्चर की उपज हैं वेस्टर्न कल्चर की देन है भारतीय कल्चर इस बात का कभी समर्थन नहीं करती है पंक्ति कल्चर के मानने वाले लोग इससे बात बड़ी गाना करते हैं कि घटना के पात्र हैं समाज में विकृति का कारण है समाज में विद्युतीकरण है इसलिए यदि मेरा पुत्र होता तो मैं उससे संबंध तोड़ लेता तेरा से कोई वास्ता नहीं रहता क्योंकि ऐसे लोग घृणा के पात्र हैं और गंदे लोगों से तक गंदगी मिल सकती है इससे स्वच्छता की आशा करना व्यर्थ है जैसे कि आप यदि एक समुद्र में तलाश करेंगे तो आपको मूर्ख बंदे कीचड़ से भरे तालाब में तलाश करेंगे वहां अवश्य प्राप्त होंगे आपको गंदगी कीचड़ प्राप्त हुई सारे दामन को रहेंगे ऐसे लोगों से पहले करनी चाहिए

samlaingik samlaingik logo sach mein bahut dhadakta hai seena ke patra hain western culture ki upaj hain western culture ki the hai bharatiya culture is baat ka kabhi samarthan nahi karti hai pankti culture ke manne waale log isse baat badi gaana karte hain ki ghatna ke patra hain samaj mein vikriti ka karan hai samaj mein vidyutekaran hai isliye yadi mera putra hota toh main usse sambandh tod leta tera se koi vasta nahi rehta kyonki aise log ghrina ke patra hain aur gande logo se tak gandagi mil sakti hai isse swachhta ki asha karna vyarth hai jaise ki aap yadi ek samudra mein talash karenge toh aapko murkh bande kichad se bhare taalab mein talash karenge wahan avashya prapt honge aapko gandagi kichad prapt hui saare daman ko rahenge aise logo se pehle karni chahiye

समलैंगिक समलैंगिक लोगों सच में बहुत धड़कता है सीना के पात्र हैं वेस्टर्न कल्चर की उपज हैं

Romanized Version
Likes  61  Dislikes    views  1220
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

4:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आपने कहा अगर आपका बेटा समलिंगी होता तो क्या करते हैं समलैंगिक होना जो प्राकृतिक देन है इसमें किसी इंसान का कोई योगदान नहीं दुनिया में दो ही तरह के लोग जन्मे हैं एक स्त्री एक पुरुष और जब इंसान जन्म लेता है उस समय उसकी जन्म के समय जो मनोभाव प्रकृति पैदा करती है उसी पर निर्भर करता है कि वह इंसान विपरीत लिंगी की तरफ आकर्षित होता है या मुंह से लूंगी की तरफ आकर्षित होता है यहां एक प्रश्न है इसमें इंसान तक कोई दोष नहीं है उसको जन्मजात गुण उसके बचपन में क्रोमोसोम के माध्यम से हासिल होते हैं यह मारी मनोवैज्ञानिक कोच है बल्कि मनोवैज्ञानिक कटु सत्य बहुत सी बच्चों के अंदर जब वह बालक है तो उसका आकर्षण बालिका की तरफ ना होकर बालक की तरफ जाता है क्यों होता है क्योंकि वह बालक अपने आपके अंदर बालक के गुण नहीं महसूस करता बालिका के गुण में सूट करता है और उसकी फीलिंग्स उसकी चोट का आचरण और रिकार्ड धारक कुछ एक बालिका के रूप में होता है यदि वह बालक के रूप में जन्मा है तो बालक की तरफ जो है आकर्षित होता है और बालक से के साथ रहे भोजन करता है उसके साथ जीवन की शुरुआत करता है जाने-अनजाने ऐप इसका मकसद केवल शारीरिक संबंध बनाना नहीं नहीं कोई इलेक्ट्रिक सोच है लेकिन उसकी प्रकृति में जो इस तरह का उसका आवरण रहा है आचरण है तो उस तरफ आकर्षित इसी टाइम कोई लड़की है अगर चप्पू वह उसके अंदर मनोभाव लड़के जैसे उसे महसूस नहीं होता क्या मैं लड़की हूं या मैं आईना हूं बल्कि वह व्यक्ति उसके साथ तारीख की यात्रा में सोते हैं उसे बड़ा अटपटा लगता है वह अपने अंदर पुरुष की गुनी में सूट करती है तो उसका ध्यान रहे हैं वह स्त्रियों की तरफ आकर्षित होता है यही कुछ प्राकृतिक कारणों जिसमें बच्चा पलता है पूछता है बड़ा होता है और उसको वैसे ही वार्ता उनका चमचा घूमता रहता है कि वो एक समलैंगिक हो जाता है और इसमें कोई बुराई नहीं है मेरा मानना है कि कानून ने भी समलैंगिकों को कानूनी मान्यता दे दी है क्योंकि जहां इंसान को कूची कूची जीवन बिताने का अवसर मिले वहां निश्चित रूप से हमें उन्हें खुश रहने का अवसर देना चाहिए अगर हम विपरीत अवस्था में उसके जाएंगे तो समाज की कल्पना करके परिवार की कल्पना करके भविष्य की कल्पना करके टच बाय दुख

dekhiye aapne kaha agar aapka beta samlingi hota toh kya karte hain samlaingik hona jo prakirtik then hai isme kisi insaan ka koi yogdan nahi duniya mein do hi tarah ke log janme hain ek stree ek purush aur jab insaan janam leta hai us samay uski janam ke samay jo manobhaav prakriti paida karti hai usi par nirbhar karta hai ki vaah insaan viprit lingi ki taraf aakarshit hota hai ya mooh se lungi ki taraf aakarshit hota hai yahan ek prashna hai isme insaan tak koi dosh nahi hai usko janmajat gun uske bachpan mein chromosome ke madhyam se hasil hote hain yah mari manovaigyanik coach hai balki manovaigyanik katu satya bahut si baccho ke andar jab vaah balak hai toh uska aakarshan balika ki taraf na hokar balak ki taraf jata hai kyon hota hai kyonki vaah balak apne aapke andar balak ke gun nahi mehsus karta balika ke gun mein suit karta hai aur uski feelings uski chot ka aacharan aur record dharak kuch ek balika ke roop mein hota hai yadi vaah balak ke roop mein janma hai toh balak ki taraf jo hai aakarshit hota hai aur balak se ke saath rahe bhojan karta hai uske saath jeevan ki shuruat karta hai jaane anjaane app iska maksad keval sharirik sambandh banana nahi nahi koi electric soch hai lekin uski prakriti mein jo is tarah ka uska aavaran raha hai aacharan hai toh us taraf aakarshit isi time koi ladki hai agar chappu vaah uske andar manobhaav ladke jaise use mehsus nahi hota kya main ladki hoon ya main aaina hoon balki vaah vyakti uske saath tarikh ki yatra mein sote hain use bada atpataa lagta hai vaah apne andar purush ki guni mein suit karti hai toh uska dhyan rahe hain vaah sthreeyon ki taraf aakarshit hota hai yahi kuch prakirtik karanon jisme baccha palta hai poochta hai bada hota hai aur usko waise hi varta unka chamacha ghoomta rehta hai ki vo ek samlaingik ho jata hai aur isme koi burayi nahi hai mera manana hai ki kanoon ne bhi samalaingikon ko kanooni manyata de di hai kyonki jaha insaan ko kuchi kuchi jeevan bitane ka avsar mile wahan nishchit roop se hamein unhe khush rehne ka avsar dena chahiye agar hum viprit avastha mein uske jaenge toh samaj ki kalpana karke parivar ki kalpana karke bhavishya ki kalpana karke touch bye dukh

देखिए आपने कहा अगर आपका बेटा समलिंगी होता तो क्या करते हैं समलैंगिक होना जो प्राकृतिक देन

Romanized Version
Likes  340  Dislikes    views  6047
WhatsApp_icon
user
0:32
Play

Likes  5  Dislikes    views  138
WhatsApp_icon
user
1:29
Play

Likes  15  Dislikes    views  510
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर मेरा बेटा समलैंगिक होता तो मैं आज से मैं उसको लड़की बना था और आधे समय उसको पुरुष बना

agar mera beta samlaingik hota toh main aaj se main usko ladki bana tha aur aadhe samay usko purush bana

अगर मेरा बेटा समलैंगिक होता तो मैं आज से मैं उसको लड़की बना था और आधे समय उसको पुरुष बना

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  4
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!