रेलवे में निजीकरण हो रहा है कि नहीं, जानकारी दें?...


user

S.K.Singh

Founder, Disha Competitive Classes

0:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अरे में निजीकरण हो रहा है कि नहीं जानकारी देखिए जहां तक मेरी नॉलेज है अभी इसके विरोध में संघर्ष जारी कर रहे हैं कुछ हटके पर अपडेशन हो सकता है लेकिन उनका ऑपरेशन करना संभव नहीं है

arre mein nijikaran ho raha hai ki nahi jaankari dekhiye jaha tak meri knowledge hai abhi iske virodh mein sangharsh jaari kar rahe hain kuch hatake par updation ho sakta hai lekin unka operation karna sambhav nahi hai

अरे में निजीकरण हो रहा है कि नहीं जानकारी देखिए जहां तक मेरी नॉलेज है अभी इसके विरोध में

Romanized Version
Likes  257  Dislikes    views  5777
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

3:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रेलवे में निजी करण हो रहा है कि नहीं जानकारी रेलवे की कोशिश की जो सफाई होती थी वह पहले रेलवे के कर्मचारी करते थे उन्होंने अच्छी तरह से ऐसा काम नहीं किया रेलवे में हुए मिलते थे वंदे मिलते थे और हर तरह की तकलीफ एलएलवे के यात्रियों को मिलती बाद में सरकार ने निजी करण उसका किया और यूरेका फॉर्ब्स नाम की कंपनी को कांटेक्ट किया और यूरिका फॉक्स कर्मचारी रेलवे के डिब्बों की साफ-सफाई और मेंटेनेंस का काम करने लगे उसके अच्छे विचार उसके बाद जो खानपान जो रेलवे का आरोप खाने का शिकार होते हैं उसके बाद आईआरसीटीसी ने बाहर से खाने का भी प्रावधान किया और वेज और नॉनवेज खाने प्रबंध तो ऐसी सर्विसेस को रेल यात्रियों के दवा अच्छा प्रतिभा विशेषज्ञ रेलवे में यह हमारी सरकार निजी सेट किया है कि रेलवे की पटरी या सरकार की मांग की थी रहेंगी लेकिन जो रेल में किस सेवा जैसे कुत्ते ने उसमें सबसे पहले तेजस एक्सप्रेस नाम की प्रेम को चलाया जा रहा है और उसकी सेवा अगर समय से लेट होती है तो रेल यात्रियों को मुआवजा दिया जाता है अगर एक घंटा लेट ट्रेन आती है तो ₹100 2 घंटे ट्रेन लेट होती है जो ₹200 दिया जाता है यह जो काफी सुविधा नहीं होता था और सरकार अपने जब होता था कोई भी दुर्घटना अपने खाते में दिखी थी अब हर एक रेलिया बीमा होता है 1000000 रुपए तक का मुआवजा हर रेल यात्रियों को मिलता है इसलिए निजीकरण जो हो रहा है वह बहुत ही अच्छी दिशा में कदम है इससे रेल यात्रियों की सुविधा बढ़ेगी और रेल यात्री सुरक्षित रह पाएंगे और दो बेसिक इंस्पेक्टर है उसे रेल मंत्रालय सुधारने के लिए सिग्नल सिस्टम है उसको और सुरक्षा के और भी जो व्यवस्था करनी है उसके ऊपर रेल मंत्रालय में सही कदम है और इससे में प्रोत्साहन देना कि रेल यात्रियों के लिए यह कदम है अच्छा कदम है और स्वागत योग्य कदम है थैंक यू

railway mein niji karan ho raha hai ki nahi jaankari railway ki koshish ki jo safaai hoti thi vaah pehle railway ke karmchari karte the unhone achi tarah se aisa kaam nahi kiya railway mein hue milte the vande milte the aur har tarah ki takleef elaelave ke yatriyon ko milti baad mein sarkar ne niji karan uska kiya aur eureka farbs naam ki company ko Contact kiya aur yurika Fox karmchari railway ke dibbon ki saaf safaai aur Maintenance ka kaam karne lage uske acche vichar uske baad jo khanpan jo railway ka aarop khane ka shikaar hote hain uske baad IRCTC ne bahar se khane ka bhi pravadhan kiya aur veg aur nonveg khane prabandh toh aisi services ko rail yatriyon ke dawa accha pratibha visheshagya railway mein yah hamari sarkar niji set kiya hai ki railway ki patri ya sarkar ki maang ki thi rahegi lekin jo rail mein kis seva jaise kutte ne usme sabse pehle tejas express naam ki prem ko chalaya ja raha hai aur uski seva agar samay se late hoti hai toh rail yatriyon ko muavja diya jata hai agar ek ghanta late train aati hai toh Rs 2 ghante train late hoti hai jo Rs diya jata hai yah jo kaafi suvidha nahi hota tha aur sarkar apne jab hota tha koi bhi durghatna apne khate mein dikhi thi ab har ek relia bima hota hai 1000000 rupaye tak ka muavja har rail yatriyon ko milta hai isliye nijikaran jo ho raha hai vaah bahut hi achi disha mein kadam hai isse rail yatriyon ki suvidha badhegi aur rail yatri surakshit reh payenge aur do basic inspector hai use rail mantralay sudhaarne ke liye signal system hai usko aur suraksha ke aur bhi jo vyavastha karni hai uske upar rail mantralay mein sahi kadam hai aur isse mein protsahan dena ki rail yatriyon ke liye yah kadam hai accha kadam hai aur swaagat yogya kadam hai thank you

रेलवे में निजी करण हो रहा है कि नहीं जानकारी रेलवे की कोशिश की जो सफाई होती थी वह पहले रेल

Romanized Version
Likes  71  Dislikes    views  1417
WhatsApp_icon
user

Neeraj Shukla

Philosopher || Avid Reader.

0:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल देने में निजीकरण हो रहा है अभी तेजस एक्सप्रेस चली है वह वाली प्राइवेट ट्रेन रही है और आने वाले टाइम में भी नहीं चलेगी देखिए क्या होगा इससे मुझे लगता है कि जब सुधार आएगा

bilkul dene mein nijikaran ho raha hai abhi tejas express chali hai vaah wali private train rahi hai aur aane waale time mein bhi nahi chalegi dekhiye kya hoga isse mujhe lagta hai ki jab sudhaar aayega

बिल्कुल देने में निजीकरण हो रहा है अभी तेजस एक्सप्रेस चली है वह वाली प्राइवेट ट्रेन रही है

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  708
WhatsApp_icon
user

Sharmistha

Ops Answerer

0:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

रेलवे में निजीकरण हो रहा है कि नहीं जानकारी दें तो देखिए रेलवे में राजनीतिकरण हो रहा है और जो रेलवे की जो काम होंगे वह रेलवे अधिकारी ही संभालेंगे और रेलवे डिपार्टमेंट की संभालेगा

railway mein nijikaran ho raha hai ki nahi jaankari de toh dekhiye railway mein rajneetikaran ho raha hai aur jo railway ki jo kaam honge vaah railway adhikari hi sambhalenge aur railway department ki sambhalega

रेलवे में निजीकरण हो रहा है कि नहीं जानकारी दें तो देखिए रेलवे में राजनीतिकरण हो रहा है और

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!