मैंने एक लेख ऑनलाइन पढ़ा है जिसमें कहा गया है कि IAS अधिकारी गोविंद जायसवाल एक रिक्शा चालक के बेटे हैं? क्या यह सच है यदि हाँ, तो उनके पिता की क्या प्रतिक्रिया थी जब उन्हें पता चला की गोविंद ने IAS का परीक्षा क्लीयर कर लिया है?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने मैं एक लेखक ऑनलाइन पड़ा है कि जिसमें कहा गया है कि आईएएस अधिकारी गोविंद जयसवाल एक रिक्शा चालक के बेटे हैं क्या यह सच है यहां तो उनके पिता की क्या देखिए मैं बताना चाहता हूं इसके माध्यम से कोई बड़ी बात नहीं है वह एक रिक्शा वाले के बेटे हो सकते हैं और वह आईएससी बन सकते हैं कैसे उन्होंने सर पर स्टडी की होगी उस सेल्फ स्टडी किसी के बॉडी होती है और उन्होंने यह कहा हुआ किसलिए का ग्रुप तो नहीं कर सकते कैसे होंगे आप उनके आजा करके देख सकते हो कि वह वास्तव में होंगे इसलिए जीजा वेरी हार्ड वेयर आई कैन डू यू थिस प्रोवाइड्स एजेंसी इस तरीके से एक रिक्शा वाले के बेटे भी हो सकते उनके पिता कि क्या उनके पिता एक रिक्शा चला करके उनको पैसा खर्चा दिया वही देते होंगे वह उस तरीके से वह अपने आईएएस अफसर का उन्होंने एक अपना मुकाम रखा हुआ उस मुकाम तक पहुंचने के लिए उन्हें बहुत मेहनत उठाई होगी उनके पिता का पूरा सपोर्ट रहा होगा सपोर्ट नहीं रहा होता तो वह आईएएस अधिकारी गोविंद जैस्वाल नहीं बन सकते भी एक जुनून होता है जो गरीबी का वो एकदम अटूट रहता है

aapne main ek lekhak online pada hai ki jisme kaha gaya hai ki IAS adhikari govind jaisawal ek riksha chaalak ke bete kya yah sach hai yahan toh unke pita ki kya dekhiye main bataana chahta hoon iske madhyam se koi badi baat nahi hai vaah ek riksha waale ke bete ho sakte hain aur vaah ISC ban sakte hain kaise unhone sir par study ki hogi us self study kisi ke body hoti hai aur unhone yah kaha hua kisliye ka group toh nahi kar sakte kaise honge aap unke aajad karke dekh sakte ho ki vaah vaastav mein honge isliye jija very hard where I can do you this provides agency is tarike se ek riksha waale ke bete bhi ho sakte unke pita ki kya unke pita ek riksha chala karke unko paisa kharcha diya wahi dete honge vaah us tarike se vaah apne IAS officer ka unhone ek apna mukam rakha hua us mukam tak pahuchne ke liye unhe bahut mehnat uthayi hogi unke pita ka pura support raha hoga support nahi raha hota toh vaah IAS adhikari govind jaiswal nahi ban sakte bhi ek junun hota hai jo garibi ka vo ekdam atut rehta hai

आपने मैं एक लेखक ऑनलाइन पड़ा है कि जिसमें कहा गया है कि आईएएस अधिकारी गोविंद जयसवाल एक रिक

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  63
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!