क्या हर बार सच बोलना ज़रूरी है? क्यों?...


play
user

Pooja kotak

REHABILITATION PSYCHOLOGIST

0:24

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इतना तो कोई जरूरी नहीं है कि हर वक्त हमारे सामने हम हमारे जो भी है वह दिखाएं

itna toh koi zaroori nahi hai ki har waqt hamare saamne hum hamare jo bhi hai wah dikhaen

इतना तो कोई जरूरी नहीं है कि हर वक्त हमारे सामने हम हमारे जो भी है वह दिखाएं

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  232
WhatsApp_icon
17 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Mr. RUDRA JANI

Rehabilitation Psychologist

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा आप लोग ऐसा ही एथिकल वैल्यूज मेवाड़ बुक्स में और कभी रिलीज मानते हैं कि हमको सच बोलना चाहिए उसके पीछे बोलिए है कि हमारा जो है उसमें कैसा रहेगा हम हर बार बोलने के बाद हम को जो नुकसान हुआ है उसके बारे में हमारे ब्रेन में एक अच्छा सेंटेंस बना रहे कभी-कभी मोस्ट टॉप नेताओं की झूठ बोलने के बाद हमारा दिमाग को ज्यादा सोचना पड़ता है नवीन को ज्यादा सोचना नहीं पड़ता

aisa aap log aisa hi Ethical values mewad books mein aur kabhi release maante hain ki hamko sach bolna chahiye uske peeche bolie hai ki hamara jo hai usme kaisa rahega hum har baar bolne ke baad hum ko jo nuksan hua hai uske bare mein hamare brain mein ek accha sentence bana rahe kabhi kabhi most top netaon ki jhuth bolne ke baad hamara dimag ko zyada sochna padta hai naveen ko zyada sochna nahi padta

ऐसा आप लोग ऐसा ही एथिकल वैल्यूज मेवाड़ बुक्स में और कभी रिलीज मानते हैं कि हमको सच बोलना च

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  264
WhatsApp_icon
user

VEENU

CLINICAL PSYCHOLOGIST

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नोट इस रियली बट हमारा फोटो होना चाहिए कि हम सही बोले कि आप झूठ बोलते हो आप होते तो मैं आपको बहुत सोचना होता है कि चीजों को कैसे ले जायेंगे बीएफ नहीं बोलते हो सकता है कि एक आम ना करें

note is really but hamara photo hona chahiye ki hum sahi bole ki aap jhuth bolte ho aap hote toh main aapko bahut sochna hota hai ki chijon ko kaise le jayenge bf nahi bolte ho sakta hai ki ek aam na karein

नोट इस रियली बट हमारा फोटो होना चाहिए कि हम सही बोले कि आप झूठ बोलते हो आप होते तो मैं आपक

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  685
WhatsApp_icon
user

Mr.MISHRA AMITKUMAR KESHRIPRASAD

REHABILITATION PSYCHOLOGIST

1:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप डिपेंड ऑन द सिचुएशन कि आप कहां पर कैसे क्या बोला अगर हम ज्यादा से ज्यादा कोशिश करते हैं कि सिचुएशन को अगर हम उससे ज्यादा से ज्यादा सही बोले तो ज्यादा अच्छा है क्योंकि ज्यादा झूठ एक झूठ को छिपाने के लिए बहुत सारे झूठ बोलने पड़ते हैं और उसी क्षण क्षण के कारण हमें बहुत सारी प्रॉब्लम्स आती रहती है और उसमें पोस्टिंग चले जाते वक्त ही चले जाते हैं फिर एक कंडीशन ऐसी आती है कि हमें परेशान हो जाए तो उसके बहुत सारे सिम्टम्स में दिखने लगते हैं और हमारे कॉन्फिडेंट की सिचुएशन ऐसी है कि जहां बहुत सारे झूठ बोल कर एक झूठ बोलना पड़ रहा है किसी चीज के लिए अगर वह किसी के लिए फायदेमंद है ओन्ली फोर क्या आपके लिए ही औरत मेरे लिए अगर फायदेमंद है और किसी का भला हो रहा है या कुछ भी हो रहा है उस लेवल पर बोल सकते हैं और वह ऐसी कोई टीचर तो और कंडीशन होनी थी कि जहां पर उस चीज की बहुत ज्यादा नींद है जरूरत है उसको बेनिफिट मिल रहा है उससे किसी को नुकसान नहीं हो रहा है उसकी तो बाकी हमारी कोशिश होनी ज्यादा से ज्यादा सारी चीजें और सारी कंडीशन में हमेशा करना चाहिए

aap depend on the situation ki aap kahaan par kaise kya bola agar hum zyada se zyada koshish karte hain ki situation ko agar hum usse zyada se zyada sahi bole toh zyada accha hai kyonki zyada jhuth ek jhuth ko chipane ke liye bahut saare jhuth bolne padte hain aur usi kshan kshan ke kaaran humein bahut saree problem aati rehti hai aur usme posting chale jaate waqt hi chale jaate hain phir ek condition aisi aati hai ki humein pareshan ho jaye toh uske bahut saare Symptoms mein dikhne lagte hain aur hamare confident ki situation aisi hai ki jaha bahut saare jhuth bol kar ek jhuth bolna pad raha hai kisi cheez ke liye agar wah kisi ke liye faydemand hai only four kya aapke liye hi aurat mere liye agar faydemand hai aur kisi ka bhala ho raha hai ya kuch bhi ho raha hai us level par bol sakte hain aur wah aisi koi teacher toh aur condition honi thi ki jaha par us cheez ki bahut zyada neend hai zarurat hai usko benefit mil raha hai usse kisi ko nuksan nahi ho raha hai uski toh baki hamari koshish honi zyada se zyada saree cheezen aur saree condition mein hamesha karna chahiye

आप डिपेंड ऑन द सिचुएशन कि आप कहां पर कैसे क्या बोला अगर हम ज्यादा से ज्यादा कोशिश करते हैं

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  489
WhatsApp_icon
user

Dr. SMITA TIWARY

PSYCHOLOGIST

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अन्नू क्यों है वह दे देना हम लोग खाना चाहिए क्योंकि किसी को बहुत बुरा करें जिससे किसी का बहुत बुरा हो लेकिन हां खुद से झूठ बोलना बहुत जरूरी है अगर आपने पढ़ाई नहीं की है और फिर भी आप अपने आप से बोल रहे हो जाएगा ना कर लेंगे ना अगर ऐसा बोलते हैं मैं कुछ अपने आप को नहीं बताते तो उसे आप ही बोल नहीं कर पाएंगे लेकिन अगर दूसरों की बात है तो आपको थोड़ा बहुत आंसर देना है मान लीजिए आप आंसर लिख रहे किसी को शंका और आपको पूरी तरह से नहीं आता थोड़ी बहुत इधर-उधर गलत नहीं करना है इधर उधर आप एग्जामिनर को घर के नंबर ला सके लेकिन क्यों गलत नहीं करना ठीक है इसमें जो है बड़ा ही का फ्रेम फ्रेम चल तू तो बोलना बहुत जरूरी है तभी आप बोलकर

annu kyon hai wah de dena hum log khana chahiye kyonki kisi ko bahut bura karein jisse kisi ka bahut bura ho lekin haan khud se jhuth bolna bahut zaroori hai agar aapne padhai nahi ki hai aur phir bhi aap apne aap se bol rahe ho jayega na kar lenge na agar aisa bolte hain main kuch apne aap ko nahi batatey toh use aap hi bol nahi kar payenge lekin agar dusro ki baat hai toh aapko thoda bahut answer dena hai maan lijiye aap answer likh rahe kisi ko shanka aur aapko puri tarah se nahi aata thodi bahut idhar udhar galat nahi karna hai idhar udhar aap examiner ko ghar ke number la sake lekin kyon galat nahi karna theek hai ismein jo hai bada hi ka frame frame chal tu toh bolna bahut zaroori hai tabhi aap bolkar

अन्नू क्यों है वह दे देना हम लोग खाना चाहिए क्योंकि किसी को बहुत बुरा करें जिससे किसी का ब

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  523
WhatsApp_icon
user

Dr. Preeti Bhatt Tiwari

Life Coach and Psychologist

1:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक बड़ा कठिन परीक्षा हर बात सच बोलना जरूरी होता है एक कहावत हिंदी में इस वक्त वक्त बाद में सोचो उस बात को तो वह पॉजिटिव होती है कि हमको बार-बार याद नहीं करना पड़ता हमको टेंशन रहता है हम अगर तनाव से हो सारी चीजों से दूर रहना चाहते सच बोलना चाहिए कि कोई भी अगर वह बड़ा हो तो भी हम बोल सकते लेकिन हमारे बोलने में 1 लाइनें और हम किसके साथ बात करना उसके हिसाब से हमारी भाषा हमारे बोलने की फोन की फ्रीक्वेंसी होनी चाहिए कि अगले को बुरा भी ना लगे और हमारी बात भी

ek bada kathin pariksha har baat sach bolna zaroori hota hai ek kahaavat hindi mein is waqt waqt baad mein socho us baat ko toh vaah positive hoti hai ki hamko baar baar yaad nahi karna padta hamko tension rehta hai hum agar tanaav se ho saree chijon se dur rehna chahte sach bolna chahiye ki koi bhi agar vaah bada ho toh bhi hum bol sakte lekin hamare bolne mein 1 linen aur hum kiske saath baat karna uske hisab se hamari bhasha hamare bolne ki phone ki frequency honi chahiye ki agle ko bura bhi na lage aur hamari baat bhi

एक बड़ा कठिन परीक्षा हर बात सच बोलना जरूरी होता है एक कहावत हिंदी में इस वक्त वक्त बाद में

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  1937
WhatsApp_icon
user

Jitendra Goswami

Meditation Expert

6:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है क्या हर बार सच बोलना जरूरी है और अगर जरूरी है तो क्यों यही सवाल है आपका तो सच बोलना कोई जरूरी नहीं है सच एक ऐसी चीज है जो होती ही है जो आपका नेचर है यह जो झूठ बोलने की कला है आपने यह सी आपको तो बस यह समझना है कि झूठ बोलना जरूरी नहीं है किस लिए झूठ बोल रहा हूं झूठ की होती है लेकिन सजा होता है आप अगर पूछे कि सच क्यों बोलूं तो उसका जवाब कुछ नहीं हो सकता वो कोई वजह थोड़ी है उसकी कोई वजह नहीं होती झूठ बोलने की वजह होती है अगर आप यह पूछते कि क्या हर बार झूठ बोलना जरूरी है उसको तो मान लेते लेकिन सच तो होता ही है आप को घर से घर वालों ने स्कूल भेजा था आप स्कूल नहीं गए बीच में गोल हो गए कहीं चले दिनभर आपने मस्ती की शाम को घर आए घर वालों को पता लग जाएगा वालों ने पूछा तुम कहां थे दिनभर से झूठ बोलने के लिए घरवालों की डांट से बचने के लिए एक कहानी पढ़ी लिखी मेरे मित्र के यहां कोई कार्यक्रम आ गया था या कुछ हादसा हो गया था इसलिए तुम लेट हो गया आज घर आने में या स्कूल नहीं जा पाए तो आपने यह झूठ बोला झूठ 3:00 बजे यह कि अगर आप सच बोलोगे तो आपके घरवाले आपके धुनाई कर देंगे आप का उपयोग कर रहे हैं जो हुआ है घटना है वास्तव में सच ही बोलना था आपको लिखना बचने के लिए झूठ बोल रहे थे अगर आप सच क्या है क्वेश्चन मार्क लगाएंगे तो आप कुछ कुछ आपको कोई जवाबदेही नहीं सकता क्योंकि वह तो है ही वह तो होता है तो वह तो होता रहेगा उसकी कोई वजह नहीं होती बजे झूठ की होती है तो झूठ बोलना हर बार कोई जरूरी नहीं है कि आप झूठ बोलो राम झूठ नहीं बोला अगर आपसे कोई किसी बारे में पूछेगा ध्यान देना अगर आप अपने अंदर बाहर निकलेगा आप उसे रोकते हैं और उसको डायरेक्टर की छूट में आपके आपने कोई कार्य किया आपको अंदर उसका एपीके एलर्जी है वह जमा हो गई उसी रूप में जैसे रूप में उसे होना चाहिए आपके अंदर अब कोई आपसे पूछ रहा है कि आपने कि क्या वह कार किया तो एनर्जी सेट से बाहर आएगी इंसान के एनर्जी आपके अंदर से वह बात जाने की कोशिश करेगी वह एनर्जी वापस आएगी आप उसे दूसरों के घर पर अपने हिसाब से उसे डायवर्ट करने वाले यहां मेहनत कर रहे हैं झूठ बोलने के लिए उसे डाइवर्ट कर रहा है सर आपके जवाब के बाहर आएगा तो सच के लिए कोई भी आपको जवाब नहीं दे सकता कि हर बार सच बोलना जरूरी है क्या मैं तो झूठ बोलने की जगह सकता है क्या है जितना आप सब से बोलेंगे उसने अंदर से खुश रहेंगे बस इतनी सी बात सत्य को खोजने की जो बड़े-बड़े ब्रह्मचारी लोग बात करते हैं आध्यात्मिक लोग बात करते हैं यह खोजने की बात नहीं करते आपने इतने झूठ अपने अंदर जमा कर लिए कि वह सच दरोगा यार अब मान लीजिए किसी अंधेरे कमरे में एक हीरे का टुकड़ा पटक दिया जाओ उसमें बहुत सारा कोयला डाल दिया जाए अब आपसे कोई कहे कि आपको हीरा ढूंढना है तो कैसे ढूंढे उसके लिए आपको सारा को हटाना पड़ेगा तो ऐसा ही है सत्य बोलना कोई जरूरी नहीं है सत्य तो है आपको उसके अंदर की इसके ऊपर जो आपने झूठ जमा कर लिया वह बाहर निकाल दो सत्य अपने आप बाहर ऑटोमेटिक पेंशन उतनी ही कम होती आई थी कि आपने फोकट की टेंशन ले रखी है इंसान को सबसे बड़ा झूठ है परेशान करता है कि मुझे तरक्की करना है मुझे सफल होना है मुझे शोहरत चाहिए और यह एक बहुत बड़ा झूठ है इसलिए इंसान इस के चक्कर में बहुत परेशान रहता तो ऐसे ही अपने आपके अंदर जमा कर रखे हैं झूठ को पूरा करने के लिए आप बार-बार दूसरे झूठ बोलते तो और सब तो बोलने का इसलिए का कोई आपने ठेका भी नहीं ले रखा और सत्य बोलना इतना जरूरी भी नहीं हो नहीं सकता आपके मुंह से निकलने के लिए मारा जा रहा है वह तो है आप चाहो तो निकालो ना चाहो तो कोई क्वेश्चन मार्क नहीं लगा सकता

aapka sawaal hai kya har baar sach bolna zaroori hai aur agar zaroori hai toh kyon yahi sawaal hai aapka toh sach bolna koi zaroori nahi hai sach ek aisi cheez hai jo hoti hi hai jo aapka nature hai yah jo jhuth bolne ki kala hai aapne yah si aapko toh bus yah samajhna hai ki jhuth bolna zaroori nahi hai kis liye jhuth bol raha hoon jhuth ki hoti hai lekin saza hota hai aap agar pooche ki sach kyon bolu toh uska jawab kuch nahi ho sakta vo koi wajah thodi hai uski koi wajah nahi hoti jhuth bolne ki wajah hoti hai agar aap yah poochhte ki kya har baar jhuth bolna zaroori hai usko toh maan lete lekin sach toh hota hi hai aap ko ghar se ghar walon ne school bheja tha aap school nahi gaye beech me gol ho gaye kahin chale dinbhar aapne masti ki shaam ko ghar aaye ghar walon ko pata lag jaega walon ne poocha tum kaha the dinbhar se jhuth bolne ke liye gharwaalon ki dant se bachne ke liye ek kahani padhi likhi mere mitra ke yahan koi karyakram aa gaya tha ya kuch hadsa ho gaya tha isliye tum late ho gaya aaj ghar aane me ya school nahi ja paye toh aapne yah jhuth bola jhuth 3 00 baje yah ki agar aap sach bologe toh aapke gharwale aapke dhunai kar denge aap ka upyog kar rahe hain jo hua hai ghatna hai vaastav me sach hi bolna tha aapko likhna bachne ke liye jhuth bol rahe the agar aap sach kya hai question mark lagayenge toh aap kuch kuch aapko koi javabdehi nahi sakta kyonki vaah toh hai hi vaah toh hota hai toh vaah toh hota rahega uski koi wajah nahi hoti baje jhuth ki hoti hai toh jhuth bolna har baar koi zaroori nahi hai ki aap jhuth bolo ram jhuth nahi bola agar aapse koi kisi bare me puchhega dhyan dena agar aap apne andar bahar niklega aap use rokte hain aur usko director ki chhut me aapke aapne koi karya kiya aapko andar uska APK allergy hai vaah jama ho gayi usi roop me jaise roop me use hona chahiye aapke andar ab koi aapse puch raha hai ki aapne ki kya vaah car kiya toh energy set se bahar aayegi insaan ke energy aapke andar se vaah baat jaane ki koshish karegi vaah energy wapas aayegi aap use dusro ke ghar par apne hisab se use divert karne waale yahan mehnat kar rahe hain jhuth bolne ke liye use Divert kar raha hai sir aapke jawab ke bahar aayega toh sach ke liye koi bhi aapko jawab nahi de sakta ki har baar sach bolna zaroori hai kya main toh jhuth bolne ki jagah sakta hai kya hai jitna aap sab se bolenge usne andar se khush rahenge bus itni si baat satya ko khojne ki jo bade bade brahmachari log baat karte hain aadhyatmik log baat karte hain yah khojne ki baat nahi karte aapne itne jhuth apne andar jama kar liye ki vaah sach daroga yaar ab maan lijiye kisi andhere kamre me ek heere ka tukda patak diya jao usme bahut saara koyla daal diya jaaye ab aapse koi kahe ki aapko heera dhundhana hai toh kaise dhundhe uske liye aapko saara ko hatana padega toh aisa hi hai satya bolna koi zaroori nahi hai satya toh hai aapko uske andar ki iske upar jo aapne jhuth jama kar liya vaah bahar nikaal do satya apne aap bahar Automatic pension utani hi kam hoti I thi ki aapne fokat ki tension le rakhi hai insaan ko sabse bada jhuth hai pareshan karta hai ki mujhe tarakki karna hai mujhe safal hona hai mujhe shoharat chahiye aur yah ek bahut bada jhuth hai isliye insaan is ke chakkar me bahut pareshan rehta toh aise hi apne aapke andar jama kar rakhe hain jhuth ko pura karne ke liye aap baar baar dusre jhuth bolte toh aur sab toh bolne ka isliye ka koi aapne theka bhi nahi le rakha aur satya bolna itna zaroori bhi nahi ho nahi sakta aapke mooh se nikalne ke liye mara ja raha hai vaah toh hai aap chaho toh nikalo na chaho toh koi question mark nahi laga sakta

आपका सवाल है क्या हर बार सच बोलना जरूरी है और अगर जरूरी है तो क्यों यही सवाल है आपका तो सच

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  101
WhatsApp_icon
user

6705

Clinical Psychologist

3:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बडा सवाल है क्या हरबर्स जरुरी है अब जो सच बोल ना तू जरूरी बात को जायेंगे बात को फोन करेंगे या कोई भी चीज सच्चाई है और बहुत कडवी है उसको ऑफिस नही करना चाहेंगे और दुसरे रस्त्यात नाही तुझी सारी जसे दिसते तसे हमारे मन पर बहुत भारी परिणाम पडता है और हमारा वजन हो जाता है जिसे बहुत मम्मी एक तारखे भारी भारी पण आता है और हमेशा कही ना कही एक तर्क जबाव बना रहता है एक वादे खोटे बोलणे सुरु करते मुझसे आमच्यातच पुन्हा सुरू करते उत्तर देत नाही अक्का मन भारी हो जाता है और भारी मन के साथ हम कोई भी चीज अरे व्यवहारिक व्यावहारिक दिनचर्या नही कर सकते है अर्ज हम सच नही बोल सकते है तो बेहतर है हम हम जवाब जवाब नदी और बालाजी व्यक्ती है उसे निर्णय लेने दे अगर लगता है क्या आप सच्चे बोलते हो तो आपको उसको सत्य बोलणे नको इतका आत्मविश्वास आत्मगौरव भी मिलेगा की मे चाहे जो हो जाये झूठ नही बोलना पडेगा और आप प्रशंसा होगी होगी की या व्यक्ती सच बोलता है तो आपका कॅरेक्टर बनेगा आपका बहुत ही व्यक्तीच बनेगा और एक व्यक्ती तो की अच्छी व्यक्तीत की शुरुवात हमेशा सच बोली से ही होती है बहुत बहुत हे महत्त्व हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण है साहेब सत्य बोलणे से ही हमारा वजन समाज में व्यक्तिगत जीवन सत्य बोलता है उसे कोई दुसरा व्यक्ती चॅलेंज नाही करत कदर जमनार सवाल के जवाब दिया धन्यवाद

bada sawaal hai kya harbars jaruri hai ab jo such bol na tu jaruri baat co jayenge baat co phone karenge ya koi bhi cheej sachchai hai aur bahut kadavi hai usko office nahi karna chahenge aur DUSARE rastyat nahi tujhi sari jase diste tase hamare man par bahut bhari parinam padata hai aur hamara vajan ho jaata hai jise bahut mummy ek tarkhe bhari bhari PAN ata hai aur hamesha kahi na kahi ek tark jabav banna rahata hai ek vaade khote bolne shuru karte mujhse amachyatach punha shuru karte uttar det nahi akka man bhari ho jaata hai aur bhari man K sathe hum koi bhi cheej are vyavaharik vyavaharik dincharya nahi car sakate hai arj hum such nahi bol sakate hai to behatar hai hum hum jawab jawab nadi aur balaji vyakti hai use nirnay lene they agar lagta hai kya aap sachche bolte ho to aapko usko satya bolne nako itaka aatmvishvaas atmagaurav bhi milega ki may chahe jo ho jaye jhooth nahi bolna padega aur aap prashansa hogi hogi ki ya vyakti such bolta hai to aapka character banega aapka bahut hi vyaktich banega aur ek vyakti to ki achhi vyaktit ki shuruvat hamesha such boli se hi hoti hai bahut bahut hey mahatva hamare jeevan ka ek mahatvapoorn hai saheb satya bolne se hi hamara vajan samaj mein vyaktigat jeevan satya bolta hai use koi dusra vyakti challenge nahi karat kadar jamnar sawaal K jawab diya dhanyawaad

बडा सवाल है क्या हरबर्स जरुरी है अब जो सच बोल ना तू जरूरी बात को जायेंगे बात को फोन करेंग

Romanized Version
Likes  99  Dislikes    views  563
WhatsApp_icon
user

Kahkashan Parveen

Psychologist

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगले सप्ताह सच बोलने से डिलीट करने वाले का सत्संग दीजिए

agle saptah sach bolne se delete karne waale ka satsang dijiye

अगले सप्ताह सच बोलने से डिलीट करने वाले का सत्संग दीजिए

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  113
WhatsApp_icon
user

Dr.Mitali Jha

Psychologist

1:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सच बोलना बहुत जरूरी है जीवन में नैतिक शिक्षा की बात नहीं है यह हमारे मेंटल हेल्थ के लिए बहुत जरूरी है मगर झूठ बोलता है हमें वह याद रखना पड़ता है कि हम ने क्या बोला था क्यों बोला था किस संदर्भ में बोला था लेकिन जब हम सच बोलते हैं हमें याद रखना नहीं पड़ता वह अपने आप सताई आता जाता है हर बात अगर उन चीजों को हम से कई बार भी पूछा जाए तो भी अगर हम ने सच कहा है हर बार वह उतने ही स्ट्रांग तरीके से लोगों के सामने आएगा जितना कि वह पहली बार आया था पर जब हम झूठ बोलते हैं हर बार हमारा दिया हुआ एयरपोर्ट कम या ज्यादा हो जाता है और झूठ बोलने में इसलिए बहुत जरूरी है कि किसी भी बात में अपनी सच्चाई को ही सामने रखे हो सकता है कि एक बार के लिए हमारा थोड़ा सा इमेज खराब हो जाए हमारे लिए थोड़ी लोग बुरा सोचे लोग हमारे लिए जजमेंटल हो जाए पर एक समय अंतराल के बाद लोग आप की सच्चाई पर विश्वास करना सीख जाएंगे एक समय अंतराल के बाद आपको अपने ऊपर कॉन्फिडेंस बना रहेगा और वैसे भी हमारा सबसे बड़ा जो क्रिटिक्स है जो हमारा सबसे बड़ा आलोचक है वह हम खुद है जितनी बार हम झूठ बोलते हैं अपनी नजरों में गिर जाता है तो दूसरों की नजरों से अपनी नजरों में चढ़े रहना बहुत जरूरी है इसलिए हर बार हमारा सच बोलना जरूरी उम्मीद करती हूं कि आपके प्रश्न का उत्तर आपको मेरा होगा धन्यवाद बहुत-बहुत धन्यवाद

sach bolna bahut zaroori hai jeevan mein naitik shiksha ki baat nahi hai yah hamare mental health ke liye bahut zaroori hai magar jhuth bolta hai hamein vaah yaad rakhna padta hai ki hum ne kya bola tha kyon bola tha kis sandarbh mein bola tha lekin jab hum sach bolte hain hamein yaad rakhna nahi padta vaah apne aap sataee aata jata hai har baat agar un chijon ko hum se kai baar bhi poocha jaaye toh bhi agar hum ne sach kaha hai har baar vaah utne hi strong tarike se logo ke saamne aayega jitna ki vaah pehli baar aaya tha par jab hum jhuth bolte hain har baar hamara diya hua airport kam ya zyada ho jata hai aur jhuth bolne mein isliye bahut zaroori hai ki kisi bhi baat mein apni sacchai ko hi saamne rakhe ho sakta hai ki ek baar ke liye hamara thoda sa image kharab ho jaaye hamare liye thodi log bura soche log hamare liye judgmental ho jaaye par ek samay antaral ke baad log aap ki sacchai par vishwas karna seekh jaenge ek samay antaral ke baad aapko apne upar confidence bana rahega aur waise bhi hamara sabse bada jo critics hai jo hamara sabse bada aalochak hai vaah hum khud hai jitni baar hum jhuth bolte hain apni nazro mein gir jata hai toh dusro ki nazro se apni nazro mein chade rehna bahut zaroori hai isliye har baar hamara sach bolna zaroori ummid karti hoon ki aapke prashna ka uttar aapko mera hoga dhanyavad bahut bahut dhanyavad

सच बोलना बहुत जरूरी है जीवन में नैतिक शिक्षा की बात नहीं है यह हमारे मेंटल हेल्थ के लिए बह

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  107
WhatsApp_icon
user

Ritu

Counselling Psychologist

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

निको डिपेंड करता है सिचुएशन में ठीक है कि आपके साथ क्या सिचुएशन से कम टाइम सोते हैं हम जैसे बच्चों की सेटिंग को स्कूल का घर में बात करूंगा मैं वैसे भी बड़े होकर भी बात करूं टाइम में अपने को बुक करने के लिए और सिचुएशन के लिए झूठ बोलना पड़ता है एंड झूठ बोलने से समथिंग उसके में बेनिफिट मिलता है ऑलरेडी पिंक कट आपकी सिचुएशंस में एग्जांपल मैंने नहीं खाया अभी मेरे पास नहीं है उसमें क्या हुआ उस बच्चे ने अपने घर पर जाकर झूठ बोला पटकन झूठ बोला इसलिए बोला उसने जगह सच बोलता तो उसकी मामा उसको मरती तो वह डरा हुआ था इस वजह से उत्तम एवं आर से बचके यह बच्चे की सिचुएशन हमें बड़े लोगों को भी हमारी शादी बहुत सारी सिचुएशन सती आती है कि हम बचने के लिए कुछ बोलते हैं और रेशम टाइम झूठ बोलना बोलना पड़ता है

niko depend karta hai situation mein theek hai ki aapke saath kya situation se kam time sote hain hum jaise baccho ki setting ko school ka ghar mein baat karunga main waise bhi bade hokar bhi baat karu time mein apne ko book karne ke liye aur situation ke liye jhuth bolna padta hai and jhuth bolne se something uske mein benefit milta hai already pink cut aapki sichueshans mein example maine nahi khaya abhi mere paas nahi hai usme kya hua us bacche ne apne ghar par jaakar jhuth bola patkan jhuth bola isliye bola usne jagah sach bolta toh uski mama usko marti toh vaah dara hua tha is wajah se uttam evam R se bachake yah bacche ki situation hamein bade logo ko bhi hamari shadi bahut saari situation sati aati hai ki hum bachne ke liye kuch bolte hain aur resham time jhuth bolna bolna padta hai

निको डिपेंड करता है सिचुएशन में ठीक है कि आपके साथ क्या सिचुएशन से कम टाइम सोते हैं हम जैस

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  75
WhatsApp_icon
user

Anju Shrimali

Life Coach

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एजुकेशन जिससे दूसरों का नुकसान ना हो आपको सही करना चाहिए क्योंकि आप मन को सुकून देता है और वह साइकोलॉजी यह चीजें अनरिलेटेड होती है झूठ बोलेंगे तो कहेंगे तो हमेशा नहीं लग जाने पर ही रहना चाहिए तो आपको मिल सकती है

education jisse dusro ka nuksan na ho aapko sahi karna chahiye kyonki aap man ko sukoon deta hai aur vaah psychology yah cheezen anarileted hoti hai jhuth bolenge toh kahenge toh hamesha nahi lag jaane par hi rehna chahiye toh aapko mil sakti hai

एजुकेशन जिससे दूसरों का नुकसान ना हो आपको सही करना चाहिए क्योंकि आप मन को सुकून देता है और

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  59
WhatsApp_icon
user

Shikha Mittal

mental Health Counsellor

0:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा मुझे डाटा जहां तक नहीं रहा अभी लाइफ एक्सपीरियंस है बहुत पढ़ाई इस मामले में तो नहीं है कि सच या झूठ यह कहा जहां तक लाइफ का एक्सपीरियंस है और जहां तक मुझे समझ में आता है एक भी ऐसा व्यक्ति पूरा बाद में नहीं है जो कभी झूठ नहीं बोलता हूं छोटा झूठ ऐसा बोलते हैं जो हमको लगता है वो झूठ नहीं है लेकिन अच्छी हो झूठ होता है जैसे हमने 10:00 बजे नहाना तो हम सुबह नहा लेते तो स्कूल कुछ लोग बोलते हैं मालिनी मॉर्निंग ना लेते हैं लेकिन मामले में वह झूठ बोल देते हैं कभी-कभी अपने फ्रेंड से किसी से नहीं होता झूठ बोलना जरूरी तो नहीं हमको किसी अच्छे काम के लिए झूठ भी बोलना पड़ता है सच बोलना निशा जरूरी नहीं होता कुछ अच्छी चीजों के लिए झूठ को सच में झूठ और सच को झूठ में बदला जा सकता है

aisa mujhe data jaha tak nahi raha abhi life experience hai bahut padhai is mamle mein toh nahi hai ki sach ya jhuth yah kaha jaha tak life ka experience hai aur jaha tak mujhe samajh mein aata hai ek bhi aisa vyakti pura baad mein nahi hai jo kabhi jhuth nahi bolta hoon chota jhuth aisa bolte hain jo hamko lagta hai vo jhuth nahi hai lekin achi ho jhuth hota hai jaise humne 10 00 baje nahaana toh hum subah naha lete toh school kuch log bolte hain malini morning na lete hain lekin mamle mein vaah jhuth bol dete hain kabhi kabhi apne friend se kisi se nahi hota jhuth bolna zaroori toh nahi hamko kisi acche kaam ke liye jhuth bhi bolna padta hai sach bolna nisha zaroori nahi hota kuch achi chijon ke liye jhuth ko sach mein jhuth aur sach ko jhuth mein badla ja sakta hai

ऐसा मुझे डाटा जहां तक नहीं रहा अभी लाइफ एक्सपीरियंस है बहुत पढ़ाई इस मामले में तो नहीं है

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
user

Aparna Chavan

Psychologist Counsellor

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बातमी कैसे किया जाता है जाती है

batmi kaise kiya jaata hai jaati hai

बातमी कैसे किया जाता है जाती है

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  107
WhatsApp_icon
user

Rahul Kumar

Psychologist

1:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सच बोलना चाहिए देखे सच तो बोल ही चाहेंगे तो सही है क्योंकि सच बोलने से बहुत चल पड़े इसके लिए होती है क्योंकि कहीं कहीं ऐसे चाहते हैं कि आपके चोट की वजह से किसी की जान बच जाते हैं या फिर कोई डिप्रेशन से झूठ के बदले बहुत बड़ा उपकार करने जा रहे इस कंडीशन में झूठ बोलना लेकिन हमेशा झूठ नहीं है क्योंकि आप झूठ की वजह से और इस कंडीशन में होता क्या है तू झूठ बोलने वाला

sach bolna chahiye dekhe sach toh bol hi chahenge toh sahi hai kyonki sach bolne se bahut chal pade iske liye hoti hai kyonki kahin kahin aise chahte hain ki aapke chot ki wajah se kisi ki jaan bach jaate hain ya phir koi depression se jhuth ke badle bahut bada upkar karne ja rahe is condition mein jhuth bolna lekin hamesha jhuth nahi hai kyonki aap jhuth ki wajah se aur is condition mein hota kya hai tu jhuth bolne vala

सच बोलना चाहिए देखे सच तो बोल ही चाहेंगे तो सही है क्योंकि सच बोलने से बहुत चल पड़े इसके ल

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  100
WhatsApp_icon
user

Dr. Jitubhai Shah

Friend, Philosopher and Guide

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

और बात सच बोलना जरूरी है मेरे ख्याल से अगर आप हर बार सच बोलते हैं तो आपको इतनी चिंता रहेगी कि मैंने क्या बोला था क्या नहीं बोलूं आपसे बहुत ट्रस्ट ने बोला है तो वैसा ही होगा और अगर आप झूठ बोलती है सफलता प्राप्त कर लेते लेकिन लुक्का ट्रस्ट हमारे पर नहीं रहता है तो मेरा मानना है कि अगर हो सके तो हंड्रेड परसेंट सत्य बोलने की कोशिश करनी चाहिए अगर हमारे सत्य बोलने से किसी को नुकसान होता है तो माउंट रह सकते हैं लेकिन झूठ तो मैं कभी नहीं भूलना चाहिए मैं ऐसे कोशिश करता हूं मैं ऐसा नहीं कह सकता कभी डेड पर्सन सक्सेस कुमाऊं लेकिन मैंने कोशिश करता हूं कि मुझे झूठ नहीं बोलना है सच ही बोलना है

aur baat sach bolna zaroori hai mere khayal se agar aap har baar sach bolte hain toh aapko itni chinta rahegi ki maine kya bola tha kya nahi bolu aapse bahut trust ne bola hai toh waisa hi hoga aur agar aap jhuth bolti hai safalta prapt kar lete lekin luckka trust hamare par nahi rehta hai toh mera manana hai ki agar ho sake toh hundred percent satya bolne ki koshish karni chahiye agar hamare satya bolne se kisi ko nuksan hota hai toh mount reh sakte hain lekin jhuth toh main kabhi nahi bhoolna chahiye main aise koshish karta hoon main aisa nahi keh sakta kabhi dead person success kumaon lekin maine koshish karta hoon ki mujhe jhuth nahi bolna hai sach hi bolna hai

और बात सच बोलना जरूरी है मेरे ख्याल से अगर आप हर बार सच बोलते हैं तो आपको इतनी चिंता रहेगी

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  438
WhatsApp_icon
user

विकास सिंह

दिल से भारतीय

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आप हमेशा सच बोलते हैं तो बहुत अच्छी बात है यह बोलना बहुत ही जरूरी है क्योंकि आप सच बोलते हैं तो आपका जो ऑपरेशन है पहले से लोगों पर अच्छा होता है और आपको कभी भी कोई लोग जो एक गंदी नजर से देखेंगे झूठ बोलता है शक नहीं देखेंगे और सच बोलने से आपको भी एक अच्छा फील होता कि झूठ बोलते हैं तो एक झूठ बोलने के लिए अपने आप को बहुत ही गिल्टी महसूस करते हैं कि सच बोलना बहुत ही जरूरी है

agar aap hamesha sach bolte hain toh bahut achi baat hai yah bolna bahut hi zaroori hai kyonki aap sach bolte hain toh aapka jo operation hai pehle se logo par accha hota hai aur aapko kabhi bhi koi log jo ek gandi nazar se dekhenge jhuth bolta hai shak nahi dekhenge aur sach bolne se aapko bhi ek accha feel hota ki jhuth bolte hain toh ek jhuth bolne ke liye apne aap ko bahut hi guilty mehsus karte hain ki sach bolna bahut hi zaroori hai

अगर आप हमेशा सच बोलते हैं तो बहुत अच्छी बात है यह बोलना बहुत ही जरूरी है क्योंकि आप सच बोल

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  22
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
hamesha sach bolna chahiye ; hame hamesha sach bolna chahiye ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!