क्या पाकिस्तान भारत से दोस्ती करेगा?...


play
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं मेरे मित्र कभी नहीं क्यों पाकिस्तान एक कट्टर देश है संकेतों से भरा हुआ देश है तो पाकिस्तानी कदापि नहीं चाहता कि भारत इतनी तेज गति के साथ विकास कर सके इसलिए उसकी हमेशा चाल ही रहती है कि भारत में स्थिति उत्पन्न हो भारत में बल्ले हो भारत हमेशा संघर्ष जूता जूता रहे इसलिए पाकिस्तान की दोस्ती पर तभी दिलीप भी नहीं करना चाहिए क्योंकि यह वह यह वह आस्तीन का सांप है जो कभी भी दगा दे सकता है इसलिए जो हमारे पुराने राजनीतिज्ञों ने विश्वास कर लिया उसके दो के हमने कई बार खाए हैं उसे कई बार अटैक किया तो इसलिए यह कभी संभव नहीं है बल्कि मैं भारतीय राजनीतिज्ञों से यह प्रार्थना करता हूं या इसके माध्यम से पाकिस्तान के साथ में कभी दोस्ती उसकी हां ठीक है ओपन हम क्योंकि हम लोग पाकिस्तान पर अटैक नहीं करते पाकिस्तान भी संपूर्ण कथा संपन्न देश हैं और भारत भी संपूर्णता संपन्न देश है किंतु हमें पाकिस्तान के साथ में अच्छे व्यवहार तो अपने चाहिए किंतु दोस्ती कभी नहीं करनी चाहिए और विश्वास कभी नहीं करना चाहिए बल्कि मैं तो यहां तक देश का पक्षधर हूं कि ना में पाकिस्तान के खिलाड़ियों के साथ खेलना चाहिए हमें किसी प्रकार की कोई संबंध नहीं चाहिए पाकिस्तान की राजनीति क्यों को दो टूक शब्दों में कह दिया जाए यदि आप आतंकवादी को सहायता देते रहेंगे प्रशिक्षण देते रहेंगे हमारा तुम्हारा कोई भी संबंध नहीं है कोई भी व्यवहार नहीं है कोई भी हमारे लेन-देन नहीं है यह मैं इस बात का पक्षधर हूं क्योंकि उसकी संगीत गांव के कारण भारत में अस्थिरता पड़ती है भारत का विकास होता है

nahi mere mitra kabhi nahi kyon pakistan ek kattar desh hai sanketon se bhara hua desh hai toh pakistani kadapi nahi chahta ki bharat itni tez gati ke saath vikas kar sake isliye uski hamesha chaal hi rehti hai ki bharat mein sthiti utpann ho bharat mein balle ho bharat hamesha sangharsh juta juta rahe isliye pakistan ki dosti par tabhi dilip bhi nahi karna chahiye kyonki yeh wah yeh wah astin ka saap hai jo kabhi bhi daga de sakta hai isliye jo hamare purane rajaneetigyon ne vishwas kar liya uske do ke humne kai baar khaye hain use kai baar attack kiya toh isliye yeh kabhi sambhav nahi hai balki main bharatiya rajaneetigyon se yeh prarthna karta hoon ya iske maadhyam se pakistan ke saath mein kabhi dosti uski haan theek hai open hum kyonki hum log pakistan par attack nahi karte pakistan bhi sampurna katha sampann desh hain aur bharat bhi sanpoornataa sampann desh hai kintu humein pakistan ke saath mein acche vyavahar toh apne chahiye kintu dosti kabhi nahi karni chahiye aur vishwas kabhi nahi karna chahiye balki main toh yahan tak desh ka pakshadhar hoon ki na mein pakistan ke khiladiyon ke saath khelna chahiye humein kisi prakar ki koi sambandh nahi chahiye pakistan ki rajneeti kyon ko do took shabdo mein keh diya jaye yadi aap aatankwadi ko sahayta dete rahenge prashikshan dete rahenge hamara tumhara koi bhi sambandh nahi hai koi bhi vyavahar nahi hai koi bhi hamare lane the nahi hai yeh main is baat ka pakshadhar hoon kyonki uski sangeet gaon ke kaaran bharat mein asthirata padti hai bharat ka vikas hota hai

नहीं मेरे मित्र कभी नहीं क्यों पाकिस्तान एक कट्टर देश है संकेतों से भरा हुआ देश है तो पाकि

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  352
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!